Header Ads

अदरक के फायदे, औषधीय गुण और उपयोग –


अदरक के फायदे, औषधीय गुण और उपयोग – 
Ginger Benefits and Uses in Hindi



अदरक एक फूल वाला पौधा है और इसका आधिकारिक नाम Zingiber officinale है। प्रकंद, जिसे आमतौर पर मूल के रूप में जाना जाता हैअदरक में आपको स्वस्थ रखने की जबरदस्त शक्ति होती है.अदरक खाद्य पदार्थ होने के साथ-साथ आयुर्वेदिक औषधि भी है। अगर भोजन में स्वाद का तड़का लगाना हो, तो अदरक का इस्तेमाल किया जाता है। वहीं, बात की जाए औषधि के रूप में अदरक के सेवन की, तो यह कई बीमारियां का इलाज करने में सक्षम है।

भारत के आयुर्वेदिक ग्रंथों में अदरक को सबसे महत्वपूर्ण बूटियों में से एक माना गया है। यहां तक कि उसे अपने आप में औषधियों का पूरा खजाना बताया गया है। आयुर्वेदिक चिकित्सक इसको एक शक्तिशाली पाचक के रूप में लेने की सलाह देते हैं क्योंकि यह पाचक अग्नि को भड़काता है और भूख बढ़ाती है। इसके पोषक तत्व शरीर के सभी हिस्सों तक आसानी से पहुंच पाते हैं।यही कारण है कि आयुर्वेद में अदरक विशेष महत्व रखता है।
तो आइए जानते हैं अदरक के आश्चर्यजनक गुणों के बारे में और दूर करते हैं सारी बीमारियों को जल्दी से।

पाचन 
अदरक पाचन शक्ति को मजबूत करने में मदद करता है। अदरक के सेवन से पित्त की थैली से पित्त निकालने में मदद मिल सकती है । इसके अलावा, यह गैस के कारण पेट में होने वाली ऐंठन व दस्त जैसी समस्या से राहत दिलाने में भी मदद करता है।

अदरक मधुमेह में लाभदायक तत्व
ऑस्ट्रेलिया में सिडनी यूनिवर्सिटी में हुए एक शोध में अदरक को टाइप 2 मधुमेह से पीड़ित लोगों के लिए असरदार पाया गया। अदरक के तत्व इंसुलिन के प्रयोग के बिना ग्लूकोज को स्नायु कोशिकाओं तक पहुंचाने की प्रक्रिया बढ़ा सकते हैं। इस तरह इससे उच्च रक्त शर्करा स्तर (हाई सुगर लेवल) को काबू में करने में मदद मिल सकती है।

अदरक जोड़ों के दर्द और आर्थराइ‍टिस में राहत देती है
अदरक में जिंजरोल नामक एक बहुत असरदार पदार्थ होता है जो जोड़ों और मांसपेशियों के दर्द को कम करता है। एक अध्ययन के मुताबिक, अदरक गंभीर और स्थायी इंफ्लामेटरी रोगों के लिए एक असरकारी उपचार है।
कई और वैज्ञानिक अध्ययन भी जोड़ों के दर्द में अदरक के असर की पुष्टि करते हैं। गठिया के शुरुआती चरणों में यह खास तौर पर असरकारी होता है। ऑस्टियोआर्थराइटिस से पीड़ित बहुत से मरीजों ने नियमित तौर पर अदरक के सेवन से दर्द कम होने और बेहतर गतिशीलता का अनुभव किया।


मासिक धर्म का दर्द 
अदरक के औषधीय गुण मासिक धर्म में भी फायदा पहुंचाते हैं। एक स्टडी में यह बात सामने आई है कि अदरक मासिक धर्म से राहत दिलाने में मदद करता है। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो एक प्राकृतिक दर्द निवाकर का काम करते हैं। ऐसे में, मासिक धर्म के दौरान होने वाले दर्द से राहत पाने के लिए अदरक का इस्तेमाल किया जा सकता है

ब्लड प्रेशर कण्ट्रोल करता है 
अदरक में खून को पतला करने का नायाब गुण होता है और इसी वजह से यह ब्लड प्रेशर जैसी बीमारी में तुरंत लाभ के लिए जाना जाता है।

