Header Ads

लड़कियां रात में करती है ये काम, जब सताने लगती है बॉयफ्रेंड की याद


लड़कियां रात में करती है ये काम, जब सताने लगती है बॉयफ्रेंड की याद
आजकल हर लड़की की इच्छा होती है कि उसका एक बॉयफ्रेंड हो जो उसे बहुत प्यार करे। हर कोई चाहता है लेकिन कई बार ऐसी बातें हो जाती है जिनके कारण लड़कियों के बॉयफ्रेंड उनसे दूर होते हैं जिसके कारण वो उनके साथ ज्यादा समय नहीं बिता पाती तो जब लड़कियों को उनकी याद आती है तो कुछ ऐसे काम करती हैं जिससे उनकी याद मिट जाती है। 

क्या करती हैं लड़कियां:

# लड़कियों को जब अपने बॉयफ्रेंड की याद आती है तो लड़कियां उसकी तस्वीर देखतीं हैं जिससे लड़कियों को ऐसा लगता है कि उसका चाहने वाला लड़का उसके सामने है। उसी तस्वीर के साथ वो कुछ रोमांटिक भी हो जाती हैं। 

# इसके साथ ही लड़कियां जब अपने बॉयफ्रेंड को ज्यादा मिस करने लगती हैं तो, कॉल कर अपने दिल की बात बताती हैं। लड़कियां इस दौरान अपने फोन में रोमांटिक गाने भी सुनती है। 


# वह इन गानों में खुद को इमेजिन करती है। लड़कियां ऐसे समय में शादी और आगे की ज़िन्दगी के बारे में भी सोचती लगती है और अपनी आगे की लाइफ के बारे में सोचने लगती हैं।

लड़कियों के पीरियड्स के दौरान भी आसानी से बनाएं संबंध लेकिन ध्यान में रखें ये बातें

लड़कियों में मासिक धर्म के दौरान शारीरिक सम्बन्ध की चाहत बहुत ज्यादा बढ़ जाती है। पीरियड्स में सेक्स के लिए से कई कपल्स हिचकिचाते हैं। उनका मानना होता है कि ऐसा करने से दोनों को ही नुकसान हो सकता है। अगर कपल कंफर्टेबल है तो पीरियड्स के दौरान सेक्स करने में कोई परेशानी नहीं है। लेकिन इसी के साथ कई बातों का ध्यान रखना जरुरी है।

ये बातें जानना है बहुत जरुरी:
# पीरियड्स के दौरान सेक्स की इच्छा है या नहीं इस बात को लेकर अपने पार्टनर से बात जरूर करें। अगर आप कंफर्टेबल हों तभी इस दौरान सेक्स करें नहीं तो साफ मना कर दें।


# सेक्स से पहले बेड पर चाहे तो प्लास्टिक या डार्क कलर की चादर बिछा लें, ताकि लाइट कलर की चादर पर दाग न लगे।


# सेक्स के दौरान दर्द या किसी भी तरह की परेशानी हो तो तुरंत अपने पार्टनर को बताएं। अगर आपको ज्यादा परेशानी हो तो खुद को फोर्स न करें।

# किसी विशेष पोजिशन में दर्द ज्यादा हो तो पोजिशन चेंज करने की कोशिश करें, इसके बारे में अपने पार्टनर से खुलकर बात करें।

# वाइप्स या गिला कपड़ा जरूर रखें, ताकि अगर सिचुएशन मेसी हो जाए तो आप सफाई कर सकें। सेक्स से पहले और बाद में अच्छे से प्राइवेट पार्ट को वॉश करें।




जब सताने लगती है बॉयफ्रेंड की याद,लड़कियां रात में करती है ये काम

आजकल हर लड़की की इच्छा होती है कि उसका एक बॉयफ्रेंड हो जो उसे बहुत प्यार करे। हर कोई चाहता है लेकिन कई बार ऐसी बातें हो जाती है जिनके कारण लड़कियों के बॉयफ्रेंड उनसे दूर होते हैं जिसके कारण वो उनके साथ ज्यादा समय नहीं बिता पाती तो जब लड़कियों को उनकी याद आती है तो कुछ ऐसे काम करती हैं जिससे उनकी याद मिट जाती है।

क्या करती हैं लड़कियां:

# लड़कियों को जब अपने बॉयफ्रेंड की याद आती है तो लड़कियां उसकी तस्वीर देखतीं हैं जिससे लड़कियों को ऐसा लगता है कि उसका चाहने वाला लड़का उसके सामने है। उसी तस्वीर के साथ वो कुछ रोमांटिक भी हो जाती हैं।

