Header Ads

महिला हस्तमैथुन के ये 16 फायदे –


आप भी नहीं जानती होंगी महिला हस्तमैथुन के ये 16 फायदे – 

महिला हस्तमैथुन के फायदे: क्‍या आप जानती हैं महिला हस्‍तमैथुन करने के फायदे भी होते हैं। सदियों से लड़कियों को यही सिखाया जा रहा है कि हस्‍तमैथुन से आत्‍म-संतुष्टि प्राप्‍त करना पाप है। ऐसा करने से महिलाओं में मुंहासे, समय से पहले बुढ़ापा और बांझपन जैसी समस्‍याएं हो सकती हैं। कुछ लोगों का आज भी यह मानना है कि महिला हस्‍तमैथुन मानसिक स्‍वास्‍थ्‍य समस्‍याओं और उनके जननांगों को क्षति पहुंचा सकता है। लेकिन यह पूरी तरह से गलत है क्‍योंकि स्‍वयं यौन संतुष्टि प्राप्‍त करना महिलाओं के लिए सबसे अच्‍छा विकल्‍प है। शोध के अनुसार, नियमित रूप से हस्तमैथुन करने वाली महिलाएं, अपने साथी के साथ बेहतर यौन जीवन का आनंद लेने में सक्षम होती हैं। जो लोग महिलाओं के हस्‍तमैथुन को गलत समझते हैं उन्‍हें महिला हस्‍तमैथुन करने के लाभ शायद पता नहीं हैं। आज इस लेख में आप महिला हस्‍मैथुन करने के फायदे संबंधी जानकारी प्राप्‍त करेगें।
हस्तमैथुन की जब भी बात होती है तो इसे हमेशा से ही लड़कों से जोड़कर देखा जाता है और समझा जाता है की लड़की ही ऐसा करते हैं। लेकिन आपको जानकर हैरानी होगी की लड़कियां भी खुद को संतुष्ट करने के लिए हस्तमैथुन करती है और मजे भी लेतीं हैं जैसा की लड़के मास्टरबेशन से खुद को सेक्सुअली सटिस्फाय करते हैं। लेकिन सायद आप भूल गए सेक्सुअल सटिस्फैक्शन की जरूरत तो लड़कियों को भी होती है, इसलिए हर उम्र की लड़कियों और मिहिलाओं में महिला हस्तमैथुन काफी कॉमन हो गया है। जो लोग इसे गलत मानते हैं उन्हें यह नहीं पता होगा कि इस महिला हस्तमैथुन के फायदे सेहत से भी जुड़े हैं। यानि की हस्तमैथुन करना आपको अच्छी सेहत और भी सेक्सुअल सटिस्फैक्शन दोनों दे सकता है! आंकड़े बताते हैं 95 प्रतिशत पुरुष और 89 प्रतिशत महिलाएं रोजाना मास्टरबेशन करती हैं।
आज हम आपको फीमेल मास्टरबेशन के 16 ऐसे फैक्ट बताने जा रहे हैं जो महिलाओं के लिए फायदेमंद होते हैं।
महिला हस्‍तमैथुन करने के फायदे – Benefits of female masturbation in Hindi
महिला हस्‍तमैथुन करने के फायदे उन्हें खुश रखता है – Female Masturbation Benefits makes women happy in Hindi
फीमेल मास्टरबेशन के फायदे शरीर के साथ सहज बनाता है – You become more comfortable with your body in Hindi
