Header Ads

कब्ज की समस्या को दूर करे यह १२ असरदार घरेलु इलाज


कब्ज की समस्या को दूर करे यह १२ असरदार घरेलु इलाज
जब किसी इंसान को मल त्यागने में परेशानी होती है तब ऐसा कहा जाता है कि उस इंसान को कब्ज की समस्या है | कब्ज होने पर इंसान को लैट्रिन करने में काफी ज्यादा परेशानी का सामना करना पड़ता है | कई बार लैट्रिन करते समय लैट्रिन बहुत ही कम आती है कई बार ऐसी स्थिति आ जाती है कि हमें काफी दर्द होता है |

कब्ज होने पर व्यक्ति का पाचन तंत्र पूरी तरह से खराब हो जाता है, जिससे इसका गलत परिणाम हमारे पूरे शरीर पर होने लगता है | कब्ज होने पर मल कडक हो जाता है जिसके कारण मल त्यागने की गति बिल्कुल कम हो जाती है और मल निष्कासन के समय अधिक बल का प्रयोग करता है |

कब्ज क्या होता है ?
पेट में कब्ज होने के कारण क्या है ?
कब्ज से बचने के लिए क्या नहीं खाएं ?
कब्ज के लक्षण क्या है ?
कॉन्स्टिपेशन से राहत पाने के लिए आयुर्वेदिक दवाई ?
कब्ज की समस्या से छुटकारा पाने के १२ असरदार घरेलु उपाय:
हमें कब्ज होने पर क्या खाना चाहिए ?
कब्ज क्या होता है ?कब्ज क्या होता है
कब्ज सेहत का दुश्मन है|
इससे शरिर में अधिकांश रोगों को का जन्म होता है|
यह शरीर की चुस्ती फुर्ती का नाश कर देता है|
भोजन अरुचित हूँ जाता है| सिरदर्द हमेशा होता है |
पाचन शक्ति को कमजोर करता है|
आलस्य और अनिद्रा जैसे रोगों को दावत देता है|