कोलेस्ट्रॉल और दिल के स्वास्थ्य के लिए 
अदरक को दिल के स्वास्थ्य के लिए भी बेहतर माना जाता है। इसके नियमित सेवन से कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम होता है और आंतरिक ब्लड क्लॉटिंग भी ठीक होती है। इसके अलावा, यह स्ट्रॉक से भी बचाता है

अदरक के औषधीय गुण कैंसर के लिए
आपको बता दें अदरक में कई प्रकार के कैंसर को रोकने की क्षमता होती है। अदरक में उपस्थित एंटीऑक्सिडेंट पेट में कैंसर कोशिकाओं को नष्‍ट करते है जो कोलोरक्‍टल कैंसर (Colorectal cancer) को बढ़ावा दे सकते है। अध्‍ययनों से पता चलता है कि अदरक में एपोप्‍टोसिस (Apoptosis) भी होता है जो ट्यूमर और कैंसर कोशिकाओं के विकास को रोकने मे मदद करता है। जिंजरोल त्‍वचा कैंसर को भी कम करने में मदद करता है।

यौन शक्ति बढ़ाने में अदरक के फायदे
अदरक का उपयोग प्राचीन समय से यौन गतिविधि और शक्ति (Sexual activity and power) को बढ़ाने के लिए किया जा रहा है। इससे आने वाली खुशबू आपकी यौन इच्‍छा और क्षमता को बढ़ाने में मदद करती है। अदरक आपके शरीर में रक्‍त प्रवाह को भी बढ़ाता है। आपके शरीर के मध्‍य भाग में रक्‍त अधिक आसानी से फैलता है जो कि यौन प्रदर्शन के लिए विशेष आवश्यक होता है।
त्वचा के लाइए फायदेमंद 
अगर आपको त्वचा से जुड़ी हुई किसी भी किस्म की समस्या है तो आप अदरक के ज्यूस को नियमित तौर पर इस्तेमाल करना शुरू कर दीजिए। अदरक के ज्यूस से आप मुहांसों से हमेशा के लिए निजात पा सकते हैं।

इम्यूनिटी बढ़ाए 
अगर आपकी रोग-प्रतिरोधक क्षमता कमजोर है, तो आप अदरक का सेवन कर सकते हैं। यह आपकी इम्यूनिटी को बढ़ाने में मदद करता है। कमजोर इम्यूनिटी के कारण व्यक्ति को बीमारियां जल्दी घेर लेती हैं। जैसे ही इम्यूनिटी कमजोर पड़ने लगती है, सर्दी-जुकाम सबसे पहले जकड़ लेते हैं। अदरक में एंटीवायरल गुण होते हैं, तो यह ऐसी बीमारियों से बचाने में मदद करता है
अदरक का उपयोग कैसे करें : How to Use Ginger

अदरक के इन सभी स्वास्थ्य लाभों के बारे में जानना बहुत अच्छा है, लेकिन आप अपनी दिनचर्या में अदरक को आसानी से कैसे शामिल कर सकते हैं? अदरक काफी मसालेदार होता है, इसलिए आप इसके स्वाद का आनंद नहीं ले सकते हैं। सौभाग्य से, अदरक पसंद करने वालों के लिए कई विकल्प हैं और जो मूल में नए हो सकते हैं।

यह अदरक का सबसे शक्तिशाली रूप है, लेकिन सबसे बहुमुखी भी है। आप इसे स्लाइस कर सकते हैं और इसे चाय के लिए गर्म पानी में डुबो सकते हैं, इसे हलचल-तलना व्यंजन में डाल सकते हैं, इसका रस निकाल सकते हैं, इसे अपनी स्मूदी में मिला सकते हैं, या एक टुकड़ा भी ले सकते हैं और इसे चूस सकते हैं!
सूखे अदरक या अदरक का रस एक मिड डे स्नैक के लिए बहुत अच्छा है।इनकेइलावा आप Ginger Tea, Ginger Capsule और Ginger Candy भी इस्तेमल कर सक्ते है





