Header Ads

सुबह उठकर लड़कियों को इसलिए देखना चाहिए अपना प्राइवेट पार्ट


सुबह उठकर लड़कियों को इसलिए देखना चाहिए अपना प्राइवेट पार्ट





महिलाएं गर्मी में जींस की पेंट पहनती है जिसके कारण उनके प्राइवेट पार्ट के पास खुजली होती है।

आज के इस दौर में जहां पर इंसान जमीन से लेकर आसमान तक की दुरी महज कुछ घंटो में तय कार लेता है। उसी समाज में सेक्स और शरीरी के अंगों को लेकर बड़ी अलग अलग मान्यता है। लेकिन आप जानतें हैं की लड़कियों को सुबह उठने के बाद सबसे पहले अपने प्राइवेट को देखना चाहिए इसके फायदे के बारें में जानकर आप जरुर हैरान हो जाएंगे। यह हम नही बल्की वुमन मैग्जीन में छपी एक खबर कह रही है।


1. डॉक्टर एलिसा की माने तो रोज सुबह महिलाएं उठने पर अगर अपना प्राइवेट पार्ट देखें तो वह भविष्य में आने वाली बिमारी से बच सकतें हैं। 

2. अक्सर महिलाएं अपने प्राइवेट पार्ट को नही देखती है अथवा देखरेख नही करती हैं तो उनके प्राइवेट पार्ट छोटे दाने आ जातें हैं जो बाद में तकलीफ दायक होतें हैं।

3. अक्सर महिलाएं गर्मी में जींस का पेंट गर्मी के मौसम में पहनती है जिसके कारण उनके प्राइवेट पार्ट के पास खुजली होती है। ऐसे में उन्हें अपने प्राइवेट पार्ट की सही तरीके से देख रेख करनी चाहिए.

4. अगर आप के प्राइवेट पार्ट से किसी तरह का स्मेल आ रहा है तो डॉक्टर को जरुर दिखाए यह आपके लिए नुकसान देह साबित हो सकता है।

5. अगर हर दिन महिला अपने प्राइवेट पार्ट को चेक करेंगी तो उन्हें आने वाली समस्या से पहले ही उसकी जानकारी मिल जायेगी और फिर सही समय पर डॉक्टर को दिखाकर उसका इलाज करवा के सुरक्षित रह सकती हैं।

पार्टनर के साथ चिपककर सोने से होता है ऐसा, होते है ये फायदे


पार्टनर के साथ चिपककर सोने से होता है ऐसा, होते है ये फायदे
किसी पुरुष या महिला के लिए उसके जीवनसाथी के साथ उसका रिश्ता उसके लिए सबसे ख़ास होता है। शादी के पवित्र बंधन में बंधने के बाद दोनों ही सदा सदा के लिए एक दूसरे के हो जाते है और जीवन भर एक दूसरे का साथ निभाने के वादें के साथ दो आत्माओं का मिलन हो जाता है। 

लेकिन अक्सर शादी के बाद देखने को मिलता है कि पति और पत्नी में अनबन हो जाती है और दोनों साथ मे रहना भी पसंद नही करते है। कभी-कभी तो पति और पत्नी में प्यार ना होने की वजह से उनमें लड़ाई झगड़े शुरू हो जाते है और इसके बाद शादी के टूटने तक की नौबत आ जाती है। 
 के टूटने से उन दोनों के साथ ही उनसे संबन्धित अन्य लोग भी तनाव में आ जाते है और परेशानी का अनुभव करते है।

वहीं अगर पति पत्नी में प्यार है तो पूरा घर खुशियों से भरा मालूम पड़ता है। अब तो वैज्ञानिकों ने भी इस बात का प्रमाण दे दिया है।

वैज्ञानिकों का कहना है कि अगर पति पत्नी या कोई कपल आपस मे चिपक कर सोता है तो प्यार तो बढ़ता ही है साथ में इससे दोनों के ही स्वास्थ्य पर अच्छा प्रभाव पड़ता है। 