इसीलिए इसको को दूर ही रखे |
पेट में कब्ज होने के कारण क्या है ?पेट में कब्ज होने के कारण
जादा खाना खाने पर |
चाय कोफी का अधिक सेवन करने के कारण |
धुम्रपान और नशा करने के कारण |
मानसिक तनाव होने के कारण |
भरपूर नींद लेने के कारण |
दिन भर खाते रहने से |
शारीरिक परिश्रम ना करके कारण |
असमय-अनियमित भोजन करने से |
लगातार तथा गरिष्ठ भोजन करने के कारन |
कम पानी पिने पर|
शौच लगने पर से रोक लेने के कारण |
लगातार बैठकर काम करने से|
शुष्क भोजन करने तथा अच्छी तरह चबाकर ना खाने से|
कब्ज से बचने के लिए क्या नहीं खाएं ?कब्ज से बचने के लिए क्या नहीं खाएं
जिन लोगों के शरीर में फाइबर की मात्रा काफी कम होती है अक्सर उन लोगों को कब्ज की समस्या बहुत ज्यादा आती है |
इसलिए जिन चीजों में फाइबर की मात्रा ज्यादा है उन चीजों का ज्यादा से ज्यादा सेवन करने की कोशिश करें |
बहुत सारे लोगों को हमेशा दवाइयों का सेवन करने की आदत होती है, लगातार लंबे समय तक एंटीबायोटिक दवाइयों का सेवन करने से कब्ज की समस्या बढ़ती जाती है | आमतौर पर नारकोटिक कोडेन, ऑक्सिकोडेन यह दवाइयां कब्ज की समस्या बढ़ाने के लिए मानी जाती है |
जिन लोगों को हमेशा मीठा खाने की आदत होती है अक्सर उन लोगों को कब्ज की समस्या आती है | कब्ज से छुटकारा पाने के लिए कॉफी, शराब ठंड में बिल्कुल सेवन नहीं करना चाहिए | कॉफी शराब का लगातार सेवन करने से कब्ज की समस्या बढ़ती ही जाती है |
कब्ज होने पर बाहर मिलने वाली चीजों का सेवन बिल्कुल ना करें, अगर आप इन दिनों में घर का खाना खाना पसंद करते हो तो काफी अच्छा होगा |
कब्ज के लक्षण क्या है ?कब्ज के लक्षण
पर्याप्त भूक न लगना , मुह में बार-बार छाले होना |
खट्टी डकारे आना, गले में लकीर खींचना|
सिने मे में जलन और बैचेनी महसूस होना |
पेट भरा-भरा तथा भरी मालुम होना |
लगातार सिरदर्द होना तथा चक्कर आना|
हमेशा आलस्य रहना|
बार बार शौच की शिकायात होना , पर शौच खुलकर ना आना|
कॉन्स्टिपेशन से राहत पाने के लिए आयुर्वेदिक दवाई ?
कॉन्स्टिपेशन
देखा जाए तो कॉन्स्टिपेशन से राहत पाने के लिए बहुत सारी आयुर्वेदिक दवाइयां बाजार में अवेलेबल है |
कॉन्स्टिपेशन से राहत पाने के लिए पतंजलि दवाई अगर आप सेवन करते हो तो आसानी से इस समस्या से छुटकारा पाने में मदद होगी |
रोजाना रात को सोने से पहले गुनगुने दूध के साथ अगर आप शतावरी का सेवन करते हो तो इससे आपके शरीर में जो भी मल है वह सॉफ्ट बनेगा जिससे लैट्रिन करते समय किसी प्रकार की अतिरिक्त ऊर्जा नहीं लगेगी |
कब्ज मिटाने के लिए हर रोज रात को सोने से पहले गुनगुने पानी का सेवन करें और सुबह उठने के बाद भी गुनगुने पानी का सेवन करें |
जो लोग लंबे समय तक सोते नहीं है अक्सर उन लोगों को कॉन्स्टिपेशन की समस्या ज्यादा आती है, इसलिए वक्त पर सोना चाहिए और वक्त पर उठना चाहिए जिससे आपके शरीर का पाचनतंत्र सुधरेगा और कॉन्स्टिपेशन की समस्या नहीं रहेगी |
कब्ज की समस्या से छुटकारा पाने के १२ असरदार घरेलु उपाय:
कब्ज की समस्या से छुटकारा
सुबह जल्दी उठे और ठंडा पानी पीके शौच जाए| रात को ताम्बे के बर्तन में रखा पानी पीना जादा बेहतर होगा , इससे kabj दूर होता है|
सुबह घुमाना लाभदायक होता है| इसे लिए सुबह ताज़ी हवा का सेवन करे|
कब्ज में अधिकतर लोग जुलाब की दवायियो का सेवन करते है |Kabj को ठीक तो कर देता है , लेकिन शरीर में वात दोष बाधा देता है|
चोकरयुक्त आटे की बनी रोटी खाए | मैदे से बने पदार्थो का सेवन कम करे|
हरी सब्जियया जादा खाए , दही छाज का सेवन जादा करे|
तेल पदार्थ का सेवन कम करे|
रात में सोते समय दूध को मीठा करके पिए |
किशमिश – मनुक्का तथा अंजीर कब्ज का रामबाण उपाय है|रात में किसी मिटटी के बर्तन में किशमिश व अंजीर भिगोकर सुबह चबाकर खाए |इससे आंतो की अच्छे से सफाई होती है|
सोने से पहले नित्य एक चम्मच त्रिफला दूध या गुनगुने पानी के साथ सेवन करे|
रात सोने से पहले एक गिलास दूध में एक बड़ा चम्मच कैस्टर आयल डालकर सेवन करे| बच्चो को आधा चम्मच देना चाहिए |
भोजन में सलाद का समावेश करे तथा मौसम के फल खाए |
सुबह शाम तिन दिन एक पाव अमरुद खाने से यह रोग ख़त्म होता है|
हमें कब्ज होने पर क्या खाना चाहिए ?
कब्ज होने पर क्या खाना
कब्ज होने पर आपने आपके खाने में ज्यादा से ज्यादा फाइबर युक्त चीजों का सेवन करना चाहिए |
जिन चीजों का सेवन करने से आपके शरीर में डाइजेशन नहीं होता है अक्सर उन चीजों का सेवन बिल्कुल ना करें |
कब्ज को भगाने के लिए अधिक तेल मसालेदार चीजे और भारी मीट खाने से हमेशा बचे |
कॉन्स्टिपेशन को भगाने के लिए अपने भोजन में हरी सब्जियों का और फलों का सेवन करना काफी असरदार साबित होता है |
कब्ज की समस्या होने पर अमरूद संतरा सेब पालक मशरूम, गोभी, मूली, अजवाइन, सलाद इन चीजों का सेवन अपने डायट में करें जिसे कॉन्स्टिपेशन की समस्या लंबे समय तक नहीं रहेगी और आपका पाचन तंत्र भी सुधर जाएगा |

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.