Header Ads

संभोग के बाद पेशाब करना आखिर क्यों जरुरी है


संभोग के बाद पेशाब करना आखिर क्यों जरुरी है

किसी भी जोड़ी के बीच में प्यार बनाए रखने के लिए स्वस्थ यौन संबंधों का एक महत्वपूर्ण योगदान होता है। यहां स्वस्थ यौन संबंधों से मतलब ये है कि एक दूसरे के बीच यौन क्रिया से पहले और बाद में अपने शरीर की सफाई। अपने यौन अंगो की सफाई पर ध्यान देने की जरुरत है, खासकर प्राइवेट पार्टस की सफाई तो बहुत जरुरी है। इस मामले में डॉक्टर का कहना है कि संभोग के बाद महिलाओं को पेशाब जरुर करना चाहिए। डॉक्टर्स के इस बात के पीछें क्या वजह है आईये जानते हैं…
1. मूत्र संक्रमण का ट्रांसफर
शारीरिक संबन्‍ध बनाने के बाद ज्यादातर महिलाओं को मूत्र मार्ग में संक्रमण की शिकायत हो जाती है, जो कि खुद उनके ही पार्टनर दृारा ट्रांसमिट होती है। पुरुषों में शुक्राणु (वीर्य) और मूत्र एक ही मार्ग के माध्‍यम दृारा निकलते हैं, जिससे मूत्र संक्रमण संभोग दृारा आसानी से महिला साथी के जननांग में चला जाता है।


2. मूत्र मार्ग की सफाई
महिलाओं को संभोग करने के पहले और बाद में अपने यौन मार्ग की अच्‍छी तरह से सफाई करनी चाहिये जिससे किसी भी प्रकार के संक्रमण के फैलने का खतरा ना हो। इंटरकोर्स करने से ना सिर्फ मूत्र रोग बल्कि कई और संक्रमण भी शरीर में आसानी से प्रवेश कर सकते हैं। पुरुषों को कंडोम के इस्तेमाल से यौन संचारित रोगों से खुद और अपनी पार्टनर की दोनों सुरक्षा करने की सलाह दी जाती है।

3. संभोग से पहले खुद को जांच लें
पुरुषों को एक बार अपने प्राइवेट पार्ट्स को भली प्रकार से जांच लेना चाहिये कि कहीं उनमें घाव या छाले तो नहीं हो गए हैं। इस‍ी तरह से महिलाओं को भी देखना चाहिये। संभोग करने के बाद महिलाओं को एक बार टॉयलेट जरुर जाना चाहिये नहीं तो उन्हें मूत्र संक्रमण हो सकता है।
4. संभोग के बाद स्नान जरुरी
बेसिक हाइजीन रूल कहता है कि इंटरकोर्स करने से पहले अपने प्राइवेट पार्ट्स को हमेशा धो लें। ऐसा करने से आप किसी भी बीमारी पैदा करने वाले बैक्टीरिया या फंगस को बढ़ने से रोक देते हैं। संभोग करने के बाद हर किसी को दुबारा नहाना चाहिये, जिससे आप अपने शरीर पर लगी हुई गंदगी को साफ कर सकें और इन्फेक्शन से बच सकें।

5. साफ अंडरवेयर पहने
इंटरकोर्स करने के बाद हमेशा साफ कपड़े और अंडरवीयर ही पहनें। ऐसा इसलिए भी जरुरी है क्योंकि अगर आप वही अंडरगारमेंट पहनते हैं, तो उनमें मौजूद बैक्टेरिया आदि का आपके शरीर पर दुबारा से आने का खतरा रहता है।
6. पुरुषों को महिलाओं दृारा संक्रमण क्‍यूं नहीं होता?
महिलाओं के केस में मूत्रमार्ग और प्रजनन मार्ग दोनों ही अलग-अलग होते हैं। इसलिये उनके पार्टनर को संक्रमण होने के चांस काफी कम होते हैं। संभोग की वजह से किसी भी प्रकार का यौन संक्रमण ना हो इसलिये दोनों ही साथियों को अपने गुप्‍तागों को संभोग के पहले और बाद में धोना चाहिये।



आखिर क्यों संबंध बनाने के बाद जरूरी है पेशाब करना.!