अदरक के 24 फायदे, उपयोग और नुकसान – 

अदरक खाद्य पदार्थ होने के साथ-साथ आयुर्वेदिक औषधि भी है। अगर भोजन में स्वाद का तड़का लगाना हो, तो अदरक का इस्तेमाल किया जाता है। वहीं, बात की जाए औषधि के रूप में अदरक के सेवन की, तो यह कई बीमारियां का इलाज करने में सक्षम है। यही कारण है कि आयुर्वेद में अदरक विशेष महत्व रखता है। स्टाइलक्रेज के इस लेख में हम अदरक खाने के विभिन्न फायदों के बारे में बताएंगे।


विषय सूची
अदरक के फायदे – Benefits of Ginger in Hindi
सेहत के लिए अदरक के फायदे – Health Benefits of Ginger in Hindi
त्वचा के लिए अदरक के फायदे – Skin Benefits of Ginger in Hindi
बालों के लिए अदरक के फायदे – Hair Benefits of Ginger in Hindi
अदरक के पौष्टिक तत्व – Ginger Nutritional Value in Hindi
अदरक का उपयोग – How to Use Ginger in Hindi
अदरक के नुकसान – Side Effects of Ginger in Hindi
अदरक के फायदे – Benefits of Ginger in Hindi


इसमें कोई दो राय नहीं है कि अदरक खाने के फायदे अनेक हैं। एक ओर जहां अदरक स्वास्थ्य के लिए गुणकारी है, वहीं यह बालों और त्वचा पर भी चमत्कारी असर दिखाता है। नीचे हम सेहत, त्वचा और बालों के लिए अदरक के फायदे बताएंगे।

आइए, पहले जानते हैं कि सेहत के लिए अदरक खाने के फायदे क्या हैं।
सेहत के लिए अदरक के फायदे – Health Benefits of Ginger in Hindi
1. श्वसन संबंधी समस्या :

जिन्हें सांस संबंधी समस्या होती है, उनके लिए अदरक असरकारक साबित हो सकता है। इसमें एंटीहिस्टामाइन गुण होते हैं, जो एलर्जी को ठीक करने में मदद करते हैं। सर्दी-जुकाम जैसी समस्या के लिए अदरक का इस्तेमाल सदियों से किया जा रहा है (1)। अगर आपको गले में खराश जैसी समस्या होती है, तो आप अदरक के रस में शहद मिलाकर खा सकते हैं। इसके अलावा, अगर आपकी नाक बंद हो या गला खराब हो, तो अदरक की चाय राहत पहुंचा सकती है।
2. पाचन :


अदरक पाचन शक्ति को मजबूत करने में मदद करता है। अदरक के सेवन से पित्त की थैली से पित्त निकालने में मदद मिल सकती है (2)। इसके अलावा, यह गैस के कारण पेट में होने वाली ऐंठन व दस्त जैसी समस्या से राहत दिलाने में भी मदद करता है।
3. कैंसर :

कई शोधों में यह बात भी साबित हुई है कि अदरक कैंसर से बचाने में मदद करता है। शोध में पाया गया है कि अदरक के अंदर कैंसर रोधी गुण मौजूद हैं, जो महिलाओं को स्तन कैंसर और गर्भाशय कैंसर से बचाते हैं (3)।

4. जी-मिचलाना :

अदरक के औषधीय गुण कैंसर के लिए भी काम आते हैं। जिन्हें कैंसर की बीमारी होती है, उन्हें कीमोथैरेपी दी जाती है। कीमोथैरेपी के बाद रोगी को जी-मिचलाने की समस्या होती है। अदरक में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। इससे कीमोथैरेपी के बाद जी-मिचलाने की समस्या से राहत दिलाने में मदद मिलती है। ऐसे में कीमोथैरेपी से तुरंत पहले अगर अदरक का रस दिया जाए, तो जी-मिचलाने और उल्टी आने की समस्या काफी हद तक कम हो सकती है (4)। इसके अलावा, सामान्य रूप से जी-मिचलाने पर भी अदरक राहत दे सकता है।

