Header Ads

आप भी कभी नहीं होंगे मोटे

जापानियों के फॉर्मूले बड़े असरदार, आप भी कभी नहीं होंगे मोटे
https://www.healthsiswealth.com
जापानियों के फॉर्मूले बड़े असरदार, आप भी कभी नहीं होंगे मोटे


आज के इस समय में सुंदर दिखना हर दुसरे इंसान का सपना है। ऐसे में की बीमारी अपने आप में एक बहुत गंभीर विषय बन चुकी है। बहुत सारे लोग अपने वजन बढ़ा लेते हैं मगर उस वजन को कम कर पाना उनके लिए एक चुनौती बन जाता है। मोटापा, पेट की चर्बी लड़कों के लिए ही नहीं बल्कि लड़कियों के लिए भी परेशानी का मुख्य कारण बन जाता है। इससे व्यक्ति की ख़ूबसूरती पर दाग लग जाता है। मोटापा इंसान की सुंदरता पर ही ऊँगली नहीं उठाता बल्कि, उसके लिए बिमारियों का घर बन जाता है।

आज की युवा पीढ़ी अपने खान पान के कारण मोटापे का अधिक शिकार हो रही है। ऐसे में पेट की बढ़ रही चर्बी अपने आप में बहुत बड़ी समस्या बनती जा रही है। इस चर्बी को घटाने के लिए बहुत सारे लोग जिम ज्वाइन करते हैं, एक्सरसाइज करते हैं और हर प्रकार के महंगे प्रोडक्ट्स का सेवन करते हैं, मगर इन सब के बावजूद भी उनका मोटापा कम नहीं हो पाता।


मगर आज के इस आर्टिकल में हम आपको पेट की चर्बी गलाने के कुछ ऐसे घरेलू उपाए बताने जा रहे हैं जिन्हें अपना कर आप कुछ ही हफ़्तों में अपना लुक बदल सकते हैं। इसके लिए आपको ज्यादा पैसे खर्च करने की भी कोई जरूरत नहीं पड़ेगी। तो चलिए जानते हैं उन उपायों के बारे में।

पेट की चर्बी कम करने का कारगर उपाय :-
शहद को एक प्रकार की आयुर्वेदिक औषधि माना जाता है। अगर आप हर रोज़ सुबह उठ कर खाली पेट नींबू और शहद के रस का मिश्रण पानी में मिला कर पी लें तो इससे कुछ ही दिनों में आप अपने वजन में कमी महसूस करने लगेंगे।

इसके इलावा अगर आप 5 ग्राम जीरा पाउडर और शहद की कुछ बूंदे सुबह खाली पेट पानी में मिला कर सेवन करें तो इससे आपके वजन में तेज़ी से कमी आएगी। शहद, नींबू और जीरा तीनो मार्किट में आसानी से उपलब्ध हैं।

मोटे इंसानों के लिए नींबू एक वरदान की तरह सिद्ध हो सकता है। अगर आप हर रोज़ भोजन ग्रहण करने के साथ साथ नींबू का सेवन करें तो इससे कुछ ही दिनों में आपके पेट की चर्बी कम हो जाएगी।
क्यूंकि, नींबू एकमात्र ऐसा पदार्थ है, जो शरीर से विषाक्त पदार्थों को नष्ट कर देता है तथा भोजन को गला कर पाचन योग्य बना देता है। इसलिए आज से नींबू का सेवन करना शुरू कर दें ताकि आपका मोटापा जल्दी दूर हो पाए।

जापानियों के ये फॉर्मूले हैं बड़े असरदार, इन्हे अपनाने से आप भी कभी नहीं होंगे मोटे :-

क्या आपने कभी ये सोचा है कि बिना किसी मेहनत और जद्दोज़हद के जापानी लोग इतने फिट कैसे होते हैं। अगर नहीं सोचा तो अब सोच लीजिए, तो चलिए आज हम आपको बताते हैं जापानी लोगों के फिट होने का राज़। जिसे अपनाकर आप भी बिना किसी मेहनत के बिल्कुल फिट हो जाएंगे। तो आइए जानते हैं कि इसके लिए आपको करना क्या होगा –
कम तेल वाला खाना :-

