Header Ads

पति का गुस्सा कम करने के उपाय


पति का गुस्सा कम करने के उपाय – 
Pati Ka Gussa Kam Karne Ke Upay गुस्सा होना इंसान की एक स्वाभाविक प्रक्रिया (natural process) है। व्यक्ति चाहे कितना भी सरल क्यों न हो, उसे कभी न कभी गुस्सा जरुर आता है। लेकिन यदि आपके पति आप पर बार बार गुस्सा करते हैं और आप जानना चाहतीं हैं की पति का गुस्सा कम करने के लिए क्या करना चाहिए तो हमारा ये लेख पढ़े। कुछ लोग अपने गुस्से पर नियंत्रण (control) रखते हैं और गुस्सा आने पर उससे बचना जानते हैं लेकिन कुछ लोग इतना ज्यादा क्रोध करते हैं कि इससे दूसरों को हानि पहुंचने लगती है। वैसे तो ज्यादातर घरों में पति पत्नी के बीच तरकार (combat) होना एक आम बात है लेकिन जब पति आए दिन गुस्सा करता हो तो पत्नी को उसे संभालना बहुत मुश्किल हो जाता है।

अगर आपके पति भी बात, बेबात आपके ऊपर बरसने लगते हैं तो इस आर्टिकल में हम आपको पति का गुस्सा कम करने के उपाय के बारे में बताने जा रहे हैं।

1. पति के गुस्सा होने का कारण – Pati Ke Gussa Hone Ka Karan In Hindi
2. पति का गुस्सा कम करने के लिए क्या करना चाहिए – pati ka gussa kam karne ke liye kya karna chahiye
पति का गुस्सा कम करने का उपाय शांत रहना – Stay calm to deal with angry husband in Hindi
पति के नजरिए से सोचकर उसका गुस्सा कम करें – Pati ka gussa kam karne ke upay See his point of view in Hindi
पति का गुस्सा शांत करने के उपाय उसे डांटें नहीं – Pati ka gussa kam karne ke Upay daante nhi in Hindi
पति का गुस्सा शांत करने के लिए उपाय उन्हें सम्मान दें – Respect your husband to reduce his anger in Hindi
पति का गुस्सा कम करने के लिए आग में घी का काम न करें – Don’t put fuel into the fire reduce his anger in Hindi
पति का गुस्सा कम करने के लिए बर्दाश्त करना भी सीखें – Pati ka gussa kam karne ke liye bardasht karna sikhe in hindi
पति का गुस्सा कम करने का तरीका पति को धैर्यपूर्वक सुने – Pati ka gussa kam karne ka tarika Listen Well in hindi
पति की परवाह करके उसके गुस्से को करें कम – Be Caring and Understanding to reduce husband anger in Hindi
पति के गुस्सा होने का कारण – Pati Ke Gussa Hone Ka Karan In Hindi
आमतौर पर ऐसे कई कारण हैं कि जिसकी वजह से आपका पति आपके साथ खराब व्यवहार करता है और बिना किसी कारण के आपसे नाराज हो जाता है। इन कारणों में मानसिक और शारीरिक दिक्कतों के साथ ही पर्यावरणीय कारक (environmental factors) भी जिम्मेदार होते हैं। आइये जानते हैं कि पति किन कारणों से गुस्सा होते हैं।

अगर आपके पति के शरीर में टेस्टोस्टेरोन का स्तर कम है तो वह अधिक चिड़चिड़ा (irritability) हो सकता है, उसे बात बात पर गुस्सा आ सकता है और मूड स्विंग होने की संभावना बढ़ जाती है।
यदि किसी व्यक्ति के मस्तिष्क के महत्वपूर्ण हिस्से न्यूरोट्रांसमीटर में सेरोटोनिन का स्तर (level of serotonin) कम है तो इससे व्यक्ति का मानसिक स्वास्थ्य प्रभावित होता है जिसके कारण उसके सोने और खाने की आदतें प्रभावित होती हैं और गुस्सा बहुत अधिक आता है।
कार्टिसोल नामक हार्मोन का स्तर बढ़ जाने से व्यक्ति को चिड़चिड़ापन (irritation) अधिक होता है जिसके कारण वह अन्य लोगों की अपेक्षा अपनी पत्नी पर अधिक गुस्सा करता है।
अगर आपका पति अपने फ्यूचर को लेकर परेशान है और उसे मनचाही जॉब नहीं मिल रही है या फिर अपनी नौकरी में वह बेहतर नहीं कर पा रहा है तो इसके कारण भी वह सारा गुस्सा आप पर निकाल सकता है।

