Header Ads

डायबिटीज में खायें ये फल


डायबिटीज में खायें ये फल FRUITS FOR DIABETICS
भारत में डायबिटीज(Diabetes) से प्रभावित लोगों की संख्या बढ़ती जा रही है। डायबिटीज के साथ सबसे बुरी चीज इसके साथ जुड़े परहेज हैं जिनकी वजह से लोग बहुत ज्यादा परेशान रहते हैं। इन सभी परहेजों के बीच अधिकतर लोग फलों(Fruits) में क्या खाया जा सकता है और क्या नहीं यह सोच सोच कर परेशान रहते हैं। आज मैं आपको डायबिटीज में कौन से फल खाए जा सकते हैं इसके बारे में बताऊंगा

ग्लायसेमिक इंडेक्स(Glycemic Index) के अनुसार किसी भी भोजन को उसमें कार्बोहायड्रेट(Carbohydrate) की मात्रा के अनुसार 0 से 100 के बीच रेटिंग(Rating) दी जाती है। ग्लायसेमिक इंडेक्स के अनुसार फलों को तीन भागों में बाँट सकते हैं
लो ग्लायसेमिक इंडेक्स फल(Low Glycemic Fruits)

ग्लायसेमिक इंडेक्स के अनुसार 50 रेटिंग से नीचे के सभी फल इसी वर्ग में आते हैं और इनको खाते समय बहुत अधिक सोचने की जरूरत नहीं पड़ती। इन सभी फलों को खाने से शरीर में बहुत तेजी से ग्लूकोस(Glucose) की मात्रा नहीं बढ़ती है लेकिन फिर भी इन फलों को भी खाते समय यह ध्यान रखने की जरूरत है कि एक दिन में फलों के केवल 2 कप(Cup) ही खाने चाहिए इससे अधिक खाने से इनके लाभों की जगह हानि की संभावना रहती है। ऐसे फलों को उनके ग्लायसेमिक इंडेक्स(Glycemic Index) के आधार पर इस तरह कम से अधिक में बाँट सकते हैं


चेरी(Cherry) 22 जी आई(G.I.)

अमरूद(Guava) 24 जी आई (G.I.)

चकोतरा(Grapefruit) 25 जी आई(G.I.)

सूखा आलूबुखारा(Prunes) 29 जी आई(G.I.)

सूखी खुबानी(Apricots) 30 जी आई(G.I.)

सेब(Apple) 38 जी आई(G.I.)

बेर(Plums) 39 जी आई(G.I.)

स्ट्रॉबेरी(Strawberry) 40 जी आई(G.I.)

आड़ू(Peach) 42 जी आई(G.I.)

नाशपाती(Pear) 43 जी आई(G.I.)

संतरा(Orange) 45 जी आई(G.I.)

अंगूर हरे(Grapes Green) 46 जी आई(G.I.)
मीडियम ग्लायसेमिक इंडेक्स फल(Medium Glycemic Index Fruit)

इस वर्ग में वो फल आते हैं जिनका ग्लायसेमिक इंडेक्स 50 से 70 के बीच होता है। इस तरह के फल को खाते समय इनके साथ अपने भोजन में कुछ ऐसी चीजें खाने की जरूरत होती है जो इन फलों के द्वारा बढ़े ग्लूकोस(Glucose) को घटाने का काम कर सकें। इनके साथ भुने चने(Roasted Gram) खाये जा सकते हैं जोकि शुगर कम करने में मदद करते हैं। इस तरह के फलों की मात्रा 1 कप से कम ही रखनी चाहिए ताकि शुगर लेवल(Sugar Level) तेजी से ना बढ़े। इस तरह के फल हैं

आम(Mango) 51 जी आई(G.I.)

केला(Banana) 52 जी आई(G.I.)

पपीता(Papaya) 56 जी आई(G.I.)

कीवी(Kiwi) 58 जी आई(G.I.)

अनानास(Pineapple) 66 जी आई(G.I.)
हाइ ग्लायसेमिक इंडेक्स फल(High Glycemic Index Fruit)

इस वर्ग में वे फल आते हैं जिनका ग्लायसेमिक इंडेक्स 70 से ऊपर होता है। इस तरह के फल बहुत तेजी से शुगर लेवल बढ़ा सकते हैं इसलिए इस तरह के फलों से बचना ही सही है, लेकिन फिर भी स्वाद के लिए आप इन्हे खाना ही चाहते हैं तो यह जरूरी है कि इनको बहुत कम मात्रा में लिया जाये और इसके साथ अपने शुगर को कंट्रोल करने के लिए शारीरिक व्यायाम(Physical Exercise) और डाइट कंट्रोल(diet Control) भी करें। इस तरह के कुछ फल ये हैं


तरबूज(Watermelon) 72 जी आई(G.I.)

खजूर(Dates) 102 जी आई(G.I.)