महिला हस्‍तमैथुन के लाभ सेक्‍स लाइफ बढ़ाता है – Female masturbation increases sex life in Hindi
महिला हस्‍तमैथुन के फायदे बेहतर नींद के लिए – Benefits of female masturbation for better sleep in Hindi
महिला हस्‍तमैथुन करने के फायदे यौन अवसाद दूर करता है – Female masturbation releases sexual tension in Hindi
हस्‍तमैथुन मासिक धर्म के दर्द को कम करे – Female Masturbation reduce menstrual pain in Hindi
महिला हस्‍तमैथुन के फायदे तनाव को कम करे – Female Masturbation reduces women’s stress in Hindi
हस्‍तमैथुन महिलाओं के यौन स्टैमिना को बढ़ाये – Female Masturbation Benefits increases sexual stamina of women in Hindi
महिला हस्‍तमैथुन में सहभागी की जरूरत नहीं – Mahila Hastmaithun Ke Fayde No need for a partner in Hindi
हस्‍तमैथुन एक से अधिक बार संभोग सुख देता है – Masturbation orgasm more than once in Hindi
हस्‍तमैथुन गर्भाशय ग्रीवा संक्रमण को रोकता है – Female Masturbation Benefits prevents cervical infection in Hindi
महिला हस्‍तमैथुन के लाभ सेक्‍स लाइफ बेहतर बनाएं – Benefits of Female masturbation improve female sex life in Hindi
हस्‍तमैथुन रजोनिवृत्ति के बाद की समस्‍याएं दूर करे – Female Masturbation relieves post-menopausal problems in Hindi
गर्ल्स हस्‍तमैथुन पैल्विक फ्लोर को मजबूत करता है – Female Masturbation strengthens the pelvic floor in Hindi
महिला हस्‍तमैथुन दिल के लिए अच्‍छा है – Female masturbation is good for the heart in Hindi
महिला हस्‍तमैथुन पूरी तरह सुरक्षित है – Female masturbation is completely safe in Hindi
महिला हस्‍तमैथुन करने के फायदे – Benefits of female masturbation in Hindi
Image result for महिला हस्तमैथुन:,
यौन सुख न केवल मानसिक बल्कि शारीरिक स्‍वास्‍थ्‍य के लिए भी अच्‍छा माना जाता है। हस्‍मैथुन करना महिलाओं के लिए कई प्रकार से लाभकारी होता है। अध्‍ययनों से पता चलता है कि 18 वर्ष से अधिक उम्र की महिलाओं ने कम से कम 1 बार हस्‍तमैथुन जरूर किया है। लेकिन वहीं 25 से 29 वर्ष की आयु वाली 7.9 प्रतिशत महिलाएं सप्‍ताह में कम से कम 2 बार हस्‍तमैथुन करती हैं। हालांकि यह प्रतिशत पुरुषों की तुलना में कम है। लेकिन महिलाओं द्वारा हस्‍तमैथुन करना उन्‍हें आत्‍म संतुष्टि के साथ ही अन्‍य स्‍वास्‍थ्‍य लाभ दिलाता है। आइए जाने महिला हस्‍मैथुन करने के लाभ क्‍या हैं।

