Header Ads

बगल के बालों से छुटकारा पाने के आसान तरीके


बगल के बालों से छुटकारा पाने के आसान तरीके
आर्मपिट हेयर से छुटकारा पाने के प्रोडक्ट का इस्तेमाल करने से पहले यह निश्चित कर लें कि आपने कम्पाउंड की जांच कर ली है। इससे आप आश्वस्त हो लेंगी कि यह आप पर कोई एलर्जिक रिएक्शन नहीं करेगा।




जब बात आपके रूप-रंग की आती है, तो इन तीन चीजों पर बहुत कुछ निर्भर करता है। पहली चीज है आइना, जिसका इस्तेमाल आप खुद को देखने के लिए करते हैं। दूसरी, टाइम और स्पेस जिनमें आप रहते हैं। तीसरी और सबसे अहम चीज हैं, वे फैशन ट्रेंड जिनसे आपका सामना होता है।

इसलिए बगल के बाल या तो आपके लिए मामूली हो सकते हैं या वाकई एक समस्या। इस समस्या से छुटकारा पाना आपके लिए जरूरी है।

कुछ लोग अपनी आर्मपिट के बालों को बढ़ने देते हैं। दरअसल यह उनके लिए कोई बड़ा मुद्दा नहीं है।

दूसरी ओर, ऐसे लोग भी हैं जो इसकी चिंता में डूबे रहते हैं। वे बगल के बालों से छुटकारा पाने के लिए तरह-तरह के उपाय ढूँढ़ते हैं। साधारणतः, वे चाहते हैं, बिना ज्यादा त्वचा की जलन सहे या समय गंवाए आर्मपिट के बालों से छुटकारा मिले।
बगल के बालों से छुटकारा पाने के परंपरागत तरीके


इस दुनिया में, किसी की छवि बहुत अहमियत रखती है। इस कारण, ब्यूटी स्पा की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है।

पुरुषों और महिलाओं के लिए इसके हजारों विकल्प हैं। आपको संवारना उनकी विशेषज्ञता है, जिससे आप अच्छे दिखाई दें।

बेशक, उनकी सेवाओं में बगल के बालों से छुटकारा दिलाना शामिल है। कुछ स्पाज़ वैक्सिंग, लेजर हेयर रिमूवल या कुछ दूसरे तरीकों का इस्तेमाल करते हैं।

सच्चाई यह है कि आप घर पर भी बगल के बालों से छुटकारा पा सकते हैं। इस प्रक्रिया में वैक्सिंग (या तो ठंडा या गर्म), क्रीम और दूसरे ट्रीटमेंट शामिल हैं ।

यदि आपके पास समय नहीं है तो शेविंग से जल्द ही अपनी मंजिल पा सकते हैं।

पर ज्यादातर उपायों से दर्द और जलन सहना पड़ता है। इनसे आपकी आर्मपिट की त्वचा ज्यादा गहरे रंग की हो जाती है।

इस कारण, हम आपको नेचुरल, सस्ते और इस्तेमाल करने में आसान विकल्प देना चाहते हैं। इस तरह आप बगल के बालों से छुटकारा पा सकती हैं या इस संवेदनशील जगह पर बालों का बढ़ना रोक सकती हैं।

बगल के बालों से छुटकारा पाने के नेचुरल विकल्पों के फायदे


इन घरेलू इलाजों का इस्तेमाल सदियों से चलता आ रहा है। ये शरीर की कुछ जगहों में अनचाहे बालों से छुटकारा दिलाने में मदद करते हैं।

उनका असर कुछ चीजों पर निर्भर करता है। बालों की लंबाई उनमें से एक है। दूसरी चीज है अनुकूलता जिससे हम इन प्रोडक्ट का इस्तेमाल करते हैं।

तब भी आम लोगों का अनुभव यही है कि ये हमारी त्वचा के लिए फायदेमंद होंगे। चूंकि ये नेचुरल प्रोडक्ट हैं, ये न्यूट्रिशन, हाइड्रेशन और कोमलता लाते हैं।

फिर भी, एक चीज है जिसे आपको ध्यान में रखना चाहिए। हालांकि, हम आम सामग्रियों का इस्तेमाल कर रहे हैं जो आपके किचेन में मौजूद हैं। फिर भी आपको अपने उपचार की एक छोटी सी जाँच कर लेनी चाहिए। इसका मतलब है, हेयर रिमूवल के लिए उनका इस्तेमाल करने से पहले। 

अपनी बाँह के भीतरी हिस्से में इसका थोड़ा सा लगाएँ और कुछ देर इंतजार करें। इस तरह आप देख सकेंगी, आप इस मिक्सचर के लिए एलर्जिक हैं या नहीं।
नींबू ओर चीनी की वैक्सिंग से बगल के बालों से छुटकारा

