Header Ads

फिटकरी का यूं करें इस्तेमाल



फिटकरी का यूं करें इस्तेमाल और 2 दिन में Urine इंफेक्शन को करें दूर
सालों से हमारे-आपके घर में फिटकरी का इस्तेमाल होता आ रहा है। फिटकरी में एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। फिटकरी दो तरह की होती है, लाल और सफेद लेकिन ज्यादातर घरों में सफेद फिटकरी का ही इस्तेमाल किया जाता है।

urine infection


नई दिल्ली: सालों से हमारे-आपके घर में फिटकरी का इस्तेमाल होता आ रहा है। फिटकरी में एंटी-बैक्टीरियलगुण पाए जाते हैं। फिटकरी दो तरह की होती है, लाल और सफेद लेकिन ज्यादातर घरों में सफेद फिटकरी का ही इस्तेमाल किया जाता है। कुछ घरों में इसे आफ्टर शेव की तरह इस्तेमाल करते हैं तो कुछ घरों में इसका प्रयोग पानी साफ करने के लिए। आयुर्वेद में भी इसके कई फायदों का उल्लेख किया गया है। ऐसा माना जाता है कि फिटकरी से 23 तरह की समस्याओं को दूर किया जा सकता है।
RELATED STORIES

बिजली को भूल जाएं, अब यूरिन से चार्ज होगा आपका स्मार्टफोन

यूरीन का रंग बताता है आपकी सेहत से जुड़े ये बड़े राज़

देश में हर 5 में से 1 को है ये बीमारी, इन संकेतो को न करें इग्नोर

अगर आप पीते हैं बोतलबंद पानी, तो समझ लें तेजी से कम हो रही है आपकी उम्र

इरफान खान को हैं न्‍यूरो एंडोक्राइन ट्यूमर, जानिए क्या है बीमारी और उसके लक्षण

कान में दिखे ये लक्षण तो संभल जाइये हो सकता है कानों में कैंसर

फिटकरी के कुछ बेहतरीन फायदे:
चोट लग जाने पर अगर आपको कोई चोट लग गई हो या फिर घाव हो गया हो और उससे लगातार खून आ रहा हो तो फिटकरी के पानी से घाव को धो लें। इससे खून बहना बंद हो जाएगा। फिटकरी के पानी की जगह आप फिटकरी को महीन पीसकर भी प्रयोग में ला सकते हैं।

चेहरे की झुर्रियों को दूर करने में मददगार 
अगर आपके चेहरे पर भी झुर्रियां आ गई हैं तो फिटकरी के पानी का इस्तेमाल करना आपके लिए बहुत फायदेमंद रहेगा। आप चाहें तो फिटकरी के एक बड़े टुकड़े को पानी में डुबोकर चेहरे पर हल्के हाथों से मलें। कुछ देर बाद साफ पानी से चेहरा धो लें।

पसीने की बदबू दूर करने के लिए 
अगर आपको भी बहुत पसीना आता है और आपके पसीने से बदबू भी आती है तो फिटकरी का इस्तेमाल आपके लिए खासतौर पर फायदेमंद रहेगा। फिटकरी का एक महीन चूर्ण बना लें। नहाने से पहले फिटकरी के इस चूर्ण की कुछ मात्रा पानी में डाल दें। इस पानी से नहाने से आपकी ये समस्या दूर हो जाएगी।

दांतों की समस्या का कारगर समाधान 
फिटकरी में एंटी-बैक्टीरियल गुण होता है। दांत में दर्द और मुंह की बदबू को दूर करने के लिए भी फिटकरी का इस्तेमाल किया जाता है। ये एक नेचुरल माउथवॉश है। दांत दर्द होने पर फिटकरी के पानी से गार्गल करना फायदेमंद रहता है।

दमा, खांसी और बलगम की समस्या का समाधान 
अगर आपको दमा की शि‍कायत है तो फिटकरी आपकी इस समस्या का रामबाण इलाज है। फिटकरी के चूर्ण को शहद के साथ मिलाकर चाटने से दमा और खांसी में फायदा होता है। 

सिर की गंदगी और जुंओं को मारने का घरेलू उपाय 
अगर आपके सिर में जुंएं पड़ गई हैं तो फिटकरी के पानी से बाल धोना फायदेमंद रहेगा। इसके एंटी-बैक्टीरियल गुण के चलते जुंएं मर जाते हैं और सिर की दूसरी गंदगी भी धुल जाती है


सालों से हमारे-आपके घर में फिटकरी का इस्तेमाल होता आ रहा है। फिटकरी में एंटी-बैक्टीरियल गुण पाए जाते हैं। फिटकरी दो तरह की होती है, लाल और सफेद लेकिन ज्यादातर घरों में सफेद फिटकरी का ही इस्तेमाल किया जाता है।