आप सोच रहे होगे की यह कैसे संभव हो सकता है। रिसर्च में यह बात सामने आई है कि अगर आप किसी के साथ, अपने पार्टनर से चिपककर सोते हैं तो ये आपकी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद रहता है। आइए जानते हैं कि पार्टनर के साथ सोने से आपको किस तरह से फायदे हो सकते हैं। 
रिसर्च में ये बात सामने आई है कि पुरूष जब महिला को स्पर्श करता है तब उसके शरीर मे ट्राइटन हार्मोन्स एक्टिव हो जाते है जो एक अच्छी नींद का कारण बनते है।

एक अध्ययन के मुताबिक जब भी कोई व्यक्ति अकेला सोता है तो वे अपने आने वाले जीवन या ऑफिस के बारे में सोचता रहता है। जिससे वह नींद के अवस्था में भी तनाव का शिकार रहते है। जिसका प्रभाव उसके शरीर पर पड़ता है। लेकिन वहीं अगर आप अपने पार्टनर के साथ चिपक कर सोते हैं तो आप उस तनाव से दूर रहते है और दिमाग को भी शांति मिलती है।
एक रिपोर्ट से ये पता चला हैं कि अगर पति-पत्नी दोनों एक दूसरे चिपक कर सोते हैं तो इससे एक अच्छी नींद प्राप्त होती है। जो लोग चिपक कर सोते हैं उनकी सोचने और याद करने की क्षमता बहुत अच्छी हो जाती है।
अगर आप अपने प्रेमी या प्रेमिका के साथ सटकर सोते हैं तो इससे हर तरह की चिंताओं से मुक्ति रहते हैं। साथ में बुरे सपने भी नहीं आता है। जब दो लोग जो एक दुसरे से प्यार करते हैं और गले लगकर सोते हैं तो बहुत ही कम लोग हैं जिन्हें उठने पर कभी सरदर्द हुआ हो। ऐसा सोना इंसान के लिए बहुत ही अधिक लाभदायक रहता है।
शादी से पहले कुछ लोगों में चिड़चिड़ापन होता है और अगर वही लोग शादी के बाद अपनी पत्नी के साथ इस तरह सोते हैं तो उनमें से यह बीमारी खत्म हो चुकी होती है।

अपने पार्टनर के साथ ऐसे सोए,नींद आएगी अच्छी


किसी पुरुष या महिला के लिए उसके जीवनसाथी के साथ उसका रिश्ता उसके लिए सबसे ख़ास होता है। शादी के पवित्र बंधन में बंधने के बाद दोनों ही सदा सदा के लिए एक दूसरे के हो जाते है और जीवन भर एक दूसरे का साथ निभाने के वादें के साथ दो आत्माओं का मिलन हो जाता है। 

लेकिन अक्सर शादी के बाद देखने को मिलता है कि पति और पत्नी में अनबन हो जाती है और दोनों साथ मे रहना भी पसंद नही करते है। कभी-कभी तो पति और पत्नी में प्यार ना होने की वजह से उनमें लड़ाई झगड़े शुरू हो जाते है और इसके बाद शादी के टूटने तक की नौबत आ जाती है। 


किसी रिश्ते के टूटने से खासतौर पति और पत्नी के रिश्ते के टूटने से उन दोनों के साथ ही उनसे संबन्धित अन्य लोग भी तनाव में आ जाते है और परेशानी का अनुभव करते है।

वहीं अगर पति पत्नी में प्यार है तो पूरा घर खुशियों से भरा मालूम पड़ता है। अब तो वैज्ञानिकों ने भी इस बात का प्रमाण दे दिया है।


वैज्ञानिकों का कहना है कि अगर पति पत्नी या कोई कपल आपस मे चिपक कर सोता है तो प्यार तो बढ़ता ही है साथ में इससे दोनों के ही स्वास्थ्य पर अच्छा प्रभाव पड़ता है। 


