Header Ads

महिलाओं के लिए 8 तरह की पेंटी


महिलाओं के लिए 8 तरह की पेंटी ! जानिये खासियत
क्या आप आज भी अंडरवियर की शॉपिंग करती हैं तो पेंटी बिना देखे या सोचे समझे ही खरीद लेती हैं या सिर्फ अच्छी डिज़ाइन या कपड़ा देख कर पेंटी खरीद लेती हैं? अगर हां, तो ये आपके लिए वेकअप कॉल है!

क्या आप आज भी अंडरवियर की शॉपिंग करती हैं तो पेंटी बिना देखे या सोचे समझे ही खरीद लेती हैं या सिर्फ अच्छी डिज़ाइन या कपड़ा देख कर पेंटी खरीद लेती हैं? अगर हां, तो ये आपके लिए वेकअप कॉल है! जी हां, क्योंकि वो जमाने गए जब आपको जो मिला वो आपने खरीद लिया! आजकल बाज़ार में कई तरह की पेंटी टाइप्स अवेलेबल हैं। जिस तरह आप आउटफिट के हिसाब से ब्रा चुनती हैं उसी तरह से आपको पेंटी भी अपनी ड्रेस के हिसाब से ही चुननी चाहिए। लेकिन जितनी चॉइस उतनी उलझन भी होती है – कि आखिर किस आउटफिट के लिए कौन सी पेंटी सही है! तो घबराइए मत….आपकी इसी उलझन को सुलझाने के लिए आज हम ये बेसिक स्टाइल गाइड लाएं हैं जो आपको हमेशा सही पेंटी चुनने में मदद करेगी (फिर चाहे आप कोई भी फ़ैब्रिक या डिज़ाइन पसंद करे)!
1 1. ब्रीफ़्स – Women’s Briefs Underwear and Panties
2 किस के साथ पहनें:-
3 2. हिपस्टर – Hipster panty For women’s
4 किस के साथ पहनें:-
5 3. बिकनी – Bikini
6 किस के साथ पहनें:-
7 4. तंगास – Tangas Panties
8 किस के साथ पहनें:-
9 5. थोंग्स – Thongs Panty
10 किस के साथ पहनें:-
11 6. G-स्ट्रिंग – G string
12 किस के साथ पहनें:-
13 7. बॉयशॉर्ट्स – Boy Short Panties
14 किस के साथ पहनें :-
15 8. मैटरनिटी पेंटी – Maternity Panty
16 किस के साथ पहनें:-
1. ब्रीफ़्स – Women’s Briefs Underwear and Panties

ये क्लासिक और सबसे पुरानी पेंटी टाइप है, शायद इसलिए ये “ग्रैनी पेंटीज़” के नाम से भी जानी जाती है। ये हिप्स को फुल कवरेज देती है और इसका वेस्टबैंड कमर तक या नाभि के नीचे तक होती है। ये स्टाइल ज़्यादा स्टाइलिश नहीं होती है लेकिन सबसे आरामदायक होती है। आजकल इसमें दो और तरह के स्टाइल्स भी आते हैं:-



French Cut & Hi-Cut Brief Panties __ फ्रेंच या हाइ कट ब्रीफ़्स – अगर आपको ब्रीफ़ का कवरेज पसंद है लेकिन थाई पर पेंटी का इलास्टिक पसंद नहीं है तो ये स्टाइल आपके लिए है। इस ब्रीफ़ स्टाइल में साइड कट बहुत हाइ होता है (हाइ कट लेग होल) और इसलिए हिप्स का कवरेज थोड़ा कम होता है। क्लासिक ब्रीफ़ के मुक़ाबले ये स्टाइल थोड़ी सेक्सी होती है।
Control briefs _कंट्रोल ब्रीफ़्स – ये ब्रीफ़ कमर से ऊपर तक होती है जो सपोर्ट देने के साथ ही कमर को पतला भी दिखाती है। आप कह सकती हैं कि ये शेप वियर की तरह काम करता है।
किस के साथ पहनें:-

हाइ वेस्ट जीन्स या ट्राउसर, इंडियन वियर, ड्रेस और पीरियड के दिनों के लिए ये पेंटी टाइप पर्फेक्ट है। इसे लो वेस्ट आउटफिट के साथ कभी ना पहनें।
Available On Amazon Buy Now

2. हिपस्टर – Hipster panty For women’s

ये पेंटी टाइप क्लासिक ब्रीफ़ का आरामदायक और मॉडर्न अवतार है! ये ब्रीफ़ की ही तरह होते हैं लेकिन इसका वेस्टबैंड कमर से लगभग 2 इंच नीचे यानि हिप्स पर रेस्ट करता है। इसका साइड सेक्शन लो कट होता है इसलिए ये ब्रीफ़ की ही तरह फुल कवरेज देता है। इसका नाम हिपस्टर या “हिप हगगर” इसलिए है क्योंकि ये हिप्स को हग करता है।

