Header Ads

चेहरे को पांच मिनट में तरोताज़ा दिखाएं


चेहरे को पांच मिनट में तरोताज़ा दिखाएं
जब आपको तुरंत ही तरोताज़ा व ख़ूबसूरत लुक चाहिए हो, लेकिन आपके पास मेकअप प्रॉडक्ट्स न हों और न ही किसी मेकअप आर्टिस्ट की मदद लेने का विकल्प... तो तनावग्रस्त होने के बजाय इन 10 आसान तरीक़ों में से किसी एक को चुनें. 
गुलाब जल छिड़कें
गुलाब जल में हाइड्रेटिंग और त्वचा की दमक बढ़ाने के गुण होते हैं. कॉटन बॉल को गुलाब जल में डुबोएं और पूरे चेहरे पर इसे लगाएं. आपकी त्वचा पलभर में ही तरोताज़ा लगेगी. इसके अलावा गुलाब जल की ख़ूशबू आपके मूड को ख़ुशनुमा बनाती है और दिनभर की थकान के बाद की ऐन्ज़ाइटी और चेहरे की सूजन को कम करती है.

2 मिनट के लिए लगाएं शहद पैक
शहद में विटामिन्स बी और सी होते हैं, जो त्वचा को पोषण प्रदान करते हैं. ठंडे पानी में शहद की कुछ बूंदें मिलाएं और इससे चेहरा धोएं. यक़ीन करें, इससे आपकी त्वचा की थकान मिटेगी आपको मखमली एहसास मिलेगा. झटपट असर के लिए दही में शहद मिलाकर पांच मिनट तक लगाएं और फिर धोएं. 

नींबू फ़ेस वॉश
ज़्यादातर लेमन बेस्ड फ़ेस वॉश ताज़गीभरे और ठंडक देनेवाले गुणों से भरे होते हैं. इसकी खट्टी सुगंध की वजह से आप तुरंत ही तरोताज़ा महसूस करने लगेंगी. नींबू वाले फ़ेस वॉश आपकी त्वचा को अच्छी तरह साफ़ भी करेंगे.
गालों और आइलिड्स पर पेट्रोलियम जेली थपथपाएं
पेट्रोलियम जेली से आपको तुरंत चमकीला, नमीयुक्त लुक मिल सकता है. इसे आइलिड्स और चीकबोन्स पर लगाएं और तुरंत ही अपने लुक को आकर्षक बनाएं.

ऑलिव ऑयल मसाज
मसाज आपकी त्वचा पर जादुई असर डालती है. ऑलिव ऑयल आपकी त्वचा के लिए सबसे बेहतरीन मॉइस्चराइज़र है और इसमें बड़ी मात्रा में ऐंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं. ऑलिव ऑयल की कुछ बूंदें लें और हल्के हाथों से इससे चेहरे पर मसाज करें. माथे, जॉ लाइन और नाक के ब्रिज पर ज़्यादा दबाव डालें. 


बड़ी आंखों के लिए मस्कारा का इस्तेमाल करें
वॉटरलाइन पर टैन्स्पैरेंट लाइनर लगाएं, लैशेस पर थोड़ा-सा इसेंशियल ऑयल लगाएं और फिर मस्कारा के कई कोट्स लगाएं. पहला कोट सूखने के बाद ही दूसरा कोट लगाएं, ताकि आपकी लैशेस घनी दिखाई दें. इस तरीक़े से आपकी लैशेस घनी और लंबी दिखेंगी. 
कॉफ़ी स्क्रब का इस्तेमाल करें
कॉफ़ी में मौजूद ऐंटीऑक्सिडेंट्स आपके चेहरे के रक्त प्रवाह को बेहतर बना सकते हैं. कॉफ़ी स्क्रब त्वचा की मृत कोशिकाओं को हटाकर आपकी त्वचा को नमीयुक्त दिखाता है. यह बारीक़ रेखाओं और दाग़-धब्बों को भी हल्का करता है. आपकी त्वचा चिकनी और दमकती हुई नज़र आती है.

चेहरे पर बर्फ़ रगड़ें
ऐसा करने से आपकी त्वचा तुरंत ही तरोताज़ा हो जाती है, आंखों की सूजन कम होती है और त्वचा में कसावट आती है. इससे आपकी त्वचा चिकनी नज़र आती है. मुलायम कॉटन के कपड़े में बर्फ़ के टुकड़ों को रैप करें और चेहरे पर हल्के हाथों से मसाज करें. बर्फ़ को एक ही हिस्से पर ज़्यादा समय तक न रखें. 
पाउट करें, एक्सरसाइज़ करें
नियमित रूप से चेहरे की एक्सरसाइज़ करने से आपके चेहरे और गर्दन को अच्छी शेप मिलती है. हालांकि यदि आपको तुरंत ही अपनी बेजान त्वचा में जान फूंकनी हो तो मुंह में हवा भरकर पाउट करें और फिर हवा बाहर छोड़ें. ऐसा 20 बार करें. रक्त प्रवाह में बढ़ोतरी की वजह से आपका चेहरा जल्दी ही दमकने लगेगा.
बालों को खुला छोड़ें
जब आपकी त्वचा बेजान और थकी हुई दिखाई दे रही हो तो अपने बालों को बांधने के बजाय खुला छोड़ें. बाल हमारे चेहरे को फ्रेम करते हैं और जॉ लाइन और चीकबोन्स को उभरा हुआ दिखाते हैं. लेकिन यदि आप किसी वजह से बाल खुले नहीं रख सकतीं तो सामने से कुछ लटें चेहरे पर खुली छोड़ें.

