Header Ads

लोकाट के फायदे और नुकसान –


लोकाट के फायदे और नुकसान –


Loquat Ke Fayde Aur Nuksan In Hindi लोकाट एक उपोष्‍णकटिबंधीय फल है जिसके फायदे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत अधिक माने जाते हैं। लोकाट खाने के लाभ इसमें मौजूद पोषक तत्‍वों और औषधीय गुणों के कारण होते हें। लोकाट फल का सेवन करके मधुमेह और कोलेस्‍ट्रॉल से संबंधित समस्‍याओं से बचा जा सकता है। लोकाट में कैंसर रोधी गुण होते हैं। यदि आप लोकाट का उपयोग करके विभिन्‍न प्रकार के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ प्राप्‍त कर सकते हैं। लोकाट फल का इस्‍तेमाल उच्‍च रक्‍तचाप को कम करने और प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने के लिए भी किया जाता है।

इस लेख में हम आपको लोकाट फल के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ और नुकसान संबंधी जानकारी बता रहे हैं। जिन्‍हें जानकर आप भी लाभ प्राप्‍त कर सकते हैं।



विषय सूची
लोकाट क्‍या है – What is Loquat in Hindi
लोकाट फल के पोषक तत्‍व – Loquat Nutrition Facts in Hindi
लोकाट खाने के फायदे – Loquat Khane ke fayde in Hindi
लोकाट के फायदे कैंसर के लिए
लोकाट खाने के फायदे ब्‍लड प्रेशर के लिए
लोकाट के लाभ डायबिटीज के लिए
लोकाट खाने के फायदे श्वसन तंत्र के लिए
लोकाट का उपयोग प्रतिरक्षा शक्ति बढ़ाये
लोकाट के औषधीय गुण वजन कम करे
लोकाट फल के फायदे मस्तिष्‍क के लिए
लोकाट फल के गुण कोलेस्‍ट्रॉल कम करे
लोकाट के गुण हड्डियां मजबूत रखे
लोकाट बेनिफिट्स फॉर स्किन
लोकाट खाने के नुकसान – Loquat Khane ke Nuksan in Hindi
लोकाट क्‍या है – What is Loquat in Hindi

लोकाट को चीनी प्‍लम (Chinese Plum) के नाम से भी जाना जाता है। यह झाडियों में पाया जाने वाला फल है जो मूल रूप से चीन में पैदा होता है। लोकाट का वैज्ञानिक नाम एरीओबोट्री जापोनिका (Eriobotrya japonica) है। और यह रोसेया परिवार से संबंधित है। यह फल सेब, नाशपाती और प्‍लम जैसे फलों की तरह होता है। लोकाट फल की दो वैरायटी होती हैं एक जापानी और दूसरी यूरोपीय। लेकिन जापानी लोकाट की तुलना में यूरोपीय लोकाट अधिक लोकप्रिय है। भारत में भी लोकाट की खेती की जाती है जिनकी गुणवत्ता, स्‍वाद, आकार और पोषक तत्‍व वैरायटी और जलवायु के अनुसार अलग-अलग हो सकती है। आइए जाने लोकाट फल खाने पर कौन से पोषक तत्‍व प्राप्‍त किये जा सकते हैं।