किस के साथ पहनें:-
ये पेंटी टाइप हिप्स को पूरी कवरेज देता है लेकिन लो सेट वेस्टबैंड के कारण इसे लो-राइज जीन्स या पेंट्स, इंडियन वियर, स्कर्ट के साथ पहन सकती हैं।
Available On Amazon Buy Now

3. बिकनी – Bikini

panty-3इसका वेस्टबैंड कमर से लगभग तीन इंच नीचे यानि हिप्स पर रेस्ट करता है और इसका साइड सेक्शन बहुत पतला (नैरो) होता है यानि हाइ कट लेग होल होता है। इसलिए इसकी कवरेज ब्रीफ़ के मुक़ाबले काफी कम होती है। स्ट्रिंग बिकनी के साइड सेक्शन में कपड़ा होता ही नहीं है और वेस्टबैंड स्ट्रिंग यानि डोरी जैसे मटिरियल का होता है।

किस के साथ पहनें:-
क्योंकि ये काफी कम कवरेज देती है इसलिए कपड़ों के नीचे नज़र नहीं आती है और इस कारण इसे लगभग सभी आउटफिट के साथ पहना जा सकता है।
Available On Amazon Buy Now

लड़कियां पैंटी क्यों पहनती हैं?
4. तंगास – Tangas Panties

ये पेंटी टाइप हिप्स को मीडियम से फुल कवरेज देती है और साइड सेक्शन बहुत पतला (नैरो) होता है यानि हाइ कट लेग होल होता है।

किस के साथ पहनें:-
इसे लो-राइज जीन्स या पेंट्स, इंडियन वियर, स्कर्ट के साथ पहन सकती हैं।

5. थोंग्स – Thongs Panty

panty-5इसका वेस्टबैंड कमर से लगभग 3 इंच नीचे रेस्ट करता है। इसका साइड सेक्शन हिप बोन पर या उससे ऊपर होता है यानि हाइ कट लेग होल होता है। इस पेंटी टाइप में V-शेप का कपड़ा होता है जो हिप्स तक पहुँचते-पहुँचते बहुत ही पतली पट्टी में बदल जाता है और इसलिए हिप्स को कोई कवरेज नहीं मिलती है। और इस कारण इसमें पेंटी लाइन की समस्या नहीं होती है।



किस के साथ पहनें:-

क्योंकि इसमें कवरेज नहीं होती है और पेंटी लाइन की कोई दिक्कत नहीं होती है इसलिए फिटेड स्कर्ट या ड्रेस या फॉर्मल ट्राउसर और इंडियन वियर के लिए ये पर्फेक्ट विकल्प है।
Available On Amazon Buy Now

अकेले में महिलाएं ऐसी करती हैं सेक्स की ऐसी कल्पनाएं!
6. G-स्ट्रिंग – G string
ये सबसे हॉट और सेक्सी पेंटी टाइप्स में से है! थोंग की ही तरह इसमें हिप की कोई कवरेज नहीं होता है। इसकी फ्रंट कवरेज भी बहुत कम होती है। इसमें पीछे की तरफ यानि हिप्स की तरफ सिर्फ एक स्ट्रिंग होती है जो या तो सीधा वेस्टबैंड वाली स्ट्रिंग से जुड़ती है या फिर छोटे से ट्रायंगल शेप के फ़ैब्रिक से जुड़ती है।

किस के साथ पहनें:-

कपड़ों के नीचे पर्फेक्ट लुक देने के लिए थोंग, बॉयशॉर्ट्स वगैरह काफी होते हैं और इसलिए इसकी वैसे कोई ज़रूरत नहीं होती है। लेकिन किसी खास हॉट डेट या हनीमून के लिए ये पर्फेक्ट है। बस ध्यान रखें कि पेंटी साइज़ आपके मुताबिक हों|
Available On Amazon Buy Now

7. बॉयशॉर्ट्स – Boy Short Panties

ये सुपर क्यूट पेंटी टाइप होते हैं! ये स्टाइल मेंस के बॉक्सर शॉर्ट्स के इंस्पायर्ड है और इसलिए ये शॉर्ट्स की तरह ही दिखते हैं। ये हिपस्टर की तरह होते हैं लेकिन इन दोनों में यही फर्क है कि इसका लेग होल बहुत लो होता है यानि साइड सेक्शन क्रोच से नीचे आता है। ये बहुत ही फंक्शनल, आरामदायक और सेक्सी होता है और इसे आप कभी की, कही भी पहन सकती हैं।

