Header Ads

आप जानते हैं कि केले का छिलका



आमतौर पर हम केला खाकर उसके छिलके को कूड़ेदान में फेंक देते हैं. पर क्या आप जानते हैं कि केले का छिलका भी उतना ही उपयोगी है जितना इसका फल. केले के छिलके का इस्तेमाल त्वचा से जुड़ी समस्याओं को दूर करने के लिए किया जा सकता है, जैसे कील-मुंहांसे. 
कील-मुंहासों के लिए कैसे करें उपचार:

• केले का छिलका लें, इस बात का ध्यान रखें कि केले का छिलका निकालते समय आप केले के अंदर के भाग को हाथ ना लगाएं।
• इसके बाद अपनी त्वचा के एक छोटे से हिस्से में इस छिलके को पिंपल्स पर रब करें।
• अगर आप केले के छिलके का इस्तेमाल कर रहीं हैं तो ऐसे में आपको किसी और उपचार की जरूरत नहीं है।
• इस छिलके को कम से कम 5 से 8 बार पिंपल्स पर
• इसे 10 मिनट के लिए छोड़ दें ताकि आपके चेहरे को जरूरी पोषण मिल जाएं और आपकी त्वचा उसे सोख लें।
• आप इसे 10 मिनट से भी ज्यादा समय के लिए रख सकते हैं।
• इसके बाद साफ पानी से चेहरे को धो लें और फिर इसे सूखने दें।
• इस उपचार को कम से कम 3 बार इस्तेमाल करें, आपको 2 ही दिनों में इससे होने वाले फायदे दिखाई देंगे।


आपके घर में बहुत सी ऐसी चीजें होती हैं जिसे आप रोज खाते हैं पर आप ये नहीं सोचते होगें की इनसे आपको रोगों से बचने में भी सहायता मिलती है. सरसों का तेल (Mustard Oil) ऐसा ही एक चमत्कारी खाद्य पदार्थ है. 
खांसी और जुकाम (Cough & Cold) ये दोनों ऐसे रोग हैं जो हर मौसम में कभी भी हो जाते हैं. आइये जानें खांसी और जुकाम में सरसों के तेल को कैसे उपयोग करें.
पीली सरसों के तेल को किसी साफ कपड़े में छानकर रख लें. इस तेल की 2-3 बूंदे नाक के दोनों छिद्रों में डालने से जुकाम में आराम आता है. थोड़े दिनों तक लगातार ऐसा करने से नया या पुराना किसी भी प्रकार का जुकाम दूर हो जाता है.








अगर आप पेट की चर्बी (belly fat) कम करना चहाते हैं तो आपको शारीरिक रूप से सक्रिय होना पड़ेगा. साथ में स्वस्थ पोषण पर भी ध्यान देना होगा. अधिकांश तौर पे पेट की चर्बी हमारी खराब और अस्वास्थ्यकर जीवनशैली का नतीजा होती है जिसमे शारीरिक रूप से निष्क्रिय रहना और बहुत ज्यादा कैलोरी का सेवन करना शामिल है. 

अगर आप पेट की चर्बी करने में मददगार खाद्य पदार्थों का सेवन करें साथ में कुछ व्यायाम भी करें तो अच्छे परिणाम देखने को मिलते हैं. ऐसी ही एक उपयोगी एक्सरसाइज है Leg Drop exercise.

कैसे करें यह exercise:
• सबसे पहले फर्श पर लेट जाएँ और सुनिश्चित करें कि आपके पैर कूल्हों के ऊपर 90 डिग्री पर होने चायिये.
• अब अपने पैरों को धीरे धीरे जितना नीचे ला सकते हैं नीचे लायें पर फर्श को ना छूये.
• सुनिश्चित करें की आपकी कमर ना उठने पाये. 
• अब फिर अपने पैरों को शुरुआती स्थिति में ले जाएँ. 
• इस पूरी प्रक्रिया को 10 बार दोहराएं.





पेशाब में जलन होना एक सामान्य समस्या हैं. पेशाब में जलन होने पर थोड़ी – थोड़ी मात्रा में मूत्र आता हैं. पेशाब में जलन होने की समस्या पुरुष एवं स्त्री दोनों को हो सकती हैं. अगर आपको भी पेशाब में जलन की समस्या हैं, तो इस बीमारी से जल्द मुक्ति पाने के लिए, बादाम का प्रयोग कर सकते हैं. 
बादाम की 5 गिरी को पानी में भिगो दें। इसके बाद छीलकर इनमें 7 छोटी इलायची और स्वाद के अनुसार मिश्री मिलाकर तथा पीसकर 1 गिलास पानी में घोलकर सुबह-शाम दिन में दो बार पीने पेशाब की जलन में लाभ मिलता है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.