पति का गुस्सा कम करने के लिए क्या करना चाहिए – pati ka gussa kam karne ke liye kya karna chahiye
पति का गुस्सा कम करने का उपाय शांत रहना – Stay calm to deal with angry husband in Hindi
पति के नजरिए से सोचकर उसका गुस्सा कम करें – Pati ka gussa kam karne ke upay See his point of view in Hindi
पति का गुस्सा शांत करने के उपाय उसे डांटें नहीं – Pati ka gussa kam karne ke Upay daante nhi in Hindi
पति का गुस्सा शांत करने के लिए उपाय उन्हें सम्मान दें – Respect your husband to reduce his anger in Hindi
पति का गुस्सा कम करने के लिए आग में घी का काम न करें – Don’t put fuel into the fire reduce his anger in Hindi
पति का गुस्सा कम करने के लिए बर्दाश्त करना भी सीखें – Pati ka gussa kam karne ke liye bardasht karna sikhe in hindi
पति का गुस्सा कम करने का तरीका पति को धैर्यपूर्वक सुने – Pati ka gussa kam karne ka tarika Listen Well in hindi
पति की परवाह करके उसके गुस्से को करें कम – Be Caring and Understanding to reduce husband anger in Hindi

वैसे तो हर पत्नी अपने अपने तरीके से पति का गुस्सा कम करने की कोशिश करती है लेकिन यहां हम आपको कुछ मनोवैज्ञानिक तथ्यों के बारे में बताने जा रहे हैं जिससे आप अपने पति के मूड को बेहतर कर सकती हैं।
पति का गुस्सा कम करने का उपाय शांत रहना – Stay calm to deal with angry husband in Hindi


ज्यादातर घरों में देखा जाता है कि जब पति को गुस्सा आता है तो पत्नी धैर्य (passivity) से काम नहीं लेती बल्कि पति के साथ खुद भी गुस्से से ही पेश आती है जिसके कारण बात अधिक बिगड़ (spoil) जाती है और फिर पति के गुस्से को कम करना काफी मुश्किल हो जाता है। इसलिए यदि आप अपने पति के गुस्से को कम करना चाहती हैं तो बिल्कुल शांत (calm) रहकर पति की बातों को सुनें, समझें और फिर जैसी स्थिति हो उसे समझाने की कोशिश करें। जब आप शांतिपूर्वक बात को सुलझाने की कोशिश करेंगी तो पति का गुस्सा शांत हो जाएगा।


पति के नजरिए से सोचकर उसका गुस्सा कम करें – Pati ka gussa kam karne ke upay See his point of view in Hindi

जब आपके पति को गुस्सा आये तो सबसे पहले इसके पीछे के कारणों (logic) को जानने की कोशिश करें कि कहीं ऑफिस में अधिक काम या थकान के कारण तो उसका मूड नहीं खराब हो रहा है। इसके अलावा कई अन्य कारण भी हो सकते हैं। जब आपको गुस्से के पीछे की मुख्य वजह पता चल जाए तब आप उसे सुलझाने (solve) के लिए जो कुछ भी कर सकती हैं करें, यदि अपने पति के काम में मदद कर सकती हैं तो वह भी करें। जब आप पति को उसके नजरिए से समझेंगी तो उसका गुस्सा आसानी से कम हो जाएगा।
पति का गुस्सा शांत करने के उपाय उसे डांटें नहीं – Pati ka gussa kam karne ke Upay daante nhi in Hindi


