Header Ads

गुणों की खान-जीरा


गुणों की खान-जीरा CUMIN SEEDS THE SUPERFOOD
“ ऊँट के मुँह में जीरा “ कई बार सुना होगा और बोला भी होगा। पर यह कहावत केवल इसके छोटे आकार को ध्यान में रख कर बनाई गयी है ना कि इसके गुणों को देखकर। जीरा(Cumin Seed) गरम मसाले में पड़ने वाला एक मुख्य मसाला है और इसका प्रयोग भारतीय रसोई में सदियों से कई प्रकार से होता आया है और शायद यह केवल इसके गुणों के कारण ही हुआ है। तो आइये आज मैं आपको इस छोटे से मसाले के बड़े बड़े गुणों के बारे में बताता हूँ:
पाचन में मदद(Help in Digestion)

सदियों से भारतीय परम्परा जीरे के इस गुण को जानती है पर अब वैज्ञानिक(Scientists) भी यह मानते हैं। उनका कहना है कि जीरा पैंक्रियाटिक एन्ज्यायम्स(Pancreatic Enzymes) को हमारे शरीर में बढ़ाने का काम करता है जिससे खाना अच्छे से पचता है साथ ही खाने के सभी पौष्टिक तत्व(Nutrients) भी शरीर में आसानी से अवशोषित(Absorve) हो जाते हैं।
त्वचा(Skin) के लिए लाभकारी
जीरे में विटामिन ई(Vitamin E) की मात्रा काफी होती है जिसके कारण यह त्वचा को स्वस्थ रखने में हमारी मदद करता है। जीरे में एंटी फंगल(Anti-Fungal) और एंटी बैक्टीरियल(Anti-Bacterial) गुण होने के कारण यह त्वचा को फंगल और बैक्टीरियल इन्फ़ैकशन(Infection) से भी बचाता है। यदि जीरे को पेस्ट(Paste) रूप में त्वचा के इन्फ़ैकशन(Skin Infection) पर लगाया जाये तो यह त्वचा को जल्दी ठीक करने में भी मदद करता है।
खुजली(Itching) में मददगार

यदि आपको खुजली की समस्या है तो जीरे को पानी में उबाल कर उस पानी को ठंडा करके नहाने से खुजली में आराम मिलता है और कई प्रकार के त्वचा विकारों(Skin Ailments) से छुटकारा भी मिल जाता है।
हथेलियों और तलवों की जलन में लाभ

यदि आपको अपने तलवों और हथेलियों में जलन महसूस हो तो लगभग 2-3 लिटर पानी में 1 चम्मच जीरा डालकर उसे उबाल लें और इस पानी को 4-5 दिन तक गुनगुना करके पीएं तो जलन में आराम मिलता है। इस पानी को ठंडा भी पी सकते हैं पर गुनगुना पानी अधिक लाभ पहुंचाता है।
गंजेपन(Baldness) में लाभकारी


यदि आपके बाल बहुत अधिक झड़ रहे हों और गंजेपन के लक्षण दिखने लगें तो काले जीरे के तेल को जैतून के तेल(Olive Oil) में बराबर की मात्रा में मिला लें। नहाने के बाद इस तेल को बालों और सिर(Scalp) पर लगाएँ, यह बालों के झड़ने की समस्या के साथ ही बालों को बढ़ाने में भी मदद करता है। काले जीरे के तेल को कैप्सूल(Capsule) के रूप में खाने से भी लाभ मिलता है।
ब्लड ग्लूकोस(Blood Glucose) ठीक करना

जीरे के उपयोग से बढ़े हुए शुगर को कंट्रोल(Sugar Control) किया जा सकता है और यह डायबिटीज(Diabetes) को मैनेज(Diabetes Manage) करने और होने से रोकने दोनों में ही मदद करता है। इसके लिए खाने में जीरे का प्रयोग बढ़ाने के साथ जीरे के पानी को पीना अच्छा रहता है।
अनीमिया(Anaemia) में उपयोगी

जीरे में आइरन(Iron) की मात्रा काफी होती है जिसके कारण इसके उपयोग से अनीमिया में फायदा होता है और शरीर में हीमोग्लोबिन(Haemoglobin) को बढ़ाने का काम करता है। साथ ही यह खाने के पोषक तत्वों को शरीर को उपयोग में लाने में मदद करता है जिससे अनीमिया जल्दी ठीक होता है।
जुकाम(Cold) और अस्थमा(Asthma) में लाभ

जीरे में विटामिन सी(Vitamin C) की भी अच्छी मात्रा होती है साथ ही एंटी फंगल(Anti-Fungal) और एंटी बैक्टीरियल(Anti-Bacterial) गुणों के कारण यह जुकाम और अस्थमा में रामबाण का काम करता है, इसका प्रयोग अस्थमा में करते समय यह ध्यान रखें कि इसकी अधिक मात्रा एक साथ ना लेकर इसकी धीरे धीरे आदत डालें।
एंटी कैंसर(Anti-Cancer) गुण

जीरे में एंटी कैंसर गुणों की भरमार है, इसके द्वारा कोलोन कैंसर(Colon Cancer), पेट का कैंसर(Stomach Cancer) और ब्रैस्ट कैंसर(Breast Cancer) होने की संभावना कम होती है, साथ ही इसका उपयोग कई ब्रैस्ट कैंसर और कोलोन कैंसर की दवाओं में भी किया जात है। इस प्रकार इसका प्रयोग कैंसर की रोकथाम के साथ साथ इलाज़ में भी मदद करता है।
मोटापा(Fat) कम करना

जीरे का प्रयोग शरीर के मेटाबोलिक रेट (Metabolic Rate) को बढ़ता है जिससे यह मोटापे(Fat) को कम करने में मदद करता है, खास तौर पर पेट पर चढ़े मोटापेBelly Fat) को कम करने में काफी मदद मिलती है। इसके लिए खाने में इसके उपयोग को बढ़ाने के साथ साथ इसको गरम पानी में उबाल कर चाय की तरह पीना चाहिए।
मासिक धर्म(Menstrual Cycle) को ठीक करता है

जीरे का उपयोग सभी उम्र की महिलाओं के लिए वरदान की तरह है। इसके नियमित उपयोग से मासिक धर्म नियमित(Menstrual Cycle Regular) होने के साथ साथ इसके दौरान होने वाले दर्द और अन्य समस्याओं में भी आराम मिलता है।

तो अब मुझे लगता है आप जीरे के छोटे आकार के पीछे छुपे बड़े गुणों को जान गए होंगे और अब इसको अपने खाने में शामिल करके इसके सभी लाभों को पाने की कोशिश करेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.