(और पढ़ें – हस्तमैथुन के बारे में मिथक और तथ्य)
1. महिला हस्‍तमैथुन करने के फायदे उन्हें खुश रखता है – Female Masturbation Benefits makes women happy in Hindi

हस्तमैथुन का सबसे बड़ा फायदा ये है कि ये आपका तनाव कम करता है। हम सभी जानते हैं कि सेक्‍स यौन आनंद प्राप्‍त करने के लिए किया जाता है। लेकिन हस्‍तमैथुन करना भी महिलाओं को यौन आनंद या चरम सुख प्राप्‍त करने का सबसे आसान तरीका है। क्‍योंकि हस्‍तमैथुन करने के दौरान महिलाओं का शरीर ओर्गास्‍म के दौरान एंडोर्फिन डोपामाइन और ऑक्‍सीटोसिन छोड़ता है। ये दोनों ही हार्मोन आपकी म‍नोदशा को सुधारने में मदद करते हैं। जिन महिलाओं को अक्‍सर तनाव या मानसिक समस्‍या होती है उनके लिए हस्‍तमैथुन करना लाभदायक होता है।

2. फीमेल मास्टरबेशन के फायदे शरीर के साथ सहज बनाता है – You become more comfortable with your body in Hindi

महिलाओं का शरीर उनका सबसे अच्‍छा दोस्‍त होना चाहिए। इसका मतलब यह है कि महिलाओं को अपने शरीर की विशेष देखरेख और सुरक्षा करने की आवश्‍यकता है। इसलिए महिलाओं को अपने शारीरिक संरचना के अनुसार हर प्रकार से यौन आनंद प्राप्‍त करना चाहिए। इसलिए महिलाएं बिना किसी झिझक और अवरोध के हस्‍तमैथुन कर मानसिक, शारीरिक और यौन संतुष्टि प्राप्‍त कर सकती हैं।

(और पढ़ें – महिलाएं कैसे करती है हस्तमैथुन जाने सोलो प्ले के लिए टिप्स और ट्रिक्स)
3. महिला हस्‍तमैथुन के लाभ सेक्‍स लाइफ बढ़ाता है – Female masturbation increases sex life in Hindi

महिलाएं अपने जननांगों को उत्तेजित करने के लिए हस्‍तमैथुन करती हैं। हस्‍तमैथुन आपको अपने शरीर का पता लगाने और आपको क्‍या अच्‍छा लगता है यह महसूस करने का सबसे अच्‍छा तरीका है। हस्‍तमैथुन करने से महिलाएं बिस्‍तर में अपने प्रदर्शन के लिए अधिक आत्‍मविश्‍वास प्राप्‍त करती हैं। जिससे वे स्‍वयं और अपने सहभागी को पर्याप्‍त यौन सुख दिला सकती हैं। जब महिलाओं को यह पता चल जाता है कि उन्‍हें क्‍या अच्‍छा लगता है और क्‍या नहीं तो बे अपने साथी को बता सकती हैं कि उन्‍हें कहां स्‍पर्श करना है और कहां नहीं करना है। इस तरह से महिला हस्‍तमैथुन के फायदे यौन आनंद को बेहतर बनाने और महिलाओं को उनके शरीर को पहचानने में होते हैं।

4. महिला हस्‍तमैथुन के फायदे बेहतर नींद के लिए – Benefits of female masturbation for better sleep in Hindi

आज की भागदौड़ भरी ज़िंदगी में हर कोई अनिद्रा से परेशान है। पर हस्तमैथुन के फायदे में इसका इलाज छिपा है। अध्‍ययनों से पता चलता है कि संभोग सुख प्राप्‍त करने के बाद महिला और पुरुष दोनों को अच्‍छी नींद आती है। यही कारण है कि महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन करना फायदेमंद होता है। क्‍योंकि ऐसा करने से महिलाओं को शारीरिक और भावनात्‍मक तनाव से छुटकारा मिलता है। इसके अलावा महिलाओं की चिंता, तनाव और थकान आदि लक्षणों को कम करने में मदद‍ मिलती है जो आपको अच्‍छी नींद लेने में सहायक होता है। आमतौर पर सेक्स संबंध बनाने के बाद महिला और पुरुषों को अच्‍छी नींद आती है लेकिन बिना सेक्‍स किये ही महिलाएं हस्‍तमैथुन कर अपनी नींद की गुणवत्ता को बढ़ा सकती हैं। हस्‍तमैथुन के बाद आपके शरीर से वो होर्मोन्स रिलीज़ होते हैं जो आपको अच्छा फील कराते हैं और आप सुकून भरी नींद लेती हैं।

(और पढुें – गहरी और अच्छी नींद लेने के लिए घरेलू उपाय)
5. महिला हस्‍तमैथुन करने के फायदे यौन अवसाद दूर करता है – Female masturbation releases sexual tension in Hindi

