Header Ads

सर्दियों में प्रेग्नेंट महिला को इन बातों का ध्यान रखना चाहिए

सर्दियों में प्रेग्नेंट महिला को इन बातों का ध्यान रखना चाहिए
सर्दियों में प्रेग्नेंट महिला को इन बातों का ध्यान रखना चाहिए
प्रेगनेंसी के दौरान गर्भवती महिला को बहुत सी बातों का ध्यान रखने की सलाह दी जाती है। जैसे की खाने पीने, सोने, व्यायाम करने, उठने, बैठने आदि। इन सभी चीजों का ध्यान रखना प्रेगनेंसी के दौरान जरुरी होता है क्योंकि इन्ही छोटी छोटी बातों का अच्छे से ध्यान रखने पर गर्भवती महिला को प्रेगनेंसी के दौरान स्वस्थ रहने में मदद मिलती है। लेकिन गर्भवती महिला को मौसम को देखकर भी अपना ध्यान रखना चाहिए क्योंकि यदि मौसम का ध्यान न रखा जाये तो इसके कारण भी गर्भवती महिला को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। जैसे की यदि सर्दी का मौसम है और आप ठंडी चीजों का सेवन कर रही हैं तो इसके कारण सर्दी के कारण होने वाली परेशानियों का सामना गर्भवती महिला को करना पड़ सकता है।
सर्दियों में गर्भवती महिला रखें इन बातों का ध्यान

ठण्ड के मौसम में गर्भवती महिला को अपने स्वास्थ्य को सही रखने और सर्दी के कारण होने वाली परेशानी से बचाव के लिए बहुत सी बातों का अच्छे से ध्यान रखने की जरुरत होती है। तो आइये अब विस्तार से जानते हैं की सर्दियों में गर्भवती महिला को किन -किन बातों का ध्यान रखना चाहिए।
कपडे

ठण्ड से बचने के लिए गर्भवती महिला को सबसे पहले अपने पहनावे का खास ध्यान रखना चाहिए। जैसे की महिला को गर्म कपडे पहनने चाहिए, सिर ढक कर रखना चाहिए, पैरों में जुराबे जरूर पहननी चाहिए, बाहर जाने पर हाथों में ग्लव्स भी पहनने चाहिए। इसके अलावा महिला को ज्यादा टाइट कपडे भी नहीं पहनने चाहिए जिसमे महिला को परेशानी का अनुभव हो। सर्दियों में होने वाली परेशानी से बचने के लिए सही कपड़ो का गर्भवती महिला द्वारा पहनना बहुत जरुरी होता है।
आहार

सर्दी में अपने आहार का भी गर्भवती महिला को अच्छे से ध्यान रखना चाहिए। जैसे की मौसमी फल व् सब्जियों का भरपूर सेवन करना चाहिए। खासकर विटामिन सी युक्त फल जैसे संतरा, निम्बू, आदि का भरपूर सेवन करना चाहिए। यदि महिला सर्दियों में अपने आहार का ध्यान रखती है तो ऐसा करने से गर्भवती महिला को स्वस्थ रहने और इम्युनिटी को मजबूत करने में मदद मिलती है।
पानी

सर्दी का मौसम होने पर प्यास बहुत कम लगती है, लेकिन यदि गर्भवती महिला पानी कम पीती है तो इसके कारण गर्भवती महिला और गर्भ में शिशु दोनों को ही परेशानी हो सकती है। ऐसे में गर्भवती महिला को पानी पीने का सर्दियों में भी खास ध्यान रखना चाहिए इससे गर्भवती महिला को हाइड्रेटेड रहने, गर्भ में शिशु के विकास बढ़ने, महिला को स्किन सम्बन्धी समस्या से बचे रहने में मदद मिलती है।
नॉन वेज