किस के साथ पहनें :-
थोंग की ही तरह इसे भी आप फिटेड कपड़ों के नीचे आराम से पहन सकती हैं क्योकि इसमें भी पेंटी लाइन की कोई समस्या नहीं होती है। ये सभी आउटफिट्स के साथ पहना जा सकता है। और अगर पेंटी साइज़ थोड़ा लंबा हो तो इसे पजामे या लाउन्जवियर की तरह भी पहना जा सकता है। हर लड़की के पास कम से कम एक बॉयशॉर्ट तो होना ही चाहिए!
Available On Amazon Buy Now

भारत में 9 सबसे बढ़िया एलईडी टीवी (2019) – जानिए खरीदने के टिप्स और समीक्षा!
8. मैटरनिटी पेंटी –

आजकल प्रेग्नेंट लेडीज़ के लिए ये खास पेंटीज़ आई हैं जो सपोर्ट देने के साथ ही स्ट्रेचेबल भी होती हैं और बढ़ती बेली के साथ एडजस्ट होती रहती हैं। ये हईजीनिक और एंटी-माइक्रोबियल विशेषताओं के साथ भी उपलब्ध है।

किस के साथ पहनें:-

नैचुरली ये आपकी प्रेगनेंसी के समय के लिए आरामदायक और पर्फेक्ट है

क्‍या आप जानते है लड़कियों के पेंटी में छोटी पॉकेट क्‍यों होती है?

क्या आपने कभी अपने पैंटी में क्रॉच की जगह अजीब रूप से बने हुए छोटे जेबों को देखा है? देखा होगा तो सोचा तो जरुर होगा कि इन पॉकेट है पेंटी के आंतरिक तरफ क्‍या काम है। अगर इन पॉकेट को देखकर आप असमंजस में पड़ जाते है तो आपको बता देते है कि आप अकेले नहीं हैं जिन्‍हें इन पॉकेट के होने के बारे में नहीं मालूम नही है। आइए जानते है कि यहां क्‍यों इन पॉकेट में ये जेब बने होते है।
स्वास्थ्य मानकों के अनुसार है, पेंटी के आंतरिक परत एक विशेष नरम ऊतक से बनाई जाती है। इसी तरह पुरुष अंडरवियर में भी एक ऐसी ही विशेष नरम टिश्‍यू से बनाई जाती है


हालांकि, महिलाओं के पेंटीज को इस तरह से बनाया जाता है कि यदि पॉकेट के दोनों तरफ से अंत में सिल दिया जाए, तो यह आपको असुविधाजनक बना देगा। इसलिए इन पोकेट को एक तरफ से छोड़ दिया जाता है। इसलिए नतीजतन, वहां एक छोटी थैली सी बन जाती है।


हालांकि, कई ब्रांड इन जेब के बिना पैंटी का डिज़ाइन भी करते हैं, लेकिन सिलाई लाइन को एक-दूसरे से दूर रखते हुए ताकि आपको असहज महसूस न हो।

लड़कियां पैंटी क्यों पहनती हैं? क्या पैंटी पहनना जरूरी होता है?
 गुप्तांग को ढंकने के लिए लड़कियां पैंटी पहनती है या इसके पीछे कुछ और कारण है। क्या इसको समाज के शर्म के कारण यह बनाई गई। क्या पैंटी पहनने से कोई फायदे है? या पैंटी पहनने से कोई नुकसान होते है ? जैसा की आपने अभी तक जाना की लड़कियां ब्रा क्यों पहनती है। आज का टॉपिक है भी उसीसे सम्बंधित है। लोगो के विचारो को एक तरफ रख दिया जाए तो किसी भी लड़की या महिला को पैंटी पहनने से कई फायदे ही है। इसके पीछे एक नहीं बल्कि बहुत से कारण है जो इस बात को साबित करते है की क्यों महिलाओं को पैंटी पहननी चाहिए।
पेरीडॉट रत्‍न पहनने से लाभ- peridot stone Benefits


अब सवाल यह है की आखिर लड़कियां या महिलाएं पैंटी क्यों पहने ?
पैंटी पहनने के कारण और फायदे

आरामदायक – पैंटी पहनने से असहज महसूस नही होता

महिलाये अक्सर पैंटी अपने कम्फर्ट जोन में रहने के लिए पहनती है। चाहे कितनी भी टाइट जीन्स , स्कर्ट हो या फिर कोई ढीली सी सलवार , पैंटी पहनने से उन्हें असहज नही महसूस होता ।


इस तरह की टाइट जीन्स पहनी हो तो आवश्यक है कि उसके पहले एक आरामदायक, सूती कपड़े की पैंटी उसके निचे जरूर पहनें। यह पैंटी आपकी योनि और जीन्स के बीच एक आरामदायक लेयर बना देती है, जिससे आपको पुरे दिन आराम मिलेगा।