कैसे करें विटामिन ई का इस्तेमाल?





क्या आप जानती हैं विटामिन ई त्वचा और बाल संबंधी कई समस्याओं को हल करने में आपकी मदद कर सकता है? इसके हाइड्रेटिंग और ऐंटी-एजिंग गुण इसे त्वचा और बालों के लिए बहुत फ़ायदेमंद बनाते हैं. यदि इसे नियमित रूप से त्वचा और बालों पर लगाया जाए तो यह अच्छे नतीजे दे सकता है.





झुर्रियां: विटामिन ई ऑयल बढ़ती उम्र की गति को धीमा करने की क्षमता रखता है. यह झुर्रियों जैसे एजिंग के लक्षणों से लड़ने में मदद कर सकता है. यह क्षतिग्रस्त कोशिकाओं को दुरुस्त करता है और त्वचा को गहराई से मॉइस्चराइज़ कर आपकी बढ़ती उम्र के संकेतों को हल्का करने में मदद करता है.




दाग़-धब्बे: विटामिन ई में ऐंटीऑक्सिडेंट गुण होते हैं, जिनसे त्वचा की अपनी नैसर्गिक हीलिंग प्रोसेस को गति मिलती है. विटामिन ई के कैप्स्यूल को बीच से काट लें और इन्हें सीधे दाग़ पर लगाएं. विटामिन ई, कोलेजेन के प्रोडक्शन को बढ़ाता है और दाग़-धब्बों को तेज़ी से हल्का करता है. 





हाइपरपिग्मेंटेशनः त्वचा के कुछ हिस्सों में मेलेनिन के ज़रूरत से ज़्यादा जमाव का नतीजा हाइपरपिग्मेंटेशन या असमान रंगत के रूप में दिखाई देता है. विटामिन ई कैप्स्यूल खाएं या फिर इसे सीधे त्वचा पर लगाएं, दोनों ही असमान रंगत की समस्या को दूर करने में कारगर हैं. हाइपरपिग्मेंटेशन से निजात पाने के लिए आप अपनी डर्मैटोलॉजिस्ट की सलाह पर विटामिन ई कैप्स्यूल्स का सेवन कर सकती हैं. 




रूखे हाथः यदि आप अपने हाथों की रूखी त्वचा से परेशान हैं तो यह पोषक तेल आपकी मदद कर सकता है. कैप्स्यूल को बीचोंबीच काट कर खोल लें और उसमें से निकले तेल को सीधे अपने हाथों पर लगाकर त्वचा को मॉइस्चराइज़ करें.

फटे होंठः विटामिन ई ऑयल युक्त लिप बाम का इस्तेमाल करें. यदि आपके होंठों का रंग गहरा है तो विटामिन ई ऑयल से होंठों पर नियमित रूप से मसाज करें, इससे आपको होंठ मुलायम और बेदाग़ बन जाएंगे. 
सूरज की हानिकारक किरणों से पहुंची क्षतिः जैसा कि हमने शुरू में ही बताया था कि विटामिन ई त्वचा में कोलेजेन के प्रोडक्शन को गति देकर कोशिकाओं को जल्दी दुरुस्त होने और नई सेहतमंद कोशिकाओं का निर्माण करने में मदद करता है. सूरज की हानिकारक किरणों द्वारा त्वचा को हुए नुक़सान को ठीक करने में यह बहुत कारगर है. सनस्क्रीन लगाने से पहले त्वचा पर विटामिन ई ऑयल लगाएं या फिर ऐसा सनस्क्रीन चुनें, जिसमें विटामिन ई हो. 





बालों का झड़नाः रोज़मर्रा की भागदौड़ में हम बालों का ठीक से ख़्याल नहीं रख पाते. इसके अलावा प्रदूषण भी हमारे बालों को बहुत नुक़सान पहुंचाते हैं. जिससे बाल झड़ने लगते हैं. नारियल तेल में समान मात्रा में विटामिन ई ऑयल मिलाकर सप्ताह में दो बार अपने स्कैल्प पर लगाकर उंगलियों से मसाज करें.

स्कैल्प का रूखापन और डैंड्रफ़ः विटामिन ई स्कैल्प को आवश्यक पोषण दे सकता है और स्कैल्प के रूखेपन और डैंड्रफ़ जैसी कई अन्य समस्याओं से छुटकारा दिला सकता है. यह तेल त्वचा को गहराई से नमी प्रदान करता है और लंबे समय तक स्कैल्प को हाइड्रेटेड रखता है.


कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.