Header Ads

बकरी के दूध के उपयोग, क्या


बकरी के दूध के उपयोग, क्या है इसमें औषधीय गुण

बकरी का दूध विटामिन बी6, विटामिन बी12, विटामिन डी, फोलिक एसिड और प्रोटीन से भरपूर है जो शरीर को पुष्ट कर, इम्यून सिस्टम को मजबूत करता है, जिससे बीमारियों की संभावना नहीं के बराबर हो जाती है। वैसे बकरी के दूध की सबसे ज्यादा याद तब आती है जब कोई डेंगू से पीड़ित होता है।

डेंगू से बचने के लिए सावधानियां तो आवश्यक है ही, रोग प्रतिरोधक क्षमता या इम्यून सिस्टम को बढ़ाना भी बेहद जरूरी है। इसके लिए जरूरी है रक्त कणिकाओं की संख्या में इजाफा होना। एक अध्ययन के अनुसार बकरी का दूध रक्तकणों को बढ़ाने में मदद करता है, जो डेंगू से लड़ने के लिए बेहद आवश्यक है।

बकरी के दूध में विटामिन और मिनरल्स भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। इसके दूध में औषधीय गुण पाए जाते हैं क्योंकि ये हरे पौधों और पत्ति‍यों को आहार के रूप में ग्रहण करती हैं। यह कई तरह की बीमारियों को दूर करने में बेहद महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। यही कारण है कि जो व्यक्ति नियमित तौर पर बकरी का दूध पीता है, उसे बुखार जैसी समस्याएं नहीं होती। इस तरह से बकरी का दूध डेंगू से बचने के लिए एक अच्छा विकल्प हो सकता है।
बकरी के दूध के फायदे
1. सभी तरह के दूध के किस्मों में कैल्शियम होता है, और बकरी का दूध इसमें कोई अपवाद नहीं है। यह आपको कई दुष्प्रभावों से बचाए रखने में मदद करता है। यह ऑस्टियोपोरोसिस को रोकने में मदद करता है।

2. बकरी का दूध मैग्नीशियम का एक अच्छा स्रोत है, जो दिल के लिए फायदेमंद है। नियमित रूप से मैग्नीशियम का सेवन हार्टबीट बनाए रखने में मदद करता है और यहां तक कि रक्त के थक्के के गठन और कोलेस्ट्रॉल के स्तर में वृद्धि को रोकता है। मैग्नीशियम भी विटामिन डी के साथ काम करता है, जो हृदय स्वास्थ्य के लिए एक और पोषक तत्व है।

3. अध्ययनों से पता चला है कि लोगों में सूजन के इलाज के लिए बकरी के दूध को पूरक के रूप में कैसे इस्तेमाल किया जा सकता है। दूध मानव शरीर में सहज और अनुकूली प्रतिरक्षा प्रतिक्रियाओं को ट्रिगर कर सकता है, और यह सूजन से लड़ने में मदद कर सकता है।

4. बकरी का दूध एक उत्कृष्ट चयापचय एजेंट है क्योंकि यह आयरन, मैग्नीशियम, कैल्शियम और फास्फोरस जैसे खनिजों का स्रोत है।

5. बकरी का दूध क्षारीय होता है, यही कारण है कि यह शरीर के पीएच स्तर को संतुलित कर सकता है।
6. बकरी का दूध आवश्यक फैटी एसिड और ट्राइग्लिसराइड्स में समृद्ध है, जो त्वचा के लिए बहुत अच्छा बनाता है। और चूंकि यह क्षारीय है, यह त्वचा को नुकसान नहीं पहुंचाएगा है।

7. बकरी के दूध में आयरन की उच्च जैव उपलब्धता होती है और आयरन अवशोषण में वृद्धि होती है। जिसका अर्थ है, एक तरह से, एनीमिया को रोकने में मदद करता है।

8. बकरी के दूध में लौह की उच्च जैव उपलब्धता होती है और लौह अवशोषण में वृद्धि होती है। जिसका अर्थ है, एक तरह से, यह एनीमिया को रोकने में मदद करता है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.