महिलाओं के पास जब उनके पार्टनर नहीं होते हैं। इस दौरान पर्याप्‍त यौन सुख न मिलने के कारण वे अवसाद ग्रस्‍त हो सकती हैं। तब यौन आनंद प्राप्‍त करने का सबसे अच्‍छा तरीका हस्‍तमैथुन होता है। ऐसी स्थिति में महिलाएं हस्‍तमैथुन कर अपने पार्टनर की कमी को पूरा कर सकती हैं और स्‍वयं ही यौन आनंद प्राप्‍त कर सकती हैं। इस तरह से हस्‍तमैथुन कर महिलाएं अवसाद संबंधी लक्षणों को कम कर सकती हैं।

6. हस्‍तमैथुन मासिक धर्म के दर्द को कम करे – Female Masturbation reduce menstrual pain in Hindi

पीरियड्स का दर्द अगर आपको सहन नहीं होता है तो हस्‍तमैथुन आपके लिए किसी एक्सरसाइज से कम नहीं है। सभी महिलाओं के लिए मासिक धर्म कई प्रकार की समस्‍याएं लेकर आता है। जिनमें अधिक रक्‍त स्राव, पेट में ऐंठन और दर्द सामान्य लक्षण हैं। लेकिन अध्‍ययनों से पता चलता है कि महिलाएं हस्‍तमैथुन करन इन लक्षणों को कम कर सकती हैं। कई सर्वे में इस बात की पुष्टि हुई है कि जो महिलाएं मास्टरबेशन करती हैं उनको पीरियड्स के दौरान होने वाले पेट और कमर दर्द की समस्या नहीं होती है। इससे आप अंदाजा लगा सकतीं हैं कि जो लड़की या महिला मास्टरबेसन करती हैं उनको पीरियड्स में दर्द नहीं होता है। अगर महिला दूसरे दिनों में हस्तमैथुन करती हैं तो पीरियड्स के उन दिनों में आपको दर्द से राहत मिलेगी।

7. महिला हस्‍तमैथुन के फायदे तनाव को कम करे – Female Masturbation reduces women’s stress in Hindi

अध्‍ययनों के अनुसार यौन सुख प्राप्‍त करना आपको शारीरिक और मानिसक रूप से स्‍वस्‍थ बनाता है। फिर आप यौन संतुष्टि संभोग के दौरान प्राप्‍त करें या हस्‍तमैथुन करने से। हस्‍तमैथुन करने और महिलाओं को चर्मोत्‍कर्ष प्राप्‍त करने के दौरान शरीर में तनाव को कम करने वाले हार्मोन स्रावित होते हैं। इसलिए हस्‍तमैथुन करने के फायदे महिलाओं के तनाव को कम करने सहायक होते हैं।

8. हस्‍तमैथुन महिलाओं के यौन स्टैमिना को बढ़ाये – Female Masturbation Benefits increases sexual stamina of women in Hindi

जो महिलाएं नियमित रूप से हस्‍तमैथुन करती हैं उन्‍हें अपनी उत्‍तेजना और चर्मोत्‍कर्ष बिंदू का निर्धारण करने में मदद मिलती है। इसका मतलब यह है कि सेक्स करने के दौरान महिलाएं अपनी उत्‍तेजना को नियंत्रित या सहन कर सकती हैं। क्‍योंकि हस्‍तमैथुन करने के दौरान उनके जननांगों की कोशिकाएं अधिक लोचदार होती हैं। जो सेक्‍स करने के दौरान महिलाओं को अधिक यौन आनंद दिलाती हैं।

(और पढ़ें – यौन उत्तेजना क्या है, यौन उत्तेजना न होने के कारण, लक्षण और इलाज)
9. महिला हस्‍तमैथुन में सहभागी की जरूरत नहीं – Mahila Hastmaithun Ke Fayde No need for a partner in Hindi

