Header Ads

अनार सिर्फ खून की कमी ही नहीं, इन 12 प्रॉब्लम्स का भी हल है अनार



सिर्फ खून की कमी ही नहीं, इन 12 प्रॉब्लम्स का भी हल है अनार

शरीर में खून की कमी को पूरा करने की बात आती है तो लोग सबसे पहले अनार खाने या इसका जूस पीने की सलाह ही देते हैं। मगर विटामिन्स, एंटीबैक्टीरियल और फोलिक एसिड होने के कारण अनार का सेवन कैंसर, डायबिटीज और डिप्रेशन से बचाने में भी मदद करता है। इतना ही नहीं, औषधीए गुणों से भरपूर अनार त्वचा से जुड़ी परेशानियों के लिए भी रामबाण है।

अनार के पोषक तत्व

अनार में एनर्जी 4%, एल्लेर्जिक 3%, कार्बोहाइड्रेट 14%, अनसेचुरेटड फेटी एसिड 6% और डाइटरी फाइबर 11% होता है। इसमें 3% प्रोटीन, 14% विटामिन्स, 5.5% थाइमिन और 4% आयरन भी पाया जाता है। इसके अलावा इसमें एंटीऑक्सीडेंट, फोलिक एसिड और राइबोफ्लेविन जैसे तत्व भी पाए जाते हैं।
चलिए अब हम आपको बताते हैं अनार खाने से आपको क्या-क्या फायदे मिलते हैं...
यूटीआई से बचाए अनार

एंटीआक्सीडेंट, एंटीबैक्टीरियल गुणों होने के कारण अनार का सेवन यूटीआई इंफेक्शन से बचाने में मदद करता है। इसके अलावा इससे उन हार्मोन्स का स्तर भी बैलेंस रहता है, जोकि यूटीआई का कारण बनते हैं।
कैंसर से बचाव

इसमें ऐसे एंजाइम पाए जाते हैं तो हार्मोन को एस्ट्रोजन हार्मोन में बदल देते हैं। इससे ब्रेस्ट कैंसर जैसी बीमारियों दूर रहती है। आगर आप भी कैंसर से बचे रहना चाहते हैं तो रोजाना 1 कटोरी अनार जरूर खाएं।
मजबूत इम्यून सिस्टम

अनार का सेवन करने से इम्यून सिस्टम मजबूत होता है, जिससे आप बैक्टीरियल व वायरल बीमारियों से बचे रहते हैं। इसके अलावा यह शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा भी बढ़ाता है।
एनीमिया

फॉलिक एसिड से भरपूर होने के कारण इसका सेवन एनीमिया के खतरे को भी कम करता है। साथ ही इससे हाई ब्लड प्रेशर भी कंट्रोल में रहता है लेकिन डायबिटीज मरीज इसका सेवन न करें।
दिल की बीमारियों से बचाव

अनार खाने से शरीर में खून का प्रवाह ठीक तरह से होता है। यह हार्ट अटैक और हार्ट स्ट्रोक से भी बचाव करता है।
नहीं बनते रक्त के थक्के

इसका सेवन करने से ना सिर्फ खून की कमी पूरी होती है बल्कि यह उसे पतला भी करता है, जिससे रक्त के थक्के नहीं बनते।
तनाव व डिप्रेशन
तनाव और डिप्रेशन से बचे रहना चाहते हैं तो रोजाना अनार का सेवन भी करें। इससे दिमाग में स्ट्रेस पैदा करने वाले हार्मोन्स रिलीज नहीं होते हैं, जिससे तनाव से बचे रहते हैं। इतना ही नहीं, इससे आप अल्जाइमर व अन्य मानसिक बीमारियों से भी बचे रहते हैं।
प्रेग्नेंसी में फायदेमंद

इसमें विटामिन और मिनरल और फोलिक एसिड पाया जाता है, जोकि गर्भ में पल रहे शिशु और मां के लिए फायदेमंद है। साथ ही इसका सेवन प्रेग्नेंसी में पैरों के दर्द से राहत देता है। इसके अलावा इसका सेवन से प्रीमेच्योर डिलीवरी का खतरा कम करता है।
वजन को करे कंट्रोल

रोजाना 2 गिलास अनार का जूस पीने से वजन घटाने में भी मदद मिलती है। इससे पेट लंबे तक भरा रहता है और आप ओवरइटिंग से बच जाते हैं। साथ ही इससे मेटाबॉलिज्म भी तेज होता है, जिससे वजन तेजी से कम होता है।
त्वचा के लिए फायदेमंद अनार का छिलका

अनार त्वचा के रोमछिद्र और त्वचा को टाइट करके बढ़ते उम्र के लक्षणों को कम करता है। इसके अलावा अनार के छिलके त्वचा में मौजूद कोलाजन को नुकसान पहुंचने से बचाते हैं, जिससे त्वचा पर झुर्रियां नहीं पड़ती हैं।
एंटी-एजिंग गुण

अनार में उच्च मात्रा में विटामिन ए, ई और सी होता है, जिससे बढ़ती उम्र की समस्या दूर रहती है। रोजाना इसका सेवन त्वचा की महीन रेखाओं और झुर्रियों को रोकने में मदद करता है।
डेड स्किन निकाले

अनार, त्वचा की ऊपरी परत को सुर‍क्षित रखने का काम करता हैं और चेहरे के डेड सेल्स को निकालकर नई कोशिकाओं के निर्माण करने में अहम भूमिका निभाता हैं। इसके छिलके को पीसकर चेहरे की मसाज करने से डेड स्किन निकल जाती हैं और ब्लैकहेड्स की समस्या दूर होती है। आप चाहें तो इसमें ब्राउन शुगर और शहद मिलाकर भी इस्तेमाल कर सकते हैं। 
दाग-धब्बों से छुटकारा

अनार को पीसकर उसमें दही मिक्स करके चेहरे पर 20-25 मिनट तक लगाएं। इसके बाद हल्के हाथों से मसाज करते हुए ताजे पानी से चेहरा धो लें। इससे चेहरे के दाग-धब्बों, सन टैनिंग जैसी परेशानियां दूर हो जाएंगी।
सांवलापन दूर करने के लिए

अनार के पेस्ट में शहद मिक्स चेहरे पर 30 मिनट तक लगाएं और फिर ताजे पानी से साफ करें। हफ्ते में 2-3 बार इसका इस्तेमाल करें। यह त्वचा को अंदर से पोषण देता है और धूल-मिट्टी को निकाल देता है। इससे सांवलापन कम होता है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.