Header Ads

लीवर क्या है, उसके कार्य और लीवर के रोग



लीवर क्या है, उसके कार्य और लीवर के रोग
लीवर क्या है
https://www.healthsiswealth.com/

– लीवर को हम हिंदी में जिगर के नाम से जानते हैं यह हमारे शरीर का सबसे बड़ा और सबसे महत्वपूर्ण भाग होता है। यह हमारे पेट के दाहिने और होता है। यह लाल और भूरे रंग की होती है जब हम इसे स्पर्श करते हैं तब यह रबड़ की तरह महसूस होती है। इसका वजन 2.5 से लेकर 3 पोंड तक हो सकता है।


लीवर का मुख्य काम होता है हमारे शरीर की बहुत सी क्रियाओं को अपने नियंत्रण में करना। जब भी हमारा लीवर खराब हो जाता है, तो हमारे शरीर के कार्य करने की क्षमता खत्म होने लगती है और जब भी हमारे लीवर में किसी तरह की परेशानी होती है तो हमें उसका इलाज सही समय पर करवा लेना चाहिए। नहीं तो हमें गंभीर समस्या का सामना करना पड़ सकता है।
हमें लीवर की समस्या का सामना तब करना पड़ता है जब हम अधिक मात्रा में शराब का सेवन, धूम्रपान, तले हुए भोजन का अधिक सेवन, खट्टा अधिक खाना आदि ।
https://www.healthsiswealth.com/

लीवर के कार्य 

लीवर हमारे शरीर में कई महत्वपूर्ण काम करता है जैसे की भोजन पचाना इसका कार्य पित्त का उत्पादन करना भी होता है। पित एक ऐसा तरल पदार्थ होता है जो हमारी पित्ताशय की थैली में वसा और विटामिन के अवशोषण के लिए अति आवश्क है, जो खून को छानने में मदद करता है। जब भी हम किसी तरह का नुकसानदायक पदार्थ लेते हैं, तब लीवर निष्क्रिय कर देता है और प्रोटीन पैदा करता है जो हमें संक्रमण होने से बचाता है। लीवर के कार्य कुछ इस प्रकार से हैं जैसे कि :-
एंजाइम सक्रियण
पित्त उत्पादन और मलत्याग
रक्त डिटॉक्सिफिकैशन ( detoxification ) और शुद्धिकरण

https://www.healthsiswealth.com/
भण्डारण ग्लाइकोजेन
चयापचय वसा, प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट
कोलेस्ट्राल हार्मोन के मलत्याग

लीवर के रोग


जब भी हम अपना सही से ध्यान नहीं रखते या फिर अपने खान पान में लापरवाही करते हैं तब हमारे लीवर में खराबी आने लगती है। जिसके कारण हमारे लीवर को कई रोगों का सामना करना पड़ सकता है जैसे कि :-

1. विषाणुज हेपेटाइटिस
यह एक ऐसा विकार होता है जिसमेंं संक्रमित रोगों के लीवर में सूजन पैदा हो जाती है। यह हेपेटाइटिस वायरस से फैलता है ।
https://www.healthsiswealth.com/

2. ऑटोइम्यून डिसऑर्डर
इससे हमारे शरीर के तंत्रिका तन्त्र, कोशिकाओं और उतकों को नुकासन पहुंचता है। इस रोग से हमारे लीवर पर असर पड़ता है और हमारे लीवर की कार्य क्षमता घटती है।


3. लिब्र सिरोसिस
यह एक धीमी गति से बढ़ने वाला रोग होता है। इसमे लीवर अपने आकर में न रहकर सिकुड़ने लगता है और अपना लचीलापन खो कर कठोर हो जाता है।


4. फैटी लीवर
लीवर में जब वसा या अधिक फैट जमा होने वाला संक्रमण को हम फैटी लीवर बोलते हैं।

https://www.healthsiswealth.com/
5. लीवर फेल्योर
लीवर से संबंधित बीमारी जब किसी लंबे समय से हो रहो हो और वह ठीक भी न हो तब हमारा अंग काम करना बंद कर देता है। जिसे हम लीवर फेल्योर कहते हैं ।


