Header Ads

2 महीने में ब्रेस्ट का साइज बढ़ाने के 10 बेस्ट घरेलू उपाय


2 महीने में ब्रेस्ट का साइज बढ़ाने के 10 बेस्ट घरेलू उपाय


इन 10 तरीकों को अपना कर आप करीब 8 हफ्ते में ब्रेस्ट का साइज बढ़ा सकती हैं।
बड़े अच्छे लगते हैं। ये बात उन महिलाओं से बेहतर कौन समझ सकता है जिनके स्तनों का आकार छोटा है। कहा जाता है कि स्तन (breast) महिला की खूबसूरती का पैमाना भी होता है। जिनका आकार वाजिब नहीं होता उन्हें यह बात परेशान करती है। हालांकि अगर आपको स्तनों से जुड़ी कोई बीमारी नहीं है तो ब्रेस्‍ट का साइज बढ़ाया जा सकता है। यह बहुत कठिन काम नहीं है बस आपको थोड़ा वक्त देना होगा। हम आपको ब्रेस्ट बढ़ाने के 10 घरेलू उपाय ( breast badhane ke gharelu upay) बता रहे हैं जिन्हें अपनाकर आप थोड़े समय में ही या यूं कहें कि महज 8 सप्ताह में ही स्तनों का आकार बढ़ा पायेंगी। जरूरी नहीं हर उपाय आपको सूट करे मगर कायदा यही है कि जिसे भी आप अपना सकती हैं उसे ट्राई करके जरूर देंखें। कोई न कोई तरीका काम जरूर करेगा और स्‍तनों का आकार एक दो दिन या एक दो सप्ताह में नहीं बढ़ता, वक्त लगेगा नतीजे आने में इसलिए सब्र के साथ आगे बढ़ें।
1 कच्चे आम का गूदा – दो चार कच्चे आम लें और उनकी गुठली निकाल कर गूदे को अच्छी तरह से पीस लें। हो सके मिस्‍कर पर पीसें इससे वह अच्छा लेप बन जायेगा। पीसते वक्त जरूरत पड़े तो थोड़ा पानी मिला सकती हैं। इस लेप को स्तनों पर लगायें और सूखने तक इंतजार करें। जब लेप सूख जाये तो उसे धो लें। धोते वक्‍त बहुत ठंडे पानी का यूज न करें पानी या तो हल्का गुनगुना हो या फिर सामान्य तासीर वाला। इस उपाय को अन्य उपायों के साथ लंबे समय तक ट्राई करती रहें। इससे न केवल साइज बढ़ाने में मदद मिलती है बल्कि जिन महिलाओंं के स्तन ढीले हो गए हैं वो इसकी बदौलत उनमें कसावट हासिल कर सकती हैं।


2 सोयाबीन का इस्‍तेमाल करें – स्तनों का आकार नहीं बढ़ने का एक बड़ा कारण होता है बॉडी में एस्‍ट्रोजन के लेवल का काम होना। यह ब्रेस्ट का साइज बढ़ाने में बड़ा रोल निभाता है। जिन महिलाओं में एस्‍ट्रोजन का लेवल कम हो जाता है उनके स्‍तनों का साइज कम रह जाता है या विकास रुक जाता है। इसके उलट जिन पुरुषों में एस्‍ट्रोजन का लेवल बढ़ जाता है उनका सीना महिलाओं जैसा हो जाता है। अब आप समझ गई होंगी कि इस हार्मोन का कितना बड़ा रोल है। सोयाबीन खाने से बॉडी में एस्‍ट्रोजन लेवल बढ़ता है। दूसरी बात सोयाबीन में प्रोटीन भी खूब होता है। ऐसे में आप बेधड़क सोयाबीन खायें।