आपका पति चाहे जिस भी बात पर गुस्सा हो, उसकी गलती हो या न हो, लेकिन आप उसे डांटने (scold) की कोशिश न करें। क्योंकि इससे बात और अधिक बिगड़ सकती है और आपका पति गुस्से में कुछ भी गलत कर सकता है। अगर पति किसी वजह से परेशान है और इस कारण से चिड़चिड़ा हो गया हो और बात बात में गुस्सा हो जाता है तो उसे बच्चों की तरह डांटने की बजाय उसे समझें और उसके साथ खड़े रहें। इससे उसका गुस्सा दूर हो जाएगा।

पति का गुस्सा शांत करने के लिए उपाय उन्हें सम्मान दें – Respect your husband to reduce his anger in Hindi


जब पति गुस्से में होता है तो यह स्वाभाविक है कि वह आपको कुछ भला बुरा कह सकता है। इससे आपको दुखी होने की जरुरत नहीं है बल्कि तब भी आपको सबकुछ भूलकर अपने दिल में पति के प्रति कड़वाहट (bitterness) नहीं लानी चाहिए। इसका कारण यह है कि गुस्से में बोली गयी बातें देर तक नहीं टिकती हैं और पति को जल्दी ही एहसास (realize) हो जाता है कि उसने गलत बोला था जिसके कारण वह आपसे माफी भी मांग सकता है इसलिए हमेशा उसकी इज्जत करें ताकि वह आपसे जब भी गुस्सा हो तो अपने आप शांत हो जाए।


पति का गुस्सा कम करने के लिए आग में घी का काम न करें – Don’t put fuel into the fire reduce his anger in Hindi


क्रोध की एक महत्वपूर्ण विशेषता है कि यह अस्थायी (temporary) होता है। इसलिए यदि आपका पति गुस्सा होता है तो उसे गुस्सा होने दें और उसके गुस्से को भड़काने के लिए आग में घी का काम न करें। हमेशा यह जरूरी नहीं है कि पति जब भी गुस्सा हो आप उसे मनाएं ही। अगर आप मनोवैज्ञानिक दृष्टि से सोचें तो किसी भी व्यक्ति का गुस्सा बहुत अधिक देर तक नहीं ठहरना है। इसलिए जब भी पति गुस्सा हो तो बस यह कोशिश करें कि कोई ऐसा काम न करें जिससे उसका गुस्सा भड़क (blaze) जाए। कुछ ही देर बाद वह खुद ही शांत हो जाएगा।

पति का गुस्सा कम करने के लिए बर्दाश्त करना भी सीखें – Pati ka gussa kam karne ke liye bardasht karna sikhe in hindi


अक्सर देखा गया है कि पति के गुस्सा होने पर पति और पत्नी के बीच इसलिए लड़ाई (dispute) शुरू हो जाती है क्योंकि पत्नी में कोई भी बात बर्दाश्त करने की क्षमता (caliber) नहीं होती है। अगर आपका पति आपसे किसी बात पर गुस्सा हो गया है तो उसे कुरेदने की कोशिश न करें बल्कि बर्दाश्त करें। अपने पति की मनोस्थिति एवं मनोदशा (psychology) को समझें और खुद से समझने की कोशिश करें कि पति को किस बात पर गुस्सा आता है और गुस्सा कितनी देर तक रहता है। जब आप खुद अपनी सीमाएं (boundaries) निर्धारित करेंगी तो पति के गुस्से को कम करना आसान हो जाएगा।


पति का गुस्सा कम करने का तरीका पति को धैर्यपूर्वक सुने – Pati ka gussa kam karne ka tarika Listen Well in hindi


जब आपका पति आपसे गुस्सा हो जाए तो यह बहुत जरूरी है कि आप उसकी बातों को सुनें। इसका कारण यह है कि जब आप इस मुद्दे पर बात नहीं करेंगी या फिर पति के गुस्सा होने के कारणों को नहीं सुनेंगी तो आप दोनों के बीच में गलतफहमी बढ़ती जाएगी और अहंकार वश न तो आप अपने पति को मनाने की कोशिश करेंगी और न तो वह खुद मानने के लिए तैयार होगा। इसलिए पति का गुस्सा कम करने का सिर्फ एक ही उपाय है कि उसकी बातों को सुनें और अगर वह आपकी किसी गलत हरकतों (silly mistake) से गुस्सा है तो माफी मांगें। इससे उसका गुस्सा शांत हो जाएगा।