अब आप जान ही गए होंगे कि लगभग सभी फल आप खा सकते हैं बस आपको डायबिटीज(Diabetes) के दौरान यह ध्यान रखना है कि उन फलों का ग्लायसेमिक इंडेक्स(Glycemic Index) क्या है। फिर इंतजार किस बात का, कुछ फल खाइये और सेहत बनाइये।



अलसी एक लाभ अनेक FLAX SEED THE SUPERFOOD
अगर आज की दुनिया में खुद को स्वस्थ (Healthy) रखना है और बहुत सी लाइफ़स्टाइल सम्बन्धी बीमारियों (Lifestyle Diseases) से बचना है तो व्यायाम (Exercise) और हैल्थी खाना बहुत जरूरी है। पूरी दुनिया में लाइफ़स्टाइल से संबंधित बीमारियों से बचने के क्रम में हाल के वर्षों में अलसी (Flax Seed) को बहुत अधिक प्रसिद्धि मिली है। दुनिया में सबसे पुराने बीजों में से एक अलसी को सुपर-फूड (Superfood) का दर्जा अगर दिया जा रहा है तो यह कोई अतिश्योक्ति नहीं बल्कि इसके खुद के गुणों के कारण है। यदि हम देखें तो अलसी में विटामिन ए (Vitamin A) से लेकर विटामिन के (Vitamin K) तक सभी हैं, मिनरल्स (Minerals) की बात करें तो भी यह किसी भी भोजन से कमतर नहीं जान पड़ता। आज मैं आपको अलसी के कुछ ऐसे ही गुणों के बारे में बताऊंगा

पाचन (Digestion) में मदद
अलसी (Flax Seed) में बहुत अधिक मात्रा में फ़ाइबर Fibre) की मात्रा होती है जो भोजन के पाचन के लिए बहुत मददगार होती है, साथ ही शरीर के टॉक्सिन (Toxin) को निकालने में बहुत अच्छी रहती है। अलसी के अंदर फ़ाइबर की मात्रा किसी भी अन्य खाने की तुलना में इसके आकार की तुलना में बहुत अधिक होती है। इसे छोटे पैकेट में बड़ा धमाका भी कह सकते हैं।
त्वचा और बालों की समस्या दूर करता है

यदि आप 1-2 चम्मच अलसी के बीज (Flax Seed) अपने खाने में रोज शामिल करते हैं तो विटामिन बी (Vitamin B) होने के कारण यह त्वचा और बालों की समस्याओं से निजात दिलाने में मदद करता है। अलसी के तेल (Flax Seed Oil) को बालों और त्वचा पर लगाने से भी लाभ मिलता है।
कॉलेस्ट्रोल (Cholestrol) कम करता है

अलसी के बीजों और तेल को अपने भोजन में शामिल करके कॉलेस्ट्रोल को कम किया जा सकता है। कॉलेस्ट्रोल को कम करने के इसी गुण के कारण इसे दिल का डॉक्टर भी कहा जा सकता है। यह कॉलेस्ट्रोल (Cholestrol) को कम करने के साथ साथ दिल की नसों में इसके चिपकने को भी रोकता है क्यूंकि इसमें ओमेगा-3 फैट (Omega-3 Fatty Acids) की अच्छी मात्रा पायी जाती है।
डायबिटीज (Diabetes) में प्रभावी

अलसी के बीजों को अपने भोजन में शामिल करके ब्लड शुगर Blood Sugar) कम करने में भी मदद मिलती है। टाइप 2 डायबिटीज (Type 2 Diabetes) में शुगर को नियंत्रित करने में भी इसको प्रभावी देखा गया है। इसके हैल्थ बेनिफ़िट (Health Benefit) को ध्यान में रखते हुए इसके लिए इसके पिसे हुए बीजों या फिर तेल को प्रयोग में लाया जा सकता है।
कैंसर (Cancer) से लड़ने में मदद करता है

अलसी के बीज और तेल का प्रयोग कई तरह के कैंसर से बचाने और लड़ने में मदद कर सकता है। ब्रैस्ट कैंसर (Breast Cancer), प्रोस्टेट कैंसर (Prostate Cancer) और कोलोन कैंसर (Colon Cancer) को रोकने के साथ साथ ही यह कैंसर के प्रभावों को उलटने में भी मदद करता है। अलसी के बीज, तेल या फिर तेल के कैप्सूल (Oil Capsule) इसमें हमारी मदद कर सकते हैं।
वजन कम (Weight Loss) करता है

अलसी के बीजों में बहुत अधिक मात्रा में फ़ाइबर (Fibre) होता है जिसके कारण यह पेट को लंबे समय तक भरा हुआ रखता है जिससे खाना खाने की जरूरत महसूस नहीं होती और वजन कम करने में मदद मिलती है। अलसी के 1-2 चम्मच बीजों को खाने में शामिल करने के साथ अलसी के तेल (Flax Seed Oil) का प्रयोग मदद कर सकता है।
मॅनोपोज़ (Menopause) की समस्याओं में मदद

मॅनोपोज़ के समय हॉरमोन थैरेपी (Hormone Therapy) की जगह ब्रेकफ़ास्ट (Breakfast) में 1-2 चम्मच बीजों के साथ 1 चम्मच अलसी का तेल इस्तेमाल करने से राहत मिलती है। यह महिलाओं में मासिक धर्म (Periods) को नियमित करने में भी मदद करता है। महिलाओं में हॉरमोन बदलावों के कारण होने वाले ऑस्टियोपोरोसिस (Osteoporosis) को भी होने से रोकता है।

अलसी के बीजों के हैल्थ बेनिफ़िट (Health Beneit) को पाने के लिए अलसी के बीजों और तेल को अपने ब्रेकफ़ास्ट में जरूर शामिल करें और हैल्थी Healthy) और सुंदर (Beautiful) बने रहें।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.