Header Ads

योनि में खुजली के घरेलू उपाय –

योनि में खुजली के घरेलू उपाय – 


महिलाओं या लड़कियों में योनि की खुजली एक आम समस्‍या है जो किसी भी उम्र में हो सकती है। लेकिन क्‍या आप योनि में खुजली के कारण जानती हैं। योनि में खुजली खमीर संक्रमण के कारण होती है। यह संक्रमण कैंडिडा अल्बिकन्स के कारण होता है जो स्‍वाभाविक रूप से योनि में मौजूद रहता है। इस संक्रमण के कारण योनि में जलन, सूजन, खुजली और मूत्र उत्‍सर्जन के दौरान दर्द हो सकता है। महिलओं को अपने जीवन में यह संक्रमण 1 बार जरूर होता है। लेकिन यह संक्रमण यदि आपको बार-बार हो रहा है तो इसके लिए आपको किसी महिला डॉक्‍टर से संपर्क करने की आवश्‍यकता है। इस समस्‍या का घरेलू उपचार भी संभव है। इस आर्टिकल में आप महिलाओं या लड़कियों की योनि में खुजली को दूर करने के घरेलू उपाय जानेगें।

1. योनि में खुजली के लक्षण – Symptom Of Vaginal Itching in Hindi
2. योनि में खुजली का घरेलू उपचार – home remedies for itching in private parts female in Hindi
योनि में खुजली का इलाज है सेब का सिरका – Apple Cider Vinegar For Itching In Private Parts Of A Woman in Hindi
योनि में ईस्‍ट संक्रमण का उपाय है दही – Yogurt For Vaginal Itching in Hindi
वैजाइना में खुजली दूर करने के लिए शहद है फायदेमंद – Honey For Vaginal Itching in Hindi
वैजाइनल इंफेक्शन के लिए गार्लिक – Garlic for Itching In Private Parts Of A Woman in Hindi
योनि की खुजली ठीक करने के लिये नारियल तेल – Coconut Oil Home Remedies For Itching In Private Parts Female in Hindi
योनि की खुजली दूर करता है टी ट्री आयल – Yoni Ki Khujli Dur Kare Tea Tree Oil in Hindi
योनि की खुजली दूर करने के घरेलू उपाय हाइड्रोजन पेरोक्साइड – Hydrogen Peroxide For Vaginal Itching in Hindi
योनि की खुजली का उपाय है जैतून के पत्ते – Olive Leaf For Vaginal Itching in Hindi

3. योनि की खुजली दूर करने के अन्‍य घरेलू उपाय – Other Home Remedies For Vaginal Itching in Hindi
योनि में खुजली के लक्षण – Symptom Of Vaginal Itching in Hindi

किसी महिला को योनि में खुजली उनके लिए बहुत ही असुविधाजनक होती है। ऐसे कई कारण है जिससे महिलाओं को योनि में खुजली होने लगती है, जैसा कि आप जानते हैं कि यह एक खमीर संक्रमण है। वैजाइना में खुजली से संबंधित कुछ लक्षण होते है। जो इस प्रकार हैं :
योनि में या उसके आसपास दर्द, खुजली या जलन।
मूत्र त्‍याग करने पर जलन होना।
संभोग के दौरान दर्द।
योनि और इसके आस पास लाल चकते।
एक मोटी, सफेद योनि निर्वहन।
लाली और सूजन।
त्‍वचा फिशर या घाव।

