Header Ads

दांतों की देखभाल

दांतों की देखभाल
मसूड़ों में इन्फेक्शन को दूर करने के 5 घरेलू उपाय 
कभी-कभी, खराब दंत स्वच्छता आदतों के परिणामस्वरूप मसूड़ों में इन्फेक्शन की समस्या देखने को मिलती है। गम बीमारी, एक ऐसी स्थिति है जो ऊपरी या निचले मसूड़ों को प्रभावित करती है। इस प्रकार के संक्रमणों के लक्षण ध्यान देने योग्य हैं। वह लाल और सूज जाते हैं। कुछ आसान घरेलू उपाय है जिसकी मदद से आप गम रोग से छुटकारा पा सकते हैं।
बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा एक प्राकृतिक एंटासिड है जो दांत या मसूड़े के रोग में बहुत ही फायदा पहुंचाता है। मौखिक स्वास्थ्य के लिए, बेकिंग सोडा एक बड़ी सहायक हो सकती है। बेकिंग सोडा का उपयोग करने से मसूड़े की सूजन दूर हो सकती है।

यह गम संक्रमण के इलाज के लिए भी एक अच्छा विकल्प बन सकता है। मसूड़ों में इन्फेक्शन को दूर करने के लिए आप एक बड़ा चम्मच बेकिंग सोडा लीजिए और उसमें एक छोटा चम्मच पानी मिलाइए। आप इसे अच्छी तरह से मिक्स कर लीजिए और एक मोटा पेस्त बनाएं। फिर आप इस पेस्ट कुछ मिनट के लिए अपने मसूड़े पर लगाइए। यह इंफेक्शन के लिए बहुत ही आसान उपाय है।
आलू प्यूरी


मसूडे की समस्या में आलू बहुत ही गुणकारी है। आलू पौष्टिक, स्वादिष्ट और तैयार करने में आसान होता हैं। हालांकि, कुछ लोग इस तथ्य से अवगत हैं कि इसके उपचार गुण भी हैं।

इंफेक्शन के इलाज के लिए आलू का उपयोग करने के तरीकों में आप इसका प्यूरी बना सकते हैं। प्यूरी सूजे हुए मसूड़ों के इलाज के लिए बहुत अच्छा होता है, खासकर अगर आप कच्चे आलू का उपयोग करते हैं।इसके लिए आप दो आलू छील लीजिए और उसके टूकड़े कर लीजिए।

फिर उसमें आधा कप गर्म पानी डालकर उसे तब तक मैश कीजिए जब तक वह प्यूरी न बन जाए। इसके बाद इस प्यूरी को जहां मसूड़े में इंफेक्शन है वहां लगाइए। इसे आप रात में लगाकर छोड़ दीजिए बहुत ही असरदार साबित होगा। 
शहद की चाय


शहद में कई ऐसे गुण मौजूद होते है जो आपको कई बीमारियों से दूर रखते हैं। मसूड़े में इंनफेक्शन को दूर करने के लिए शहद की चाय बहुत ही असरदार है। यह चाय किसी भी संक्रमण के लिए उपचार प्रक्रिया को तेज कर सकती है।

इसके लिए आप एक कप पानी को गर्म करें और उसमें एक टी बैग को डालें। फिर टी बैग को हटा दीजिए और फिर उसमें एक छोटा चम्मच शहद डालिए। आप अपनी इच्छा अनुसार उसमें दो चम्मच शहद भी डाल सकते हैं। ठंड़ा होने के बाद आप इस चाय को पीजिए आपको बहुत ही आराम देगा।
हाइड्रोजन पेरॉक्साइड
लोग मुंहासों से छुटकारा पाने के लिए आप हाइड्रोजन परॉक्साइड का इस्तेमाल कर सकते हैं, इसका इस्तेमाल मुंहासों को दूर करके चेहरे की रंगत निखारता है। इसके अलावा हाइड्रोजन परॉक्साइड कोई रहस्य नहीं है, हाइड्रोजन पेरोक्साइड किसी भी चोट के लिए एक आम पसंद है।

यह मसूड़ों के लिए भी काम करता है और मसूड़े की सूजन के खिलाफ प्रभावी है। यह किसी भी दवाई की दुकान पर आसानी से मिल जाता है।इसके लिए आप एक छोटे से गिलास में दो बड़े चम्मच हाइड्रोजन परॉक्साइड को डालिए। फिर उसके बाद उसमें दो बड़े चम्मच पानी ड़ालिए और अच्छी तरह से मिलाइए। फिर मिक्सचर से रात में ब्रश करने के बाद गरारे कीजिए।
माउथवाश


हम जीवाणुरोधी प्लाक से लड़ने के लिए माउथवाश का उपयोग करना चाहिए। प्लाक का निर्माण ही गम रोगों या मसूड़े के रोगों का मुख्य कारण है, जैसे कि गिंगिवाइटिस और पायरिया। प्लाक से लड़ने में माउथवाश बहुत ही उपयोगी है।
इसके लिए आप दो टेबलस्पून माउथवाश लीजिए और उसमें एक बड़ा चम्मच पानी मिलाइए। आप उसमें थोड़ा नमक भी मिला सकते हैं। उसे अच्छी तरह से मिलाकर गरारे कीजिए आपको बहुत ही फायदा मिलेगा।