पति की परवाह करके उसके गुस्से को करें कम – Be Caring and Understanding to reduce husband anger in Hindi



ज्यादातर पतियों का मानना है कि पत्नी के साथ तालमेल न बैठने या फिर पति की परवाह न किये जाने पर ही पतियों को गुस्सा आता है। अगर आपका पति भी आपसे इसी वजह से गुस्सा है तो अपने गुस्सैल पति (short tempered husband) के व्यवहार को बदलने के लिए उसे समझें और उसे प्यार करें। अगर पति के जीवन में प्यार का अभाव है तो उसका आपसे नाराज होना स्वाभाविक है। इसलिए आप अपने पति को जितना प्यार दे सकती हैं या जितने बेहतर तरीके से उसकी देखभाल कर सकती हैं, करने की कोशिश करें। प्यार से आप अपने पति का दिल जरुर जीत सकती हैं।


गुस्से को कंट्रोल और मन शांत करने के आसान उपाय 


Gussa Kam Karne aur Man Shant Karne Ke Upay गुस्से को कंट्रोल और मन शांत करने के आसान उपाय इन हिंदी, गुस्सा आना एक स्वाभाविक प्रक्रिया है औऱ आमतौर पर हर व्यक्तिको गुस्सा आता है। लेकिन अंतर सिर्फ इतना है कि किसी को ज्यादा गुस्सा आता है और किसी को कम गुस्सा आता है। गुस्सा आने पर कुछ लोग उसे कंट्रोल कर लेते हैं जबकि कुछ लोग अधिक उत्तेजित हो जाते हैं और दूसरों को भला-बुरा कह डालते हैं। वैसे देखा जाए तो यह बात हर इंसान को पता है कि गुस्से में रिएक्ट (react) करने पर बने काम भी बिगड़ जाते हैं लेकिन यह बात जानते हुए भी व्यक्ति अपने गुस्से को नियंत्रित नहीं कर पाता है और एक छोटी सी बात पर गुस्से के कारण दूसरों से अपने रिश्ते खराब (spoil) कर लेता है।

अगर आप भी ऐसे व्यक्ति हैं जिसे गुस्सा बहुत आता है लेकिन आप चाहकर भी उसे काबू में नहीं कर पाते हैं तो हम आपकी मुश्किल (problem) आसान कर देते हैं और आपको बता रहे हैं आपको गुस्से को कंट्रोल करने के लिए कुछ आसान से टिप्स।

गुस्से पर काबू पाने के लिए बोलने से पहले सोच लें – Think before you speak to control your anger in Hindi
योग और मेडिटेशन गुस्से पर काबू पाने के उपाय है – Yoga and Exercise to control your anger in Hindi
गुस्से को कंट्रोल करने के लिए हर संभव तरीका ढूंढें – Gusse ko Control Karne Ke Liye solutions khojen
धीरे-धीरे कोशिश करने से कम होता है गुस्सा – Take a time to control your anger in Hindi
गुस्सा शांत करने के लिए गुस्सा आने पर उस जगह से उठ जाएं – change your position to control your anger in Hindi
गुस्से का इलाज है दूसरों को भी प्राथमिकता देना – Gusse Ka Ilaj Hai Dusron Ko Prathmikta Dena
खुद की अच्छी छवि बनाने से कंट्रोल होता है गुस्सा – Build positive image to control your anger in Hindi
गुस्सा शांत करने का मंत्र है म्यूजिक – Gussa shant Karne Ka Mantr Hai music Sunna
गुस्से पर काबू पाने के लिए बोलने से पहले सोच लें – Think before you speak to control your anger in Hindi

