Header Ads

पैरों की सूजन कम करने के कुछ घरेलु नुस्खे

पैरों की सूजन कम करने के कुछ घरेलु नुस्खे


पैरों की सूजन कम करने के कुछ घरेलु नुस्खे

पैरों का फूलना एक आम समस्या है जिससे कोई भी पीड़ित हो सकता है। यह अपने आप में एक बीमारी नहीं है, बल्कि एकआतंरिक समस्या का एक लक्षण है। यह कई कारणों से हो सकता है, जैसे कि लंबे समय तक पैर लटका कर बैठने या खड़े रहने, उम्र बढ़ने, गर्भावस्था, प्रीमेनस्ट्रल सिंड्रोम (पीएमएस), पोषण संबंधी कमी, शारीरिक व्यायाम की कमी, खराब रक्त परिसंचरण औरअधिक वजन का होना।

जिन लोगों में डाइबटीज, दिल की समस्याएं, गुर्दे या जिगर की बीमारी है, और गर्भवती महिलाएं इस समस्या से अधिक ग्रसित हैं।
आइये आज हम कुछ ऐसे ही घरेलु नुस्खों की चर्चा करते हैं जिससे हम इससे निजात पा सकते हैं।

1.खीरा

खीरे में एंटी–इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो की शरीर से अतिरिक्त पानी को निकालने में मदद करते हैं। यह एडिमा और सूजन को दूरकरने में मदद करते हैं।

विधि-
पतली स्लाइस में खीरे को काट लें।
इन स्लाइस को अपने पैरों पर रखें और उन्हें ढीली पट्टी के साथ ढक दें।
20-30 मिनट के बाद पट्टी को हटा दें और अंतर देखें।


2.साबुत धनिया

एक ड्यूरेटिक होने के वजह से, धनिया शरीर से सूजन जैसे पैर में अतिरिक्त तरल पदार्थ को आसानी से खत्म करने में मदद करताहै।

विधि-
धनिया के बीज को पानी में उबाल लें जब तक कि यह इसकी मूल मात्रा का आधा हिस्सा न हो जाए।
ठंडा कर के दिन में दो बार पिए।


3.जौ का पानी

इसका स्वाद वास्तव में अच्छा नहीं होता है, लेकिन यह मिश्रण एक अद्भुत ड्यूरेटिक है। जौ शरीर को तरल पदार्थ प्रतिधारण केकारण बनाए गए विषाक्त पदार्थों को धोने में मदद करता है और पैर से सूजन को कम करता है।

विधि-
जौ को पानी में उबालें जब तक पानी हल्के भूरे रंग का हो जाये ।
इसे या तो कमरे के तापमान पर या रेफ्रिजरेटर में ठंडा करने के बाद इसका उपयोग करें।


4.गोभी

गोभी में पानी अवशोषित करने की क्षमता होती है जो की पैर में से अतिरिक्त तरल पदार्थ निकाल देता है। इसमें एंटी–इंफ्लेमेटरीऔर उपचार गुण भी होते हैं।

विधि
गोभी की पत्तियां लें, उन्हें साफ करें, लेकिन उन्हें धोएं नहीं। यदि पत्तियों को फ्रिज में ठंडा किया गया है (लेकिन जमेहुए नहीं) तो आपको अधिक राहत मिल सकती है।
उन्हें अपने सूजे हुए पैर पर रखें या ढीली पट्टी के साथ वहां बांधें।
30 मिनट के बाद पत्तियों को हटा दें।


5.सेंधा नमक
सेंधा नमक सूजन को कम करने में तेजी से काम करता है। सेंधा नमक में मैग्नीशियम सल्फेट होता है जो आसानी से त्वचा केमाध्यम से अवशोषित हो जाता है और सूजन को कम करने में मदद करता है।

विधि-
गर्म पानी से भरे एक टब में ½ कप सेंधा नमक मिलाएं।
10 से 15 मिनट के लिए अपने सूजे हुए पैर को इसमें रखें।


6.बेकिंग सोडा
बेकिंग सोडा एक बहुत ही लाभकारी घटक है। इसमें एंटी–इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। चावल के पानी के संयोजन में, यह पैरों में जमाहोने वाले अतिरिक्त पानी को अवशोषित करता है।

विधि-
चावल को पकाकर उसके पानी को निकल लें।
उस पानी में बेकिंग सोडा मिला लें।
इस मिश्रण को अपने पैरों पर लगाए और 10 से 15 मिनट तक रख दें।
अब पानी से धो लें ।


7.निम्बू का रस

नींबू पानी पीना आपके शरीर से अतिरिक्त तरल पदार्थ और विषाक्त पदार्थों को दूर करने में मदद करता है, जिससे की पैर और शरीरके अन्य क्षेत्रों में सूजन कम होती है। इसके अलावा, यह एंटी–इंफ्लेमेटरी लाभ प्रदान करता है।

विधि-
एक कप गर्म पानी में नींबू के रस के 2 चम्मच मिलाएं।
थोड़ा शहद के साथ इसे मीठा करें।
इस नींबू पानी को रोजाना 2-3 बार पीएं।

8.आइस पैक

बर्फ पैक का ठंडा तापमान रक्त प्रवाह को बदल देता है, जो सूजन और दर्द को कम करता है। यह पैरों से सूजन दूर करने के लिएसबसे प्रभावी घरेलू उपचारों में से एक है।

विधि-
सूजन क्षेत्र पर 10-12 मिनट के लिए आइस पैक रखें।
यदि आप के पास घर पर आइस पैक नहीं है, तो आप कुछ बर्फ के क्यूब्स और गीले तौलिये के साथ एक पैक बनासकते हैं। तौलिये पर क्यूब्स रखें, इसे चारों ओर लपेटें और इसका इस्तेमाल करें।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.