Header Ads

10 सुपरफूड्स तो नहीं पड़ेगी मल्टीविटामिन्स की जरूरत


हफ्ते में 1 बार खा लेंगी ये 10 सुपरफूड्स तो नहीं पड़ेगी मल्टीविटामिन्स की जरूरत
Image result for सुपरफूड्स

महिलाएं अक्सर 30 के बाद कमजोरी महसूस करने लगती हैं क्योंकि इस उम्र के बाद शरीर में बहुत सी कमियां होने लगती है जिसका एक कारण सही व पौष्टिक चीजें ना खाना भी है। भारतीय महिलाएं खासतौर पर इन प्रॉब्लम्स की शिकार हो ही जाती है क्योंकि वह परिवार संभालते-संभालते खुद का ध्यान नहीं रख पाती। बस फिर इसी के चलते कभी कैल्शियम की कमी तो कभी आयरन की। उसके बाद पड़ती है मल्टीविटामिन्स लेने की जरूरत...

लेकिन बहुत सी महिलाएं मल्टीविटामिन टेबलेट्स लेने से कतराती हैं उनके लिए आज हम एक आसान सा समाधान लेकर आए हैं आपको बस हफ्ते में 10 सुपरफूड्स को अपनी डाइट में शामिल करना है इससे ना तो शरीर में किसी तरह की कमी होगी और ना ही दवा खाने की जरूरत पड़ेगी।

जो सुपरफूड्स हम आपको बताने जा रहे हैं वह पोष्क तत्व के साथ आपकी स्किन को हेल्‍दी रखने, ब्रेस्‍ट कैंसर को दूर करने, प्रेग्‍नेंट होने और बाद में, मेनोपॉज के दौरान महिलाओं की हेल्‍दी और फिट रहने में मदद करते हैं।



तो चलिए जानते हैं इन सुपरफूड्स के बारे में...
एवोकाडो
आपको एवोकाडो रोजाना खाने की जरूरत नहीं बल्कि सिर्फ 1 हफ्ते में 1 बार खा लें। एवोकाडो आपके बॉडी को हेल्‍दी फैट देता है जो हार्ट रोग और अन्य बीमारियों का मुकाबला करने में मदद करता है।

बींस
बींस में प्रोटीन और फाइबर से भरपूर होते हैं। कुछ अध्ययनों के अनुसार, यह ब्रेस्‍ट कैंसर को रोकने में मदद करते हैं। बीन्स आपके हार्ट को हेल्‍दी, कोलेस्ट्रॉल को कम, और आपके महत्वपूर्ण पोषक तत्वों जैसे आयरन और विटामिन बी को पूरा कर सकते हैं।
केले

कुछ महिलाएं हर सुबह नाश्ते के साथ 1 केला खाने का विकल्प चुन सकती हैं (हालांकि नाश्ते के लिए सिर्फ एक केला खाना एक बुरा विचार है)। क्‍योंकि भोजन के साथ पोटेशियम युक्त केले खाने से आपकी बॉडी को सोडियम के हाई लेवल को संभालने में मदद मिल सकती है। अपने ब्‍लड प्रेशर को कम करने के लिए सबसे अच्छी चीजों में से एक है, अपने खाने के साथ पोटेशियम लेना।
ब्राजील नट्स

ब्राज़ील नट्स एक सुपरफ़ूड हैं जो शरीर के तत्वों को पूरा कर देता है। आप रोजाना इसका सेवन नहीं कर सकते तो हफ्ते में एक बार इसे जरूर खाएं।

दालचीनी
दालचीनी लगभग रसोई में पाई जाती है। कुछ अध्ययनों के अनुसार, दालचीनी अल्जाइमर और अन्य न्यूरोलॉजिकल विकारों को रोकने में हेल्‍प करते हैं। आप इसे सब्‍जी में शामिल करने के साथ-साथ ऐसे भी ले सकती हैं।
ब्लू बैरीज
ब्लूबेरी, एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होने के कारण आपके ब्रेन के लिए बहुत अच्‍छी मानी जाती है, जो मेमोरी को तेज ओर ब्‍लड वेसल्‍स को हेल्‍दी बनाती है। कैंसर के खतरे को कम करने में भी यह काफी फायदेमंद है। इसमें नेचुरल मीठा होने के साथ ही साथ फाइबर से भरपूर होते हैं। आप इसे ऐसे ही खा सकती हैं या चाहे तो दही या दलिया में मिलाकर या बेक करके भी खा सकती हैं।
स्प्राउट