अगर आपको बहुत ज्यादा गुस्सा आता है और आप गुस्से में ही तुरंत ऐसा रिएक्ट करते हैं कि सामने वाला व्यक्ति आपकी बातों से दुखी हो जाता है और उस व्यक्ति से आपके संबंध खराब हो जाते हैं तो आपको एक बात हमेशा दिमाग में रखनी चाहिए। आपको जब भी गुस्सा आए तो या तो रिएक्ट न करें या कुछ भी कहने और बोलने से पहले अच्छी तरह से सोच (think twice) लें। यदि आप इस बात को हमेशा ध्यान में रखेंगे कि सोच कर ही बोलना है तो आपका गुस्सा भी कंट्रोल हो जाएगा और आप बेवजह दूसरे इंसान का दिल भी नहीं दुखाएंगे।

योग और मेडिटेशन गुस्से पर काबू पाने के उपाय है – Yoga and Exercise to control your anger in Hindi

अपने गुस्से पर नियंत्रण पाने का सबसे आसान तरीका यह है कि आपको प्रतिदिन योग, प्राणायाम (pranayama) और विशेषरूप से मेडिटेशन करना चाहिए। मेडिटेशन करने से दिमाग शांत रहता है और योग एवं प्राणायाम करने से शरीर एक्टिव रहता है और शरीर के विकार (issues) दूर होने से मन भी प्रसन्न रहता है। तो यदि आप ऐसे व्यक्ति हैं जिसे बहुत ज्यादा गुस्सा आता है लेकिन आप उसे नियंत्रित नहीं कर पाते हैं तो आपको आज से ही मेडिटेशन और प्राणायाम का अभ्यास शुरू कर देना चाहिए।

गुस्से को कंट्रोल करने के लिए हर संभव तरीका ढूंढें – Gusse ko Control Karne Ke Liye solutions khojen


जब भी गुस्सा आये तो गुस्से के कारणों पर ध्यान देने और तुरंत एक्शन लेने से पहले उस बात के कारणों को सुलझाने (solve) के बारे में सोचें। हालांकि अधिक गुस्सा करने वाले लोगों के लिए यह एक मुश्किल काम होता है और यह आदत विकसित (habit development) होने में समय लगता है। इसलिए यदि आप दिमाग में यह बात रखेंगे कि जिस बात पर गुस्सा आये उसे तुरंत सुलझाने के बारे में सोचेंगे तो आपका गुस्सा अपने आप खत्म हो जाएगा।

धीरे-धीरे कोशिश करने से कम होता है गुस्सा – Take a time to control your anger in Hindi

कभी-कभी ज्यादा गुस्सा करने वाले लोगों को यह पता रहता है कि उन्हें ज्यादा गुस्सा आता है लेकिन जिस वक्त गुस्सा आता है वे इतने मजबूर रहते हैं कि गुस्से को कंट्रोल नहीं कर पाते हैं और उस वक्त जो कहना होता है सबकुछ कह देते हैं। अगर आप भी उनमें से एक हैं तो आपको घबराने की जरूरत नहीं है क्योंकि गुस्से को नियंत्रित करने के लिए अभ्यास (practice) की जरूरत होती है और इसमें समय लगता है। इसलिए घबराने की बजाय अपने को समय दें। कहा जाता है कि जब हमें अपने बारे में खुद पता होता है तो आधी समस्या वैसे ही खत्म हो जाती है। इसलिए अपने गुस्से के बारे में जानें और उसे नियंत्रित करने के लिए समय दें।

गुस्सा शांत करने के लिए गुस्सा आने पर उस जगह से उठ जाएं – change your position to control your anger in Hindi