5. दर्द निवारक :

अदरक में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एनाल्जेसिक गुण होते हैं, जो दर्द निवारक का काम करते हैं। जिन्हें अर्थराइटिस व घुटनों में दर्द जैसी समस्या होती है, उनके लिए अदरक फायदेमंद हो सकता है। इसके अलावा, अदरक में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण भी होता है, जो सूजन दूर करने में मदद करता है (5)।

6. मासिक धर्म का दर्द :
अदरक के औषधीय गुण मासिक धर्म में भी फायदा पहुंचाते हैं। एक स्टडी में यह बात सामने आई है कि अदरक मासिक धर्म से राहत दिलाने में मदद करता है। इसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो एक प्राकृतिक दर्द निवाकर का काम करते हैं। ऐसे में, मासिक धर्म के दौरान होने वाले दर्द से राहत पाने के लिए अदरक का इस्तेमाल किया जा सकता है (6)।
7. माइग्रेन



अदरक का उपयोग आप माइग्रेन में भी कर सकते हैं। रिसर्च में यह बात सामने आई है कि अदरक प्रोस्टाग्लैंडिन को रक्त वाहिकाओं में सूजन पैदा करने से रोकता है। इस वजह से माइग्रेन की समस्या से राहत मिलती है। अगर आपको माइग्रेन का दर्द होता है, तो अदरक वाली चाय पी सकते हैं (7)। इसके अलावा, आप माइग्रेन का दर्द होने पर अदरक का पेस्ट अपने माथे पर लगा सकते हैं।
8. कोलेस्ट्रॉल और दिल के स्वास्थ्य के लिए :

अदरक को दिल के स्वास्थ्य के लिए भी बेहतर माना जाता है। इसके नियमित सेवन से कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम होता है और आंतरिक ब्लड क्लॉटिंग भी ठीक होती है। इसके अलावा, यह स्ट्रॉक से भी बचाता है (8)।
9. डायबिटीज :

अदरक रक्त शर्करा को भी कम करने का काम करता है, जिससे डायबिटीज से बचाव संभव होता है। वहीं, अगर किसी को डायबिटीज है, तो अदरक के सेवन से इंसुलिन और अन्य दवा का असर बढ़ सकता है। ऐसे में ब्लड शुगर को नियंत्रित करने के लिए सुबह-सुबह खाली पेट एक गिलास पानी में एक चम्मच अदरक का रस मिलाकर पीने से आपको फायदा हो सकता है (9)।
10. वजन कम करे :

अगर आप वजन कम करना चाहते हैं, तो अदरक आपकी मदद कर सकता है। अदरक को फैट बर्नर माना जाता है, जो न सिर्फ आपका वजन कम करता है, बल्कि अतिरिक्त फैट को भी कम करता है।
11. इम्यूनिटी बढ़ाए :

अगर आपकी रोग-प्रतिरोधक क्षमता कमजोर है, तो आप अदरक का सेवन कर सकते हैं। यह आपकी इम्यूनिटी को बढ़ाने में मदद करता है। कमजोर इम्यूनिटी के कारण व्यक्ति को बीमारियां जल्दी घेर लेती हैं। जैसे ही इम्यूनिटी कमजोर पड़ने लगती है, सर्दी-जुकाम सबसे पहले जकड़ लेते हैं। अदरक में एंटीवायरल गुण होते हैं, तो यह ऐसी बीमारियों से बचाने में मदद करता है (10)।
12. मासिक धर्म का चक्र :

अगर कोई महिला मासिक धर्म की अनियमितता से जूझती है, तो वह अदरक का सेवन कर सकती है। अनियमित मासिक धर्म होने पर ताजा अदरक लें और छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लें। फिर इसमें थोड़ा-सा पानी मिलाएं और पांच मिनट के लिए गर्म करें। अब इस मिश्रण को पी लें। अगर आपको मासिक धर्म नहीं आ रहे हैं, तो इससे आने में मदद मिलेगी। आप स्वाद के लिए इस मिश्रण में चीनी भी मिला सकते हैं।
13. उच्च रक्तचाप