यूरीन इंफेक्शन

यूरीन इंफेक्शन होने पर 
यूरीन इंफेक्शन हो जाने पर भी फिटकरी का इस्तेमाल करना बहुत फायदेमंद होता है। प्रतिदिन फिटकरी के पानी से प्राइवेट पार्ट की सफाई करने से इंफेक्शन का खतरा दूर हो जाता है। इसके अलावा पानी में घुलनशील अशुद्धि को दूर करने के लिए भी फिटकरी का इस्तेमाल किया जाता है।



यूरिन इन्फेक्शन को जड़ से खत्म करेंगे ये छोटे-छोटे नुस्खे


यूरिन इन्फेक्शन के घरेलू नुस्खे : यूरिन इंफैक्शन यानी पेशाब करते समय जलन या दर्द होना। यह समस्या स्त्री या पुरूष दोनों को कभी भी हो सकती है। कई बार तो यह समस्या कुछ ही दिनों में ठीक हो जाती है लेकिन बहुत सी बार डॉक्टरों के पास जाने तक की नौबत आ जाती है। हम लोग अक्सर यूरिन इन्फेक्शन को अनदेखा कर देते है जो बाद में कई समस्याओं का कारण बनता है। ऐसे आपको चाहिए कि जब भी यूरिन करते समय जलन या दर्द हो तो तुरंत इलाज शुरू कर दें, ताकि बाद में किसी प्रकार की कोई बड़ी बीमारी होने का खतरा टल जाए। आज हम आपको यूरिन इन्फेक्शन के कारण, लक्षण और इसके इलाज के लिए कुछ घरेलू नुस्खे बताएंगे, जिन्हें आप घर पर ही ट्राई करके देख सकते है।
यूरिन में जलन के कारण

मूत्र मार्ग में संक्रमण या ब्लैडर में सूजन 
किडनी में पथरी होना
शरीर में पानी की कमी 
लीवर प्रॉब्लम होना
रीढ़ की हड्डी में चोट लगना
शुगर की बीमारी होना
यूरिन में इन्फेक्शन के लक्षण (Urine Infection Symptoms)​​​​​​

यूरिन से स्मैल आना 
ब्लैडर में दर्द रहना
बार-बार यूरिन आना 
यूरिन का रंग पीला हो जाना 
बूंद-बूंद पेशाब आना
पेट और मूत्र मार्ग में जलन

यूरिन इन्फेक्शन के घरेलू उपाय (Home Remedies For Urine Infection)

अधिक पानी पीना 
अगर यूरिन लग कर आ रहा है तो हर एक घंटे में पानी का गिलास पीएं। इससे ब्लैडर में जमा हुएबैक्टीरिया बाहर निकल जाएगे और शरीर में पानी की कमी भी नहीं होगी। 

सिट्रिक एसिड युक्त फल
जिन फलों और सब्जियों में सिट्रिक एसिड की मात्रा अधिक होती है, उनका सेवन करें। यह एसिड यूरिन इंफैक्शन बनाने वाले बैक्टीरिया को खत्म कर देता है। ऐसे में खट्टे फल यानी नींबू, मौसमी अन्य आदि का सेवन करें। 

नारियल पानी पीएं
नारियल पानी पीने से भी यूरिन के दौरान होने वाली जलन कम हो सकती है। साथ ही रोजाना नारियल पानी पीने से शरीर को पानी और मिनरल्स भरपूर मात्रा में मिलते है।


चावल का पानी 
आधा गिलास चावल के पानी में चीनी मिलाकर पीने से यूरिन में होने वाली जलन कम हो सकती है। 

बादाम और इलायची

बादाम की 5 गिरी में 7 छोटी इलायची और मिसरी डालकर पीस लें। फिर इसे पानी में घोलकर पीएं। इससे दर्द और जलन कम होती है। 

यूरिन इन्फेक्शन के आयुर्वेदिक उपचार (Ayurvedic Medicine For Urine Infection)


आंवला और इलायची 
आंवले का चूर्ण में इलायची मिलाकर पानी के साथ पीएं। इससे यूरिन की जलन कम होगी। 
बेकिंग सोडा और पानी
अगर यूरिन इंफैक्शन के दौरान बार-बार पेशाब आए तो 1 गिलास पानी में 1 चम्मच सोडा मिलाकर पीएं। इससे एसिडिटी और जलन की समस्या कम होगी। 

गेहूं और मिसरी
रात को सोने से पहले 1 मुट्ठी गेंहू को पानी में भिगोएं और सुबह उसी पानी को छान लें। फिर उसमें मिसरी मिलाकर खाएं। 

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.