Header Ads

आपकी सारी कमजोरी तथा थकावट को मिनटों में दूर कर देगा हमारा यह उपाय


आपकी सारी कमजोरी तथा थकावट को मिनटों में दूर कर देगा हमारा यह उपाय
अक्सर दिनभर काम करने के बाद शाम को थकावट तथा कमजोरी महसूस होती ही है। देखा जाएं तो गर्मी के मौसम में ऐसी परेशान ज्यादा देखने को मिलती है। आजकल का जीवन काफी ज्यादा भागदौड़ भरा है। इसके अलावा आज का खानपान भी मिलावटी है जिस कारण शरीर को पूरा पोषण नही मिल पाता बल्कि इस भागदौड़ से शरीर की ऊर्जा जल्दी ही नष्ट भी हो जाती है। इस कारण शाम के समय आपको कमजोरी तथा थकावट महसूस होती है। आपकी इस कमजोरी तथा थकावट की समस्या को दूर करने के लिए हम यहां एक उपाय बता रहें हैं जो आपको इस समस्या से तुरंत ही निजात दिला देगा। आइये जानते हैं इस उपाय के बारे में।

कमजोरी तथा थकावट का रामबाण उपाय –
इस उपाय के लिए पहले आप थोड़ा पानी गर्म करें तथा उसमें थोड़ा सा नमक डाल कर उसे अच्छे से घोल लें। जब पानी हल्का ठंडा पड़ जाए तो आप इस पानी में अपने दोनों पैर डाल कर आराम से बैठ जाएं। 20 से 25 मिनट तक इस प्रकार से बैठने पर आपको न केवल अपनी थकावट से आराम मिलता है बल्कि कई अन्य समस्याओं का भी समाधान होता है। चलिए अब फिर उन समस्याओं के बारे में भी जान लेते है।
इन समस्याओं में भी मिलता है लाभ –
1 – इस प्रयोग से आपके पैरों की मासपेशियां नर्म पड़ जाती है तथा उनकी अकड़न खत्म हो जाती है। इस प्रकार आपके पैरों में दरार नहीं पड़ती हैं। इसके अलावा आपके पैरों में चिपके मिट्टी के कण भी निकल जाते हैं तथा आपके पैर मुलायम बनते हैं।

2 – जिन लोगों को नींद न आने की समस्या है, वे इस प्रयोग को शाम को करें। इस प्रयोग से आपको अच्छी नींद आती है तथा अनिद्रा का रोग समाप्त हो जाता है।

3 – किडनी की समस्या में यह प्रयोग काफी लाभदायक साबित होता है। इससे आपकी किडनी की एनर्जी बढ़ती है तथा ब्लड का सर्कुलेशन सही हो जाता है। किडनी की समस्या वाले लोग इस प्रयोग को करने के बाद किसी अच्छे तेल से अपने पैरों की एड़ियों की मालिश करें।

4 – गठिया के रोगियों को भी इस प्रयोग से बहुत लाभ होता है। गठिया के रोगी इस नमक मिले पानी में थोड़ा सा दाल चीनी पाऊडर भी डाल सकते है। इस प्रयोग से उनके गठिया के दर्द को बहुत आराम मिलता है। इस प्रयोग को करने से पहले आप यह ध्यान रखें कि इसको लो ब्लड प्रेशर तथा शुगर की बीमारी से ग्रस्त व्यक्ति न करें।

स्वास्थ्य – ये 2 फल आपको बचा सकते हैं सिगरेट पीने से होने वाले नुकसान से, जानिए इनके बारे में







वर्तमान समय में बहुत से लोग सिगरेट का सेवन करते हैं। सिगरेट से सांस की बीमारियों से लेकर फेफड़ों का कैंसर तक हो जाता है। आज भी बहुत से लोग सिर्फ तंबाकू सेवन के चलते कैंसर जैसी बीमारी से जूझ रहें हैं। तंबाकू का सेवन यदि आप किसी भी रूप में करते हैं तो उसका आपके स्वास्थ्य पर बुरा असर ही पड़ता है। जहां तक बात सिगरेट की है तो इस प्रकार धूम्रपान से सबसे पहले आपके फेफड़े प्रभावित होते हैं। सिगरेट के सेवन से फेफड़ों में कई प्रकार की बीमारियां पैदा हो जाती हैं।

यदि आप भी सिगरेट पीते हैं और अपने स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए उसको छोड़ना चाहते हैं तो यह एक अच्छा कार्य कहा जा सकता है, मगर सवाल यह है कि जो हानि आपके शरीर को अब तक हो चुकी है, उसकी पूर्ति आखिर किस प्रकार से की जाए। इसके लिए आज हम आपको एक उपाय बता रहें हैं जिसको आप आसानी से अपनाकर सिगरेट से हुई अब तक की हानि की पूर्ति कर सकते हैं।
ताजा फल तथा टमाटर करते हैं हानि की पूर्ति –
यदि आप अपने शरीर में सिगरेट से हुई हानि की पूर्ति करना चाहते हैं तो आप प्रतिदिन कोई एक ताजा फल तथा 2 टमाटर का सेवन जरूर करें। ऐसा करने से आपके शरीर की हानि की पूर्ति होनी शुरू हो जाएगी। वर्तमान में इस तथ्य के ऊपर रिसर्च भी की गई है। इस रिसर्च में यह पाया गया है कि यदि कोई व्यक्ति सिगरेट छोड़ कर ताजे फलों तथा टमाटर का सेवन करना शुरू कर देता हैं तो उनके फेफड़ों की कार्य प्रणाली में हुई गिरावट धीरे धीरे कम होने लगती है। प्रोफेसर वानेशा गारेसिया-लार्सन ने इस रिसर्च के रिजल्ट को बताते हुए कहा कि ” फलों तथा टमाटरों से युक्त भोजन उन लोगों के फेफड़ों की हानि की पूर्ति कर देता है जो सिगरेट पीना छोड़ देते हैं।
इस रिसर्च में यह भी पता लगा की फलों को भोजन में शामिल करने से प्राकृतिक रूप से फेफड़ों में आये बुढ़ापे की दर भी कम हो जाती है तथा फेफड़े अधिक समय तक अच्छे और स्वस्थ रहते हैं।” इस प्रकार से यह पता लगता है कि यदि आप सिगरेट को छोड़ कर अपने भोजन में टमाटर तथा ताजा फलों को शामिल कर लेते हैं तो आप अपने शरीर में सिगरेट के कारण हुई अब तक की हानि की पूर्ति कर स्वस्थ रह सकते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.