अगर आपको उच्च रक्तचाप की समस्या है तो, अदरक आपको फायदा पहुंचा सकता है। इसमें मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण उच्च रक्तचाप को कम करने में मदद करते हैं। इसके लिए आप अदरक की चाय पी सकते हैं।
14. अर्थराइटिस



अदरक में एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं, जो अर्थराइटिस यानी गठिया की समस्या से राहत दिलाने में मदद करते हैं। अर्थराइटिस के दर्द में अदरक का इस्तेमाल काफी समय से किया जा रहा है (11)।

आइए, अब जानते हैं, त्वचा के लिए अदरक किस तरह से फायदेमंद है।
त्वचा के लिए अदरक के फायदे – Skin Benefits of Ginger in Hindi

अगर आपको त्वचा संबंधी परेशानी है, तो आपके लिए अदरक काम की चीज हो सकती है। इसलिए, नीचे हम बताने जा रहे हैं कि किस तरह से अदरक त्वचा के लिए फायदेमंद हो सकता है :
15. एंटी एजिंग :

अदरक में एंटी-ऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो एजिंग की समस्या को कम करने में मदद करते हैं। ये शरीर से टॉक्सिन को दूर कर त्वचा को जवां बनाए रखने में मदद करते हैं।
कैसे इस्तेमाल करें?

आप अदरक या अदरक के पाउडर में बराबर मात्रा में शहद और नींबू का रस मिलाएं। फिर इसे अपने चेहरे पर लगाएं और सूखने के बाद धो लें। आप इस प्रक्रिया को सप्ताह में दो बार दोहराएं।
16. जले हुए निशान के लिए :

अदरक त्वचा पर जले हुए निशान को कम करने में मदद कर सकता है। अगर आपकी त्वचा किसी कारणवश थोड़ी-सी जल जाती है, तो आप अदरक का इस्तेमाल कर सकते हैं।
कैसे इस्तेमाल करें?

आप त्वचा पर जले हुए निशान पर ताजे अदरक का टुकड़ा रगड़ें। इस प्रक्रिया को छह से 12 सप्ताह तक रोजाना दिन में दो से तीन बार दोहराएं।
17. मुंहासे और दाग धब्बे :

अदरक में एंटीसेप्टिक और क्लींजिंग गुण होते हैं, जो त्वचा को साफ रखने में मदद करते हैं। इसके अलावा, इसमें एंटीबैक्टीरियल गुण भी होते हैं, जो चेहरे पर मुंहासे होने से रोकने में मदद करते हैं (12)।
कैसे इस्तेमाल करें?

आप अदरक को घिस लें। फिर इसमें एक चम्मच नींबू का रस और दो चम्मच शहद मिलाएं। कुछ देर के लिए इस मिश्रण को फ्रिज में रखकर ठंडा करें। ठंडा होने के बाद इसे चेहरे पर लगाएं और सूखने के बाद धो लें।
18. स्किन टोनर :

अदरक को अपने एंटीऑक्सीडेंट और टोनिंग गुणों के लिए जाना जाता है, जो त्वचा को चमकदार बनाने में मदद करते हैं। इसे आप फेस मास्क के तौर पर इस्तेमाल कर सकते हैं।
कैसे इस्तेमाल करें?

स्किन टोन करने के लिए आप दो अदरक को घिसें और इसमें दो चम्मच शहद व एक चम्मच नींबू का रस मिलाएं। फिर इसे अपने चेहरे पर लगाएं और 30 मिनट बाद ठंडे पानी से चेहरा धो लें।
19. हाइपोपिगमेंटेड निशान :

हाइपोपिगमेंटेड निशान तब होते हैं, जब त्वचा अपना पिगमेंटेशन खो देती है। ये आमतौर पर वास्तविक त्वचा की तुलना में सफेद या बहुत हल्के रंग के होते हैं। अदरक में एंटीऑक्सीडेंट गुण होते हैं, जो इन निशानों को कम करने में मदद करते हैं (13)।
कैसे इस्तेमाल करें?