आप सोच रहे होगे की यह कैसे संभव हो सकता है। रिसर्च में यह बात सामने आई है कि अगर आप किसी के साथ, अपने पार्टनर से चिपककर सोते हैं तो ये आपकी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद रहता है। आइए जानते हैं कि पार्टनर के साथ सोने से आपको किस तरह से फायदे हो सकते हैं। 

यूरीन पास करने के बाद प्राइवेट पार्ट को धोना सही है या गलत
मानसून में प्राइवेट पार्ट की हाइजीन पर है ज्‍यादा ध्‍यान देने की जरूरत।



आमतौर पर लोग निजी अंगों की सफाई और स्‍वच्‍छता की ओर पूरा ध्‍यान देते हैं। पर कई बार जागरुकता की कमी के चलते उन्‍हें यह पता ही नहीं होता कि वे जो कर रहे हैं वह सही है या गलत। ऐसे में अनजाने ही वे कई तरह की बीमारियों के शिकार हो जाते हैं। 

क्‍या है वह आदत 

आजकल स्‍वास्‍थ्‍य जागरुकता के कारण लोग विशेषकर महिलाएं प्राइवेट पार्ट को यूरीन पास करने के बाद धोना जरूरी समझती हैं। पर यह जितना ही सही है, थोड़ी सी लापरवाही उतनी ही बड़ी गलती भी हो सकती है। 

ये है लापरवाही 

प्राइवेट पार्ट को ज्‍यादा बार धोने से वेजाइना के गुड बैक्‍टीरिया भी मर जाते हैं। जो इंटरनल इन्‍फैक्‍शन को बढ़ने से रोकने में मदद करते हैं। इसलिए धोते समय सावधानी बरतें कि पानी का बहुत ज्‍यादा इस्‍तेमाल न हो। इसके बाद टिश्‍यू पेपर से सुखाना न भूलें। क्‍योंकि गीला रह जाना और कई बीमारियों को न्‍योता देता है। 

साफ और सूखा रहे अंडरवियर 

गीले अंडरगारमेंट्स की बात हो, तब आपको इस बारे में और भी सजग रहने की जरूरत है क्योंकि इनका सीधा संबंध आपके निजी अंग से होता है, जो बेहद संवेदशील होते हैं और इनमें संक्रमण का खतरा सबसे ज्यादा रहता है। इसलिए अंडरगारमेंट्स का सूखा और साफ होना बेहद जरूरी है। 

ये हो सकती हैं बीमारियां 

1 यूटीआई यानि यूरिनरी ट्रैक्ट इंफेक्शन – यह पेशाब के रास्ते में होने वाला संक्रमण है जो बैक्टीरिया के जमा होने या फैलने से होता है और तेजी से फैलता है। 

2 त्वचा का संक्रमण – गुप्तांग के पास त्वचा में यह संक्रमण नमी में पनपने वाले बैक्टीरिया के कारण होता है जो आसपास की त्वचा पर खुजली, जलन, लालिमा और अन्य समस्याओं को पैदा करता है। 

3 दाद, खाज, खुजली – यह संक्रमण बहुत आसानी से फैलता है लेकिन इसे नियंत्रित करना उतना आसान नहीं होता। यह खतरनाक भी हो सकता है। 


4 कि‍डनी पथरी – भले ही आपको जानकर हैरानी हो लेकिन बैक्टीरिया जनित संक्रमण भी किडनी की पथरी को जन्म दे सकता है। 


5 गर्भाशय का संक्रमण – महिलाओं में योनिर्मा के जरिए संक्रमण का फैलना गर्भाशय में संक्रमण को जन्म दे सकता है साथ ही कई तरह ही समस्याओं को पैदा कर सकता है। 

महिलाओं के प्राइवेट पार्ट के कालेपन को दूर करने का ये है लाजवाब तरीका 





अक्सर देखा जाता है कि महिलायें अपनी खूबसूरती बढाने के लिए क्या-क्या नहीं करती हैं, लेकिन अपने प्राइवेट पार्ट की कालेपन की तरफ बिलकुल ही ध्यान नहीं देती हैं. जो लोग अपने प्राइवेट पार्ट की सफाई का ध्यान नहीं रखती हैं उन्हें इस समस्या से ज्यादा गुजरना पड़ता है



