Header Ads

दांतों की देखभाल

दांतों की देखभाल

मुख की दुर्गन्ध दूर करने का उपाय, आपके लिए कौन सा है बेस्ट

आपकी पर्सनालिटी केवल कपड़े और मेअकप से नहीं डिसाइड होती बल्कि आपकी समझ और आपका स्वास्थ कैसा है उससे भी आपकी पर्सनालिटी निर्धारित होती है। मुख की दुर्गन्ध एक मिनट में आपकी पर्सनालिटी को तहस-नहस कर सकती है। इसलिए यदि मुंह में बदबू आ रही तो आपको नीचे दिए गए कुछ घरेलू उपाय को अपना सकते हैं।
ग्रीन टी का इस्तेमाल


एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर ग्रीन टी आपकी त्वचा और पेट के लिए बहुत ही अच्छा पेय पदार्थ है। अपने आपको स्वस्थ्य रखने के लिए आपको रोजाना एक कप ग्रीन टी का सेवन जरूर करना चाहिए। इससे वजन भी कम होता है। इसके अलावा ग्रीन टी के इस्तेमाल से मुंह की बदबू को कम करने में सहायता मिलती है। इसमें एंटीबैक्टिुरियल कंपोनेंट होते हैं जिससे दुर्गंध दूर होती है।
पर्याप्त पानी का सेवन
यदि आप मुंह से बदबू हटाने के उपाय के बारे में सोच रहे हैं तो आप ज्यादा से ज्यादा पानी पीना शुरू कर दीजिए। पानी न पीने की वजह से न केवल डिहाइड्रेशन होता है बल्कि इससे मुंह में बदबू भी आती है। आपको बता दें कि पानी पीने से न केवल मुंह फ्रेश बना रहता है बल्कि दांत में फंसे खाने के तत्व निकल जाते हैं। इससे मुंह में खाना सड़ता नहीं है और मुंह बार-बार साफ होता रहता है जिससे बदबू नहीं आती है।
अनार का छिलका

अनार फल को कई तरह की बीमारियों में एक पौष्टिक फल माना गया है। अनार का उपयोग कई प्रकार के कैंसर, कार्डियोवैस्कुलर बीमारी, ऑस्टियोआर्थराइटिस, रूमेटोइड गठिया, और अन्य बीमारियों की रोकथाम और उपचार में किया जा सकता है।

इसके अलावा यह मुंह या सांस की बदबू को भी दूर कर सकता है। इसके लिए अनार के छिलके को सबसे पहले पानी में उबाल लें और उस पानी से कुल्ला करने से मुख की बदबू दूर हो जाती है।
सरसों के तेल और नमक से मसाज

सरसों का तेल और नमक एक पुराना घरेलू उपचार है जिसका उपयोग आपके मसूड़ों को साफ करने और दांतों पर प्लाक को हटाने तथा मुख की दुर्गन्ध दूर करने के लिए किया जाता है। नियमित रूप से सरसों के तेल में चुटकीभर नमक मिलाकर मसूड़ों की मसाज करने से मसूड़े स्वस्थ रहते हैं और बदबू पनपने का खतरा भी कम हो जाता है।
तुलसी की पत्तियां है फायदेमंद

हिंदुओं में तुलसी को एक पवित्र पौधा माना गया है लेकिन इसके आयुर्वेदिक और औषधीय गुण अनेक है। यह आपके दांत और मुंह के लिए बहुत ही गुणकारी है। तुलसी की पत्तियों को चबाने से दांत गिरने की समस्या को रोका जा सकता है।

इसके अलावा तुलसी की पत्ती चबाने से मुंह की बदबू भी दूर हो जाती है। साथ ही मुंह में अगर कोई घाव है तो तुलसी उसके लिए भी लाभकारी है। – 

अमरूद की पत्तियां
अमरूद के पत्तियां औषधीय रूप से बहुत ही उपयोगी है। अमरूद के पेड़ की पत्तियां एंटीऑक्सीडेंट, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-बैक्टीरियल गुण के लिए जाना जाता है, जिसमें कई तरह के स्वास्थ्य लाभ मौजूद है। आप अमरूद की कोमल पत्तिसयों को चबाकर मुंह की दुर्गंध पलभर में दूर कर सकते हैं।
लौंग भी है असरदार


आज भी लोग दाँत के दर्द के लिए लौंग के तेल का उपयोग करते हैं। इसमें पाया जाने वाला यूजीनॉल (लौंग के तेल के अंदर एक घटक) दर्द से राहत प्रदान करता है। यूजीनॉल एक प्राकृतिक एनेस्थेटिक और जीवाणुरोधी है, और यह मुंह में सूजन को कम करने के लिए अच्छी तरह से काम करता है। इसके अलावा मुंह में लौंग रखकर चूसने से बदबू भी कम होती है।
नियमित तौर पर करें दांत की सफाई
मुंह की बदबू दूर करने के उपाय के बारे में यदि आप सोच रहे हैं तो सबसे पहले आपको अपने दांत की सफाई और उसकी सुरक्षा के बारे सोचना चाहिए क्योंकि दांत साफ न होने की वजह से ज्यादातर मुंह से बदबू आती है।

इसलिए किसी भी उपाय को अपनाने से पहले आप अपने दांतों को दिन में दो बार अच्छी तरह ब्रश करके साफ करे। इसके अलावा टंग क्लीनर से जीभ को साफ करना भी जरूरी है, क्योंकि खाने-पीने की वजह से जीभ पर एक परत जमती जाती है, जो बदबू का कारण बन सकती है। – 

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.