परंपरागत इलाजों के इस नेचुरल विकल्प से बगल के बालों से छुटकारा मिल सकता है। 
सामग्री
1/2 नींबू
1 कप चीनी (200 ग्राम)
तैयारी
नींबू का जूस निकालिए। एक बढ़िया साइज के स्टॉक पॉट में जूस के साथ चीनी मिलाइए।
अगर जूस चीनी के लिए काफी नहीं है तो कुछ पानी मिलाइए।
मध्यम आंँच पर मिक्सचर को गर्म कीजिए। चीनी घुल जाने तक चम्मच से मिलाइए।
जब मिक्सचर उबलना शुरू हो जाये तो आंच धीमी कीजिए। तब तक पकाते रहिए जब तक यह एक गाढ़ा, चिपचिपा पेस्ट न बन जाए।
छूइए मत! चीनी अब बहुत गर्म है। आप खुद को बुरी तरह जला सकते हैं।
रंग शहद के समान होना चाहिए।
इसे ठंडा होने के लिए छोड़ दीजिए। यह इस्तेमाल के लिए तैयार है।
प्रयोग
अपनी बगलों को धोकर सुखा लीजिए। मिक्सचर आपकी त्वचा पर बहुत ज्यादा न चिपके, इसलिए यदि आप चाहें, तो थोड़ा टैल्क पाउडर लगा सकती हैं।
अपनी कांख पर उपचार की एक महीन परत फैला दीजिए। फिर अपने बालों के बढ़ने की विपरीत दिशा में इसे छुड़ाइए।
यदि कुछ बच जाता है तो उसे कुनकुने गरम पानी से धोइए।


बालों का बढ़ना रोकने के लिए घर पर बने विकल्प


दूसरा विकल्प है, बालों का बढ़ना रोकने के लिए नेचुरल सामग्रियों का इस्तेमाल। यह कहीं पर भी, मगर विशेष रूप से आपकी बगलों पर काम कर सकता है। इसे करने के लिए, हल्दी सबसे बढ़िया सामग्री है।
सामग्री
1 चाय चम्मच हल्दी (5 ग्राम)
पानी जरूरत के मुताबिक
तैयारी
आपको केवल इस मसाले के साथ थोड़ा पानी मिलाना है, जब तक आपको एक गाढ़ा क्रीम न मिल जाए।
अपनी बगल के बालों से छुटकारा लेने के बाद यह क्रीम लगाइए। इसे 20 मिनट तक काम करने दीजिए।
इसे कुनकुने गरम पानी से धो दीजिए।

बेहतरीन नतीजे पाने के लिए यह प्रक्रिया हर दो या तीन दिनों पर दोहराइए। आपको वैक्स या शेव करने की भी जरूरत नहीं है।

इसी तरह का असर पाने में आपकी मदद करने के लिए, एलमंड ऑयल एक विकल्प है।


5 नेचुरल डिओडोरेंट: इन्हें खुद बनाएं और बगल की दुर्गन्ध को कहें अलविदा
बदबूदार बगलों से छुटकारा पाने के अलावा भी इन नेचुरल डिओडोरेंट में मौजूद बेकिंग सोडा जैसे पदार्थों का शुक्रिया, जो उन डेड सेल्स को हटा सकते हैं जिनके इकट्ठे होने से यह क्षेत्र काला दिखता है।


डिओडोरेंट विश्व में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किए जाने वाले प्रोडक्ट में से एक है। आख़िरकार हर व्यक्ति शरीर को दुर्गन्ध से मुक्त रखना चाहता है। हालाँकि बहुत से लोग बाज़ार के ऐसे स्ट्रांग केमिकल से बचना चाहते हैं। उनकी सोच बहुत सही है। तो क्या कभी आपने खुद का नेचुरल डिओडोरेंट बनाने के बारे में सोचा है?

बाज़ार में कई अलग-अलग ब्रैंड हैं जिन्होंने अपने जबरदस्त असर से ग्राहकों का दिल जीता है।

समस्या यह है कि अब देखा जा रहा है कि इनमें मिले बहुत से तत्व ज़हरीले हो सकते हैं। वास्तव में इनमें से कुछ तो ख़ास तरह की बीमारियों से जुड़े हो सकते हैं।

सौभाग्य से इसके 100% प्राकृतिक विकल्प मौजूद हैं जो बिना किसी साइड इफ़ेक्ट के आपके शरीर की दुर्गन्ध को हटा सकते हैं।

इन्हें घर में ही तैयार किया जा सकता है और इनकी सामग्री भी आसानी से उपलब्ध हो जाती है।

क्या आप अपने लिए नेचुरल डिओडोरेंट बनाना सीखना चाहेंगे?
1. बेकिंग सोडा और कॉर्नस्टार्च (मकई का आटा) नेचुरल डिओडोरेंट


बेकिंग सोडा एक उन प्राकृतिक सामग्रियों में से है जो अपने एंटीसेप्टिक गुणों के कारण बगल से आने वाली दुर्गन्ध से छुटकारा दिला सकता है।

यहाँ हम इसके फायदों को बढ़ाने और लगाने में आसान बनाने के लिए इसे कॉर्नस्टार्च और कुछ एसेंशियल ऑइल के साथ मिलायेंगे।

सामग्री
1/2 कप बेकिंग सोडा (100 ग्राम)
1/2 कप कॉर्नस्टार्च (100 ग्राम)
4 चम्मच नारियल तेल (60 ग्राम)
विटामिन -E का एक कैप्सूल
टी-ट्री ऑइल की 10 बूँदे
लैवेंडर ऑइल की 10 बूँदे