(और पढ़े – योनी में खुजली, जलन और इन्फेक्शन के कारण और घरेलू इलाज…)
योनि में खुजली का घरेलू उपचार – home remedies for itching in private parts female in hindi
योनि में खुजली का इलाज है सेब का सिरका – Apple Cider Vinegar For Itching In Private Parts Of A Woman in Hindi
योनि में ईस्‍ट संक्रमण का उपाय है दही – Yogurt For Vaginal Itching in Hindi
वैजाइना में खुजली दूर करने के लिए शहद है फायदेमंद – Honey For Vaginal Itching in Hindi
वैजाइनल इंफेक्शन के लिए गार्लिक – Garlic for Itching In Private Parts Of A Woman in Hindi
योनि की खुजली ठीक करने के लिये नारियल तेल – Coconut Oil Home Remedies For Itching In Private Parts Female in Hindi
योनि की खुजली दूर करता है टी ट्री आयल – Yoni Ki Khujli Dur Kare Tea Tree Oil in Hindi
योनि की खुजली दूर करने के घरेलू उपाय हाइड्रोजन पेरोक्साइड – Hydrogen Peroxide For Vaginal Itching in Hindi
योनि की खुजली का उपाय है जैतून के पत्ते – Olive Leaf For Vaginal Itching in Hindi
स्‍वाभाविक रूप से योनि में खुजली की यह समस्‍या महिलाओं के लिए बहुत ही कष्‍टदायक होती है। जिसका उपचार समय पर किया जाना चाहिए। कुछ महिलाओं में वैजाइना में खुजली की समस्‍या केवल 1 बार होती है। लेकिन यदि उचित इलाज न किया जाए तो इस समस्‍या की पुनर्रावृत्ति हो सकती है। लेकनि इस यौन संबंधित समस्‍या का निदान करने के लिए कुछ घरेलू उपाय भी मौजूद हैं जो इस प्रकार हैं।
योनि में खुजली का इलाज है सेब का सिरका – Apple Cider Vinegar For Itching In Private Parts Of A Woman in Hindi

जिन महिलाओं को योनि में खुजली होती है वे सेब के सिरके का उपयोग कर सकती हैं। सेब का सिरका उनकी इस समस्‍या का सबसे अच्‍छा इलाज माना जाता है। क्‍योंकि सेब के सिरका में जीवाणुरोधी और एंटीफंगल गुणों की अच्‍छी मात्रा होती है। इसका उपयोग करने पर योनि के प्राकृतिक पीए स्‍तर को बनाए रखने में मदद मिलती है। इसके उपचार के लिए आप कच्‍चे सेब से बने सिरका की 2 चम्‍मच मात्रा लें और 1 गिलास गर्म पानी में मिलाएं। इस पानी से योनि को दिन में दो बार धुलें। यह योनि की खुजली को शांत करने में मदद कर सकता है। इसके अलावा आप 1 चम्‍मच कच्‍चे सेब साइडर सिरका के साथ 1 चम्‍मच शहद को 1 गिलास गर्म पानी में मिलाएं और दिन में इसका दो बार सेवन करें। यह आपकी इस समस्‍या का प्रभावी और प्राकृतिक उपचार माना जाता है।

(और पढ़े – एप्पल साइडर विनेगर करेगा स्किन से जुड़ी परेशानियों को दूर…)
योनि में ईस्‍ट संक्रमण का उपाय है दही – Yogurt For Vaginal Itching in Hindi

चूंकि दही हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। लेकिन इस दही के फायदे उन महिलाओं के लिए भी होते हैं जो योनि के संक्रमण से ग्रसित हैं। इसके लिए आप सादे दही का उपयोग कर सकते हैं। यह योनि की खुजली और दर्द जैसी समस्‍याओं को दूर करने में सहायक हो सकता है। क्‍योंकि दही में मौजूद पोषक तत्‍व और औषधीय गुण संक्रमण के प्रसार को नियंत्रित कर सकते हैं। यह योनि में खमीर और खराब बैक्‍टीरिया को मारने और अच्‍छे बैक्‍टीरिया के विकास को बढ़ावा देने में भी मदद करते हैं।

योनि की खुजली जैसी समस्‍या के उपचार के लिए आप दही में एक टैम्पोन को भिगोएं और इसे योनि में 2 घंटे के लिए रखें। जब तक आपको आराम न मिले तब तक आप इस प्रक्रिया को आप दिन में दो बार दोहरा सकते हैं। इसके अलावा आपको नि‍यमित रूप से ताजे दही का सेवन करना चाहिए।

वैजाइना में खुजली दूर करने के लिए शहद है फायदेमंद – Honey For Vaginal Itching in Hindi

