Header Ads

ये चीजें करती हैं गरमी में पानी की कमी को पूरी


ये चीजें करती हैं गरमी में पानी की कमी को पूरी
तेज धूप में अगर आपके शरीर में पानी की कमी रहती है तो आपका शरीर डिहाइड्रेट होगा और आपको चक्कर, सिर दर्द और कमजोरी जैसी परेशानियां हो सकती हैं.


गरमी में खाने के लिए कुछ प्लान करें या नहीं पर पानी को जरूरत को गंभीरता से लें. इस मौसम में शरीर को हाइड्रेट रखने के लिए जरूरी है कि आप पर्याप्त मात्रा में पानी पीते रहें. तेज धूप में अगर आपके शरीर में पानी की कमी रहती है तो आपका शरीर डिहाइड्रेट होगा और आपको चक्कर, सिर दर्द और कमजोरी जैसी परेशानियां हो सकती हैं.
अगर आपकी लाइफ भागदौड़ से भरी है और आप पानी पीने का भी वक्त नहीं निकाल पाते हैं तो हम आपको कुछ अन्य चीजों के बारे में बताने वाले हैं, जिनको अपनी डाइट में शामिल कर के आप शरीर में होने वाली पानी की कमी को दूर कर सकेंगे.

तो आइए शुरू करते हैं.

चुकंदर का जूस

गरमी में आप हमेशा पानी नहीं पी रहे तो आपकी सेहत के लिए ये हानिकारक हो सकता है. ऐसे में बौडी को हाइड्रेट रखने के लिए आप चुकंदर का जूस पी सकते हैं. जानकारों की माने तो रक्त संबंधी समस्याओं में भी ये काफी लाभकारी होता है. इसके साथ ही ये शरीर में कई आवश्यक विटामिन और खनिज जैसे बी विटामिन, पोटेशियम, मैग्नीशियम, और लोहे की कमी को भी पूरा करता है.

तरबूज का जूस

तरबूज का 95 फीसदी हिस्सा पानी का होता है. गरमी में लोग इसका सेवन चाव से करते हैं. इसके अलावा इसमें कई पोषक तत्व भी पाए जाते हैं.

नारियल पानी का सेवन

शरीर में पानी की कमी को दूर करने के लिए नारियल पानी पीना एक अच्छा उपाय है. कई मरीजों को डाक्टर सलाह भी देते हैं कि वो नियमित रूप से इसका सेवन करते रहें. ये शरीर में पानी की कमी को दूर करने के साथ-साथ पोटेशियम की अच्छी मात्रा भी प्रदान करता हैं.

सलाद में खीरा

गरमी में खीरे का सेवन जरूर करें. शरीर में पानी की कमी को दूर करने में ये बेहद लाभकारी होता है. खीरा गरमी का बहुत अच्छा फल है. शरीर को हाइड्रेट रखने के साथ साथ ये त्वचा के लिए भी काफी फायदेमंद होता है.

इन 7 टिप्स को फौलो कर हर दिन दिखें खूबसूरत
अक्सर हम स्किन की खूबसूरती को सिर्फ महंगी क्रीम्स के इस्तेमाल से जोड़ते हैं, जबकि स्किन खूबसूरत बनती है रोज उस की देखभाल करने से.







ऋतु की फिजिक तो परफैक्ट थी, लेकिन स्किन उतनी चार्मिंग नहीं थी. वह सोचती मैं मार्केट में आने वाला हर महंगा प्रोडक्ट अपनी स्किन पर अप्लाई करती हूं, फिर भी मेरी स्किन यंग व ग्लोइंग क्यों नहीं दिखती. फिर जब उस ने इस बारे में अपनी फ्रैंड शिखा से बात की तो उस ने बताया कि अक्सर हम स्किन की खूबसूरती को सिर्फ महंगी क्रीम्स के इस्तेमाल से जोड़ते हैं, जबकि स्किन खूबसूरत बनती है रोज उस की देखभाल करने से.

