Header Ads

वजन कम करना हो तो क्या न खाये नाश्ते में

वजन कम करना हो तो क्या न खाये नाश्ते में 



हम जिस चीज़ को अच्छा समझ कर खाते हैं, हो सकता है कि अनजाने में वो ही चीज़ हमको नुक्सान पहुंचाए। इससे बचाव के लिए यहाँ भिन्न प्रकार के नाश्तों के बारे में बताया जा रहा है जो वज़न करने की मुहीम में नुकसान पहुंचा सकते हैं। Read vajan kam karne ke tips in hindi
Image result for वजन कम करना हो तो क्या न खाये नाश्ते में

चॉकलेट फ्लेक्स आपकी डाइट में शक्कर बढ़ाते हैं न कि पोषण। इसे लगातार खाना आपका वज़न बढ़ा देगा। इसके बजाए आप “ऑल ब्रैन सिरिअल” या म्यूसली को स्किम्ड मिल्क के साथ थोड़े से ड्राई फ्रूट्स डाल कर खा सकते हैं।
सुबह सुबह मग भरके चाय या कॉफ़ी आपको दिन शुरू करने के लिए स्फूर्ति तो दे सकती है पर अगर आप वज़न कम करना चाहते हैं तो इससे आपको फायदा नहीं मिलेगा। चाय या coffee से शक्कर और कैफीन की मात्रा बढ़ती है जो आने वाले समय में आपकी सेहत के लिए खतरा बन सकती है। चाय पीने के फायदे और नुकसान
इंस्टेंट खायी जाने वाली चीज़ें वज़न कम करने के लिहाज़ से ठीक नहीं हैं। इंस्टेंट ओट्स में रिफाइन किये हुए कॉर्नफ्लेक्स होते हैं जिनमे पोषण कम मगर पेस्टिसाइड बहुत ज्यादा होते हैं।
तला हुआ भोजन सेहत के लिए अच्छा नहीं होता और सुबह सुबह तो बिलकुल भी नहीं। ब्रेड पकोड़ा, ब्रेड रोल, आलू पूरी ये सभी कैलोरीज बढाते हुए वज़न घटाने के प्रयास का सत्यानाश कर देते हैं।
डब्बाबंद रस सेहत के लिए अच्छे होने का दावा करते हैं किन्तु इनमें शक्कर बहुत ज्यादा होती है। ताज़े फलों के रस की तरह इनमें फाइबर और पोषक तत्व नहीं होते और आपको अपने पसंदीदा फल का स्वाद मिलता है बिना उसके गुणों के।
नूडल्स से हम अपने शरीर में रिफाइंड आटा यानी मैदा जमा कर रहे हैं। इसमें मौजूद जिलेटिन आँतों में जम जाता है और हमारे शरीर से बहार निकलने में इसे कम से कम तीन दिन लगते हैं, यह सेहत के लिए नुकसानदायक भी है।
बचा हुआ पिज़्ज़ा नरम पड़ जाता है और हम उसको गरम करके उसमे बचे हुए पोषण को भी ख़त्म कर देते हैं। सुबह ये सब खाकर आप अपना पेट तो भरते हैं किन्तु शरीर को पोषण नहीं मिलता।

