Header Ads

क्या स्तनों को दबाने से उनका आकार बढ़ जाता है –


क्या स्तनों को दबाने से उनका आकार बढ़ जाता है – 
महिला स्वास्थ्य की जानकारी
क्या स्तनों का आकार दबाने से बढ़ता है? क्या स्तन दबाने से बढ़ते हे?, स्तनों को कैसे दबाया जाए कि उनका आकार बढ़ जाए? इस आर्टिकल में हम आपको विस्तार से बताने जा रहे हैं कि स्तनों का आकार दबाने से बढ़ता है या नहीं? आइए जानते हैं स्तनों का आकार बढ़ने से जुड़े कुछ तथ्यों के बारे में।


महिलाओं के स्तनों का मुख्य कार्य शिशु को स्तनपान करवाना होता है। बदलते जमाने के साथ स्तनों का बड़ा आकार हर महिला की पहली पसंद बन चुका है। सामान्यत यौन संबंध बनाने (sex) के बाद महिलाओं के स्तन पूरी तरह से विकसित हो जाते हैं जो कि एक प्राकृतिक प्रक्रिया होती है। लेकिन हर महिला के स्तनों का आकार अलग-अलग होता है और यह आवश्यक नहीं होता है कि सेक्स करने के बाद आपके स्तनों का आकार मनचाहा हो जाएगा।


स्तनों का बड़ा आकार आकर्षक लगता है इसलिए वे महिलाएं अक्सर परेशान रहती है जिनके स्तनों का आकार छोटा होता है। स्तनों का आकार बड़ा करने का प्रचलन इतना अधिक बढ़ गया है की बहुत सारी महिलाएं दवाएं लेने के साथ-साथ कॉस्मेटिक सर्जरी का सहारा लेकर स्तनों का आकार बढ़ाने का प्रयास करती है। स्तनों का आकार बढ़ाने के लिए बहुत सारी महिलाएं स्तन दबाना (breasts pressing) भी एक उपाय मानती हैं। लेकिन इसे लेकर कई अवधारणाएं लोगों के मन में होती है, कुछ लोगों का मानना होता है कि स्तनों को दबाने से उनका आकार बढ़ जाता है तो वहीं कुछ लोगों का मानना है कि ऐसा नहीं होता है।

1. क्या होते हैं स्तन – What is breast in Hindi

2. क्या दबाने से स्तनों का आकार बढ़ता है – Does breast pressing increase breast size in Hindi

3. किस प्रकार स्तनों को दबाना चाहिए- How to press breast to increase their size in Hindi

4. दबाकर स्तनों का आकार बढ़ाने के लिए टिप्स- Tips to increase breast size by pressing in Hindi
स्तनों की मालिश करने के लिए सही स्थान चुनें – Choose a right place for breast massage in Hindi
मालिश करने से पहले खुद को रिलैक्स करें – Calm yourself before breast massage in Hindi
मालिश करने की सही प्रक्रिया अपनाएं- Follow the right process for breast massage in Hindi
कितनी देर तक मालिश करनी चाहिए – How much time should take in for breast massaging in
Hindi
स्तनों की दबाते समय किन बातों का रखें ख्याल – things to take care of while breast pressing in Hindi
स्तनों का आकार बढ़ाने के लिए करें प्रेसिंग एक्सरसाइज- Pressing exercises to increase breast size in Hindi
क्या होते हैं स्तन – What is breast in Hindi


महिला और पुरुष दोनों के शरीर में स्तन पाए जाते हैं। महिला में स्तन शरीर का ऐसा अंग होते हैं जो कि प्रसव के बाद शिशु के भरण-पोषण के लिए दूध पैदा करते हैं। महिलाओं के स्तन दूध पैदा करते हैं इसलिए इनका आकार पुरुषों के स्तनों से बड़ा होता है। स्तन सीने पर जमा एक तरह का फैट (fat) है जिसके अधिक जमने पर स्तनों का आकार बढ़ जाता है और कम होने पर स्तनों का आकार सामान्य रहता है। लेकिन यह कोई शारीरिक समस्या या बीमारी नहीं है।


क्या दबाने से स्तनों का आकार बढ़ता है – Does breast pressing increase breast size in Hindi


स्तनों का आकार बढ़ाने के लिए उन्हें किसी खिलौने की तरह दबाना उपयोगी नहीं होता है। ऐसा करने से स्तनों का आकार नहीं बढ़ता है। स्तनों का आकार बढ़ाने के लिए उनकी मालिश करना उपयोगी होता है। मालिश के दौरान उन्हें उंगलियों से हल्के हाथों से दबाया जा सकता है।