पैंटी अतिरिक्त पसीना सोखकर पूरा दिन तरोताजा रहने के लिए –

आपके भागदौड़ भरे दिन में भी आपको यह तरोताजा रखती है। आपकी पैंटीअतिरिक्त पसीना सोखकर आपको पुरे दिन तरोताज़ा रखने में आपकी सहायक होती है।

वेजिनल डिस्चार्ज की समस्या

कुछ महिलाओं को व्हाइट डिस्चार्ज या अन्य वेजिनल डिस्चार्ज की समस्या होती है । ऐसे में उनके कपड़े खराब होने का सबसे ज्यादा डर बना रहता है। पैंटी इस व्हाइट डिस्चार्ज को सोखकर आपके कपड़ो को खराब होने से बचाती है।

पीरियड्स के समय पैंटी आवश्यक

जिनके पीरियड्स एक तय समय पर नही आते है उन्हें तो पैंटी पहनना सख्त आवश्यक है। क्योंकि पैंटी ही उन्हें उस समय बचा सकती है।

गॉल ब्लैडर या यूरिन लीक होने की समस्या

जिन महिलाओं को किसी बीमारी के वजह से या फिर उनके गॉल ब्लैडर पर ज्यादा प्रेशर पड़ने के वजह से यूरिन लीक होने की समस्या होती है उन्हें भी नित्य पैंटी पहनना चाहिए।


बाथटब में सेक्स से पहले जानिए ये 5 बातें –

पानी में सेक्स करना चाहिए या नहीं : हॉलीवुड और बॉलीवुड फिल्मों को देखकर, आपने बाथटब में या शॉवर में पार्टनर के साथ सेक्स करने के बारे में कभी न कभी तो जरूर आया होगा। या आपने कभी स्विमिंग पूल में, या कई बार साथी संग इंटिमेट होने के बारे में सोचा होगा। अगर आप अपनी कल्पना को हकीकत में बदलने के बारे में सोच रहे हैं तो पहले यह जान लें कि स्क्रीन पर वास्तव में सबसे अच्छा दिखने वाला बाथटब सेक्स क्या है? 

पानी में सेक्स करने से पहले जानिए 5 नुकसान …

यूटीआई जैसी बीमारियां होने का खतरा अधिक

अगर आप स्विमिंग पूल में या अपने बाथटब में पार्टनर संग इंटिमेट होने के बारे में सोच रहे हैं, तो जान लें कि ऐसा करने से आप प्राइवेट पार्ट में संक्रमण होने का खतरा बढ़ा सकते हैं। अगर आपको पहले कभी यूटीआई हुआ है, तो आपको पानी में सेक्स से दूर रहना चाहिए। ऐसा इसलिए है क्योंकि पानी में मौजूद कीटाणु जब सेक्स के दौरान वजाइना के संपर्क में आते हैं, तो पुरुषों के मुकाबले महिलाओं में एसटीडी और यूटीआई जैसी बीमारियां होने का खतरा अधिक होता है।


पानी में सेक्स बीमारियों को न्योता

यदि आप स्विमिंग पूल में हैं, तो पूल के पानी में क्लोरीन जैसे कई रसायन पाए जाते हैं और यदि आप समुद्र के पानी में गोता लगा रहे हैं तो समुद्र के पानी में नमक की मात्रा बहुत अधिक है। यहां तक कि आपके घर का बाथटब भी पूरी तरह से साफ नहीं है और झटके लगने का बहुत डर है। ऐसे में अगर आप इन जगहों पर सेक्स करते हैं तो यह सीधे बीमारियों को निर्देशित करने जैसा होगा।


योनि की प्राकृतिक चिकनाई को खत्म

पानी गीला हो सकता है लेकिन यह चिकनाई का काम नहीं करता है। यह आपके निजी भागों में मौजूद प्राकृतिक चिकनाई को खत्म कर सकता है और आपको पूरी तरह से सूखा बना सकता है। ऐसी स्थिति में, चिकनी सेक्स के बजाय, सेक्स अधिक कठिन हो जाता है क्योंकि यौन संचारित संक्रमण योनि में अधिक दर्द होता है जो स्नेहन की कमी के कारण होता है।

अनावश्यक गर्भावस्था और यौन संचारित रोगों का खतरा
अगर आप बाथटब में या शॉवर में संभोग करने की सोच रहे हैं तो कंडोम के बाहर निकलने का भी खतरा है। साथ ही, पानी में मौजूद रसायनों के कारण, कंडोम कम प्रभावी हो जाता है क्योंकि इसमें अनावश्यक गर्भावस्था और यौन संचारित रोगों का खतरा होता है।.

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.