अगर आप भी अपनी स्किन को आकर्षक बनाना चाहती हैं तो इन टिप्स पर गौर फरमाएं:

स्किन टाइप व क्लींजिंग…
विज्ञापन देख कर स्किन केयर प्रोडक्ट्स खरीदने का क्रेज महिलाओं में बहुत ज्यादा होता है, जबकि इन्हें खरीदने से पहले हमें अपनी स्किन टाइप पर गौर जरूर करना चाहिए, क्योंकि बिना स्किन टाइप जाने प्रोडक्ट के इस्तेमाल करने से सही रिजल्ट नहीं मिल पाता. इसलिए स्किन टाइप जानना जरूरी है.

अगर आप की स्किन रफ है तो इस का मतलब आप की स्किन ड्राई है और ऐसी स्किन पर खुशबू वाले क्लींजर का भूल कर भी इस्तेमाल न करें. सौफ्ट क्लींजर ही प्रयोग करें. वहीं औयली स्किन में बड़ेबड़े रोमछिद्रों के साथसाथ त्वचा पर औयल भी नजर आता है. इस के लिए औयलफ्री फेस वाश प्रयोग करें.

सैंसिटिव स्किन की प्रौब्लम यह होती है कि कुछ भी ट्राई करने पर जलन व रैडनैस नजर आने लगती है. इस के लिए माइल्ड क्लींजर यूज करने करें व त्वचा को टौवेल से न रगड़ें वरना स्किन रैड हो सकती है. नौर्मल स्किन क्लीयर होती है, जिस पर आमतौर पर हर तरह का ब्रैंडेड प्रोडक्ट ट्राई किया जा सकता है. यानी क्लींजिंग के प्रयोग से पसीना, औयल व गंदगी को दूर किया जा सकता है.
टोनिंग

कभीकभी क्लींजिंग के बाद भी स्किन में थोड़ीबहुत गंदगी रह जाती है, जिसे टोनर की मदद से दूर किया जा सकता है. इस के लिए कौटन बौल को टोनर में डुबो कर फेस पर लगाएं. यह ऐक्स्ट्रा क्लींजिंग इफैक्ट आप की स्किन में मौइश्चर बनाए रखने का काम करता है. इसलिए क्लींजिंग के बाद टोनिंग करना न भूलें.


2. ऐक्सफौलिऐशन से करें डैड सैल्स रिमूव

रोजाना लाखों स्किन सैल्स बनते हैं, लेकिन कभीकभी ये सैल्स त्वचा की परत पर बन जाते हैं जिन्हें हटाने की जरूरत पड़ती है. ऐक्सफौलिएट प्रक्रिया से डैड स्किन सैल्स को रिमूव किया जा सकता है. इस से ऐक्ने, ब्लैकहैड्स की परेशानी से भी छुटकारा मिलता है. इस के बैस्ट रिजल्ट के लिए इस प्रक्रिया को टोनिंग के बाद और मौइश्चराइजिंग से पहले करना चाहिए.

3. पौष्टिक भोजन व पर्याप्त नींद

आप अपनी डाइट में फ्रूट्स, दालें व सब्जियां ज्यादा से ज्यादा शामिल करें. चिकन, अंडे, मछली आदि का भी सेवन करें. पूरी नींद ले कर डल स्किन, डार्क सर्कल्स जैसी परेशानियों से छुटकारा पाएं. इस तरह डेली अपनी स्किन की केयर कर खुद को और खूबसूरत बना पाएंगी.

4. मौइश्चराइजिंग
हर स्किन को स्वस्थ रहने के लिए नमी की जरूरत होती है. बदलते मौसम के साथ त्वचा की जरूरतें भी बदलती रहती हैं. ऐसे में त्वचा को हर मौसम में अलगअलग तरह के मौइश्चराइजर से मौइश्चराइज करने की जरूरत होती है, क्योंकि रूखी त्वचा खुजली जैसी समस्याएं पैदा करती है. बस ध्यान देने वाली बात यह है कि अगर आप की स्किन औयली है, तो आप सिर्फ औयल फ्री मौइश्चराइजर ही अप्लाई करें. इस से रोमछिद्र ब्लौक न होने से ऐक्ने वगैरह की परेशानी भी नहीं पैदा होगी.