किस प्रकार स्तनों को दबाना चाहिए- How to press breast to increase their size in Hindi


अगर रोजाना 30 मिनट तक स्तनों को हल्के हाथों से दबाकर उनकी मालिश करते हैं तो स्तनों में रक्त संचार बढ़ जाता है। इसी से ही स्तनों का आकार भी बढ़ जाता है, यह प्रक्रिया रोजाना एक महीने तक करनी आवश्यक होती है।


(और पढ़े – ब्रैस्ट कैंसर (स्तन कैंसर) के लक्षण, कारण, जांच, इलाज और बचाव…)
दबाकर स्तनों का आकार बढ़ाने के लिए टिप्स- Tips to increase breast size by pressing in Hindi

स्तनों की मालिश करने के लिए सही स्थान चुनें – Choose a right place for breast massage in Hindi

मालिश करने के लिए शांत स्थान चुनना इसलिए जरुरी होता है क्योंकि मालिश का असर सिर्फ स्तनों पर ही नहीं बल्कि दिमाग पर भी पड़ता है। मालिश करने में आपकी जो भी ऊर्जा खर्च होती है वह आपके हार्मोन्स को स्तनों का आकार बढ़ाने के लिए प्रोत्साहित करे इसके लिए शांत स्थान चुनें ताकि आप तनाव रहित रहकर मालिश कर सकें।


मालिश करने से पहले खुद को रिलैक्स करें – Calm yourself before breast massage in Hindi

स्तनों की मालिश के समय आपकी मुद्रा(Posture) भी सही होनी बहुत जरुरी होती है। गलत मुद्रा(Posture) में मालिश शरीर पर बुरा असर डालती है इसलिए कोशिश करें की या तो खड़े होकर या फिर सो कर मालिश करवाएं। खुद को रिलैक्स करने की कोशिश करें और सिर के नीचे तकिया या तौलिया लगा लें।

मालिश करने की सही प्रक्रिया अपनाएं- Follow the right process for breast massage in Hindi

मालिश करने के लिए ऑलिव ऑयल (olive oil) या कैस्टर ऑयल (castor oil) का इस्तेमाल कर सकते हैं। तेल को थोड़ी सी मात्रा में हथेली पर लें और दोनों हथेलियों को आपस में मसलें, इससे हथेलियों में गर्माहट पैदा होती है। जब हथेलियों में गर्माहट पैदा हो जाए तो मालिश शुरु करें। स्तनों की मालिश गोलाकार रुप में करें, मालिश करते समय हाथों को दांयी से बांयी (right to left) या बांयी से दांयी (left to right) तरफ इस तरह से लाएं कि स्तन नीचे से ऊपर की तरफ लाएं।


कितनी देर तक मालिश करनी चाहिए – How much time should take in for breast massaging in Hindi

मालिश करने से जो गर्मी पैदा होती है वह दरअसल एक प्रकार की ऊर्जा होती है। इसलिए जैसे ही हाथ ठंडे हो जाएं वैसे ही फिर से रगड़ कर गर्माहट पैदा करें क्योंकि ये ऊर्जा रक्त संचार को बढ़ाती है और स्तनों के आकार को बड़ा करती है।
स्तनों की दबाते समय किन बातों का रखें ख्याल – things to take care of while breast pressing in Hindi
एक बार में 300-350 कांउट मालिश करें
दिन में दो बार यानि की सुबह और शाम को मालिश करें
सोने से पहले मालिश करने के लिए लाभकारी होता है।
रोजाना कम से कम 15 मिनट या आधा घंटा तक मालिश करें।


(और पढ़े – महिलाओं के लिए क्यों जरुरी है ब्रा पहनना जानें फायदे और नुकसान…)
स्तनों का आकार बढ़ाने के लिए करें प्रेसिंग एक्सरसाइज- Pressing exercises to increase breast size in Hindi

स्तनों को सिर्फ हाथों से दबाने से ही नहीं बल्कि प्रेसिंग एक्सरसाइज करने से भी स्तनों का आकार बढ़ाने में मदद करता है। स्तनों का आकार बढ़ाने के लिए चेस्ट प्रेस, बेंच प्रेस और स्वीमिंग आर्म्स जैसी एक्सरसाइज भी की जा सकती हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.