नॉन वेज जैसे की मछली, चिकन आदि में प्रोटीन, आयरन जैसे पोषक तत्व भरपूर मात्रा में होते हैं। साथ ही इनके सेवन से गर्भवती महिला को ठण्ड के कारण होने वाली परेशानी से भी बचे रहने में मदद मिलती है। ऐसे में यदि गर्भवती महिला नॉन वेज का सेवन कर लेती है, तो सर्दियों में महिला को हफ्ते में दो बार कम से कम इसका सेवन जरूर करना चाहिए। लेकिन इस बात का ध्यान रखें की नॉन वेज अच्छी जगह से लिए हुआ होने के साथ अच्छे से पका हुआ हो।
अंडे

सर्दी के मौसम में गर्भवती महिला को नियमित रूप से कम से कम दो अंडो का सेवन भी जरूर करना चाहिए। क्योंकि गर्भवती महिला और शिशु के लिए अंडे बहुत ही फायदेमंद होते है। और सर्दियों में होने वाली सर्दी जुखाम की समस्या से भी महिला को बचाने में मदद करते हैं।
साफ सफाई


सर्दी के मौसम में इन्फेक्शन बहुत जल्दी फैलता है, ऐसे में इन्फेक्शन की समस्या से बचे रहने के लिए गर्भवती महिला को साफ़ सफाई का खास ध्यान रखना चाहिए। क्योंकि यदि महिला को इन्फेक्शन की समस्या होती है तो उसका असर शिशु पर भी पड़ सकता है। ऐसे में महिला और शिशु दोनों को इन्फेक्शन जैसी कोई परेशानी न हो इसके लिए गर्भवती महिला को सर्दी के मौसम में इन्फेक्शन से बचाव के लिए साफ़ सफाई का खास ध्यान रखना चाहिए।
दूध और केसर

सर्दियों में ठण्ड से बचने के लिए गर्भवती महिला को नियमित रात को सोने से पहले दूध में केसर के दो तीन रेशे डालकर उसे अच्छे से उबालने के बाद गुनगुना रहने पर पीना चाहिए। ऐसा करने से गर्भवती महिला की इम्युनिटी बढ़ने के साथ महिला को सर्दी के कारण होने वाली परेशानियों से बचे रहने में भी मदद मिलती है।
चाय

बहुत सी ऐसी महिलाएं होती है जिनका चाय पीने का बहुत मन करता है और सर्दियों में तो बहुत ज्यादा महिला की चाय पीने की इच्छा हो सकती है। लेकिन गर्भवती महिला को इस बात का ध्यान रखना चाहिए की चाय में कैफीन की मात्रा अधिक होती है ऐसे में चाय का अधिक सेवन बॉडी में कैफीन की मात्रा को बढ़ा सकता है। जिसके कारण शिशु पर इसका नकारात्मक असर पड़ सकता है। इसीलिए एक या दो कप से ज्यादा चाय का सेवन गर्भवती महिला को सर्दियों में नहीं करना चाहिए।
दवाइयां

सर्दी खांसी की समस्या प्रेगनेंसी के दौरान होना आम बात होती है। ऐसे में गर्भवती महिला को न तो इस समस्या को अनदेखा करना चाहिए और न ही बिना डॉक्टरी परामर्श के किसी भी तरह की दवाई का सेवन करना चाहिए। क्योंकि इसे अनदेखा करने के कारण यह परेशानी बढ़ सकती है जिसके कारण आपको ज्यादा दिक्कत हो सकती है। वही बिना डॉक्टर की राय के दवाई का सेवन भी शिशु की सेहत को नुक्सान पहुंचा सकता है।
स्किन केयर
Pregnant-woman
सर्दी के मौसम में स्किन का ड्राई होना बहुत ही आम बात होती है, और स्किन के ड्राई होने के कारण गर्भवती महिला को खुजली जैसी परेशानी का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में इस परेशानी से बचने के लिए गर्भवती महिला को अपनी स्किन को अच्छे से मॉइस्चराइज करके रखना चाहिए।

तो यह हैं कुछ टिप्स जिनका ध्यान गर्भवती महिला को सर्दियों के दौरान रखना चाहिए। क्योंकि इन सभी बातों का ध्यान रखने से गर्भवती महिला और गर्भ में पल रहे शिशु दोनों को सर्दी के कारण होने वाली परेशानी से बचे रहने में मदद मिलती है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.