Header Ads

जानिए महिलाओं सेक्स करने की चाहत


जानिए महिलाओं में क्यों कम हो जाती है सेक्स करने की चाहत
महिलाओं में सेक्स की उदासीनता के कई कारण हो सकते हैं। इसकी वजह उनकी बढ़ती उम्र के साथ कुछ और शारीरिक कारण भी हो सकते है।
सेक्स के प्रति महिलाओं के उदासीन होने के कुछ प्रमुख कारण हो सकते हैं जो इस प्रकार है:-
– महिलाएं आपसी संबधों में आई खटास की वजह से भी सेक्स के प्रति उदासीन हो सकती है। इसके कारणों में पार्टनर की सेक्स समस्या, उससे भावनात्मक संतुष्टि का नहीं मिलना, बच्चे का जन्म आदि कारण हो सकते है।

– नौकरी का तनाव, साथियो का दबाव और सेक्सुअलिटी पर मीडिया इमेज की वजह से भी सेक्स करने के प्रति नकारात्मकता आ सकती है।


– टेस्टोरॉन का स्तर गिरने से भी महिलाओं में सेक्स के प्रति अरूचि पैदा हो जाती है। किसी भी महिला में टेस्टोरॉन का स्तर 20 वर्ष की अवस्था में चरम पर रहता है और उसके बाद धीरे-धीरे बढ़ती उम्र के साथ कम होता चला जाता है। मीनपॉज होने तक यह इच्छा थोड़ी बहुत बनी रहती है।

– महिलाओं में सेक्स के प्रति अनिच्छा की वजह मेडिकल प्रॉबल्म भी हो सकती है। मानसिक बीमारी जैसे डिप्रेशन, तनाव या दवाब की स्थिति में भी यह इच्छा धीरे-धीरे घटने लगती है। साथ ही फाइब्रॉएड, और थायराइड जैसी बीमारियों में सेक्स की क्षमता मानसिक और शारीरिक तौर पर घटने लगती है। 

– सेक्स की इच्छा के घटने के कारणों में उन दवाईयों का इस्तेमाल भी हो सकता है जो अवसाद यानी डिप्रेशन को दूर करने के लिए ली जाती है। गर्भनिरोधक गोलियों का प्रयोग, ब्लड प्रेशर कम करनेवाली दवाईयों के इस्तेमाल से भी सेक्स की इच्छा कम हो जाती है। 
– औरतों में बढ़ती उम्र के साथ एंड्रोजन का स्तर कम होता चला जाता है जिससे महिलाओं में सेक्स की इच्छा गिरने लगती है। 
लड़कों से ज्यादा महिलाएं छिपकर करती हैं ये गंदा काम



पॉर्न देखना सभी को अच्छा लगता है चाहे वो लड़का हो या फिर लड़की. जी हाँ, हाल ही में एक ऐसी बात सामने आयी है, जिसे जानकार आप भी हैरान रह जाएंगे. ऐसा माना जाता है कि पॉर्न विडियो देखने में पुरुष ही सबसे आगे होते हैं. लेकिन एक रिपोर्ट के अनुसार, महिलाओं में भी पॉर्न विडियो देखने की उतनी ही ललक होती है जितनी पुरुषों में होती है. लड़कियों में भी इसे लेकर ज्यादा उत्सुकता होती है. आइये जानते हैं इसके बारे में.

दरअसल, पॉर्नहब की तरफ से डेटा जारी किया गया है जिसके अनुसार पुरुषों के मुकाबले महिलाएं पॉर्न देखने के मामले में ज्यादा दिलचस्पी रखती हैं. वे इसमें पुरुषों से 16 फीसदी आगे हैं. पॉर्नहब की बात करें तो दुनियाभर से 72 फीसदी ट्रैफिक स्मार्टफोन्स, टैबलट्स और अन्य मोबाइल डिवाइसेस मोबाइल से आता है. पॉप्युलर पॉर्न वेबसाइट ने दावा किया है कि मोबाइल डिवाइसेज से पॉर्न देखने वाली महिलाओं की संख्या पुरुषों से ज्यादा है.
इस पर पॉर्नहब का कहना है कि उम्र बढ़ने के साथ-साथ यह आंकड़ा भी बढ़ता जाता है. 55 साल से अधिक उम्र की महिलाएं पुरुषों के मुकाबले 40 फीसदी ऐसी चीजें ज्यादा पॉर्न देखती हैं जो महिलाएं 65 साल की उम्र से अधिक की हैं वें 66 फीसदी अधिक पॉर्न देखती हैं. वाकई ये आंकड़े चौंकाने वाले हैं जिन पर आपने कभी गौर नहीं किया होगा
पार्टनर से चिपक कर सोने से आपको भी होंगे ये फायदे