बैली फैट कम करने के 20 आसान तरीके 


अगर आपकी लगातार कोशिश भी वजन कम करने में नाकाम हो रही है तो यहाँ कुछ साधारण और प्रैक्टिकल टिप्स दिए जा रहे हैं। आपको सिर्फ इन तरीकों को 20 दिन तक बिना रुके नियमित रूप से करना होगा और फिर आपको असली परिणाम नजर आने लगेंगे। 
आप तीन महीने में 10 किलो तक वजन कम करना चाहते है, या फिर पेट कम करना चाहते है, या अपनी स्फूर्ति बढ़ाना चाहते है, तो यह सब कुछ पहले एक डायरी में नोट करले।
उपयोग से ज्यादा कैलोरीज बर्न करना जरूरी होता है। 5 कि.मी. प्रति घंटे की रफ़्तार से की गई तेज़ वॉक जहां सिर्फ 145 कैलोरीज बर्न करती है वहीँ मैक डोनाल्ड के एक बर्गर से 465 कैलोरीज मिलती हैं।
शक्कर की जगह स्टेविया या मीठी पत्ती काम में लें सकते है। यह ब्लड शुगर भी कम करने में मदद करते है और डायबिटीज से भी बचने में सहायक है।
ब्राउन राइस में कैलोरीज कम होती हैं और ज्यादा फाइबर होने की वजह से इसे खाने के बाद ज्यादा समय तक पेट भरा रहता है।
भूखे रहने के बजाये “नेगेटिव-कैलोरी फ़ूड” खाएं जिसमे कैलोरीज नहीं के बराबर होती हैं।
फ्राइड के बजाएं हमें बेक्ड खाना चाहिए। या फिर एयर-फ्रायर का इस्तेमाल करना चाहिए।
अल्कोहल और ज्यादा शक्कर वाली मॉकटेल्स से भी दूरी बनायें। ताज़ा नीम्बू पानी या नीम्बू सोडा बिना शक्कर के पीना ज्यादा सही रहेगा।
सुबह ब्रेकफास्ट के पहले एक फल खाएं, फिर मिड-मोर्निंग स्नैक्स खाने की जगह एक फल और खाएं। फिर दोपहर में लंच करने से पहले ताज़ी सब्जियों वाला सलाद खाएं। शाम को फिर एक और फल खाएं। रात को एक बाउल भरके वेजिटेबल सूप लें या एकदम कम तेल में बनी हुई सब्जियां लें, या फिर सलाद खाएं।
सोने के बीच कम वक़्त होता है, इसका असर हमारी पाचन शक्ति पर पड़ता है और हमारी वजन घटाने की प्लानिंग बिगड़ जाती है।
नमक आपके वेट-लॉस प्लान के लिए घातक है और इससे वाटर-रिटेंशन और ब्लोटिंग(शरीर फूलना या सूजना) जैसी तकलीफें होती हैं। इसलिए ऐसी चीज़ों से दूरी बनाएं।
आपको ही हेल्दी-रेसिपीज बनाना सीख लेना चाहिए। न सिर्फ आप हेल्दी खाना बनाना सीख जायेंगे बल्कि वजन भी कम होगा और क्या खाना है इस बारे में आप कॉनशिअस भी हो जायेंगे और यह आपके और आपके परिवार के लिए भी फायदेमंद होगा।
मसालों में मेटाबोलिज्म बढ़ाने वाले गुण होते हैं। काली मिर्च, लाल मिर्च, जीरा, हल्दी, राई सिर्फ खाने का स्वाद ही नहीं बढ़ाते बल्कि वजन कम करने में भी मदद करते हैं।
ड्राई फ्फ्रूट्स जैसे बादाम, पिश्ता और अखरोट में गुड-फैट्स होते हैं जो संपूर्ण सेहत सुधारते हुए वजन भी कम करते हैं।
रेड मीट की जगह चिकन खाएं। इसमें प्रोटीन बहुत होता हैं और इससे पेट काफी देर तक भरा रहता है।
अक्सर जब हम “भूखे” होते हैं तो हमें असल में प्यास लगी होती है और हमारे शरीर को बस कुछ चाहिए होता है। इसके लिए पानी पीकर उस “भूख” को मिटाया जा सकता है। जानिए क्यों जरुरी है पानी पीना
अपनी दिनचर्या की शुरुआत एक्सरसाइज या जॉगिंग से होनी चाहिए। रात को अच्छी नींद लेने के बाद सुबह सुबह हम स्वच्छ और ऊर्जावान महसूस करते है इसलिए वर्क-आउट के लिए सुबह का समय सबसे अच्छा होता है।
बहुत से लोग वजन कम करने के लिए ब्रेकफास्ट छोड़ देते हैं। पर ये अनुचित कदम है।
योग, एरोबिक्स, वेट ट्रेनिंग, तैरना, ज़ूम्बा या कुछ और भी किया जा सकता है। वजन कम करने की बुनियाद है 45 मिनट की एक्सरसाइज।
इससे आपकी मसल्स गठित होंगी और आपका मेटाबोलिज्म बढ़ेगा जो आपके शरीर को फैट-बर्निंग-मशीन बना देगा।
रोज़ रोज़ जिम ना जाएँ। कभी डांस क्लास, कभी जॉगिंग, कभी मार्शल आर्ट्स अपनाने से भी आपके शरीर का फैट कम होगा

वजन कम करने के लिए ये टिप्स अपने दिमाग में रखे


वजन कम करने के लिए आहार व कसरत के अलावा आपको वजन कम करने के लिए कुछ बाते ध्यान रखनी चाहिए। Read Effective Tips for Weight Loss in Hindi (Vajan Kam Karne ke Liye Tips)

पानी अधिक मात्रा में पीए (Drink Lots of Water)

पानी स्वस्थ शरीर व वजन कम के लिए बहुत जरूरी है। हर व्यक्ति को रोज 8-10 गिलास पानी पीना चाहिए। साथ-साथ सेहतमन्द आहार व नियमित कसरत भी करनी चाहिए।

तनाव को दूर करे (Be Stress Free)

बहुत से लोगो का वजन तब बढ़ जाता है जब वे तनाव लेते है तनाव से अनेक हारमोन का स्राव होता है जो वजन बढ़ाने में सहायक है। इससे बचने के लिए योगा, मेडिटेशन या अन्य कोई रूचि (हॉबी) को 15-20 मिनट तक करे इससे मन एवं शरीर को शांति मिलती है।

पर्याप्त नींद ले एवं आराम ले (Take Proper Sleep and Rest)

स्वस्थ तरीके से वजन कम करने के लिए तथा शरीर को आराम देने के लिए 6-7 घंटे की नींद आवश्यक हैं। क्योंकि अच्छी नींद मन एवं शरीर को शांत रखती है तथा अगले दिन के लिए एनर्जी देती है।

फिट रहे – अगर आप वजन कम करना चाहते है तो पहले आप यह सुनिश्चित करे कि आपके रक्त में थोइरोइड हारमोन, विटामिन D तथा विटामिन B- 12 सामान्य है कि नहीं। अगर रक्त का स्तर सामान्य नहीं है तो यह आपके स्वास्थ्य व वजन कम करने के प्रयत्नों के लिए ठीक नहीं है।
वजन घटाना और कैलोरीज (Weight Loss and Calories)

Weight loss करने के लिए Calories त्यागने की जरूरत नहीं है। एक Balanced आहार में Calories का महत्वपूर्ण Place हैं। यह शरीर की मेटाबोलिज्म दर के लिए आवश्यक है। इसके अतिरिक्त अगर आप स्वास्थ्यवर्धक भोजन लेते है तब आपके शरीर को एनर्जी मिलती है।
कम केलोरी वाले आहार जैसे पत्ता गोभी, वेलपत्र, लहसुन, बादाम, ककड़ी तथा तरबूज का सेवन करें।
फाइबर युक्त भोजन ले।
शक्कर वाले खाद्य कॉफ़ी, चाय का त्याग करे।
मसालो को अपने आहार में शामिल करे।
एल्कोहल के बजाये पानी ले।ये सारे तरीके अपनाकर आप 15 दिनों में 2-3 किलो वजन कम कर सकते है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.