Header Ads

गलती से भी न दें ये 6 फूड्स


30 की उम्र का आंकड़ा पार करने वालों को गलती से भी न दें ये 6 फूड्स

उम्र के बढ़ने के साथ -साथ ही हमारे शरीर की जरूरते भी बदल जाती हैं। बॉडी को सही ढंग से काम करने के लिए एक अच्छे खानपान की सख्त जरुरत होती है। जिसमें कि महिलाएं अपने खान-पान को लेकर बहुत ही लापरवाह होती हैं।

सामान्य तौर पर देखा जाता है, कि महिलाओं को बढ़ती उम्र के साथ ही थकान कमजोरी हड्डियों में दिक्कत, जोड़ों में दर्द, जैसे समस्या होने लग जाती हैं। ऐसे में महिलाओं को उनकी डाइट में बदलाव की सख्त जरुरत होती है।

बता दें 30 की उम्र के बाद महिलाओं को कुछ चीजों से परहेज करना बेहद जरूरी होता है। ताकि आप एक अच्छी स्वस्थ लाइफ के साथ जी सकें। तो आइये जानते हैं आज कि महिलाओं को 30 उम्र का आकड़ां पार करने के बाद किन किन चीज़ों से परहेज करना चाहिए।
फ्लेवर्ड दही से करें परहेजवैसे तो इसका सेवन फायदेमंद माना जाता हैं। लेकिन क्या आप इस बा/त को जानती हैं कि 30 की उम्र का आकड़ां पार करने के बाद फलेवर दही खाना आपकी सेहत को नुकसान पंहुचा सकता हैं। बता दें इस दही के अंदर शुगर की मात्रा अधिक पायी जाती हैं। जोकि आपके लिए नुकसानदायक हैं।
सोया सॉस से करें परहेज
वर्तमान समय में ज्यादातर लोगों ने केचप और मेयोनेज को छोड़कर सोया सॉस का सेवन शुरू कर दिया हैं। इसके अंदर सोडियम नमक की मात्रा बहुत ज्यादा पायी जाती हैं। जोकि म्यूकस मेम्ब्रेन पर बुरा असर डालती हैं। इसका अधिक सेवन करने से पैरों में दर्द की समस्या भी शुरू हो जाती हैं।
पॉपकॉर्न से करें परहेजमहिलाएं मूवी का मजा दुगना करने के लिए पॉपकॉर्न जरूर खरीदती हैं। इसके अंदर बहुत अधिक मात्रा में नमक और बटर पाया जाता हैं। जोकि हमारे स्वास्थ के लिए बहुत ही हानिकारक हैं। इतना ही नहीं इसको बनाने के लिए पाम ऑयल और सिंथेटिक चीजों का इस्ते्माल किया जाता हैं। जोकि हमारे शरीर को बहुत नुक्सान पहुंचाता है।
डिब्बाबंद सब्जियों से करें परहेजइस तरह की सब्जियों में बहुत ज्यादा मात्रा में नमक मिला होता हैं। जिसके कारण हमारी स्किन पर समय से पहले झुर्रियां आने लगती है। इसके अलावा ये सब्जियां ब्लडप्रेशर पर भी बुरा असर डालती हैं। इससे कैंसर, इनफर्टिलिटी और मोटापे जैसी कई परेशानियां भी हो सकती हैं।

चिप्स से रहें दूरज्यादातर महिलाओं को चिप्स खाना बहुत पसंद होता हैं। लेकिन बता दें चिप्से बनाने के लिए नेचुरल आलू की जगह आलू के आटे या आलू के फेल्स्न को यूज किया जाता हैं। जोकि हमारी सेहत पर बुरा असर भी डालता है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.