# इसके साथ ही लड़कियां जब अपने बॉयफ्रेंड को ज्यादा मिस करने लगती हैं तो, कॉल कर अपने दिल की बात बताती हैं। लड़कियां इस दौरान अपने फोन में रोमांटिक गाने भी सुनती है।
# वह इन गानों में खुद को इमेजिन करती है। लड़कियां ऐसे समय में शादी और आगे की ज़िन्दगी के बारे में भी सोचती लगती है और अपनी आगे की लाइफ के बारे में सोचने लगती हैं।



ऐसे करें पता,लडको से शारीरिक रिलेशन बनाने वाली लड़की में आ जाते है ये अंतर

लड़कों के साथ रहने से लड़कियों की कई चीजों में बदलाव आ जाते है। एक बॉयफ्रेंड को कॉलेज छोड़ने और ले आने की ज़िम्मेदारी तो दूसरे को फ़ोन रिचार्ज करवाने की। तीसरे से शॉपिंग करवाने की तो चौथे से डिनर पर ले जाने की। और पाँचवे महाशय सिर्फ़ फ़ोन पर ही मज़े दिलवायेंगे और फिर भी मेहबूबा के गुण गाएँगे। इतना सब होने पर भी पाँचों में से किसी को भनक भी ना लग पाना कि कोई और बॉयफ्रेंड भी है।

लड़की में आ जाते है ये अंतर:

लड़कियों की मीठी-मीठी चिकनी-चुपड़ी बातों से तो बड़े-बड़े ऋषि-मुनि और भगवान नहीं बच पाये, यह अदना से लड़के क्या चीज़ हैं? और अपनी इस शक्ति को यह लड़कियाँ अच्छे से समझती भी हैं और इनका भली-भांति इस्तेमाल भी करना जानती हैं।
प्यार-मोहब्बत से बहला-फुसला के अपना काम निकलवाना। बस लड़कों के दिल से खेल लो थोड़ा सा, प्यार से बना लो अपना और फिर देखो कैसे बन्दर के जैसे गुलाटियाँ मारते नज़र आएँगे यह लड़के। लड़कियाँ इस काम में माहिर होती हैं।


पहली बार शारीरिक संबंध बनाने से लड़कियों के शरीर में होते हैं यह परिवर्तन

दोस्तों आजकल कई कपल्स शादी से पहले ही शारीरिक संबंध बना लेते हैं। शारीरिक संबंध स्त्री और पुरुष की शारीरिक आवश्यकता है। शारीरिक संबंध बनाने के बाद दोनों को आत्म संतुष्टि का एहसास होता है, परंतु महिलाओं को कभी मनोरंजन के लिए उपयोग नहीं लेना चाहिए। उन्हें हमेशा सम्मान देना चाहिए। आज हम बात कर रहे हैं पहली बार शारीरिक संबंध बनाने से लड़की के शरीर में क्या क्या परिवर्तन होते हैं।

पीरियड्स में बदलाव

जब लड़की पहली बार शारीरिक संबंध बनाती है तो उनके पीरियड का समय अनियमित हो जाता है। यह सामान्य सी बात है, परंतु यदि पीरियड आने में अधिक देरी हो तो यह प्रेगनेंसी भी हो सकती है।

मानसिक परिवर्तन

पहली बार शारीरिक संबंध बनाने के कारण लड़कियों के दिमाग में सेक्स की प्रति उत्साह अधिक बढ़ जाता है। इसी कारण उनके दिमाग और भी ज्यादा क्रियाशील हो जाता है अर्थात उनके सोचने समझने की क्षमता अधिक हो जाती है।

शारीरिक परिवर्तन

पहली बार शारीरिक संबंध बनाने से लड़कियों में अनेक प्रकार के शारीरिक परिवर्तन होने लगते हैं। सामान्य सी बात है, पहली बार संबंध बनाने से लड़कियों के अंगों में बढ़ोतरी होने लगती है और त्वचा में चमक के साथ साथ चेहरे पर भी निखार आता है।
इस कालेज की लड़कियां करती हैं अपने हुस्न का सौदा

हर दिन बड़ी तादात में लड़के-लड़कियां कुछ न कुछ सपने लेकर आते हैं कोई पढ़ाई करने का तो कोई जॉब की तलाश में पर क्या आप जानते हैं कि इनमें से कई लड़कियां वेश्या वृत्ति का शिकार बन जाती हैं। हर शहर में रेड लाइट एरिया होता है जहां देह व्यापार का धंधा चलता है। इन स्थाईनों पर कीमत अदा करके कोई भी पुरूष अपनी शारीरिक इच्छाओं की पूर्ति करने जाता है।

लड़कियां की छोटी उम्र, लेकिन.