आप रोजाना अदरक का टुकड़ा इन निशानों पर रगड़ें और कुछ देर के लिए छोड़ दें। फिर पानी से धो लें। आपको एक या दो सप्ताह में ही अंतर नजर आने लगेगा।

आइए, अब जानते हैं कि बालों के लिए अदकर किस तरह से फायदेमंद है।
बालों के लिए अदरक के फायदे – Hair Benefits of Ginger in Hindi

घने और खूबसूरत बाल हर लड़की की चाहत होती है, लेकिन कुछ कारणों से बालों का झड़ना व रूसी आदि समस्या हो जाती है। ऐसे में अगर आप अदरक का इस्तेमाल करते हैं, तो यकीनन फायदा होगा। नीचे हम बताने जा रहे हैं कि बालों के लिए किस तरह अदरक फायदेमंद है :
20. बालों की ग्रोथ :

अदरक सिर में सर्कुलेशन बढ़ाने का भी काम करता है, जिससे रक्त का संचार ठीक से होता है। इस वजह से यह बालों के रोम को उत्तेजित करता है, जिससे बाल बढ़ते हैं। इसके अलावा, अदरक में मौजूद फैटी एसिड पतले बालों के लिए फायदेमंद होता है (14)।
कैसे इस्तेमाल करें?

आप एक छोटी कटोरी में एक बड़े चम्मच पिसे हुई अदरक और एक चम्मच जोजोबा तेल को डालकर मिक्स कर लें। फिर इस मिश्रण से सिर की मालिश करें और 30 मिनट के लिए बालों में लगा रहने दें। इसके बाद सामान्य तरीके से शैंपू कर लें।
21. डैंड्रफ



डैंड्रफ यानी रूसी की समस्या होने पर अदरक काम आ सकता है। इसमें एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, जो रूसी दूर करने में मदद करते हैं (15)। ऐसे में रूसी से राहत पाने के लिए आप अदरक वाले तेल का इस्तेमाल कर सकते हैं।
कैसे इस्तेमाल करें?

आप तीन चम्मच ओलिव ऑयल या तिल के तेल में अदरक और नींबू का रस मिलाएं। फिर इस तेल से सिर की मालिश करें और 15 से 30 मिनट बाद सिर धो लें। आप ऐसा सप्ताह में तीन बार करें।
22. बाल झड़ने का उपचार :

अदरक बाल झड़ने में असरदार साबित हो सकता हैं। इसमें ऐसे तत्व होते हैं, जो बालों को झड़ने से रोकते हैं और इन्हें मजबूत बनाने में मदद करते हैं।
कैसे इस्तेमाल करें?

आप जैतून के तेल में थोड़ा-सा अदरक का रस मिलाएं और इससे बालों की मालिश करें। यह प्रक्रिया सप्ताह में तीन बार दोहराएं।
23. रूखे बालों के लिए फायदेमंद :

अगर आपके बाल रूखे और बेजान रहते हैं, तो अदरक आपके बालों में चमक ला सकता है। अदरक में कई विटामिन्स, जिंक और फास्फोरस होते हैं, जो बालों को चमक प्रदान करते हैं।
कैसे इस्तेमाल करें?

रूखे बालों में चमक लाने के लिए आप जैतून या तिल के तेल में अदरक का रस मिलाएं और इससे बालों की मालिश करें।
24. दो मुंहे बाल

प्रदूषण के संपर्क में आने और अत्यधिक गर्मी के कारण बालों के रोम क्षतिग्रस्त हो जाने पर बाल दो मुंहे हो जाते हैं। अदरक में मौजूद फास्फोरस, जिंक और विटामिन्स बालों को फायदा पहुंचाते हैं।
कैसे इस्तेमाल करें?