लोकाट फल के पोषक तत्‍व – Loquat Nutrition Facts in Hindi

स्‍वास्‍थ्‍य के लिए लोकाट फल बहुत ही अच्‍छा होता है। क्‍योंकि इसमें विटामिन ए, विटामिन बी और विटामिन सी की अच्‍छी मात्रा होती है। लोकाट फ्रुट में थायमिन, राबोफ्लेविन, नियासिन, पाइरिडॉक्सिन, फोलेट्स और फोलिक एसिड जैसे लगभग सभी बी कॉम्‍प्‍लेक्‍स विटामिन होते हैं। इसके अलावा लोकाट फल में कैल्शियम, मैंगनीज, पोटेशियम, फास्‍फोरस, जस्‍ता, तांबा, सेलेनियम और कार्बोहाईड्रेट जैसे खनिज शामिल हैं। आप लोकाट फल से ओमेगा-3 फैटी एसिड और ओमेगा-6 फैटी एसिड जैसे मोनोअनसैचुरेटेड वसा भी प्राप्‍त कर सकते हें। लोकाट फल में कैलोरी और कोलेस्‍ट्रॉल भी कम होते हैं। इन सभी गुणों के कारण लोकाट फल के फायदे हमारे स्‍वास्‍थ्‍य के लिए होते हैं।

लोकाट खाने के फायदे – Loquat Khane ke fayde in Hindi

अब हम जानेगें कि, लोकाट फल खाने के क्या-क्या फायदे होते है आइये इसे विस्तार से जानते हैं।
लोकाट के फायदे कैंसर के लिए


कई अध्‍ययनों से पता चलता है कि लोकाट के अर्क में साइटोकिन (cytokine) होता है जिसमें प्रतिरक्षा मॉड़लन गुण होते हैं। जिसके कारण यह कैंसर चिकित्‍सा में लाभकारी होता है। इसके अलावा इसमें लेटरिन (Laetrile) नामक एक एंटी-कैंसर यौगिक होता है। जो कैंसर कोशिकाओं को नष्‍ट करने में सहायक होता है। कैंसर के उपचार के दौरान लोकाट का सेवन करना शरीर में मौजूद विषाक्‍त पदार्थों को दूर करने में सहायक होता है। जिससे कैंसर की संभावना बढ़ाने वाले रसायनों और घटकों को शरीर से बाहर निकालने में मदद मिलती है। आप भी लोकाट फल का लाभ प्राप्‍त करने के लिए इसका उपभोग कर सकते हैं।


लोकाट खाने के फायदे ब्‍लड प्रेशर के लिए

लोकाट में पाये जाने वाले पोषक तत्‍वों में पोटेशियम भी होता है जो हृदय प्रणाली के लिए वासोडिलेटर (vasodilator) के रूप में कार्य करता है। पोटेशियम रक्‍त वाहिकाओं और धमनियों पर खिंचाव और दबाव को कम करके रक्‍तचाप को विनियमित करने और हृदय स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ाने मदद करता है। पोटेशियम को मस्तिष्‍क बूस्‍टर माना जाता है क्‍योंकि यह मस्तिष्‍क की कोशिकाओं में रक्‍त के प्रवाह को बढ़ाता है। जिससे मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य में वृद्धि होती है। कुल मिलाकर शरीर के लिए स्‍वस्‍थ रक्तचाप को बनाए रखने में लोकाट फल का इस्‍तेमाल आपके लिए लाभकारी हो सकता है।

लोकाट के लाभ डायबिटीज के लिए



डायबिटिक रोगी के लिए लोकाट के बहुत फायदे होते हैं। मधुमेह की रोकथाम करने के लिए अक्‍सर लोग लोकाट की चाय पीने की सलाह देते हैं। क्‍योंकि नियमित रूप से लोकाट का सेवन करने वाले लोगों में ब्‍लड शुगर में काफी कमी आती है। लोकाट की चाय में पाए जाने वाले कार्बनिक यौगिक इंसुलिन और ग्‍लूकोज के स्‍तर को विनियमित करने में सहायक होते हैं। जिससे मधुमेह को रोका जा सकता है। आप भी मधुमेह के लक्षणों या संभावना को कम करने के लिए लोकाट की चाय का सेवन कर सकते हैं। (1)

