Header Ads

जानिए इन 7 अंगों पर चुंबन करने का क्या मतलब होता है


जानिए इन 7 अंगों पर चुंबन करने का क्या मतलब होता है, 3 नंबर वाला किसी को नहीं पता..!!

किस प्यार के इजहार का एक बेहद प्रचलित तरीका है। लोग अक्सर सामने वाले के प्रति अपने प्यार का इजहार करने के लिए किस करते हैं। किस के बारे में बहुत सी बातें, कविताएं लिखी और कहीं गई हैं लेकिन ऐसा क्या है जो अब तक नहीं कहा गया? बहुत कम ही लोगों को पता होगा कि किस भी एक तरह की जुबान है। हर अंग पर अलग-अलग भावना से किस दी जाती है। अगर आप भी जानना चाहते हैं कि किस अंग पर किस करने का क्‍या मतलब होता है तो आइए जानें।

गाल पर किस करने का मतलब : गाल पर किस करना बहुत ही आम बात है। प्रेम और वात्‍सल्‍स का इजहार करने के लिए इस तरह से किस किया जाता है। गाल पर किस करने से स्नेह झलकता है। यह सहयोग और पूर्णता को प्रदर्शित करता है। इसके अलावा यह आकर्षण का भी प्रतीक है।

माथे पर किस : माथे पर किस करने का मतलब है कि आपका साथ आपको बताना चाहता है कि वह आपके साथ हमेशा के लिए है। अक्सर बड़े लोग माथे पर किस करते है। माथे पर चुंबन आपकी घबराहट को दूर करता है और आपके अंदर एक अजीब सा आत्‍मविश्‍वास जगाता है।

कॉलरबोन पर चुंबन : कॉलरबोन यानी गले और छाती के जोड़ पर चुंबन आत्मीयता का प्रतीक माना जाता है. इसका मतलब यह भी होता है कि रिश्ते को अगले चरण में ले जाने के लिए मन से पूरी तरह तैयार है यह चुंबन यादर्शाता है कि इस रिश्ते में आप दोनों की सहमति है और आप अपने रिश्ते को आगे बढ़ाना चाहते हैं.

कान पर चुंबन : कान पर चुंबन अक्सर मौज मस्ती के दौरान किया जाता है यह दर्शाता है कि आपका पार्टनर आपसे खुश है और यह आपके पार्टनर के शरारतीपन को दिखाता है और इसी शरारत के साथ अपने रिश्ते को आगे ले जाना चाहता है.

हाथ पर चुंबन : हाथ पर चुंबन जिसे आप प्रेम करते हैं, उसके हाथ पर होंठ रखकर चुंबन लेते हैं. हाथ पर चुंबन किसी की प्रशंसा में भी लिए जाते हैं. कभी-कभी अच्छी भावना व्यक्त करने के लिए हाथ चूम लेते हैं. कई देशों में हाथ में चुंबन उनकी संस्कृति का हिस्सा भी है.

होंठ पर चुंबन : होंठ पर चुंबन बेहद संवेदनशील होता है. आमतौर पर आप जिसे प्रेम करते हैं उसके होंठों का चुंबन लेते हैं.यह संबंध बनाने का पहला चरण होता है और इसका अंत कहां जाकर होता है यह आपके रिश्ते पर निर्भर करता है इसके अलावा किसी दोस्त के होंठ का चुंबन लेने का मतलब आप उसके साथ डेट पर जाने के लिए तैयार हैं.
चुंबन व टाइट आलिंगन : चुंबन व टाइट आलिंगन जिसे दिलोजान से चाहते हैं उसे प्यार करते हैं. और उसके लिए किसी भी हद तक जा सकते हैं होंठों का गहरा मिलन और साथी का कसकर आलिंगन यह भी दर्शाता है कि आप मोहब्बत के चरम अवस्था पर जाने के लिए तन और मन से तैयार हैं.