अपने पार्टनर को गले लगाने से काफी सुकून मिलता है ये तो आप जानते ही हैं और इससे रिश्ते भी मजबूत होते हैं. वहीं पार्टनर के साथ बेड शेयर करते हैं तो आपका रिलेशन और भी ज्यादा मजबूत है और एक दूसरे के साथ प्यार में कोई कमी नहीं आती. अक्सर लोग अपने पार्टनर की बाहों में सोना पसंद करते हैं. इसके पीछे कई कारण हैं जिन्हें हम बताने जा रहे हैं. पार्टनर से चिपककर सोने ये फायदे आप नहीं जानते होंगे.

* अगर आप किसी व्यक्ति को 10 सेकण्ड्स के लिए गले लगाते हैं तो आपकी रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है. वहीं पार्टनर को गले लगाने से आपका इम्म्यून सिस्टम और आपके शरीर का रेजिस्टेंस पावर बढ़ता है.

* पार्टनर के साथ चिपककर सोने से प्यार बढ़ता है और सारी चिंताएं दूर होती हैं. इससे ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है जिसके चलते आपके शरीर में गर्मी उत्पन्न होती है. जब ऐसा होता है तो आपके सोचने और याद करने की क्षमता बढ़ जाती है.

* पार्टनर के साथ जब भी चिपककर सोते हैं तो आप उस समय तनावमुक्त रहते हैं. लेकिन अकेले सोते हैं तो कई बा डिप्रेशन का शिकार भी हो सकते हैं. 

* पार्टनर की बाहों में सोने का एक प्यार भरा एह्साह होता है और अगर आप ऐसे ही सोते हैं तो इससे मन की सारी चिंताएं भी दूर होती हैं. आपको कभी भी अकेलेपन का एहसास नहीं होगा.
शारीरिक सम्बन्ध बनाते समय इस वजह से लड़कियों के हो जाते है ब्रेकफेल !



महिला हो या पुरुष, शारीरिक सम्बन्ध को लेकर तरह-तरह के शोध हुए हैं। और इसे लेकर महिलाओ पर रिसर्च की गयी और इसमें चौकाने वाले नतीजे सामने आये है।महिलाओं में शारीरिक सम्बन्ध बनाने की क्षमता पुरुषों से कहीं अधिक होती है। तो आइये जानते है की क्या कहती है रिसर्च ….

# एक महिला तब शारारिक संबंधो के लिए बहुत अधिक लालायित होती है जब उसमें अंडोत्सर्ग (ऑव्यलेशन) की प्रक्रिया चरम पर होती है। जब महिला का मासिक चक्र शुरू होता है तब उनकी कामुकता शीर्ष पर होती है।# कुछ समय पहले रिसर्च में शोधकर्ताओं ने बताया कि फील गुड फीलिंग्स के मामले में चॉकलेट और $क्सुअल अट्रैक्शन समान हैं।


# दोनों में ही एक रसायन पाया जाता है, जिसमें फिलाइलएथिलामाइन पाया जाता है। इसलिए लोगों को जितना मजा यौन आकर्षण और प्यार में आता है वही मजा चॉकलेट भी देती है
महिलाओं के प्राइवेट पार्ट में उठी खुजली की समस्या, अपनाए ये घरेलू तरीका…



बहुत सी महिलाओं को प्राइवेट पार्ट में खुजली की समस्या होती है। जिस वजह से वह बहुत ही परेशान रहती है। वैसे तो प्राइवेट पार्ट में खुजली होना आम है क्यूंकि PH के स्तर की वजह से खुजली चलती रहती है। लेकिन ज्यादा दिनों तक इस परेशानी को नज़रंदाज़ करना भी परेशानी को बढ़ा सकती है। खुजली की समस्या साफ़ साफी न रखने, ज्यादा मात्रा में चीनी का सेवन, कमजोर प्रतिरोधकता क्षमता आदि के वजह से होती है। इस खुजली समस्या से निजात दिलाने के लिए आज हम आपको कुछ ऐसे ही घरेलू नुस्खे बतायेंगे, तो आइये जानते है इस बारे में….