आपने देखा होगा कि जापानी लोग अक्सर बॉइल्ड यानी की उबला हुआ खाना खाते हैं, जसमें फैट की मात्रा काफी कम रहती है। और वज़न कंट्रोल में रहता है।

थोड़ा- थोड़ा खाना :-

थोड़ा- थोड़ा और रुक- रुककर खाने से पेट का हाजमा और मेटाबोलिज़्म संतुलित रहता है। जिससे की शरीरमें फैट नहीं बढ़ता।

ग्रीन टी का सेवन :-

जापानी लोग अक्सर ग्रीन टी का सेवन करते हैं। जिससे की शरीर में मौजूद अनचाही चर्बी तेजी से बर्न होती है और मोटापा कम होता है।
https://www.healthsiswealth.com
धीरे- धीरे खाना :-

धीरे- धिरे खाना खाने से भोजन को ठीक से पचने का वक्त मिल जाता है, जिससे की शरीर में फैट नहीं जम पाता।

मीठा कम खाना :-

मीठे खाद्य पदार्थो में फैट की मात्रा सबसे अधिक होती है, जो कि आपके मोटापे को तेजी से बढ़ाने में मदद करता है।

भरपेट नाश्ता :-
व्यक्ति को हमेशा सुबह का नाश्ता हेवी लेना चाहिए जिससे की दिनभर शरीर में ऊर्जा और फूर्ती बनी रहे। इससे आप ओवर डाइटिंग से भी बचे रहेंगे।



रोजाना 1 चम्मच मेथी दाना इस तरीके से ले, इन बीमारियों को करेगा दूर


जीवन की भागदौड़ में बहुत से लोग न तो अपने भोजन पर ठीक से ध्यान दे पाते हैं और न जरूरी नियमित व्यायाम कर पाते हैं। तनाव और काम के दबाव में थोड़े-थोड़े समय पर चाय पीते, कुछ न कुछ खाते रहते हैं। इसकी वजह से उनमें चर्बी जमा होने लगती है, कोलेस्ट्राल की मात्रा बढ़ जाती है और अपच, गैस, एसिडिटी जैसी समस्याएं पैदा हो जाती हैं।



कुछ लोग इन समस्याओं से बचने के लिए स्वास्थ्य के प्रति इतने सजग रहने लगते हैं कि खानपान में हर समय पोषण और औषधीय गुणों का अध्ययन करते रहते हैं। स्वास्थ्य को लेकर लापरवाही और हर समय उसी के बारे में सोचते रहना, दोनों चीजें ठीक नहीं। स्वाभाविक रूप से भोजन लेते रहें। समय पर भोजन लें, कम भोजन लें, तो मोटापे और दूसरी समस्याओं से दूर रहा जा सकता है।

भारतीय खाद्य मसालों में से एक मेथी दाने को तो आप सभी जानते है। इसकी खुशबु और इसके स्वाद के तो क्या कहने। लेकिन केवल मेथी का स्वाद लिया जाये वो थोड़ी कड़वी होती है। आज से नहीं बल्कि कई हज़ार वर्षो से मेथी का प्रयोग भारतीय रसोईघर में किया जाता आ रहा है। सामान्य रूप से सब्जी। कढ़ी और दाल को अलग जायका देने के लिए इसका प्रयोग किया जाता है। प्रोटीन और विटमिन्स के अतिरिक्त इसमें Fiber, VItamin C, Niacin, Potassium, Iron और Alkaloid पाए जाते है