आज हम आपको कुछ ऐसे देशी और सस्ते उपाय बता रहे हैं जिसकी मदद से आप अपनी प्राइवेट पार्ट की कालेपन को बहुत ही आसानी से दूर कर सकती हैं. और आपको इस समस्या से हमेसा के लिए छुटकारा भी मिल जायेगा



ये है प्राइवेट पार्ट के कालेपन को दूर करने का तरीका………………………???


1. बहुत बार तो बालों की वजह से प्राइवेट पार्ट को इस समस्या से जूझना पड़ता है. ऐसे में आप प्राइवेट पार्ट को हमेशा साफ़ रखें.


2. आप अपने भोजन में लहसून का उपयोग जरुर करें. लहसून का रोज सेवन करने से प्राइवेट पार्ट साफ़ रहता है.

3. अगर आप गर्म पानी से अपनी प्राइवेट पार्ट की सफाई करती हैं तो आपके ये कालेपन हमेशा-हमेशा के लिए दूर हो जायेंगे. साथ ही इन्फेक्शन का भी खतरा नहीं रहेगा. 


4. आप रोज अंडरगारमेंट बदलें, क्योंकि गंदे अंडरगारमेंट से भी कालापन आता है.

5. ध्यान रहे कि आप कभी भी साबुन से अपनी प्राइवेट पार्ट की सफाई न करें क्योंकि यहाँ की स्किन काफी नाजुक होती है. आप इसके लिए फेसवाश का इस्तेमाल कर सकती हैं

बड़ी उम्र की लडकियां इसलिए होती है आकर्षित...



लडक़ों को मैच्योर लड़कियां पसंद होती है


लखनऊ: बदलते जमाने में प्यार करने के अंदाज में भी काफी बदलाव आएं हैं और इसका सबसे बड़ा उदाहरण है लड़कों का अपनी उम्र से बड़ी लड़कियों के प्रति आकर्षित होना। आज के समय में देखा जाता है कि ज्यादातर लडके अपने से बडी उम्र की लडकियों को डेट करते है।

ऐसे में लोग उनके रिलेशन को लेकर काफी सवाल उठाते है। आखिर उसने लडकी में ऐसा क्या देखा होगा जिससे वो उस पर फिदा हो गया। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि आखिर कम उम्र के लडक़े बड़ी उम्र की औरतों के प्यार में कैसे पड़ जाते हैं। 


अगर नहीं जानते हैं तो आज हम इसके बारे में विस्तार से बताने जा रहे हैं, आखिर क्यों कम उम्र के लडके अपने से अधिक उम्र की लडकियों से प्यार क्यों करते है।

बेहद जिम्मेदार...


जिन लडक़ों को मैच्योर लड़कियां पसंद होती है उन्हें अपने से अधिक उम्र वाली लड़कियों में ही ये गुण नजर आते हैं। जिम्मेदार होने के कारण लडक़े बड़ी उम्र की महिलाओं के प्यार में पड़ते हैं।


इंटीमेट...

पुरुष इंटीमेट होने में ज्यादा वक्त नहीं लगाते जबकि महिलाओं को पुरुष से इंटीमेट होने के लिए काफी वक्त चाहिए होता है। यह भी एक कारण है कि लडक़े बड़ी उम्र की महिलाओं की तरफ अधिक आकर्षित होते हैं।

सेक्स लाइफ का रखती हैं ध्यान...


साइकोलॉजिस्ट की मानें तो 40 से 50 की उम्र में आते आते महिलाओं की सेक्स को लेकर समझ और भी बढ़ जाती है। इसलिए लडक़े उनकी ओर आकर्षित अधिक होते हैं।


आर्थिक रूप से सक्षम...

खुद से उम्र में बड़ी महिलाएं आर्थिक रूप से काफी मजबूत होती हैं। 

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.