चुंबन के फायदे जानेंगे तो रोज किए बगैर रह नहीं पाएंगे!
चुम्बन/किस को सिर्फ फन के लिए ही नहीं किया जाता बल्कि फिट रहने के लिए भी बहुत जरूरी है। जी हां, चुंबन/किस करने और स्मूच करने के बहुत से हैल्थ बेनिफिट हैं। आइए जानें, रोजाना किस करके आप कैसे हेल्दी रह सकते हैं।
अपने पार्टनर को सीरियस फ्रेंच किस करते हैं तो मुंह के बैक्टीरिया दूर होंगे। इतना ही नहीं, इससे दांतों की बीमारी, कैवेटिज वगैरह से आसानी से बच सकते हैं।

क्या आप जानते हैं-
स्मूच करने से तनाव को दूर करने में बहुत मदद मिलती है।
ये एक तरह का मेडीटेशन है। ये नेगेटिव फीलिंग्‍स को रिप्लेस करता है और खुश करने में मदद करता है। स्मूच से डेडलाइंस, फाइटिंग और कुछ भी ऐसा जिससे आपको तनाव हो रहा है, सब कुछ भूल जाते हैं। लिपलॉक करने से फेस की मसल्स का वर्कआउट होता है, जो जल्दी झुर्रियां आने नहीं देता और लंबे समय तक यंग रहते हैं।

किसिंग/चुम्बन से इम्युन सिस्‍टम मज़बूत होता है-
दरअसल, किस/चुम्बन आपको बीमारी से बचाता है, ये एक तरीके से वैक्सीन (टीका) का काम करता है। यानी किस आपको हेल्दी बनाता है।

किसिंग से एलर्जी को गुडबॉय कह सकते हैं-
एक जैपनीज स्टडी में इस बात का खुलासा हुआ था कि 30 मिनट तक लगातार किस करने से शरीर में सीजनल एलर्जी बढ़ाने वाले बैक्‍टीरिया कम हो जाते हैं।
किसिंग से मेटाबॉलिज्म स्ट्रांग होता है-
पैशनेट किस के दौरान बहुत सारी कैलोरी बर्न होती है।
क्या आप जानते हैं पैशनेट होकर किस से आप एक मिनट में 2 से 5 कैलोरी बर्न करते हैं। ये नॉर्मल रूटीन में होने वाली बर्न कैलोरी से डबल है और इससे आपको खूब फन भी मिलेगा।
एक रिसर्च में ये बात भी सामने आई है कि जो पार्टनर अपने पार्टनर को रोजाना सुबह पांच मिनट गुडबाय किस करते हैं वे नॉर्मल व्यक्ति से 5 साल ज्यादा जीते हैं। कुछ-कुछ समय के अंतराल के बाद किस करने से हाई कॉलेस्ट्रॉल और हाई ब्लड प्रेशर से बचते हैं। किस करने से एंग्जायटी, घबराहट और उतावलेपन से छुटकारा मिलता है और मन को शांति मिलती है। जी हां, रोजाना किस करने से आप ब्लैडर, स्टमक और ब्लड इंफेक्‍शन से बच सकते हैं।
रोजाना किस चुंबन, से पेट संबंधी बीमारियों से बचे रहते हैं, वजन भी कम हो जाता है।


पुरुष शारीरिक सम्बन्ध से ज्यादा पसन्द करते है चुम्बन, क्यों??


शारीरिक सम्बन्ध के मामले में महिलाएं पुरुषों से ज्यादा उत्तेजित रहती है। लेकिन पुरुषों में चुंबन की चाहत महिलाओं की अपेक्षा ज्‍यादा होती है। खास तौर से गीले चुंबन उन्‍हें ज्‍यादा पसंद होते हैं। अब तो एक शोध ने भी यह बात सिद्ध कर दी है कि संभोग के दौरान पुरुष गीले चुंबन लेने के लिए ज्‍यादा आतुर रहते हैं।


- आखिर कौनसी बातें महिलाओं को शारीरिक सम्बन्ध के लिए करती है मजबूर
पुरुष क्यों पसन्द करते है चुम्बन:

# इसके पीछे सबसे बड़ा कारण है कि स्‍त्री को संभोग के लिए प्रेरित करने का यह सबसे अच्‍छा अस्‍त्र है। पुरुष गीले चुंबन के माध्‍यम से यह भी देखते हैं कि सामने वाली स्‍त्री के अंदर सेक्‍स के लिए कितनी चाहत है। 


# यही कारण है कि पहली बार संबंध स्‍थापित करते वक्‍त पुरुष चुंबन पर ज्‍यादा जोर देते हैं, ताकि स्‍त्री के अंदर सेक्‍स की भूख का आंकलन लगा सकें।


# पुरुष चुंबन के दौरान अपनी ज़बान का प्रयोग ज्‍यादा करते हैं। वो चुंबन के दौरान अपने मुंह की लार से स्‍त्री को उकसाने के प्रयास करते हैं। 