रात के समय हाई-प्रोफाइल इलाकों के अंदर लड़कियां हाथ पर रुमाल बांधकर फ्लाईओवर या सड़कों पर खड़ी हो जाती हैं। यह लड़कियां छोटी उम्र की होती हैं और बड़े कालेज में पढ़ रही होती हैं । लड़कियों को देखकर गाड़ियाँ रूकती हैं और डील तय हो जाती है।


कोड वर्ड का इस्तेमाल:

फ़ोन पर लड़कियों को कोड वर्ड दिया गया है सामान्य लड़की मारुती 800 होती है तो हाई प्रोफाइल लड़की को बीएमडब्लू बोला जाता है। यहीं पर रेट तय होता है और डील पक्की हो जाती है।

देह व्यापार का धंधा:

देह के धंधे में भी 2 तरह के लोग हैं। एक जो पुराने तौर तरीकों से अपने धंधे को रैडलाइट एरिया, ढाबे या होटलों पर चलाते हैं। उनकी कीमत 100 रुपए से ले कर 300 रुपए तक ही होती है। इस धंधे से जुडे़ दूसरी तरह के लोगों ने अपने काम करने के तौर तरीके बदल लिए हैं। वे स्मार्ट तरीके से काम कर रहे हैं।

हाई प्रोफाइल गर्ल्स:

धंधा करने वाली लड़कियां ग्राहकों के सामने कभी कालेज की लड़कियां बन जाती हैं तो कभी हाउसवाइफ और कभी वर्किंग वुमन। कई तो तलाकशुदा महिलाएं बन कर भी यह दिखाने की कोशिश करती हैं कि वे पेशेवर वेश्या नहीं हैं। ये अच्छे कपडे़ पहनती हैं।



कालेज की लड़कियां इस तरह से करती हैं देह-व्यापार

हर दिन बड़ी तादात में लड़के-लड़कियां कुछ न कुछ सपने लेकर आते हैं कोई पढ़ाई करने का तो कोई जॉब की तलाश में पर क्या आप जानते हैं कि इनमें से कई लड़कियां वेश्या वृत्ति का शिकार बन जाती हैं।

पूरी दुनिया में, हर शहर में रेड लाइट एरिया होता है जहां देह व्यापार का धंधा चलता है। इन स्थाईनों पर कीमत अदा करके कोई भी पुरूष अपनी शारीरिक इच्छाओं की पूर्ति करने जाता है। यह दुनिया के सफलतम व्यदवसायों में से एक है जिसे बहुत बड़े स्तिर पर चलाया जाता है।

रात के समय हाई-प्रोफाइल इलाकों के अंदर लड़कियां हाथ पर रुमाल बांधकर फ्लाईओवर या सड़कों पर खड़ी हो जाती हैं। यह लड़कियां छोटी उम्र की होती हैं और बड़े कालेज में पढ़ रही होती हैं । लड़कियों को देखकर गाड़ियाँ रूकती हैं और डील तय हो जाती है।

कई इलाकों में तो इन लड़कियों ने अपने फ्लैट को ही कुछ ख़ास अपने ग्राहकों के लिए सेक्स अड्डा बना लिया है। whatapp का इस्तेमाल भी यह लड़कियां देह-व्यापार के धंधे के लिए कर रही हैं। जैसे कि फ़ोन पर लड़कियों को कोड वर्ड दिया गया है सामान्य लड़की मारुती 800 होती है तो हाई प्रोफाइल लड़की को बीएमडब्लू बोला जाता है। यहीं पर रेट तय होता है और डील पक्की हो जाती है।





इसलिए बड़े कालेज की लड़कियां करती हैं अपने हुस्न का सौदा, बनाती है अवैध संबंध
हर दिन बड़ी तादात में लड़के-लड़कियां कुछ न कुछ सपने लेकर आते हैं कोई पढ़ाई करने का तो कोई जॉब की तलाश में पर क्या आप जानते हैं कि इनमें से कई लड़कियां वेश्या वृत्ति का शिकार बन जाती हैं। हर शहर में रेड लाइट एरिया होता है जहां देह व्यापार का धंधा चलता है। इन स्थाईनों पर कीमत अदा करके कोई भी पुरूष अपनी शारीरिक इच्छाओं की पूर्ति करने जाता है। 


लड़कियां की छोटी उम्र, लेकिन...