प्राईवेट पार्ट की खुजली महिलाओं के लिए गंभीर समस्‍या हो सकती है। इस अनचाही खुजली को दूर करने के लिए आप शहद का उपयोग कर सकते हैं। शहद मे एंटीबैक्‍टीरियल और एंटीफंगल गुण होते हैं जो किसी भी माइक्रोबियल संक्रमण से छुटकारा पाने मे मदद करते हैं। आप प्रभावित क्षेत्र में मरहम के रूप में कच्‍चे शहद को लगाएं। लगभग 30 मिनिट के बाद गर्म पानी से स्‍नान करें। योनि की खुजली के लक्षणों को कम करने के लिए आप शहद का उपयोग दिन में दो बार करें। इसके अलावा विकल्‍प के रूप में आप प्रतिदन 1-2 चम्‍मच शहद को पानी के साथ सेवन कर सकते हैं। यह वैजाइना में खुजली दूर करने के लिए सक्रिय भूमिका निभा सकता है।

वैजाइनल इंफेक्शन के लिए गार्लिक – Garlic for Itching In Private Parts Of A Woman in Hindi


आपके द्वारा उपयोग किये जाने वाले लहसुन में विभिन्‍न औषधीय गुण होते हैं। योनि में खुजली का इलाज करने के लिए लहसुन का उपयोग जीवाणुरोधी और एंटीबायोटिक के रूप में किया जा सकता है। यह बैक्‍टीरिया और खमीर को मारने में मदद करता है। यह प्रतिरक्षा प्रणाली में भी सुधार कर सकता है और शरीर को संक्रमण से लड़ने में मदद कर सकता है। इस समस्‍या का उपचार करने के लिए आप लहसुन के तेल का उपयोग कर सकते हैं। 1 चम्‍मच विटामिन ई तेल में लहसुन तेल की कुछ बूंदें शामिल करें। इस मिश्रण को प्रभावित क्षेत्र में लगाएं और 10 मिनिट के बाद गर्म पानी से धो लें। कुछ हफ्तों तक इस प्रक्रिया को दिन में दो बार दोहराएं। यह आपको इस संक्रमण से राहत दिलाने में औषधी की तरह काम करता है। इसके अलावा नियमित रूप से कच्‍चे लहसुन की 2-3 कलियों का सेवन करें।

योनि की खुजली ठीक करने के लिये नारियल तेल – Coconut Oil Home Remedies For Itching In Private Parts Female in Hindi


कोकोनट आयल एक वन‍स्‍पतिक तेल है जिसमें एंटीफंगल सहित अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍य लाभ होते हैं। अध्‍ययनों से पता चलता है‍ कि नारियल तेल योनि में होने वाले संक्रमण का इलाज करने में सक्षम होता है। यह सबसे सरल और प्रभावी घरेलू उपचारों में से एक है। जिन महिलाओं को योनि में खुजली की समस्‍या होती है वे नारियल तेल का उपयोग कर सकती हैं। इसके लिए शुद्ध नारियल तेल लें और प्रभावित क्षेत्र में लगाएं। नियमित रूप से इस तेल को लगाने से फंगल संक्रमण के प्रभाव को कम किया जा सकता है।

योनि की खुजली दूर करता है टी ट्री आयल – Yoni Ki Khujli Dur Kare Tea Tree Oil in Hindi


जब घरेलू उपचार की बात आती है तो टी ट्री आयल को छोड़ा नहीं जा सकता है। क्‍योंकि टी ट्री आयल एक आवश्‍यक तेल (essential oil) है। इसमें स्‍वास्‍थ्‍य लाभ संबंधी बहुत से औषधीय गुण होते हैं। इस तेल का उपयोग कर कवक, बैक्‍टीरिया और वायरस आदि को रोका जा सकता है। अध्‍ययनों से पता चलता है कि टी ट्री ऑयल का उपयोग करने पर योनि सस्‍पोजिटरी में योनि संक्रमण का इलाज करने मे मदद मिल सकती है। टी ट्री आयल बहुत ही शक्तिशाली तेल माना जाता है। इसलिए योनि में उपयोग करने के लिए इस तेल का उपयोग करने से पहले इसे अन्‍य तेल जैसे नारियल, जोजोबा तेल या जैतून तेल के साथ मिलाकर पतला कर लें। यह आपके योनि के संक्रमण को प्रभावी रूप से ठीक कर सकता है।