जब भी जिस बात पर गुस्सा आये तो उसी स्थिति में बैठे न रहें। उस जगह से उठकर इधर-उधर हो जाएं या वहां से तुरंत बाहर निकल जाएं। यह गुस्से को नियंत्रित करने का सबसे बेहतर तरीका है क्योंकि यदि गुस्सा आता है और आप रिएक्ट करना शुरू करेंगे तो आपका गुस्सा और भड़केगा और बात ज्यादा बिगड़ सकती है। इसलिए बेहतर यही है कि जब भी गुस्सा आये तो वहां से उठकर चले जाएं। इससे आपको सबसे बड़ा फायदा यह होगा कि अधिक देर तक आपका मूड भी खराब नहीं होगा और आप किसी को गुस्से में आकर फालतू बातें भी नहीं बोलेंगे।
गुस्से का इलाज है दूसरों को भी प्राथमिकता देना – Gusse Ka Ilaj Hai Dusron Ko Prathmikta Dena


अगर आपको बहुत ज्यादा गुस्सा आता है लेकिन आप इसे नियंत्रित नहीं कर पाते हैं तो जिस वक्त गुस्सा आये उस वक्त यह जरूर सोचें कि क्या सिर्फ आप ही सही हैं जो गुस्सा हो रहे हैं या गुस्सा होने का अधिकार सिर्फ आपको ही है। अगर गुस्से के समय आप ऐसी बातें दिमाग में लाएंगे तो आपका गुस्सा अपने आप शांत हो जाएगा। कभी-कभी परिस्थितियां ऐसी होती हैं कि हम घर के किसी सदस्य या दोस्तों-रिश्तेदारों (kith and kin) पर इतना गुस्सा हो जाते हैं कि यह भूल जाते हैं कि गलती अपनी भी हो सकती है। ऐसी स्थिति में यदि आप यह बात ध्यान रखेंगे तो आप गुस्से को नियंत्रित कर सकते हैं।

खुद की अच्छी छवि बनाने से कंट्रोल होता है गुस्सा – Build positive image to control your anger in Hindi


यदि आप खुद के हाथों मजबूर हैं और अपने गुस्से को कंट्रोल नहीं कर पा रहे हैं तो एक बात समझ लीजिए हमेशा गुस्सा दिखाने से सामने वाले व्यक्ति के मन में आपकी वैसी ही छवि बन जाएगी और आपसे लोग कोई भी बात बताने या कहने से परहेज (avoid) करेंगे। यदि आप जरूरत से ज्यादा गुस्सा करते हैं तो बच्चे आपसे इतना डरेंगे कि वे आपको खलनायक (villain) समझने लगेंगे।

इसलिए जब भी आपको गुस्सा आये तो यह जरूर सोचें कि आप लोगों के मन में अपनी किस तरह की छवि (image) देखना चाहेंगे। क्या आप ये चाहेंगे कि बच्चे आपको दूर से देखकर ही छिप जाएं और आपके पास न आएं। जब आप अपनी इन छोटी-छोटी आदतों (silly habits) पर ध्यान देंगे तो एक दिन ऐसा आयेगा कि आपको महसूस होगा कि आपको किसी बात पर गुस्सा नहीं आता है और आता भी है तो आप उसे कंट्रोल कर लेते हैं।

गुस्सा शांत करने का मंत्र है म्यूजिक – Gussa shant Karne Ka Mantr Hai music Sunna


गुस्से को नियंत्रित करने का सबसे अच्छा तरीका यह है कि आप अपने पसंद का म्यूजिक सुनने (listening music) की आदत डालें औऱ खासतौर पर उस वक्त जब आपको बहुत ज्यादा गुस्सा आ रहा हो। कहने का अर्थ यह है कि कोई हॉबी (hobby) विकसित करें और जब गुस्सा आये तो थोड़ी देर अकेले रहें और उस वक्त अपनी पसंद की चीजें करें। अगर आपको पुल के नीचे पानी में पैर लटकाकर बैठना अच्छा लगता है तो थोड़ी देर पानी में पैर डालकर बैठे रहें। शास्त्रीय संगीत (classical music) सुनें या कोई मोटिवेशनल स्पीच सुने। जब आप गुस्सा आने पर खुद को इस तरह की चीजों में व्यस्त (busy) रखेंगे तो आपका दिमाग उस बात से हट जाएगा जिस बात पर आपको गुस्सा आ रहा था। सोचिए, गुस्से को कंट्रोल करने का इससे बेहतर तरीका और क्या हो सकता है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.