5. सनस्क्रीन से एक्स्ट्रा केयर

सूर्य की अल्ट्रावायलेट किरणें हमारी स्किन को डैमेज करने लगती है. ऐसे में सनस्क्रीन से स्किन को प्रोटैक्शन दें. इस के लिए 25-30 एसपीएफ वाला सनस्क्रीन अप्लाई करें. यह न सोचें कि इसे सिर्फ गरमी के मौसम में ही प्रयोग करना चाहिए, बल्कि इसे सर्दी के मौसम में भी यूज करें क्योंकि त्वचा की देखभाल हर मौसम में जरूरी है.

6. फीट केयर

यदि आप की एडि़यां फटी हैं या पैर के नाखून साफ नहीं हैं तो कितना भी खूबसूरत फुटवियर हो, आप के ऊपर फबेगा नहीं. महीने में कम से कम 2 बार मैनीक्योर व पैडीक्योर जरूर कराएं. अगर पार्लर जाने का समय नहीं है?तो फीट केयर किट घर पर ला कर खुद भी यह काम कर सकती हैं. इस के अलावा जब भी समय मिले तो नीबू से पैर के पंजों व नाखूनों को साफ करें और रात को सोने से पहले फीट केयर क्रीम का इस्तेमाल जरूर करें.


7, हेयर रिमूव कर पाएं निखरी त्वचा

पार्टी में जाना हो, दोस्तों के साथ आउटिंग का प्लान हो या फिर किसी शादी में जाने की तैयारी सब से ज्यादा समय आप परफैक्ट ड्रैस चुनने में बिताती हैं. मगर कई बार अनचाहे बालों की वजह से आप को अपनी मनपसंद ड्रैस के साथ समझौता करना पड़ता है.

तैयारी के इन आखिरी पलों में आप के पास इतना समय भी नहीं होता कि आप किसी पार्लर में जा कर अनचाहे बालों से छुटकारा पा सकें. इस के अलावा यह भी जरूरी नहीं कि जब आप पार्लर पहुंचें तो वह खाली हो और आप का काम फटाफट हो जाए.

इस टैंशन से बचने के लिए सब से आसान तरीका है घर पर वैक्सिंग करना. आजकल बाजार में ऐसी हेयर रिमूवल क्रीम उपलब्ध हैं जिन का इस्तेमाल कर आप प्रोफैशनल रिजल्ट पा सकती हैं, वह भी बेहद कम समय में. हेयर रिमूवल क्रीम न सिर्फ अनचाहे बालों से छुटकारा दिलाती है, बल्कि त्वचा की नमी को भी बरकरार रखती है.




पानी में नमक डाल के नहाने के हैं कई फायदे, जानिए आप भी
अवसाद या चिंता की स्थिति में भी मांसपेशियों में तनाव आ जाता है. नमक मिला गुनगुना पानी मानसिक तनाव को भी कम करता है.






सर्दियों में कई तरह की बीमारी के होने का खतरा बना रहता है. जैसे, त्वचा में रूखापन, खुजली, दाद-खाज, त्वचा में सफेदी आदि. इसके अलावा शरीर में नमी की कमी के कारण बाल झड़ने, डैंड्रफ जैसी दिक्कतें भी होती हैं. इन समस्याओं में पानी में नमक डाल कर नहाना काफी फायदेमंद होता है.

सर्दी में गर्म पानी से नहाना लोगों की मजबूरी होती है. ऐसे में बेहतर होता है कि आप उस गुनगुने पानी में नमक डाल कर नहाएं, इससे कई तरह की बीमारियां दूर होती हैं.