# पुरुष चुंबन के माध्‍यम से ही स्‍त्री को सेक्‍स की चरम सीमा तक पहुंचाने में मदद करते हैं। गीले चुंबन में एक प्रकार की रासायनिक प्रतिक्रिया होती है, जिसका सीधा असर दिमाग पर पड़ता है, जिसकी वजह से ही संभोग के लिए उत्‍तेजना पैदा होती है।


प्यार की गहराई बताता है चुम्बन


दांपत्य संबंधों की सरसता व गरमाहट में चुम्बन एक अहम भूमिका निभाता है। अक्सर पति-पत्नी अपने प्यार को प्रदर्शित करने के लिए एक-दूसरे को चुम्बन देना अधिक पसंद करते हैं। उनका यह चुम्बन उनके व्यक्तित्व, इरादों तथा मानसिक स्थिति को भी व्यक्त करता है।
बांहों में भर कर चूमना :- अक्सर देखने में आया है कि कुछ पति अपनी पत्नी को अपनी बाहों में कसकर पकड लेते हैं, फिर हाथ दबाते हैं। धीरे-धीरे उसके बाल, कमर, पीठ तथा उसके प्रत्येक संवेदनशील अंगों को चूमते हैं। पत्नी पर अधिकार जताना उनका स्वभाव होता है। वे अपने प्यार, गरमाहट व अधिकार को इसी प्रकार दर्शाते हैं। ऐसे लोगों के प्रिय भी वही बनते हैं जो उनके अधीन रहना पसंद करते हैं।
जोर से चुम्बन लेना :- कुछ पति अपनी पत्नी का काफी जोर से चुम्बन लेते हैं। वे अपना प्रभाव अपनी पत्नी पर छोडना चाहते हैं लेकिन ऐसे पति का चुम्बन पत्नी ज्यादा दिनों तक याद नहीं रखती। यह चुम्बन गर्मजोशी से तो भरा होता है पर देर तक प्रभाव नहीं डाल पाता।
धीमी गति से चूमना :- ऐसे पति जो अपनी पत्नी को धीरे-धीरे चुम्बन करते हैं, उसका असर पत्नी पर अधिक समय तक रहता है। ऐसे चुम्बन से ज्यादा कामुकता छलकने लगती है। इस प्रकार के चुम्बन से यह पता लगता है कि आप अन्दरूनी तौर पर कोमल भावनाओं के मालिक हैं। किसी भी प्रकार का निर्णय लेने में अपना मानसिक संतुलन नहीं खोते।
बात करते-करते चुम्बन लेना :- कई पति अक्सर अपनी पत्नी से बात करते-करते ही मौका ढूंढकर चुम्बन लेते हैं जिससे पत्नी काफी उत्तेजित हो जाती है। इस प्रकार चुम्बन लेना यह जाहिर करता हैं कि आप सेक्स के दौरान अपना संयम नहीं
खोते जिससे आपकी पत्नी आपको सेक्स के दौरान पूरी तरह संतुष्ट करती है। अपने दिल की सारी बातें इस दौरान कह देती
है।
बंद होंठों से चुम्बन लेना :- ऐसे पति सुरक्षित स्थान पर सेक्स करना पसंद करते हैं और चुम्बन के बाद धीरे-धीरे संभोग चाहते हैं। इस प्रकार के व्यक्ति अक्सर समय पर गलत बोलते हैं जिससे आपसी संबंध बिगडने की नौबत आ जाती है।
होंठ सिकोडकर चुम्बन लेना :- जो पति अपनी पत्नी का होंठ सिकोडकर चुम्बन लेते हैं वे पहली बार में ही अपनी मंजिल (सेक्स) को पाना चाहते हैं तथा सेक्स करने के लिए लालायित रहते हैं। इस कारण अक्सर पत्नी उनसे नाराज हो जाती है और सेक्स क्रियाओं में सफलता मुश्किल से मिल पाती है।
आंखें बंद करके चुम्बन लेना :-
कुछ पति अपनी पत्नी का आंखें बंद करके चुम्बन लेते हैं। यह चुम्बन बताता है कि आप रोमांटिक किस्म के पति हैं और प्यार की दुनिया में खोना चाहते हैंं। पत्नी के रूप व प्यार के मोहजाल में आप अच्छी तरह फंस जाते हैं। यदि आपकी पत्नी आपको प्यार करने में देर करे या ढीलापन बरते तो आपका प्यार का बुखार तुरंत उडन छू हो जाता है। आप थोडा संयम बरतें जिससे आपकी पत्नी आपको अधिक प्यार कर सके। इस तरह के चुम्बन से आपसी प्यार की गहराई को महसूस किया जा सकता है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.