इसका इस्तेमाल भी ओलिव ऑयल में मिलाकर किया जा सकता है। आप ओलिव ऑयल में अदरक का रस मिलाएं और इससे बालों की मालिश करें। बेहतर परिणाम के लिए इस प्रक्रिया को आप सप्ताह में तीन बार दोहरा सकते हैं।
अदरक के पौष्टिक तत्व – Ginger Nutritional Value in Hindi

अभी तक आपने बालों, त्वचा और सेहत के लिए अदरक के फायदे जानें। आइए, अब जानते हैं कि अदरक में क्या-क्या पौष्टिक तत्व होते हैं, जो इसे इतना गुणकारी बनाते हैं :
तत्वपौष्टिक मूल्यआरडीए (%)
ऊर्जा 80 Kcal 4
कार्बोहाइड्रेट 17.77 ग्राम 13.5
प्रोटीन 1.82 ग्राम 3
कुल वसा 0.75 ग्राम 3
कोलेस्ट्रॉल 0 ग्राम 0
डाइटरी फाइबर 2.0 ग्राम 5

विटामिन्स
फोलेट 11 µg 3
नियासिन 0.750 एमजी 4.5
पैंटोथैनिक एसिड 0.203 एमजी 4
पायरीडॉक्सीन 0.160 एमजी 12
विटामिन-ए 0 IU 0
विटामिन-सी 5 एमजी 8
विटामिन-ई 0.26 एमजी 1.5
विटामिन-के 0.1 µg 0

इलेक्ट्रोलाइट्स
सोडियम 13 एमजी 1
पोटैशियम 415 एमजी 9

मिनरल्स
कैल्शियम 16 एमजी 1.6
कॉपर 0.226 एमजी 25
आयरन 0.60 एमजी 7.5
मैग्नीशियम 43 एमजी 11
मैंगनीज 0.229 एमजी 10
फास्फोरस 34 एमजी 5
जिंक 0.34 एमजी 3

अदरक का उपयोग – How to Use Ginger in Hindi

ज्यादातर लोग सब्जी में अदरक डालकर तड़का लगाते हैं। इसके अलावा और भी कई तरीके हैं, जिनके जरिए आप अदरक का सेवन कर सकते हैं।
अदरक का अचार बनाकर आप इसे अपने आहार में शामिल कर सकते हैं। यह आपको स्वादिष्ट भी लगेगा और आपको अदरक के फायदे भी पता चलेंगे।
इसके अलावा, अदरक की चाय भी काफी प्रसिद्ध है। आप अदरक वाली चाय बनाकर पी सकते हैं।
वहीं, अदरक के पाउडर का भी सेवन किया जा सकता है।
इसके अलावा, अदरक को लंबा और पतला काट कर इस पर नमक-मिर्च और अपनी पसंद का मसाला लगाकर धूप में सुखा लें। फिर इसे आप कभी भी खा सकते हैं। आपका पाचन अच्छा रहेगा।
अदरक के नुकसान – Side Effects of Ginger in Hindi

इसमें कोई दो राय नहीं है कि अदरक काफी गुणकारी होता है, लेकिन जरूरत से ज्यादा सेवन करने पर अदरक के नुकसान भी हो सकते हैं। नीचे हम इन्हीं के बारे में बता रहे हैं :

डायबिटीज : अदरक को खाने से आपका इंसुलिन स्तर बढ़ सकता है। यह आपके शरीर में शर्करा की मात्रा घटा सकता है। ऐसे में डायबिटीज के मरीज अदरक का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

मासिक धर्म चक्र : कुछ महिलाओं को मासिक धर्म के दौरान अतिरिक्त रक्तस्राव होने की समस्या हो सकती है।

हृदय : अदरक का ज्यादा मात्रा में सेवन करने से आपके ह्रदय को हानि पहुंच सकती है। इसलिए, इसका सेवन अधिक मात्रा में नहीं करना चाहिए।

त्वचा : यूं तो अदरक आपकी त्वचा के लिए काफी फायदेमंद है, लेकिन कुछ लोगों को इससे एलर्जी हो सकती है। ऐसे में उन्हें अदरक को स्किन पर लगाने से जलन हो सकती है।

इस लेख में आपको हमने अदरक के फायदे से लेकर अदरक के नुकसान की जानकारी दी है। चूंकि, अदरक के औषधीय गुण काफी हैं, इसलिए इसका सेवन दवा के तौर पर किया जा सकता है। हम उम्मीद करते हैं, यह लेख आपके काम आएगा और अदरक खाने से आपको जरूर फायदा होगा

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.