इस खबर में हम आपको बताएंगे कि गुनगुने पानी में नमक मिला कर नहाने से कौन से फायदे हो सकते हैं.
आपको बता दें कि अवसाद या चिंता की स्थिति में भी मांसपेशियों में तनाव आ जाता है. नमक मिला गुनगुना पानी मानसिक तनाव को भी कम करता है.
अक्सर ठंड में सफाई की कमी और नम कपड़ों के कारण शरीर में खुजली व दाद की समस्या होती है. नमक में एंटीबैक्टीरियल गुण होते हैं. नमक मिला गुनगुना पानी त्वचा पर मौजूद बैक्टीरिया और जीवाणुओं को खत्म कर रोगों से बचाव करता है.
रोजाना गुनगुने पानी में थोड़ा सा नमक डालकर नहाने से त्वचा की सफाई अच्छे से होती है. इससे बालों और त्वचा में चमक भी आती है.
आमतौर पर गर्मी के मुकाबले सर्दियों में निखार कम लगती है. खासकर के औयली स्किन वाले लोगों में ये समस्या और ज्यादा होती है. गुनगुने पानी में नमक मिलाकर नहाने से त्वचा में मौजूद डेड स्किन सेल्स निकल जाते हैं. इससे त्वचा में निखार आता है.
गुनगुने पानी में नमक मिला कर नहाने से मांसपेशियों को काफी राहत मिलती है. कई जानकारों का मानना है कि आर्थराइटिस के मरीजों को गुनगुने पानी में नमक मिला कर नहाने से आराम मिलता है.

गरमी में करें प्याज का सेवन, दूर होंगी ये समस्याएं
प्याज में जीवाणुरोधी, तनावरोधी, दर्द निवारक, मधुमेह को कंट्रोल करने वाला, पथरी हटाने वाले गुण भी होते हैं.

प्याज के बिना कोई भी खाना अधूरा होता है. स्वाद के लिए प्याज जरूरी होता है इसके साथ में अच्छी सेहत का भी राज है ये. गरमी में कच्चे प्याज का सेवन किसी दवाई से कम नहीं है. आपको बता दें कि प्याज में केलिसिन और रायबोफ्लेविन (विटामिन बी) पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है. इसके अलावा प्याज में जीवाणुरोधी, तनावरोधी, दर्द निवारक, मधुमेह को कंट्रोल करने वाला, पथरी हटाने वाले गुण भी होते हैं.

गरमी में लोगों को लू लगने की समस्या बेहद आम है, इसमें भी प्याज काफी लाभकारी होता है.

दूर होती है पेशाब की समस्या
प्याज के रस को पानी में उबाल कर निममित रूप से सेवन करने से पेसाब संबंधित बहुत सी परेशानियां दूर होती हैं. अगर पेशाब आना बंद हो जाए तो प्याज दो चम्मच प्याज का रस और गेहूं का आटा लेकर हलवा बना लें, इसे गर्म कर के रख लें और पेट पर इसका लेप लगाएं. ऐसा करने से आपकी समस्या दूर हो जाएगी.

इसके अलावा अगर आपको डायबिटीज की समस्या है तो इसका सेवन काफी लाभकारी होगा. कच्चा प्याज खाने से शरीर में इंसुलीन का स्तर समान्य रहता है. शारीरिक क्षमता को बढ़ाने के लिए भी इसका सेवन किया जाता है.

सेक्स की बहुत सी परेशानियों में भी प्याज काफी लाभकारी होता है. खास कर के पुरुषों के लिए ये काफी असरदार नुस्खा होता है.

दूर होती है पेट की परेशानियां

बहुत से लोगों को गरमी में पाचन की समस्या होती है. इन परेशानियों में प्याज काफी लाभकारी होता है. प्‍याज में मौजूद रेशा पेट के अंदर के चिपके हुए भोजन को निकालता है जिससे पेट साफ हो जाता है.

दांतों के रोग में है असरदार
दांत की बहुत सी परेशानियों में प्याज काफी असरदार होता है. अगर आपको पायरिया की परेशानी है तो प्‍याज के टुकड़ों को तवे पर गर्म करके दांतों के नीचे दबाकर मुंह बंद कर लें. ऐसा करने से आपके मुंह में लार इकट्ठी हो जाएगी. उसे कुछ देर मुंह में रखने के बाद बाहर निकाल दें. ऐसा कुछ दिन, दिन में 4-5 बार करने से पायरिया की समस्‍या समाप्‍त हो जाएगी.

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.