3 दूध – दूध के बारे में हम सब जानते हैं। यह अपने आप में कंप्लीट फूड है, पर अक्सर देखने में आता है कि महिलायें दूध से बचती हैं। वैसे तो ये जरूरी नहीं है कि जो महिलायें दूध नहीं पीतिं उनके स्तन छोटें मगर हां जिन महिलाओं की ब्रेस्ट का साइज छोटा है उन्हें दूध जरूर पीना चाहिए। दूध में प्रोटीन और वसा दोनों होते हैं दोनों ही ब्रेस्‍ट का साइज बढ़ाने के लिए जरूरी होते हैं। स्‍तनों में खाली मसल्स नहीं होते उनमें फैट भी होता है और दूध से हमें अच्दा फैट मिलता है।


4 पपीता – पपीता केवल पेट को ही ठीक नहीं रखता यह पेट से ऊपर के हिस्‍से को सुडौल बनाने के काम आता है। पपीते और दूध का कॉम्बीनेशन ब्रेस्ट का साइज बढ़ाने में कारगर साबित होता है।


5 मेथी के बीज – मेथी के बीज बरसों से हमारी रसोई का हिस्‍सा रहे हैं मगर कम ही लोगों को पता है ये डायबटीज ये लड़ने, कैल्शियम की कमी पूरा करने और ब्रेस्‍ट का साइज बढ़ाने में बड़ा काम आते हैं। यह बॉडी में एस्ट्रोजन के लेवल को बढ़ाते हैं। आप रात को एक चम्‍मच मेथी के दाने भिगो कर रख दें सुबह होने पर उन्‍हें चबाकर खा जायें और पानी पी जायें। शुरू में थोड़ा अटपटा लगेगा मगर बाद में आपको इसका स्वाद नॉर्मल लगेगा। भीगे हुए मेथी के बीजों को पीसकर उसका पेस्‍ट बनाकर स्तनों पर लगायें और सूखने में धो लें। इसके तेल की मालिश भी कर सकती हैं।


6 अलसी के बीज – ब्रेस्ट का साइज बढ़ाने में अलसी (Flexseeds) के बीज भी बहुत अच्‍छा काम करते हैं। खास बात ये है कि यह बहुत सस्ते मिल जाते हैं। आप इनके सीधे खा सकती हैं या गेहूं में पिसवा सकती हैं। इनके बीजों की चटनी भी बनती है। आप इसका तेल सलाद वगैरा पर डालकर खा सकती हैं और उस तेल से स्तनों की मालिश भी कर सकती हैं। यह ब्रेस्ट बढ़ाने सबसे सस्ता घरेलू उपाय है।


7 मालिश कैसे करें – मालिश कितने काम की चीज है इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकती हैं कि छोटे बच्चों के लिये ये बेहद जरूरी मानी जाती है। आप छोटे ब्रेस्‍ट को बढ़ाने के लिए इसका इस्तेमाल करें। आकार बढ़ाने के लिए ब्रेस्ट की मालिश करने का भी एक तरीका होता है। हाथों पर तेल लगाकर सबसे पहले आराम से दोनों स्तनों पर तेल लगा लें। उसके बाद स्‍तनों को नीचे से ऊपर की आरे हल्के हल्के रगड़ें। हाथों की मूवमेंट नीचे से ऊपर की रखें। इसके बाद हाथों को नीचे से ऊपर की ओर गोलाई में घुमायें। जोर बहुत ज्‍यादा न लगायें मगर इतना जोर लगायें कि स्किन में गर्माहट महसूस होने लगे। मालिश करने के लिए अलसी, बादाम, सौंफ व जैतून के तेल का इस्तेमाल कर सकती हैं। अगर इनमें से कोई तेल मौजूद नहीं है तो सरसों के तेल में हल्का सा नमक डालकर भी मालिश कर सकती हैं। चाहें तो तेल को हल्का सा गर्म कर लें। करीब तीस मिनट का मसाज करें और हो सके तो रात के समय करें।


8 बरगद के पेड़ की लतायें – बरगद के पेड़ पर आपको लाल रंग की जड़ें जैसी चिपकी मिलेंगी। इन्‍हें पीसकर पेस्‍ट बना लें जरूरत पड़े तो थोड़ा पानी मिला लें। इन्‍हें स्‍तनों पर लगायें और सूखने के बाद धो दें। इनसे भी ब्रेस्ट का साइज बढ़ाने और उन्हें सख्‍त करने में मदद मिलती है।


