Header Ads

नाखून चबाना कितना खतरनाक है


चेतावनी: नाखून चबाना कितना खतरनाक है, सोचा है कभी!


नाखूनों को चबाना एक बेहद जटिल समस्या जो किसी बच्चों में ही नहीं बल्कि युवा व बूढ़ों में भी देखी जा रही है। यह शरीर के लिये काफी खतरनाक साबित होती है। पुरानी धारणाओं की मानें तो बड़े बुजुर्ग इस समस्या को लक्ष्मी दोष से जोड़ते हुये इसे दूर करने की कोशिश करते आ रहे हैं। वहीं इसका दूसरा आधुनिक रूप है वैज्ञानिकों द्वारा दिया जाने वाला तत्थ जो इस आदत को शरीर की बीमारी से जोड़ता है, पर चाहे हम इसे धर्म से जोड़े या फिर शरीर से, नुकसानदायक तो ये है ही। आज हम बता रहे हैं कि नाखून चबाना आपके शरीर के लिये कितना खतरनाक होता है।
क्या आप जानते हैं लोग नाखून क्यों चबाते हैं?
यह एक प्रकार की ऐसी आदत है जो उनके रोज के दिनों का एक अंग बन जाती है। मन में किसी प्रकार की चिंता या ज्यादा तनाव के समय लोग यह काम ज्यादा करते हैं। ये आदत किसी बच्चे तक ही सीमित नहीं है। 20 से 30% बड़े लोग इसके आदी बन चुके हैं। जिससे उनका आत्मविशवास तो खत्म होता ही है ऐसे लोगों को हमेशा तनाव से होकर गुजरना पड़ता है। जिससे इनका जीवन स्तर भी खराब रहता है।

नाखून चबाने से ना केवल हाथ के शेप पर असर पड़ता है बल्कि इसकी गंदगी पेट के अंदर जाने से हमारी पाचन क्रिया भी प्रभावित होती है। यह आदतें कहा जाये तो उन्हीं लोगों को ज्यादा होती है जिन्हें चिंता या घबराहट ज्यादा होती है। इसे चिकित्सीय भाषा में Dermatophagia कहा जाता है। इसके आदी व्यक्ति अपने डर और भय को नाखूनों को चबाकर दूर करने की कोशिश करते हैं, पर नाखूनों के चबाने से संक्रमण के खतरे काफी बढ़ जाते है क्योंकि नाखूनों में मौजूद बैक्टीरिया नाखून चबाते समय मुंह से होकर शरीर के अंदर प्रवेश करते हैं और संक्रमण फैल जाता है।

किस प्रकार के नुकसान हो सकते हैं-
लगातार नाखूनों को चबाते रहने से हाथों के चारों ओर की त्वचा भी कट जाती है। जिससे संक्रमण फैलने का डर होने लगता है और आस-पास की कटी हुई जगह घाव का भी रूप ले सकती है। त्‍वचा के कोशिकाओं को क्षति पहुंचती है। जिससे यह एक बीमारी का रूप धारण कर हमारे शरीर के लिये घातक बनने का कारण बनती है।

यह तो आप जानते ही हैं कि नाखूने के चबाते रहने से वो जगह दिखने में काफी खराब हो जाती है। बहुत अधिक नाखून चबाने से ह्यूमन पपिलोमा वायरस (एचपीवी) के फैलने का खतरा बढ़ जाता है, जिसमें घाव होने से नाखूनों पर गांठें बन जाती हैं। इसके हाथ से फैलकर होंठों और मुंह तक फैलने के खतरे बढ़ जाते हैं। इसके अलावा इन खतरनाक गाठों से उंगलियों पर निशान पड़ जाते हैं जो स्थायी बने रहते है। यदि आप इस लत से छुटकारा पाना चाहती हैं तो किसी त्वचा विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें और इस आदत को दूर करने की कोशिश करें।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.