हिन्द न्यूज़ डेस्क| वैसे तो आमतौर पर पति-पत्‍नी के बीच एक स्‍वस्‍थ रिश्‍ता बनाए रखने के लिये स्वस्थ यौन जीवन का भी होना बहुत जरुरी है. वे कपल्‍स जो टाइम ना होने की वजह से एक दूसरे के साथ कम समय बिताते हैं उनके रिश्‍ते में मजबूती नहीं होती. यह बहुत जरुरी है कि दोनों ही कपल्‍स अपनी सेक्‍स लाइफ को अच्‍छी बनाने के साथ-साफ उस प्रक्रिया को भी साफ सुथरा बनाएं, जिससे आगे चल कर दोनों को ही समस्‍या ना हो.आपको इस बात की जानकारी जरुर होनी चाहिये कि आपके पार्टनर के गुप्तांगों का स्‍वस्‍थ और साफ सुथरा होना काफी जरुरी है क्‍योंकि उसका सीधा संबन्‍ध आपके स्‍वास्‍थ्‍य से भी जुड़ा होता है.

यदि आपके पार्टनर के गुप्तांग संक्रमित हैं, तो आप भी उसी एक संक्रमण की वजह से संक्रमित हो सकती हैं.इसलिये यह बेहद जरुरी है कि सेक्‍स करने से पहले अपने प्राइवेट पार्ट्स को भली प्रकार से धो लिया जाए.पति-पत्‍नी के बीच एक स्‍वस्‍थ रिश्‍ता बनाए रखने के लिये स्वस्थ यौन जीवन का भी होना बहुत जरुरी है. वे कपल्‍स जो टाइम ना होने की वजह से एक दूसरे के साथ कम समय बिताते हैं उनके रिश्‍ते में मजबूती नहीं होती. यह बहुत जरुरी है कि दोनों ही कपल्‍स अपनी सेक्‍स लाइफ को अच्‍छी बनाने के साथ-साफ उस प्रक्रिया को भी साफ सुथरा बनाएं, जिससे आगे चल कर दोनों को ही समस्‍या ना हो.


आपको इस बात की जानकारी जरुर होनी चाहिये कि आपके पार्टनर के गुप्तांगों का स्‍वस्‍थ और साफ सुथरा होना काफी जरुरी है क्‍योंकि उसका सीधा संबन्‍ध आपके स्‍वास्‍थ्‍य से भी जुड़ा होता है.यदि आपके पार्टनर के गुप्तांग संक्रमित हैं, तो आप भी उसी एक संक्रमण की वजह से संक्रमित हो सकती हैं. इसलिये यह बेहद जरुरी है कि सेक्‍स करने से पहले अपने प्राइवेट पार्ट्स को भली प्रकार से धो लिया जाए.
इसलिए होती है महिलाओं के मूत्र मार्ग में जलन

इसलिए होती है महिलाओं के मूत्र मार्ग में जलन


महिलाओं में यह मिथ्‍या होती है कि योनि में दर्द या जलन होना सेहत के लिये खतरनाक है। कई महिलाएं मूत्र विसर्जन के दौरान योनि में जलन की शिकायत करती हैं। अकसर ऐसा संभोग के तुरंत बाद मूत्र विसर्जन करने से होता है।


शारीरिक सम्बन्ध दौरान इसलिए रोती है महिलाये
कई महिलाएं सोचती हैं कि लिंग के अंदर जाने से उनकी योनि की मांसपेशियों में खिंचाव होता है और दर्द के बाद बड़ी हो जाती हैं। सच पूछिए तो ऐसा कुछ नहीं होता। अगर संभोग के दौरान योनि थोड़ी बहुत खुल भी जायेगी, तो भी कुछ समय बाद वापस अपनी जगह आ जाती है। रही बात जलन की तो संभोग के समय निकलने वाला पदार्थ बेसिक होता है, जबकि मूत्र एसिडिक होता है।


संभोग के बाद अचानक अमलीय तत्‍व पड़ने के कारण जलन का अहसास होता है। कुछ महिलाएं मानती हैं कि संभोग के दौरान योनि के रगड़ने की वजह से ऐसा होता है. यह भी भ्रांति है। लेकिन हां अगर आपके मूत्र में संभोग नहीं करने के बाद भी जलन हो तो डॉक्‍टर को जरूर दिखायें।


कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.