रात के समय हाई-प्रोफाइल इलाकों के अंदर लड़कियां हाथ पर रुमाल बांधकर फ्लाईओवर या सड़कों पर खड़ी हो जाती हैं। यह लड़कियां छोटी उम्र की होती हैं और बड़े कालेज में पढ़ रही होती हैं । लड़कियों को देखकर गाड़ियाँ रूकती हैं और डील तय हो जाती है।



कोड वर्ड का इस्तेमाल:


फ़ोन पर लड़कियों को कोड वर्ड दिया गया है सामान्य लड़की मारुती 800 होती है तो हाई प्रोफाइल लड़की को बीएमडब्लू बोला जाता है। यहीं पर रेट तय होता है और डील पक्की हो जाती है। 



देह व्यापार का धंधा:
देह के धंधे में भी 2 तरह के लोग हैं। एक जो पुराने तौर तरीकों से अपने धंधे को रैडलाइट एरिया, ढाबे या होटलों पर चलाते हैं। उनकी कीमत 100 रुपए से ले कर 300 रुपए तक ही होती है। इस धंधे से जुडे़ दूसरी तरह के लोगों ने अपने काम करने के तौर तरीके बदल लिए हैं। वे स्मार्ट तरीके से काम कर रहे हैं।



हाई प्रोफाइल गर्ल्स:

धंधा करने वाली लड़कियां ग्राहकों के सामने कभी कालेज की लड़कियां बन जाती हैं तो कभी हाउसवाइफ और कभी वर्किंग वुमन। कई तो तलाकशुदा महिलाएं बन कर भी यह दिखाने की कोशिश करती हैं कि वे पेशेवर वेश्या नहीं हैं। ये अच्छे कपडे़ पहनती हैं। 

अगर बिना किसी दवाई के गर्भवती होने से बचना चाहती है तो... हमेशा ध्यान मे रखिये ये 5 उपाय !


एक महिला को प्रेगनेंसी को रोकने के बारे में सभी उपायों के बारे में पता होना चाहिए क्योकि आजकल की इस महंगाई में बच्चे पालना कोई आसान काम नहीं रह गया है | ज्यादातर लोग फैमिली प्लानिंग करते है की उन्हें बच्चा कब चाहिए और 2 बच्चो के बीच में कितना गैप होना चाहिए | इसके अलावा भी प्रेगनेंसी रोकने का सबका अपना अपना कारण होता है | अगर किसी लड़की की कम उम्र में ही शादी हो गयी है तो वह चाहेगी की गर्भवती होने में समय लगे या फिर कोई लड़की शादी से पहले ही गर्भवती होने से बचना चाहे तो उन सभी को प्रेगनेंसी को रोकने के सभी उपायों के बारे में पता होना चाहिए | आज हम आपको प्रेगनेंसी को रोकने के सभी उपायों के बारे में जानकारी देंगे |

प्रेगनेंसी और गर्भधारण से बचने के आसान उपाय

प्राकृतिक तरीका

Third party image reference
अगर आप चाहती है की आप गर्भवती नहीं होना चाहती है तो आपको पीरियड्स के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए | मासिक धर्म शुरू होने के बाद 8 दिन से लेकर 18 दिन का समय प्रेग्नेंट होने के लिए सबसे उपयुक्त समय माना जाता है | अगर आप प्रेग्नेंट नहीं होना चाहती है तो इस समय किसी भी प्रकार से सम्बन्ध नहीं बनाये और ऐसा होता है तो आप कंडोम का उपयोग करे |


गाजर से प्रेगनेंसी रोकने के उपाय

Third party image reference
यह उपाय पुराने समय से चलता आ रहा है | जंगली गाजर के बीजो की एक चम्मच पानी में मिलाकर पिने से गर्भ नहीं ठहरता है इसलिए आगे से कभी भी भूल हो जाए तो तुरंत यह उपाय कर ले |


सूखी अंजीर से प्रेगनेंसी रोकने के उपाय


अगर आप से भूल हो गयी है तो आप सूखे अंजीर खाना शुरू कर दे और तब तक खाते रहे जब तक की अगले पीरियड्स शुरू ना हो जाए | यह तरीका पुराना है लेकिन आज भी काम करता है |


पपीते से प्रेगनेंसी रोकने के उपाय

अगर आपसे कोई भूल हो गयी है तो आप पपीता खाना शुरू कर दे, विशेष रूप से कच्चा पपीता 5 दिन तक सुबह शाम खाए और इसका जूस भी पिए | इससे गरभवती होने की सम्भावना 80% तक कम हो जाती है |


आसान तरीका लेकिन साइड इफ़ेक्ट वाला

Third party image reference
ज्यादातर महिलाये आसान तरीका चुनती है और इसके लिए वो i Pill और Unwanted 72 नाम की Tablets ले लेती है जो भूल होने के 72 घंटे के अन्दर लेनी होती है | लेकिन लम्बे समय तक इनका उपयोग करने से आपको साइड इफ्फेक्ट भी हो सकते है इसलिए हम सुझाव देंगे की आप हर्बल उपाय ही अपनाए |

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.