Header Ads

मन के साथ दिमाग को भी शांत रखती है हल्की सायरी

मन के साथ दिमाग को भी शांत रखती है हल्की सायरी
आज तनाव हमारी जीवनशैली का हिस्सा सा बन गया है। इस कारण डिप्रेशन जैसी कई मानसिक बीमारियां दबे पांव हमारे पास पहुंचने लगती हैं। कुछ छोटे-छोटे उपाय अपना कर आप तनाव को भी काफी हद तक दूर रख सकते हैं और खुश रह सकते हैं।

मोहब्बत ऐसी थी कि उनको बता न सके,
चोट दिल पे थी इसलिए दिखा न सके,
हम चाहते तो नही थे उनसे दूर होना,
मगर दूरी इतनी थी उसे हम मिटा न सके।



गम में हसने वालो को रुलाया नहीं जाता, लहरों को पानी से मिलाय नहीं जाता, होने वाले खुद ही अपने हो जाते हैं, किसी को कहकर अपना बनाया नहीं जाता.




कुछ लोग दिल पर इस तरह असर कर जाते हैं, टूटे हुए शीशों मे भी साबुत नज़र आते हैं, मिलते तो हैं घड़ी भर के लिए, मगर दिल में उतर जाते हैं ।


हम बने ही थी तबाह होने के लिए.. तेरा छोड़ जाना तो म








जब प्यार किसी से होता है हर दर्द दवा बन जाता है क्या चीज मुहब्बत होती है एक शख्स खुदा बन जाता है ये लब चाहे खामोश रहें आँखों से पता चल जाता है कोई लाख छुपा ले इश्क मगर दुनिया को पता चल जाता है जब इश्क का जादू चलता है सेहरा में फूल खिल जाता है जब कोई दिवाना मचलता है तब ताजमहल बन जाता है

बडी अजीब मुलाकातें होती थी हमारी, वो किसी मतलब से मिलते थे और हमे तो सिर्फ मिलने से मतलब था…


देखा जो आइना तो मुझे सोचना पड़ा,खुद से न मिल सका तो मुझे सोचना पड़ा,उसका जो ख़त मिला तो मुझे सोचना पड़ा,अपना सा वो लगा तो मुझे सोचना पड़ा.


हम दिलफेक आशिक़ है, हर काम में कमाल कर दे, जो वादा करे वो पूरा हर हाल में कर दे, क्या जरुरत है जानू को लिपस्टिक लगाने की, हम चूम-चूम के ही होंठ उसके लाल कर दे !!




दिल के अरमान आँसुओ मे बह गये,हम गली मे थे और गली मे ही रह गये,अपनी तो किस्मत ही खराब थी की लाइट चली गईजो बात उसे कहनी थी वो उस

दिल है हीरे की कनी, जिस्म गुलाबों वाला मेरा महबूब है दरअस्ल किताबों वाला हुस्न है - रंग है - शोख़ी है - अदा है उसमें एक ही जाम मगर कितनी शराबों वालाकी मम्मी से कह गये….




अधूरी ख्वाइस पूरी हो जाए ! मुझे याद करना उनकी मज़बूरी हो जाए !! ऐ खुदा कुछ ऐसी तकदीर बना दे मेरी ! की उनकी हर ख़ुशी हमारे बिना अधूरी हो जाए !!




दिल है हीरे की कनी, जिस्म गुलाबों वाला मेरा महबूब है दरअस्ल किताबों वाला हुस्न है - रंग है - शोख़ी है - अदा है उसमें एक ही जाम मगर कितनी शराबों वाला




खूबसूरत सा एक पल किस्सा बनजता है जाने कब कौन ज़िंदगी का हिस्सा बनजता है कुछ लोग ज़िंदगी में मिलते है ऐसे जिनसे कभी ना टूतनेवाला रिश्ता बन जाता है


आँखों में तेरी डूब जाने को दिल चाहता है! इश्क में तेरे बर्बाद होने को दिल चाहता है! कोई संभाले मुझे, बहक रहे है मेरे कदम! वफ़ा में तेरी मर जाने को दिल चाह

इंतज़ार करते करते वक़्त क्यों गुजरता नहीं! सब हैं यहाँ मगर कोई अपना नहीं! दूर नहीं पर फिर भी वो पास नहीं! है दिल में कहीं पर आँखों से दूर कहीं!







तुझे देखु तो सारा जहाँ रंगीन नज़र आता है, तेरे बिना दिल को चेन किसको आता है, तुम ही हो मेरे दिल की धड़कन, तेरा बिना यह संसार आवारा नज़र 

हम तो पागल है जो शायरी में ही दिल की बात कह देते है.. लोग तो गीता पे हाथ रखके भी सच नहीं बोलते !!आता है!


प्यार मोहब्बत चाहत इश्क़ जिन्दगी उल्फ़त , एक तेरे आने से कितना बदल गई किस्मत।






बडी अजीब मुलाकातें होती थी हमारी, वो किसी मतलब से मिलते थे और हमे तो सिर्फ मिलने से मतलब था…


तेरी धड़कन ही ज़िंदगी का किस्सा है मेरा, तू ज़िंदगी का एक अहम् हिस्सा है मेरा.. मेरी मोहब्बत तुझसे, सिर्फ़ लफ्जों की नहीं है, तेरी रूह से रूह तक का रिश्ता है मेरा..!!




Romantic shayari





























कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.