लोकाट खाने के फायदे श्वसन तंत्र के लिए


श्वांस लेने संबंधी समस्‍याओं और अन्‍य श्वसन संक्रमणों के उपचार में लोकाट अहम भूमिका निभा सकता है। लोकाट की चाय में कफ साफ करने वाले गुण (expectorant) होते हैं। लोकाट की चाय का सेवन करके श्वसन तंत्र में मौजूद कफ को बाहर निकालने में मदद मिल सकती है जिससे संक्रमण को कम करने में आसानी होती है। कफ में संक्रमण फैलाने वाले बैक्‍टीरिया अधिक समय तक जीवित रह सकते हैं और इनका विकास हो सकता है। इसलिए आप अपने श्वसन पथ में मौजूद बैक्‍टीरिया और विषाक्‍त पदार्थों को दूर करने के लिए लोकाट की चाय का उपयोग कर सकते हैं। (2)


लोकाट का उपयोग प्रतिरक्षा शक्ति बढ़ाये


विटामिन सी की भरपूर मात्रा होने के कारण लोकाट के फायदे रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करते हैं। विटामिन सी सफेद रक्‍त कोशिकाओं के उत्‍पादन को बढ़ाने में मदद करता है। साथ ही यह हमारे शरीर में रोगजनों के प्रभाव को कम करने में सहायक होता हैं। विटामिन सी एक एंटीऑक्‍सीडेंट है जो शरीर की कोशिकाओं को नुकसान पहुंचाने वाले फ्री रेडिकल्‍स को बेअसर करने में सहायक है। इसके अलावा विटामिन सी शरीर में कोलेजन के निर्माण में भी अहम भूमिका निभाता है। कोलेजन शरीर में ऊतकों की वृद्धि और विकास में मदद करता है। लोकाट की पत्तियों में मेगास्टिगमन ग्‍लाइकोसाइड और पॉलीफेनोलिक (Megastigmane Glycosides and Polyphenolic) जैसे एंटीजन युक्‍त एसिड भी होते हैं। जो एंटीवायरल के रूप में कार्य करते हें। इस तरह से आप अपनी प्रतिरक्षा शक्ति बढ़ाने के लिए लोकाट फल और पत्तियों का फायदा ले सकते हैं। (3)

लोकाट के औषधीय गुण वजन कम करे


यदि आप वजन कम करने का प्रयास कर रहे हैं तो लोकाट फल आपको फायदा दिला सकता है। लोकाट फल में प‍ेक्टिन नामक एक फाइबर होता है जो पाचन संबंधी समस्‍याओं को दूर करने में प्रभावी होता है। यह फाइबर मल को थोक या गाढ़ापन दिलाता है और मल त्‍याग को प्रोत्‍साहित भी करता है। यदि आप कब्‍ज, दस्‍त, पेट की ऐंठन, सूजन और अन्‍य पेट की समस्‍या से परेशान हैं तो लोकाट का सेवन करें। इसमें मौजूद फाइबर आपकी पाचन समस्‍याओं को दूर करने के साथ ही आपके वजन को प्रबंधित करने में मदद कर सकता है। क्‍योंकि अधिक फाइबर खाने से आप अधिक समय तक अपनी भूख को नियंत्रित रख सकते हैं। (4)


लोकाट फल के फायदे मस्तिष्‍क के लिए

लोकाट में शक्तिशाली एंटीऑक्‍सीडेंट की उच्‍च मात्रा होती है। ये एंटीऑक्‍सीडेंट उन फ्री रेडिकल्‍स के प्रभाव को कम करने में मदद करते हैं जो ऑक्‍सीडेटिव तनाव का प्रमुख कारण होते हैं। लेकिन लोकाट का सेवन करने से इस प्रकार की समस्‍या को नियंत्रित किया जा सकता है। जो आपके मस्तिष्‍क स्‍वास्‍थ्‍य को बेहतर बनाने में सहायक होती है। (5)