योनि की खुजली दूर करने के घरेलू उपाय हाइड्रोजन पेरोक्साइड – Hydrogen Peroxide For Vaginal Itching in Hindi


अध्‍ययनों से पता चलता है कि हाइड्रोजन पेरोक्‍साइड एक एंटीसेप्टिक के रूप में काम करता है। इसका उपयोग कर बैक्‍टीरिया और खमीर जैसे जीवाणुओं को नष्‍ट किया जा सकता है। हालांकि यह खमीर की हर प्रजाति के लिए प्रभावी नहीं होता है। लेकिन महिलओं में होने वाली योनि की खुजली में इसका उपयोग किया जा सकता है। लेकिन हाइड्रोजन पेराक्‍साइड का उपयोग करने से पहले इसकी सांध्रता जांच लें या इसे पतला करें। यह भी सावधानी रखें कि इसे लगातार 5 दिनों से अधिक उपयोग न करें। यह योनि में मौजूद संक्रमण को दूर करने में लाभकारी सिद्ध हो सकता है।

(और पढ़े – जांघों के बीच फंगल संक्रमण के लिए घरेलू उपचार…)
योनि की खुजली का उपाय है जैतून के पत्ते – Olive Leaf For Vaginal Itching in Hindi


औषधीय गुणों से भरपूर जैतून तेल के फायदे सभी जानते हैं। लेकिन जैतून के पत्‍तों का उपयोग महिला गुप्‍तांगों में होने वाले संक्रमण को दूर करने के लिए उपयोग किया जा सकता है। ऐसा इसलिए है क्‍योंकि जैतून की पत्तियों में एंटी-फंगल, एंटी-बैक्‍टीरियल, एंटीवायरल, एंटी-इंफ्लामेटरी और अन्‍य औषधीय गुण अच्‍छी मात्रा में होते हैं। ये सारे गुण आपके शरीर में मौजूद हानिकारक बैक्‍टीरिया को नष्‍ट करने और अच्‍छे बैक्‍टीरिया के विकास में मदद करते हैं। योनि की खुजली को दूर करने के लिए महिलाओं को जैतून तेल के पत्‍तों के रस का उपयोग करना चाहिए। यह घरेलू उपाय योनि में होने वाले संक्रमण को दूर करने में मदद करता है। यदि आपको इन उपचारों के बावजूद आराम न मिले तो अपने डॉक्‍टर से संपर्क करना चाहिए।

योनि की खुजली दूर करने के अन्‍य घरेलू उपाय – Other Home Remedies For Vaginal Itching in Hindi


वैजाइना में खुजली की समस्‍याओं को रोकने के लिए आप कुछ सावधानीयों और उपायों का उपयोग कर सकते हैं जो इस प्रकार हैं।
सुगंधित पैड या टॉयलेट पेपर, क्रीम, बबल बॉथ, स्‍प्रे और डोउच से बचना चाहिए।
नियमित रूप से अपने जननांग की आंतरिक और बाहरी क्षेत्र की सफाई करनी चाहिए।
इन अंगों की सफाई के लिए सादा पानी और हल्‍के साबुनों का उपयोग करना चाहिए।
इनरवियर के रूप मे हमेशा सूती कपड़ों का उपयोग करें और नियमित रूप से प्रतिदिन इन्हें बदलें।
शिशु लड़कियों के डायपर नियमित रूप से बदलें। क्‍योंकि उनमें इस प्रकार के संक्रमण की संभावना अधिक होती हैं।
यौन संक्रमित बीमारियों को रोकने के लिए यौन संभोग के दौरान कंडोम का प्रयोग करें।
यदि आप योनि का सूखापन का अनुभव कर रहे हैं तो योनि में मॉइस्‍चराइजर का उपयोग करें।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.