Header Ads

दांतों की बीमारी के लिए नीम के फायदे

दांतों की देखभाल
दांतों की बीमारी के लिए नीम के फायदे


आयुर्वेद की दुनिया में, नीम एक लोकप्रिय औषधीय जड़ी बूटी है जो पारंपरिक उपचार का हिस्सा रही है और जो लगभग 5000 साल से है। नीम के पत्तों के महत्वपूर्ण स्वास्थ्य लाभों में डैंड्रफ़ का इलाज करने, जलन को शांत करने, त्वचा की रक्षा करने, प्रतिरक्षा प्रणाली या इम्यूनिटी को बढ़ावा देने और सूजन को कम करने की क्षमता शामिल है।

यह घाव के उपचार को भी गति देता है, गैस्ट्रिक स्थितियों का इलाज करता है, बुढ़ापे की प्रक्रिया धीमा करता है, बालों और स्कैल्प के स्वास्थ्य में सुधार करता है और कैंसर और डायबिटीज के विभिन्न रूपों का भी इलाज करता है। आज हम दांतों के लिए नीम के फायदों के बारे में बात करेंगे।
दांतों की बीमारी के लिए नीम के फायदे

नीम भारतीय उपमहाद्वीप में मौखिक स्वास्थ्य उत्पादों में एक घटक के रूप में बहुत लोकप्रिय है। इसके जीवाणुरोधी गुण मसूड़ों के नीचे बैक्टीरिया को खत्म करने के लिए जाने जाते हैं। दांतों पर तथा मुंह में मौजूद तमाम तरह के बैक्टीरिया ही मुंह की बदबू के सबसे बड़े कारक होते हैं। ऐसे में नीम का दातुन इन सभी बैक्टीरिया को खत्म करने में काफी फायदेमंद होता है।

दांतों को लेकर नीम के फायदे से कोई अनजान नहीं है। नीम की पत्तियां जहां संक्रमणरोधी होती हैं, वहीं नीम के दातुन दांतो के लिए एक वरदान की तरह होते हैं। दांतों में किसी भी प्रकार की तकलीफ हो नीम के दातुन के पास उन सबका इलाज मौजूद होता है। मुंह की दुर्गंध भी आजकल लोगों की एक अहम समस्या है।

नीम के दातुन से दांत काफी मजबूत होते हैं। साथ ही साथ उनमें कोई भी रोग लगने की संभावना लगभग खत्म हो जाती है।
दांतों के लिए नीम का कैसे करें उपयोग
दांतों के लिए नीम छाल का पाउडर

नीम छाल का पाउडर एक प्राकृतिक एंटीमाइक्रोबायल उपचार है जो प्राकृतिक दांतों को सफ़ेद बनाता है और आपकी सांस को ताजा करने में मदद करता है। इसके अलावा, नीम छाल का पाउडर बैक्टीरिया से निपटने में मदद करता है। आपको बता दें कि ये बैक्टीरिया, कैविटी, सूजन और गम की बीमारी का कारण बन सकता है।
नीम की पत्तियां

कच्ची नीम की पत्तियां मुंह के बदबू को खत्म करने में मदद कर सकती हैं और बैक्टीरिया, प्लाक या टारटर को दूर करती है।
नीम के दातुन

दांतों को सफेद और चमकदार बनाने के लिए आप नियमित रूप से नीम के दातुन से ब्रश कीजिए। यह दंत रोग से लड़ने में भी मदद करता है। यह दांत विकारों या कैविटी की शुरुआत को रोक सकता है।
नीम के पत्तों को उबालें

दांत को सफेद करने के लिए नीम का उपयोग करने के तरीकों में एक तरीका यह है कि आप पानी के कटोरे में नीम के पत्ते को अच्छी तरह से उबालें। फिर इस पानी से गरारे कीजिए। यह मुंह की बैक्टीरिया को खत्म करने में सहायता करता है। स्वाभाविक रूप से सफेद दांतों को चमकाने के लिए आप इसे नियमित रूप से करें।
नीम का टूथपेस्ट

नीम अधिकांश हर्बल-आधारित टूथपेस्ट में मौजूद होता है। आप अपने दांतों को ब्रश करने के लिए ऐसे टूथपेस्ट का उपयोग कर सकते हैं। ऐसे उत्पादों का नियमित उपयोग आपको स्वस्थ, साफ और सफेद दांत देगा।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.