* 1 कप पानी में टी ट्री ऑयल मिलाकर इसमें 1 चम्मच जैतून का तेल मिक्स करें। इस मिश्रण को प्राइवेट पार्ट पर लगाएं। दिन में 2-3 बार इस्तेमाल करें और इस बात का ध्यान रखें कि गर्भवती औरतों का इसका इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। 


* गेंदे के पत्तों का पेस्ट प्रभावित जगह पर लगाने से फायदा मिलता है। इसके पत्ते बहुत आसानी से मिल जाते हैं और इस्तेमाल करने में भी आसान हैं। 

* दही किसी भी तरह की इंफैक्शन को दूर करने के लिए बैस्ट है। दही को फैंट कर रूई के फाहे की मदद से प्राइवेट पार्ट पर लगाएं। 1 घंटे बाद गुनगुने पानी से साफ कर लें। इस बात का ध्यान रखें कि दही में नमक या चीनी कुछ भी मिक्स नही करना है। 

* गर्म पानी में बोरिक पाउडर मिलाकर इसका घोल बना लें। इसे खुजली वाली जगह पर लगाए। इस बात का ध्यान रखें कि जलन हो तो तुरंत इसे साफ कर लें और दोबारा इस्तेमाल न करें। गर्भवती महिलाएं बेरिक पाउडर न लगाएं।
* दिन में कम से कम 3 से 4 बार नारियल का प्रभावित जगह पर लगाने से बहुत फायदा मिलता है।
शादी के बाद बोरिंग सेक्स को ऐसे बना सकते हैं मज़ेदार




सेक्स को लेकर दुनियाभर में कई तरह की रिसर्च होती हैं और नई नई बातें सामने आती हैं. सेक्स करने के कई सारे फायदे होते हैं और ये हर किसी के जीवन में अहम भी होता है. सेक्स से अक्सर लोग अपनी थकान, परेशानी जैसी चीज़ों को दूर कर लेते हैं सेक्स को एन्जॉय करने लके बहुत से तरीके होते हैं जिन्हे आप जानते ही होंगे. लेकिन शादी के बाद सेक्स को कैसे बेहतर बनाये रखना है ऐस आर्टिकल से जान सकते हैं. कुछ लोग मानते हैं शादी के बाद सेक्स लाइफ खत्म हो जाती है, इसी को ताज़ा रखने के लिए अपना सकते हैं ये तरीके जो बताने जा रहे हैं.
* हनीमून सेक्स : शादी के बाद हनीमून जरूर जाएँ. इससे आप एक दूसरे के करीब आते हैं और अकेले रहने पर सेक्स को कैसे भी एन्जॉय कर सकते हैं. 


* डेली सेक्स : शादी के बाद कुछ समय सेक्स डेली किया जाता है. रोज़ के बाकी कामों के साथ सेक्स भी जुड़ जाता है और ये बोरिंग होने लगता है. शादी के बाद डेली सेक्स करने के बजाये गैप दे कर करें. इससे मज़ा हमेशा बना रहेगा. 

* बच्चे के लिए सेक्स : कई लोग ये सोचते हैं बच्चे पैदा करना है तो सेक्स जरुरी है. इसके लिए कई तरीके इस्तेमाल करते हैं. लेकिन बच्चे के लिए सेक्स ना करके इसे एन्जॉय के लिए करें तो आनंद दुगना होगा. 

* पीरियड के बाद सेक्स : पीरियड्स के दौरान भी सेक्स किया जा सकता है क्योंकि इस दौरान महिलाओं में सेक्स इच्छा बढ़ जाती है. लेकिन पीरियड्स के बाद सेक्स को अधिक एन्जॉय किया जा सकता है. 

* जब घर पर कोई ना हो : घर पर कोई न हो तो भी आप सेक्स को बहुत ही अच्छे तरीके से एन्जॉय कर सकते हैं. इसके अलावा आप किंकि सेक्स को भी एन्जॉय कर सकते हैं.
इस उम्र की महिलाएं करती है सेक्‍स को सबसे ज्‍यादा एंजॉय

नई दिल्ली। उम्र के साथ सेक्स के अनुभव का खास संयोग होता है। एक निश्चित उम्र पर सेक्स का पहला अनुभव किसी भी इंसान की जिंदगी में आता है और समय के अनुसार वो बढ़ते हुए लगभग खत्म होने लगता है। उम्र के इसी पड़ाव में वो समय भी आता है जब इंसान के सेक्स करने की लालसा और क्षमता दोनों सबसे ज्यादा प्रभावशाली रहती है। उम्र का ये पड़ाव पुरूष और महिलाओं दोनों में अलग अलग होता है। तो आज हम आपको बतायेंगे कि, किस उम्र में आकर महिलायें सेक्स को सबसे ज्यादा एंजॉय करती है —