महिलाओं के लिए हस्‍तमैथुन करने का एक और फायदा यह है कि इस काम के लिए उन्‍हें अपने सहभगी पर निर्भर रहने की आवश्‍यकता नहीं है। इसका मतलब यह है कि यदि उनका पार्टनर उनके पास नहीं है तब भी वे आसानी यौन आनंद प्राप्‍त कर सकती हैं।

10. हस्‍तमैथुन एक से अधिक बार संभोग सुख देता है – Masturbation orgasm more than once in Hindi

यह महिलाओं की शारीरिक क्षमता पर निर्भर करता है। इसका मतलब यह है कि महिलाएं अपनी इच्‍छा और क्षमता के अनुसार दिन में कई बार चर्मोत्‍कर्ष प्राप्त कर सकती हैं। क्‍योंकि वे अपनी इच्‍छा के अनुसार दिन में कई बार हस्‍तमैथुन कर सकती हैं। पुरुषों के लिए चर्मोत्‍कर्ष अक्‍सर सेक्‍स के अंत में होता है। लेकिन हस्‍तमैथुन में महिलाएं अपने चर्मोत्‍कर्ष को लंबे समय तक जारी रख सकती हैं।

11. हस्‍तमैथुन गर्भाशय ग्रीवा संक्रमण को रोकता है – Female Masturbation Benefits prevents cervical infection in Hindi

अध्‍ययनों से पता चलता है कि हस्‍तमैथुन महिलाओं में गर्भाशय ग्रीवा के संक्रमण और मूत्र पथ संक्रमण को रोकने में प्रभावी मदद करता है। हस्‍तमैथुन करने के दौरान महिलाओं की योनि या गर्भाशय ग्रीवा में बलगम फैलता है। यह बलगम द्रव परिसंचरण को सक्षम करता है जो बैक्‍टीरिया से भरे ग्रीवा द्रव को पूरी तरह से बाहर निकालने में सहायक होता है। जिससे महिलाओं को गर्भाशय ग्रीवा संबंधी संक्रमण होने का खतरा कम हो जाता है।

12. महिला हस्‍तमैथुन के लाभ सेक्‍स लाइफ बेहतर बनाएं – Benefits of Female masturbation improve female sex life in Hindi

हस्‍तमैथुन महिला को उसके शरीर और सहनशक्ति का पता लगाने में मदद करता है। जिससे उन्हें आरामदायक और आत्‍मविश्वास महसूस होता है। इस दौरान महिलाएं अपनी इच्‍छाओं को जान पाती हैं कि उन्‍हें क्‍या पसंद है और क्‍या नहीं। नियमित हस्‍तमैथुन के अभ्‍यास से महिलाएं अपने सहभागी के साथ बिस्‍तर में अधिक क्रियाशील रह सकती हैं।


13. हस्‍तमैथुन रजोनिवृत्ति के बाद की समस्‍याएं दूर करे – Female Masturbation relieves post-menopausal problems in Hindi

किसी भी महिला के लिए रजोनिवृत्ति वह चरण है जहां महिलाएं यौन संबंधी समस्‍याओं के साथ ही कई शारीरिक परिवर्तनों से गुजरती हैं। रजोनिवृत्ति के दौरान महिलाओं की योनि कुछ संक्रीण और नीचे की ओर झुकी होती है। जिससे सेक्‍स करने के दौरान महिलाओं को दर्द का अनुभव होता है। ऐसी स्थिति में महिलाएं हस्‍तमैथुन कर यौन सुख प्राप्‍त कर सकती हैं। इस दौरान हस्‍तमैथुन करने से महिलाओं की योनि में प्राकृतिक चिकनाई आती है जो योनि को संक्रीण होने से रोकता है। इसके अलावा हस्‍तमैथुन के दौरान होने वाले घर्षण से योनि में रक्‍त प्रवाह भी बढ़ता है।


14. गर्ल्स हस्‍तमैथुन पैल्विक फ्लोर को मजबूत करता है – Female Masturbation strengthens the pelvic floor in Hindi