लोकाट फल के गुण कोलेस्‍ट्रॉल कम करे



हालांकि इसे कोई ठोस सबूत नहीं हैं फिर भी कुछ अध्‍ययनों में पाया गया है कि लोकाट खाने के फायदे कोलेस्‍ट्रॉल के स्तर को कम करने में सहायक हो सकते हैं। नियमित रूप से लोकाट फल और चाय का सेवन करने से शरीर में खराब कोलेस्‍ट्राल के स्‍तर को नियंत्रित करने में मदद मिल सकती है। लोकाट फल के यह चमत्‍कारिक लाभ हैं। लेकिन जैसा ऊपर बताया गया है कि इसका कोई ठोस सबूत नहीं हैं। इस पर अभी और भी शोधों की आवश्‍यकता है। (6)

लोकाट के गुण हड्डियां मजबूत रखे


उम्र बढ़ने के साथ ही हड्डीयों के घनत्‍व में कमी आना बहुत से लोगों की समस्‍या होती है। विशेष रूप से यह महिलाओं में रजोनिवृत्ति के बाद की समस्‍या है। लेकिन जिन लोगों को इस प्रकार की समस्‍या होती है उनके लिए लोकाट फल एक आयुर्वेदिक और घरेलू उपचार हो सकता है। क्‍योंकि लोकाट में वे सभी पोषक तत्‍व, खनिज पदार्थ और विटामिन होते हैं जो हड्डी के घनत्‍व को बनाए रखने में मदद करते हैं। आप भी भविष्‍य में अपनी हड्डियों को कमजोर होने से बचाने के लिए लोकाट फल को अपने आहार में शामिल कर सकते हैं। (7)



लोकाट बेनिफिट्स फॉर स्किन

आप अपनी त्वचा संबंधी समस्‍याओं को दूर करने के लिए भी लोकाट का इस्‍तेमाल कर सकते हें। लोकाट में एंटी-एजिंग गुण होते हैं। अध्‍ययनों से पता चलता है कि लोकाट की पत्तियों में लगभग 18 प्रकार के (Triterpenoids) यौगिक होते हैं। जो मुंहासों, त्‍वचा एलर्जी के प्रभाव और समय से पहले आने वाले बुढ़ापे संबंधी लक्षणों को कम करने में सहायक होते हैं। कुछ अध्‍ययनों से पता चलता है कि लोकाट का उपयोग करने पर इसमें मौजूद यौगिक मुंहासे-रोधी प्रभाव दिखाते हैं। लोकाट में एंटीऑक्‍सीडेंट और एंटी-इंफ्लामेटरी गुण भी होते हैं। जो त्‍वचा को नुकसान पहुंचाने वाले फ्री रेडिकल्‍स के प्रभाव को कम करने और उनसे हुई क्षति की मरम्‍मत करने में सहायक होते हैं। यदि आप भी अपनी त्‍वचा संबंधी समस्‍याओं का उपचार करना चाहते हैं तो लोकाट फल और इसकी पत्तियों की चाय का सेवन कर सकते हैं।


लोकाट खाने के नुकसान – Loquat Khane ke Nuksan in Hindi

सामान्‍य रूप से लोकाट का नियमित सेवन आपको लिए लाभकारी होता है। लेकिन आवश्‍यकता से अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से आपको कुछ साइड इफैक्‍ट का सामना करना पड़ सकता है। इसलिए सावधानी से और संतुलित मात्रा में ही लोकाट का सेवन करना अच्‍छा माना जाता है।
यदि आप किसी विशेष प्रकार की दवाओं का सेवन कर रहे हैं। तब औषधीय प्रयोजन होतु लोकाट का सेवन करने पहले अपने चिकित्‍सक की सलाह जरूर लें।
गर्भवती और स्‍तनपान कराने वाली महिलाओं को भी लोकाट की बहुत ही कम मात्रा का सेवन करना चाहिए। क्‍योंकि इस दौरान लोकाट की प्रभावशीलता संबंधी अध्‍ययनों की कमी है। इसलिए इस समय इनका सेवन करने से बचना ही उचित है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.