बनाने की विधि
सबसे पहले बेकिंग सोडा को एक बर्तन में लें और इसमें कॉर्नस्टार्च और नारियल तेल मिलाएं।
जब इसका टेक्सचर क्रीम की तरह हो जाए तब उसमें विटामिन-E का कैप्सूल और दूसरे एसेंशियल ऑइल डालें।
इस मिश्रण को एक एयर-टाइट जार में डालें और उसे अच्छी तरह बंद कर कर दें।
जितनी मात्रा में ज़रूरत हो निकाल लें और एक मुलायम कपड़े से इसे बगलों में लगायें ।
2. एलोवेरा और नारियल तेल नेचुरल डिओडोरेंट

नारियल तेल और एलोवेरा जेल दोनो में किटाणुनाशक गुण होते हैं जो शरीर की दुर्गन्ध को मिटाने में सहायक हो सकते हैं।
इसके साथ ही ये दोनों प्रोडक्ट त्वचा को सुरक्षा देने वाले पोषक तत्वों के लिए ख़ास तौर पर जाने जाते हैं।

सामग्री
1/2 कप एलोवेरा जेल (120 ग्राम)
2 चम्मच नारियल तेल (30 ग्राम)

बनाने की विधि
पहले दोनो घटकों को ब्लेंडर में अच्छी तरह से मिला लें।
फिर आवश्यकता अनुसार सही मात्रा में इसे लेकर बगलों में मलें।
दिन में इसे दो बार दोहराएं।
3. बेकिंग सोडा और लेमन डिओडोरेंट


बेकिंग सोडा और नींबू से बना यह गाढ़ा मिश्रण सिर्फ दुर्गन्ध से छुटकारा नहीं दिलाता है। बगलों में जमा होने वाली मृत कोशिकाओं को हटाने में भी यह उतना ही असरदार है।

यह प्राकृतिक विशुद्धक की तरह काम करता है। कई हफ़्तों के इस्तेमाल के बाद यह त्वचा के इस हिस्से में दिखने वाले कालेपन को कम करता है।

सामग्री
दो चम्मच बेकिंग सोडा (10 ग्राम)
आधे नींबू का रस

बनाने की विधि
सबसे पहले बेकिंग सोडा को आधे नींबू के रस से भिंगो लें और धीरे-धीरे प्रभावित जगह पर मलें।
असर दिखाने के लिए इसे 15 से 30 मिनट तक छोड़ दें और उसके बाद हल्के गर्म पानी से धोकर साफ़ कर लें।
त्वचा पर निशान से बचने के लिए लगाने के बाद धूप में जाने से बचें।
4. नींबू और एप्पल साइडर विनेगर डिओडोरेंट

एप्पल साइडर विनेगर यानी सेब के सिरके में मौजूद नेचुरल एसिड त्वचा के पीएच को न्यूट्रलाइज करने और दुर्गन्ध को घटाने वाले चमत्कारिक पदार्थ हैं।
इसमें थोड़ा नींबू का रस मिला दीजिये तो यह एक उम्दा घरेलू डिओडोरेंट बन जाता है जो हर प्रकार की त्वचा के लिए उपयुक्त है।
सामग्री
1/4 कप :
एप्पल साइडर विनेगर (62 मिलीलीटर)
नींबू का रस (62 मिलीलीटर)
. पानी (62 मिलीलीटर)
1 स्प्रे बॉटल
बनाने की विधि
सारी सामग्री को एक स्प्रे बॉटल में डाल कर हिलायें ताकि सब कुछ अच्छी तरह मिश्रित हो जाए।
उसके बाद आवश्यकता अनुसार बगलों में छिड़कें और कपड़े पहनने से पहले इसे अच्छी तरह सूख जाने दें।
5. टी-ट्री ऑइल नेचुरल डिओडोरेंट


टी-ट्री तेल की ऐन्टी बैक्टिरीअल विशेषताएँ उसे दुर्गन्ध से छुटकारा पाने का एक अच्छा विकल्प बनाती हैं।
हालाँकि त्वचा की जलन से बचने के लिए इसे किसी कोमल पदार्थ के साथ मिला लेने की सलाह दी जाती है।
सामग्री
टी-ट्री प्राकृतिक एसेंशियल ऑइल की 20 बूँदे
1 चम्मच गुलाब जल (10 मिलीलीटर)
निर्देश
दोनो सामग्रियों को एक बर्तन में मिला लें और मिश्रण को रूई के फोहे से बगलों में लगायें।
दिन में दो बार और हफ़्ते में तीन बार इसे दोहरायें।
याद रखें, ये नेचुरल डिओडोरेंट पूरी तरह प्राकृतिक सामग्रियों से बने हैं। फिर भी इन्हें पूरे उपयोग में लाने से पहले एक छोटा टेस्ट कर लेना ठीक रहेगा। टेस्ट के दौरान अगर आप किसी तरह की एलर्जी महसूस करते हैं तो इनका इस्तेमाल बंद कर दें।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.