हस्‍तमैथुन करने से महिलाओं में पैल्विक फ्लोर की ताकत बढ़ती है। हस्‍तमैथुन करने के दौरान रक्‍तचाप बढ़ने लगता है और हृदय गति, श्वसन दर और मांसपेशियों की टोन बढ़ जाती है। जिससे गर्भाशय श्रोणि मंजिल (pelvic floor) से ऊपर चला जाता है। यह पैल्विक मांसपेशियों के तनाव को बढ़ाता है और पूरे पैल्विक क्षेत्र को मजबूत करता है। इस तरह से हस्‍तमैथुन करना महिलाओं के लिए अच्‍छा होता है।


15. महिला हस्‍तमैथुन दिल के लिए अच्‍छा है – Female masturbation is good for the heart in Hindi

हृदय संबंधी रोग महिलाओं के लिए सबसे ज्यादा गंभीर होते हैं। लेकिन नियमित व्‍यायाम करके इस प्रकार की समस्‍या से बचा जा सकता है। हस्‍तमैथुन भी एक प्रकार का व्‍यायाम है जिसे करने से रक्‍त प्रवाह में वृद्धि होती है। एक अध्‍ययन से पता चलता है कि जो महिलाएं अकेले या एक साथी के साथ अधिक संभोग करती हैं उनमें हृदय रोग और मधुमेह प्रकार 2 होने की संभावना बहुत ही कम होती है। यदि आप भी इस प्रकार की बीमारियों से बचना चाहती हैं तो हस्‍तमैथुन आपके लिए अच्‍छा विकल्‍प है।

16. महिला हस्‍तमैथुन पूरी तरह सुरक्षित है – Female masturbation is completely safe in Hindi

हस्‍तमैथुन करना महिलाओं के लिए पूरी तरह से सुरक्षित है। क्‍योंकि संभोग करने के दौरान गर्भाधान होने का खतरा बना रहता है भले ही आप जन्‍म नियंत्रण विधियों का उपयोग कर रहे हों। इसके अलावा हस्‍तमैथुन करने से महिलाओं को यौन संचारित संक्रमण होने का खतरा भी कम हो जाता है। इसे करने पर ना तो आप बीमार पड़ेंगे और ना ही आपको प्रेगनेंट होने का कोई डर सताएगा। इसलिए हस्‍तमैथुन करना महिलाओं को यौन संतुष्टि प्राप्‍त करने का सबसे अच्‍छे तरीकों में से एक है।



महिला हस्‍तमैथुन से जुड़े सात रहस्‍य, क्या आप जानते है ?


पुरुषों की तरह महिलायें भी यौन सुख के लिए हस्‍तमैथुन का सहारा लेती हैं, हालांकि इससे वे आर्गेज्‍म तक नहीं पहुंच पाती हैं लेकिन उन्‍हें हस्‍तमैथुन से बहुत हद तक संतुष्टि मिल जाती है।


https://healthtoday7.blogspot.in/
महिला हस्‍तमैथुन
पुरुषों की तरह महिलायें भी यौन सुख पाने के लिए हस्‍तमैथुन का सहारा लेती हैं। हालांकि इससे वे आर्गेज्‍म तक नहीं पहुंच पाती हैं लेकिन उन्‍हें हस्‍तमैथुन से बहुत हद तक संतुष्टि भी मिल जाती है। कुछ महिलाओं में यह आदत किशोरावस्‍था से शुरू होती है और कुछ तो शादी के बाद अपने पार्टनर के साथ रहते हुए भी हस्‍तमैथुन करती हैं। महिलाओं के हस्‍तमैथुन से जुड़े कुछ रहस्‍य भी हैं उन्‍हें भी जानना जरूरी है।