9 कसरत करें – अगर आप कसरत करेंगी तो बहुत तेजी से नतीजे आ सकते हैं। कसरत से मांसपेशियां ताकतवर बनती हैं। हाजमा दुरुस्त होता है और भूख बढ़ती है। महिलाओं की ब्रेस्ट का आकार बढ़ाने में पुश अप्स, बारबेल शोल्‍डर प्रेस जैसी कसरतें बहुत काम आती हैं। इसके अलावा भुजंगासन, उष्ट्रासन, बद्धपद्मासन भी काफी मददगार साबित होते हैं।


शेप और साइज की पांच एक्‍सरसाइज

आपकी शेप खराब है या साइज कम है, दोनों ही परेशानियों का हल कसरत के पास है। चंद ऐसी कसरतें हैं जो शेप को तुरंत दुरुस्‍त कर देती हैं, हां साइज में थोड़ा वक्‍त लगता है। साइज दो वजह से नहीं बढ़ता एक जींस यानी हो सकता है आपके खानदान में आमतौर पर महिलाओं का साइज औसत या औसत से कम ही रहता हो। दूसरी वजह, आपका खानपान और आपके हार्मोन। अगर इसकी वजह आपके खानपान में कमी है तो समझ लीजिए मेहनत और विज्ञान के बूते आपका काम बन जाएगा, लेकिन अगर ये खानदानी दिक्कत है तो बहुत मेहनत और ढेर सारे विज्ञान के बूते ही आप खुद को वैसा बना पाएंगी जैसा चाहती हैं।
हम आपको शुद्ध देसी मेहनत वाला तरीका बना रहे हैं, जिसका नतीजा न आए ऐसा हो नहीं सकता। आपको करना है,जो हम बता रहे हैं वो कसरतें और जैसा हम बता रहे हैं वैसा खाना-पीना। कसकर मेहनत करेंगी तो दो से तीन माह में नतीजे हासिल हो जाएंगे। एक और शर्त है, या तो जिम जाएं या घर पर कसरत का सामान जुटाएं।


1 डंबल प्रेस : बेंच पर लेट जाएं। हाथों में वाजिब वेट वाले डंबल उठा लें। जैसा कि फोटो में दिख रहा है। वेट को धीरे-धीरे ब्रेस्ट के बगल में लेकर आएं और फिर ऊपर ले जाएं। वेट नीचे आते वक्त सांस लें और ऊपर ले जाते वक्त छोड़ें। ध्यान रहे वेट को ब्रेस्ट के बगल में रखें। तीन सेट 6 से 8 रैप वाले।



2 डंबल फ्लाई : इंक्लाइन या फ्लैट बेंच पर वाजिब वेट लेकर लेट जाएं। सामने की ओर डंबल था लें। फिर सांस खींचते हुए दोनों हाथ इतने खोलें कि डंबल आपकी चेस्ट से नीचे चले जाएं। बस इसके बाद सांस छोड़ते हुए वापस होनों डंबलों को सामने लाएं। डंबल को एक दूसरे छुआ कर वापस नीचे ले जाएं। ऐसा आठ से दस बारे में करें। अगर जिम जा रही हैं तो आप मशीन से बटर फ्लाइ भी कर सकती हैं। वैसे हमारी सलाह है कि आप इंक्लाइन बेंच पर डंबल फ्लाई करें। तीन सेट 6 से 8 रैप वाले।

3 बेंच प्रेस : युवकों की चेस्ट बनाने वाली सबसे बढ़िया कसरत आपके भी बहुत काम की है। इसे करते वक्त दो तीन बातों का खास ध्यान रखें। रॉड सीधा नीचे आए और सीधा ऊपर जाए। नीचे आए तो आपकी ब्रेस्ट को टच करे और हाथों की दूरी इतनी हो कि अगर आप हाथ छाती के पास लाएं वो आपकी ब्रेस्ट से तीन या चार इंच दूर रहें। तीन सेट 6 से 8 रैप वाले।