ये बात एक शोध के द्वारा पता की गयी है, जिसमें महिलाओं के सेक्स इच्छाओं को लेकर चौकाने वाले खुलासे हुए है। ऐसा माना जाता रहा है कि, महिलाएं 30 वर्ष के बाद सेक्स प्रति कम दिलचस्पी दिखाती है लेकिन लंदन में किये गये इस सर्वे ने इन दावों को खोखला साबित कर दिया है। इस शोध में जो बाते सामने आयी है वो वाकयी हैरान करने वाली है।

किस उम्र में महिलायें सबसे ज्यादा सेक्स के लिए उत्तेजित रहती है:
इस शोध के बाद जो बात सामने आयी है उसके अनुसार 34 साल की महिलायें सबसे ज्यादा सेक्स को एंजॉय करती है। इसके पिछे कई शारीरिका और सामाजिक कारण होते है। भारत में इस उम्र में ज्यादातर महिलायें शादी शुदा हो जाती है। ज्यादातर महिलाएं मां भी बन चुकी होती है। लेकिन ऐसी धारणा भी रहती है कि, इस उम्र में महिलाओं की सेक्स करने की इच्छा कम हो जाती है।

लेकिन इस शोध में इस बात की पुष्टी की गयी है कि, 34 साल की उम्र में महिलाएं सबसे ज्यादा सेक्स को एंजॉय करती है। इस उम्र में महिलाओं के भीतर कामोत्तेजना सबसे ज्यादा है। खास शारीरिक बनावट और दिमागी तौर पर परिपक्व हो जाने के कारण इस उम्र में महिलाएं सेक्स के दौरान खासी सहज हो जाती है जो कि इंटमेट होते समय उन्हें सबसे ज्यादा एंजॉय के पल देता है।

कैसे हुए शोध :

आपको बता दें कि, इस शोध में तकरीबन 1000 महिलाओं को शामिल किया गया। इस शोध में उन सभी महिलाओं से उनकी सेक्स लाइफ के बारे में सवाल किये गये। इसके अलावा उनसे एक्सट्रा मैरिटल अफेयर और अन्य पार्टनर के साथ सेक्स किये जाने के बारे में भी सवाल पुछे गये। जिसके बाद ये परिणाम निकला कि, 34 वर्ष की उम्र में उन्होनें सबसे ज्यादा सेक्स को एंजॉय किया।

क्या कहा महिलाओं ने:

शोध में पुछ गये सवालों के जवाब में महिलाओं ने बड़े ही दिलचस्प जवाब दिये। जिनमें से 56 प्रतिशत महिलाओं ने इस बात की पुष्टी की उन्होनें 30 साल की उम्र के बाद सबसे ज्यादा सेक्स को एंजॉय किया। इस शोध में ये भी बात पता चली कि, 28 से 38 साल तक की उम्र में वो सबसे ज्यादा सहजता के साथ सेक्स को एंजॉय करती है।

बढ़ते उम्र के साथ सेक्स का मजा:


ऐसी धारणा लोगों के दिमाग में होती है कि, जैसे जैसे उम्र बढ़ती जाती है लोग सेक्स के प्रति उदासीन हो जाते है। लेकिन इस शोध में शामिल महिलाओं ने इस बात को स्वीकार किया है कि, जब उम्र बढ़ रही थी तो उन्होनें सबसे ज्यादा सेक्स को एंजॉय किया। इनमें से कुछ महिलाएं 45 से 60 वर्ष के बीच की भी थी। वहीं कुछ महिलाओं ने अपने रियल पार्टनर के बजाय एक्सट्रा मैरिटल अफेयर में सबसे ज्यादा सेक्स को एंजॉय करने की बात को स्वीकारा है। इन महिलाओं की शादी कम उम्र में ही हो गयी थी। जिसके बाद 30 की उम्र पार करने के बाद इन्हें इस बात की अनुभूति हुई
तो इसलिए महिलाएं ओरल सेक्स ज्यादा पसंद करती हैं
सेक्स करना सभी को पसंद होता है और एक उम्र के बाद इसकी जरूरत सभी को होने लगती है. महिला हो या पुरुष इसे काफी एन्जॉय करते हैं. वाहन बात करें ओरल सेक्स की तो पुरुषों को ये पसंद होता ही हैं साथ ही महिलाएं भी इसे कुछ कम पसंद नहीं करती. ऐसे ही एक शोध में ये पता चला है कि ओरल सेक्स टीनएजर्स में काफी कम हो रहा है. वहीं युवाओं में ओरल सेक्स का क्रेज़ अब भी काफी बना हुआ है. साथ ही ये भी पता चला है महिलाओं को ओरल सेक्स क्यों पसंद होता है. बता दें ऐसा क्यों हैं.
यह शोध अमेरिका में नेशनल हेल्थ स्टैटिक के द्वारा किया गया था जिसमें यह बताया गया है कि टीनएजर्स में ओरल सेक्स करने प्रवृति में कमी आई है मगर इसके विपरित यंगस्टर्स में ओरल सेक्स करना बहुत अधिक पंसद है. रिपोर्ट में सामने आया है कि 15 से 24 साल की आयु के बीच में दो तिहाई लोग ही ओरल सेक्स करते हैं. इसी उम्र की लड़कियों ने भी सेक्स के पहले ओरल सेक्स किया था. 26 प्रतिशत लड़कियों ने पहले सेक्स किया और 27 प्रतिशत लड़कियों ने सेक्स के बाद ओरल का आनंद लिया.