स्प्राऊट भले ही आपको खाने में पसंद ना हो लेकिन इसमें बहुत से गुण होते हैं जो फाइबर युक्त व बेहद पौष्टिक होते हैं।
डार्क चॉकलेट
अगर आप ज्‍यादा चॉकलेट खाने के लिए हेल्‍दी चीजों की तलाश में हैं तो आपको इसे खाने का बहाना मिल गया। ये एंटीऑक्सीडेंट ब्‍लड प्लेटलेट्स को हेल्‍दी रखता हैं, आपकी आर्टरीज के हेल्‍थ में सुधार और ब्‍लड प्रेशर को कम करने में मददगार होता हैं। इसके अलावा, डार्क चॉकलेट तनाव या तनाव की भावनाओं को कम करने में भी हेल्‍प करता है।
अंडे

अंडों के कई हेल्‍थ बेनिफिट्स है, जैसे एनर्जी का लेवल बढ़ाना, बालों और स्किन सेल्‍स को समर्थन करना और हार्ट डिजीज को रोकना शामिल है।
अंजीर

अंजीर हफ्ते में 1 बार जरूर खाएं। 1 बार अंजीर खाने से आप केले से अधिक पोटेशियम ले सकती हैं। आपको ब्‍लडप्रेशर और चिंता को कम करने और अपनी हड्डियों और मसल्‍स की हेल्‍थ को ठीक करने के लिए पोटेशियम की जरूरत होती है।
सेब

रोजाना एक सेब का सेवन करने से शरीर कई बीमारियों से बचा रहता है। साथ ही यह बढ़ती उम्र की वजह से मस्ति‍ष्क पर पड़ने वाले प्रभाव को दूर करने में भी फायदेमंद है।

डिलीवरी के बाद कौन से सुपरफूड्स खाने चाहिए

गर्भधारण की अवधि के दौरान हर्मोन्स परिवर्तन के साथ-साथ महिलाओं को बहुत सी चीजों से गुजरना पड़ता है। ऐसे में आपको कुछ सूपरफूड्स का सेवन करना चाहिए जो शरीर के लिए लाभकारी होते हैं और रिकवरी में मदद करते हैं।


गर्भधारण की अवधि से लेकर शिशु के जन्म तक गर्भावस्था के दौरान महिलाओं के शरीर में काफी कुछ बदलाव आते हैं। हर्मोन्स परिवर्तन के साथ-साथ, लेबर पेन, तनाव, दर्द, जी-मिचलाने जैसी अनेक समस्याओं से महिलाओं को गुजरना पड़ता है। ऐसे में शिशु के जन्म के बाद महिलाओं को अपना खास ख्याल रखना होता है ताकि वे जल्द रिकवरी कर पाएं। ऐसे में आपको कुछ सुपरफूड्स का सेवन करना चाहिए जो आपको पर्याप्त मात्रा में एंटी-ऑक्सीडेंट्स के साथ-साथ ऊर्जा भी देते हैं। आइए जानते हैं कि डिलीवरी के बाद महिलाओं को कौन से सुपरफूड्स खाने चाहिए।

1.बेहतर नींद के लिए केला खाएं- केले में ट्रिप्टोफेन पाया जाता है। यह एक अमीनो एसिड है जो कि शरीर सेरोटोनिन का स्तर बढ़ाने के लिए उपयोगी होता है। साथ ही में यह मेलाटोनिन बनाता है। जो दोनों आपके मस्तिष्क की प्रक्रिया को धीमा कर देते हैं और आपको नींद लाने में मदद करते हैं।

2. थकान को कम करने के लिए पालक का सेवन करें- शिशु को स्तनपान करवाने वाली माताओं को अतिरिक्त ऊर्जा की जरुरत होती है। ऊर्जा की कमी के कारण उन्हें थकान महसूस होती है इसलिए आयरन युक्त पालक का सेवन करने से थकान कम हो जाती है। 
3.योगर्ट- योगर्ट कैल्शियम का अच्छा स्रोत होता है जो कि माताओं और उनके शिशु के लिए लाभकारी होती है। हड्डियों और दांतों को मजबूत करने के लिए और ऊर्जा की कमी को दूर करने के लिए योगर्ट का सेवन महिलाओं को डिलीवरी के बाद करना जरुर करना चाहिए।

4. संतरा- सी-सेक्शन, टांके लगना या फिर नॉर्मल, डिलीवरी किसी भी तरह से हो सकती है। संतरे में विटामिन सी होता है जो कि टिशू को रिपेयर करने में मदद करता है। इसी के साथ शरीर को ऊर्जा देने के लिए भी संतरे का सेवन लाभकारी होता है। संतरा खाना शरीर के लिए लाभकारी सुपरफूड होता है।
5.ओट्स- ओट्स ऊर्जा से भरपूर होते हैं साथ ही ये शरीर को आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम प्रदान करते हैं। शरीर को तेजी से रिकवरी करने के लिए ओट्स एक महत्वपूर्ण सुपरफूड्स के रुप में खाया जा सकता है। इसलिए ओट्स का सेवन डिलीवरी के बाद करना लाभकारी होता है। [

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.