इसका लुत्‍फ उठाती हैं
महिलायें हस्‍तमैथुन करते वक्‍त इसका पूरा लुत्‍फ उठाती हैं। कई बार महिलाओं को हस्‍तमैथुन करते वक्‍त पूरा आनंद आता है, और उन्‍हें पुरुष की कमी बिलकुल भी महसूस नहीं होती है। क्‍योंकि वे इस दौरान केवल अपने आनंद के बारे में सोचती हैं और जब तक उन्‍हें आनंद नहीं मिलता तब तक वे करती रहती हैं। कुछ 2-3 मिनट में संतुष्‍ट हो जाती हैं और कुछ इसके लिए 15-20 मिनट का समय लेती हैं।


कभी-कभी करती हैं
पुरुषों की तुलना में महिलायें कम हस्‍तमैथुन करती हैं। एक शोध के अनुसार, लगभग 25 प्रतिशत पुरुष सप्‍ताह में 3 बार हस्‍तमैथुन करते हैं, और 55 प्रतिशत कम से कम महीने में एक बार। जबकि इस शोध में यह बात भी सामने आयी कि केवल 10 प्रतिशत महिलायें ही सप्‍ताह में 3 बार हस्‍तमैथुन करती हैं, और 38 प्रतिशत महीने में एक बार करती हैं। यानी पुरुषों की तुलना में महिलायें हस्‍तमैथुन कम ही करती हैं।


अलग तरह से करती हैं
महिलायें हस्‍तमैथुन अलग तरह से करती हैं। जबकि पुरुष जब चाहें बॉथरूम में, सार्वजनिक शौचालय में या अन्‍य जगहों पर आसानी से करते हैं। जबकि महिलायें इसके लिए खास तरह की तैयारी करती हैं। ज्‍यादातर महिलायें नहाते वक्‍त हस्‍तमैथुन करती हैं और इससे उन्‍हें आनंद मिलता है।


नरम एहसास
पुरुष जब भी हस्‍तमैथुन करते हैं, बड़ी कठोरता से करते हैं और इससे उनके गुप्‍तांगों की मांसपेशियों में खिंचाव के कारण दर्द भी हो सकता है। जबकि महिलायें आराम से और कोमलता से अपने आप को आनंद देती हैं। अगर उन्‍होंने अपनी उंगलियों के अलावा किसी अन्‍य वस्‍तु का प्रयोग इसके लिए किया तो कोशिश यही रहती है उसका स्‍पर्श आनंदित करने वाला हो।


शरीर के अन्‍य अंग भी जुड़ते हैं
महिला जब भी हस्‍तमैथुन करती है, इसमें वह अपने सारे अंगों को शामिल करती है। जबकि पुरुष ऐसा नहीं कर पाते। महिला इस दौरान अपने जांघों, अपने पेट के साथ-साथ स्‍तनों का मसाज भी करती है। इसलिए यह स्‍वास्‍थ्‍य के लिहाज से भी बहुत फायदेमंद होता है।

https://healthtoday7.blogspot.in/

आर्गेज्‍म की परवाह नहीं
पुरुष जब भी हस्‍तमैथुन करते हैं उनका पूरा ध्‍यान आर्गेज्‍म पर होता है और इसके बाद ही उन्‍हें शुकून मिलता है। जबकि महिलायें हस्‍तमैथुन के वक्‍त ऐसा ध्‍यान बिलकुल भी नहीं रखती हैं, कभी-कभी वे इसके लिए 2-3 मिनट का समय लगाती हैं और इससे ही उन्‍हें आनंद मिलता है। जबकि इतने कम वक्‍त में आर्गेज्‍म नहीं मिल सकता है।


आराम मिलता है
हस्‍तमैथुन के बाद महिलाओं को आराम मिलता है। क्‍योंकि इससे उनके पूरे शरीर का मसाज तो होता ही है, साथ ही यह यौन सुख भी प्रदान करता है। इसके लिए उन्‍हें पुरुष की जरूरत नहीं पड़ती और वे खुद से ही अपने आप को रोमांचित कर देती हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.