इसमें 7.4 प्रतिशत लड़कियां ऐसी भी थी जिन्होंने सेक्स और ओरल सेक्स दोनों का ही आंनद लिया. रिपोर्ट में सामने आया है कि आज कल के युवा वर्ग के लिए ओरल सेक्स एक हवा कि तरह मानते हैं कि यह कैसे होता है. लड़कों की तुलना में लड़कियां ओरल सेक्स को ज्यादा प्राथमिकता देती हैं. इसका सीधा कारण यह है कि वे प्रेग्नेंसी और अन्य यौन बीमारियों से बचना चाहती हैं. वहीं आपको बता दें कि लड़किेयों को मुख मैथुन बहुत अधिक पंसद होता है. 

गर्भावस्था में हुए स्ट्रेच मार्क्स को मिटाने के लिए आजमाएं ये घरेलू नुस्खे!!

गर्भवस्था में महिलाओं के पेट और जांघो पर स्ट्रेच मार्क्स पड़ जाते है। स्ट्रेच मार्क्स के निशान ज्यादातर पेट, या फिर जांघों पर दिखाई देते हैं। इनकी वजह से लड़कियां ऑफ शोल्डर या साड़ी पहनने से तौबा कर देती है। इनसे छुटकारा पाने के लिए लड़कियां बहुत से ट्रीटमेंट और क्रीम का सहारा लेती है लेकिन इनका कोई फायदा दिखाई नहीं देता। अगर आप भी स्ट्रेच मार्क्स से छुटकारा पाने की हर मुमकिन कोशिश कर चुकी है तो हम आपको कुछ घरेलू नुस्खे बताएंगे जो आपकी इस समस्या को झट से गायब कर देंगे। आइये जानते है इन नुख्सो के बारे में .... 

# स्ट्रेच मार्क्स वाली जगह पर एलोवेरा जैल को स्ट्रेच मार्क्स पर लगाएं। फिर 2-3 घंटे बाद इसे धो लें। ऐसा रोजाना करें। ऐसा रोजाना करने से निशान मिट जाएगे।

# अंडे के सफेद भाग को स्ट्रेच मार्क्स पर लगाएं और 15 मिनट तक रहने दे। फिर पानी से धो लें। इससे भी काफी फायदा नजर आएगा। ऐसा रोजाना करने से निशान मिट जाएगे।

# कैस्टर ऑयल यानी अरंडी का तेल, इसे स्ट्रेच मार्क्स वाली जगह पर लगाएं और अच्छे से मसाज करें। मसाज करने के बाद किसी तौलिए को गर्म करके या फिर बोतल में पानी भरकर उस जगह को गर्माहट दें। ऐसा लगातार करें स्ट्रेच मार्क्स निकल जाएंगे।

# स्ट्रेच मार्क्स वाली जगह पर कोकोआ मक्खन लगाकर मालिश करें। ऐसा दिन में 2-3 बार करें। ऐसा रोजाना करने से निशान मिट जाएगे।

# जैतून के तेल में चीनी मिला लें। फिर इस पेस्ट को 10-15 मिनट तक स्ट्रेच मार्क्स पर लगाएं। इस पेस्ट को एक हफ्ते में 3-4 बार लगाएं। ऐसा रोजाना करने से निशान मिट जाएगे।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.