6. लीवर कैंसर
यह रोग लीवर की कोशिकाओं की असामान्य वृद्धि से पैदा होता है।


7. लीवर एबसेस
लीवर एबसेस को आम भाषा में जिगर में फोड़ा कहते हैं ।
लिवर को मजबूत बनाने के तरीके
https://www.healthsiswealth.com/



https://www.healthsiswealth.com/
आपका लिवर आपके शरीर के सबसे बड़े अंगों में से एक है और पसलियों के नीचे आपके पेट के ऊपरी दाएं हिस्से में स्थित होता है। लिवर कई कार्यों के लिए ज़िम्मेदार है, जो जीवन के लिए बहुत ही जरूरी है और इसी वजह से आपको अपने लिवर को स्वस्थ्य और मजबूत रखने की बहुत ही जरूरी है।
लिवर को मजबूत बनाने के तरीके
लिवर को मजबूत के लिए हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन


https://www.healthsiswealth.com/
वसायुक्त खाद्य पदार्थों, जंक फूड और प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थों से बचें जो बहुत सारे रसायनों और कृत्रिम योजक होते हैं। इनकी जगह आपको हरी पत्तेदार सब्जियों का सेवन करना चाहिए। इसकी जगह आपको फल, साबुत अनाज, अखरोट आदि का सेवन करना चाहिए।
शराब का कम सेवन कीजिए
https://www.healthsiswealth.com/

यदि आप अत्यधिक मात्रा में शराब पीते हैं, तो इससे आपके लिवर को नुकसान पहुंच सकता है। इसलिए लिवर को मजबूत करने के लिए अल्कोहल का कम सेवन कीजिए।
कैफीन से बनाएं दूरी

लिवर को मजबूत करने के लिए कैफीन से आपको परहेज करना होगा। कैफीन के सेवन से विषाक्त पदार्थ लिवर में जमा हो जाते हैं। इसलिए आपको कम मात्रा में कॉफी का सेवन करना चाहिए।
स्वच्छता को बनाएं रखें

अपने लिवर को स्वस्थ्य रखने के लिए भोजन, पानी, रक्त और अन्य तरल पदार्थों के जरिए हेपेटाइटिस वायरल संक्रमण को रोकने के लिए अच्छी स्वच्छता वाली आदतों को बनाए रखें।
धुम्रपान करने से बचें

धुम्रपान करने से विषाक्त पदार्थ बनते हैं जिससे हमारा लिवर बूरी तरह से प्रभावित होता है। ऐसी स्थिति में आपको धुम्रपान करने से बचना चाहिए।
पर्याप्त मात्रा में पानी पीजिए
धुम्रपान शराब और कैफीन की बजाय आपको बड़ी मात्रा में पानी का सेवन करना चाहिए। पानी के सेवन से शरीर के सभी विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाते हैं। लिवर को मजबूत करने के लिए आप नींबू पानी का सेवन करें। 
लिवर को मजबूत के लिए ग्रीन टी का सेवन

https://www.healthsiswealth.com/



https://www.healthsiswealth.com/
लिवर को मजबूत करने के लिए आप हर्बल चाय और प्राकृतिक फलों का सेवन कीजिए। इसके लिए ग्रीन टी विशेष रूप से अच्छा होता है, क्योंकि यह एंटीऑक्सिडेंटों में समृद्ध है, जो लिवर की कार्यप्रणाली में सुधार करता है।
बेरी परिवार वाले आहारों का करें सेवन




स्ट्रॉबेरी, ब्लैकबेरी, ब्लूबेरी और रास्पबेरी, अपने कार्बनिक अम्लों के कारण लिगर स्वास्थ्य को बढ़ाते हैं, जो आपके ब्लड में शुगर के स्तर को कम करते हैं और फैट को बर्न में मदद करते हैं।
व्यायाम कीजिए




यदि आपको अपने लिवर को मजबूत बनाना है तो आप नियमित रूप से व्यायाम कीजिए। नियमित रूप से व्यायाम करने से न केवल आपका शरीर स्वस्थ्य रहेगा बल्कि लिवर के विषाक्त पदार्थ भी बाहर निकला जाएंगे।
लहसुन भी है लाभकारी

क्या आप लहसुन का सेवन करते हैं, अगर नहीं करते तो इसका सेवन करना शुरू कर दीजिए। लहसुन के सेवन से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद मिलती है।
डॉक्टर से जांच

अपने लिवर को मजबूत करने के लिए आपको नियमित रूप से अपने डॉक्टर से सलाह लेनी होगी। डॉक्टर के जांच से आप यह आंदाजा लगा सकते हैं कि आपको अपने लिवर पर कितना ध्यान देने की जरूरत है।
लिवर को मजबूत के लिए डायबिटीज और उच्च रक्तचाप की जांच
https://www.healthsiswealth.com/





यदि आप डायबिटीज और उच्च रक्तचाप से पीड़ित हैं, तो आपको नियमित रूप से अपना मेडिकल चेकअप करवाना चाहिए। ताकि ब्लड शुगर, ट्राइग्लिसराइड्स और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को विनियमित किया जा सके। इनके अनियंत्रित होने से वसायुक्त लिवर रोग होने की पूरी संभावना है।

https://www.healthsiswealth.com/

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.