4 पुलओवर : बेंच पर वाजिब वेट के साथ लेट जाएं। दोनों हाथों की ग्रिप बनाकर डंबल या प्‍लेट को पकड़ें और नीचे की ओर ले जाएं। हाथों को जितना हो सके बिना मोड़े नीचे ले जाएं और बिना मोड़े ही ऊपर लाएं। ऊपर वेट को अपनी ब्रेस्ट से जरा से आगे तक ले जाएं और फिर वापस नीचे। नीचे वेट जाते वक्त सांस लें और ऊपर आते वक्त छोड़ें। तीन सेट 6 से 8 रैप वाले।

5 पुश अप्स : दोनों हाथों को चेस्ट से करीब तीन इंच दूर रखें और पैर हल्के से खोल कर फर्श पर आ जाएं। ये पोजीशन दंड लगाने जैसी होती है। नीचे जाते वक्त सांस लें और ऊपर आते वक्त सांस छोड़ें। जब नीचे आएं तो कोहनियां शरीर के आसपास ही रहे, बहुत बाहर की ओर न भागें। अगर नहीं हो रही है तो शुरुआत में अपने हाथ किसी मेज या कुर्सी पर रख लें और करें। जब थोड़ी मजबूती आ जाए तो फिर जमीन पर हाथ रख लें। एक बार पोजीशन में आने के बाद 6 से 8 बार करें, इसे रैप कहते हैं। और कुल तीन बार पोजीशन बनाएं, इसे सेट कहते हैं। यानी तीन सेट 6 से 8 रैप वाले।

जरूरी बात : ये सारी कसरतें एक दिन कतई नहीं करनीं। आप एक दिन में तीन कसरतें ही करें और हर रोज ब्रेस्ट की कसरत कतई न करें। हमारी सलाह है कि आप एक दिन ब्रेस्ट की तीन कसरतें करें ओर फिर दो दिन बाद दूसरी तीन करें। बाकी शरीर पर भी ध्यान देना जरूरी है। बीच के दिनों में बाकी शरीर की एक्सरसाइज करें। दूध, दही, पनीर, अंडा, मछली, चिकन, मटन, फल यही सब चीजें हैं जो आपको खानी हैं। अपने वजन के जितना प्रोटीन लेने की कोशिश करें। मान लें आपका वजन चालीस किलो है तो आपको कम से कम चालीस ग्राम प्रोटीन तो लेना ही होगा। एक गिलास दूध में करीब आठ ग्राम, एक अंडे में करीब पांच ग्राम, सौ ग्राम पनीर में 18 ग्राम, सौ ग्राम चिकन में करीब 25 ग्राम प्रोटीन होता है।

10 अपनी डाइट ठीक करें – अगर आपकी डाइट ठीक नहीं है तो आपका साइज नहीं बढ़ेगा। ध्‍यान रखें उन महिलाओं के ऊपर ये नुस्खे ज्यादा असर नहीं दिखा पायेंगे जो बहुत दुबली हैं और ठीक से खाती पीती नहीं। अगर आप छोटे स्तनों को लेकर परेशान हैं तो सबसे पहले अपनी डाइट ठीक करें। अपने खाने में दूध, बादाम, अखरोट वगैरा को शामिल करें। अपना वजन बढ़ाने की कोशिश करें, आप चाहें तो वजन बढ़ाने के लिए भारतीय डाइट चार्ट को अपना सकती हैं। ब्रेस्ट बढ़ाने के तरीके breast badhane ke tarike जो हमने बताये हैं उनके साथ डाइट को ठीक कर लेंगी तो तेजी से नतीजे आने लगेंगे। ब्रेस्ट बढ़ाने के घरेलू उपाय जिनके बारे में आपको लेख में बताया गया है उन्हें अलग अलग जगह से खोजकर जोड़ा गया है

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.