मेथी घर-घर में सदियों से अपना स्थान बनाए हुए है। खासतौर पर इसका प्रयोग मसालों में किया जाता है। इसके बीजों में फॉस्फेट, लेसिथिन और न्यूक्लिओ-अलब्यूमिन होने से ये कॉड लिवर ऑयल जैसे पोषक और बल प्रदान करने वाले होते हैं। इसमें फोलिक एसिड, मैग्नीशियम, सोडियम, जिंक, कॉपर, नियासिन, थियामिन, कैरोटीन आदि पोषक तत्व पाए जाते हैं।
मेथी का प्रयोग स्वाद बढ़ाने के लिए ही नहीं बल्कि सौंदर्य बढ़ाने के लिए भी किया जाता है। मेथी में कैंसर रोधक तत्व भी पाए जाते हैं। इसका उपयोग डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर और पेट संबंधी समस्या में फायदेमंद होता है। आइए आर्टिकल के माध्‍यम से औषधीय गुणों से भरपूर इस मेथी के बारे में जानते हैं।

डाइजेशन :

मेथीदाने में भरपूर मात्रा में फाइबर और एंटीओक्सिडेंटस पाए जाते है। ये बॉडी के टोक्सिंस बाहर निकालते है जिससे डाइजेशन बेहतर रहता है।

डायबिटीज :-

मेथीदाने में मौजूद एमिनो एसिड बॉडी में इन्सुलिन लेवल को मेन्टेन रखता है। इससे डायबिटीज की आशंका कम होती है।
हेल्दी हार्ट :-

मेथीदाने में पोटैशियम काफी मात्रा में पाया जाता है। यह बॉडी में सोडियम के लेवल को कंट्रोल करता है, जिससे यह बॉडी में सोडियम के लेवल को कंट्रोल करता है, जिससे ब्लड सर्कुलेशन बेहतर होती है और हार्ट हेल्दी रहता फायदेमंद होने के साथ-साथ उसकी त्वचा के लिए भी बहुत फायदेमंद होते है।

मेथी दानों का यूज आमतौर पर मसाले के रूप में किया जाता है। लेकिन इसमें मौजूद प्रोटीन, विटामिन्स और पोटैशियम कई तरह की हेल्थ प्रॉब्लम्स को कंट्रोल करने में हेल्प करते हैं। अगर हम रेग्युलर अपनी डाइट में एक चम्मच मेथीदाने का यूज करते हैं तो कई बीमारियों से बच सकते हैं।
एसिडिटी :-

मेथीदाने खाने से बॉडी का एसिड लेवल मेंटेन रहता है। इससे एसिडिटी की प्रॉब्लम दूर होती है।

वजन घटाए :-

मेथीदाने में फाइबर पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है। इसे रेग्युलर डाइट में शामिल करने से वजन घटाने में हेल्प मिलती है।

सर्दी-खासी :-

मेथीदाने में मौजूद एंटीबैक्टीरियल प्रॉपर्टी वायरल फीवर से बचाती है।
कैंसर :-

मेथीदाने में मौजूद फाइबर बॉडी से टोक्सिंस बाहर निकालते है। इससे कोलोन कैंसर का खतरा टलता है।

हल्दी स्किन :-

मेथीदाने में एंटीओक्सिडेंटस पर्याप्त मात्रा में पाए जाते है। ये स्किन को हेल्दी रखने में मदद करते है।

कब्ज़ :-

रेग्युलर सुबह खाली पेट मैथीदाने खाने से डाइजेशन बेहतर होता है। जिससे कब्ज़ की प्रॉब्लम दूर होती है।

हाई BP :–

मेथीदाने में मौजूद पोटैशियम ब्लड सेकुलेशन को बेहतर बनाता है। इससे हाई BP की प्रॉब्लम कंट्रोल होती है।

साइटिका व कमर का दर्द :-
आयुर्वेदिक चिकित्सकों के अनुसार मेथी के बीज आर्थराइटिस और साइटिका के दर्द से निजात दिलाने में मदद करते हैं। इसके लिए 1 ग्राम मेथी दाना पाउडर और सोंठ पाउडर को थोड़े से गर्म पानी के साथ दिन में दो-तीन बार लेने से लाभ होता है।

उच्च रक्तचाप :-

उच्‍च रक्‍तचाप में भी मेथी खाना बहुत फायदेमंद होता है। 5-5 ग्राम मेथी और सोया के दाने पीसकर सुबह-शाम पीने से ब्लड प्रेशर संतुलित रहता है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.