Header Ads

स्तनपान के दौरान माएं पोषण का कैसे रखें ध्यान ?


स्तनपान के दौरान माएं पोषण का कैसे रखें ध्यान ?



https://healthtoday7.blogspot.com/
गर्भावस्था के दौरान तो माँ और होने वाले शिशु के स्वास्थ्य के लिए पोषक तत्वों और भोजन संबंधी सलाहें बहुत दी जाती हैं लेकिन स्तनपान के दौरान एक माँ को क्या खाना-पीना चाहिए और क्या नहीं, इस बारे में ज्यादा बातें नहीं की जातीं जबकि स्तनपान कराने वाली माँ को भी पोषक तत्वों की ज़रुरत होती है .आइये जानते हैं स्तनपान करवाने वाली माँ को रोज़ कितनी मात्रा में पोषक तत्वों का सेवन करना चाहिए :

1) उसकी खुद की ज़रूरतों के अनुसार

2) अपने शिशु के विकास के लिए

3) दूध के उत्पादन के लिए

4) दैनिक कार्यों की एनर्जी के लिए

कैलोरी : स्तनपान कराने वाली माँ को , प्रतिदिन 600 Kcal अधिक कैलोरी की आवश्यकता पड़ती है | इसके लिए दिन में 3 बार ज्यादा मात्रा में भोजन करने के बजाय , 5 से 7 बार थोड़ी कम मात्रा में भोजन करना उचित रहता है |

प्रोटीन : स्तनपान कराने वाली माँ को, प्रतिदिन लगभग 25 ग्राम(gms) अधिक प्रोटीन की आवश्यकता पड़ती है | प्रोटीन हड्डियों और मांसपेशियों के उचित विकास के लिए ज़रूरी होता है | इसके लिए ऐसी वस्तुओं का सेवन करना चाहिए जिनमें ज्यादा मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है | जैसे : अंडे और चिकेन, और शाकाहारी लोगों के लिए दूध और दूध से बने पदार्थ जैसे पनीर/चीज़ और धुली दालें, जैसे : मूंग और मसूर की दालें | अंडे के पीले भाग में कॉलिन (choline ) पाया जाता है जो शिशु के उचित विकास के लिए ज़रूरी होता है |

फैट : स्तनपान कराने वाली माँ को, भोजन में फैटी एसिड के लिए , उचित मात्रा में फैट का भी सेवन करना चाहिए | इसके लिए बादाम और अखरोट का सेवन करना चाहिए , इनमें अच्छे फैट , पाए जाते हैं जैसे monosaturated फैट , फैटी एसिड , ओमेगा 3 और ओमेगा 6 | यह फैट बढते बच्चे के सही दिमागी विकास के लिए ज़रूरी होते हैं | ध्यान रखें कि ज़रुरत से ज्यादा फैट के सेवन से माँ का वज़न भी बढ़ सकता है |

विटामिन और मिनरल : माँ के दूध में कुछ विटामिन और मिनरल माँ के खान-पान से बच्चे को मिलते हैं | इसके लिए ऐसी वस्तुओं का सेवन करना चाहिए जिनमें, विटामिन A, फोलिक एसिड ,थईमन (thiamine) , रिबोफ्लाविन( riboflavin ) , विटामिन C पाया जाता हो | जैसे : हरी पत्तेदार सब्जियाँ, गाजर , और फल जैसे : केला , सेब और नाशपाती |

स्तनपान कराने वाली माँ को तेज़ सुगंध वाली सब्जियाँ जैसे : फूलगोभी , शिमलामिर्च , कच्चे प्याज़ , लहसुन और अदरक का सेवन नहीं करना चाहिए | यह सब्जियाँ माँ के दूध को अलग स्वाद दे सकती हैं और हो सकता है , शिशु स्तनपान न करे |

फ्लूइड ( Fluids ) : बच्चे के लिए पर्याप्त मात्रा में दूध का उत्पादन हो सके , इसके लिए पर्याप्त मात्रा में फ्लूइड का सेवन करना ज़रूरी है | जैसे : पानी ,दूध , सब्जियों का ताज़ा रस , और ताज़े फलों का जूस|
Image result for स्‍तनपान
कुछ खाद्य पदार्थ ऐसे होते हैं जो लम्बे समय तक दुग्धपान कराने वाली माँ के भोजन में शामिल किये जाते हैं | यह क्षेत्रीय खाद्य पदार्थ माँ के दुग्ध के उत्पादन को बढाने में मदद करते हैं | हालाँकि कुछ खाद्य पदार्थ जिन्हें galactogogues कहते हैं , का रोल अभी तक पूरी तरह प्रमाणित नहीं हुआ है , परन्तु इनका कोई हानिकारक प्रभाव भी सामने नहीं आया है | यह खाद्य पदार्थ है, जैसे : जीरा , अजवायन , मेथी दाना , सोंठ , तिल के दाने , रागी , इत्यादि | यह खाद्य पदार्थ प्रोटीन ,आयरन , कैल्शियम , और B ग्रुप के विटामिन को , प्रदान करते हैं | यह रागी के दलिये , मेवे डालकर बनाये गए आटे के हलवे , गोंद के लड्डू , मेथी लड्डू और गुड जीरे के रूप में दुग्धपान कराने वाली माँ को दिए जाते हैं|डिस्क्लेमर: इस पोस्ट में व्यक्त की गई राय लेखक के व्यक्तिगत विचार हैं। जरूरी नहीं कि वे विचार या राय Momspresso.com (पूर्व में mycity4kids) के विचारों को प्रतिबिंबित करते हों .कोई भी चूक या त्रुटियां लेखक की हैं और Momspresso की उसके लिए कोई दायित्व या जिम्मेदारी नहीं है ।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.