दांतों की देखभाल
दांत दर्द में तुरंत आराम देंगे ये घरेलू उपाय
https://healthtoday7.blogspot.com/



कई बार दांतों में अचानक दर्द होने लगता है। यह दर्द इतना ज्यादा हो जाता है कि हम पूरी तरह से बेचैन हो जाते हैं। ऐसी स्थिति में हमारे पास तत्काल राहत के लिए दवा नहीं होती है जिससे दर्द से छुटकारा पाया जा सके।
https://healthtoday7.blogspot.com/
इसलिए दांत दर्द में तुरंत आराम के लिए कुछ घरेलू उपाय के बारे में चर्चा करेंगे। दांत दर्द की वजह से कई अन्य समस्या जन्म ले सकती है। अगर समय पर इसका इलाज नहीं किया गया, तो दांतों में सड़न जैसे गंभीर समस्याएं उत्पन हो सकती है। आइए घरेलू उपाय पर नजर डालते हैं।
प्याज

प्याज एक और रूट की सब्जी है जो दांत दर्द से राहत देने में सहायता कर सकती है। इसके लिए आपको एक कच्चा प्याज चबाना होगा। इससे दांतों के दर्द में आराम मिलता है। बस कुछ मिनट के लिए ताजे प्याज के एक छोटे टुकड़े को चबाने से बहुत ही आराम मिलता है। –
दांत दर्द का घरेलू इलाज है सेब का सिरका
https://healthtoday7.blogspot.com/


सेब के सिरके में एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं बल्कि यह अम्लीय है, यह आपके दांत दर्द के कारण होने वाले बैक्टीरिया को भी मारता है। इसके लिए आप सेब के सिरके में कॉटन बॉल को भिगोकर दांत दर्द वाली जगह पर रख दें। आपको तुरंत आराम मिलेगा।
सरसो का तेल
https://healthtoday7.blogspot.com/
सरसो का तेल यह आपके मसूड़ों और दांतों को मजबूत करता है और प्लाक को हटाने में आसान बनाता है। प्लाक बैक्टीरिया से बना है जो फैटी झिल्ली से घिरा हुआ है। दांत दर्द में तुरंत आराम के लिए आप तीन से चार बूंद सरसो के तेल में एक चुटकी नमक डालकर दांतों व मसूड़ों पर मसाज करें। इससे न केवल दांतों में दर्द से आराम मिलता है बल्कि मसूड़े भी मजबूत होते हैं।
दांतों को आराम पहुंचाए लौंग


https://healthtoday7.blogspot.com/
लौंग कई वर्षों तक खाना पकाने और पारंपरिक दवाओं में इस्तेमाल किया जाता रहा है। लौंग एंटीऑक्सीडेंट, एंटीसेप्टिक, एनेस्थेटिक, एंटी-इंफ्लेमेटरी के लिए जाना जाता है। दांतों में दर्द हो तो मुंह में लौंग रखने से राहत मिलती है। तेज दर्द के दौरान दर्द वाले हिस्से पर लौंग का तेल लगाना बेहद लाभकारी है। इससे बहुत ही राहत मिलती है। –
https://healthtoday7.blogspot.com/
खीरे के लाभ में स्वस्थ त्वचा, कब्ज से राहत, मधुमेह, गुर्दे की समस्याएं, एसिडिटी और सनबर्न की समस्या को दूर करना शामिल है। आपने शायद इससे पहले सुना है कि दर्द और सूजन के लिए घरेलू उपचार के रूप में खीरा का उपयोग लोकप्रिय है। एक ठंडा खीरा का टुकड़ा दांत दर्द के खिलाफ बहुत ही अच्छा काम करता है।
दांत के दर्द का प्राकृतिक उपचार है आलू



आलू ग्रह पर सबसे आम और महत्वपूर्ण खाद्य स्रोतों में से एक हैं। माने या नहीं, एक कच्चा आलू अतिरिक्त नमी को अवशोषित कर सकता है और सूजन को कम करने में मदद करता है। दांतों में दर्द के साथ सूजन हो तो आलू छीलकर उसकी स्लाइस उस भाग पर 15 मिनट तक रखें, तुरंत राहत मिलेगी।
टी बैग
https://healthtoday7.blogspot.com/
एक साधारण टी बैग दांत के लिए एक प्रभावी प्राकृतिक उपाय है। टी बैग दांत दर्द के उपचार और दांत दर्द से जुड़े दर्द को कम करने में मदद कर सकता है। इसके लिए गर्म पानी में टी बैग्स रखें और उससे दर्द वाले भाग की सेंकाई करें, दांतों के दर्द में आराम होगा।
दांतों के दर्द को दूर भगाने के लिए लहसुन



लहसुन लंबे समय से शरीर और दांतों के लिए अच्छा माना जाता है। इसमें मौजूद एलिसिन इसे एंटीफंगल, एंटीवायरल और जीवाणुरोधी बनाता है। एलिसिन को दांद दर्द से लड़ने में मदद करने के लिए जाना जाता है।
https://healthtoday7.blogspot.com/
यह खराब बैक्टीरिया को नियंत्रित करता है जो कैविटी रोग और मसूड़े के रोग जैसी दांत रोग का कारण बनता है। लहसुन कली को नमक में डुबोकर चबाएं, दांतों के दर्द में आराम होगा। रोज सुबह लहसुन का एक कली चबाने से दांत मजबूत रहते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.