Header Ads

क्या आपका पेट फूल रहा है?


क्या आपका पेट फूल रहा है? पेट की सूजन घटाने के 9 आश्चर्यजनक नेचुरल तरीके

पेट की सूजन कम करने के लिए आपको कई बातें ध्यान में रखनी होंगी। इसके सबसे आम कारणों में से एक है कब्ज। इसलिए पेट की समस्याओं से बचने के लिए अपना पाचन दुरुस्त रखना बहुत ज़रूरी है।
बहुत से लोग जो अपना वजन कम करना चाहते हैं, पेट की सूजन (abdominal inflammation) को भी घटाने की कोशिश में जुटे होते हैं। क्योंकि कई किलो वजन घटा लेने के बाद भी पेट फूलना कम कर पाना बहुत टेढ़ी खीर होती है।

आज के इस आर्टिकल में हम भोजन और कुछ दूसरी असरदार टिप्स की मदद से 15 दिनों में पेट की सूजन कम करने के लिए 9 आसान लेकिन आश्चर्यजनक टिप्स शेयर करना चाहते हैं।
पेट की सूजन घटा पाना इतना मुश्किल क्यों है?
इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप अपना वजन कम कर रहे हैं या पहले से ही दुबले-पतले हैं, कभी-कभी पेट की सूजन से छुटकारा पाना मुश्किल होता है। यह याद रखना जररूरी है कि यह स्थिति आपके हार्मोन, आपके पाचन, यहां तक कि आपके पोस्चर की वजह से भी हो सकती है।

कोई भी असंतुलन आपके पेट और कमर की सूजन का कारण बन सकता है। आपको यह भी पता लगाना होगा कि इन गड़बड़ियों का कारण क्या हैं और अपने संतुलन को वापस कैसे पाया जाये।
1. खाना धीरे-धीरे और चबाकर खायें (Eat slowly and chew your food)


पेट की सूजन की सबसे बड़ी वजहें कुछ पाचन से जुडी समस्यायें होती हैं। कई मामलों में यह इसलिये भी होता है क्योकि लोग खाना ठीक से चबा-चबाकर नहीं खाते हैं।

याद रखें, पाचन आपके मुंह में बनने वाले लार के साथ ही शुरू हो जाता है, खासकर जब आप कार्बोहाइड्रेट का सेवन करते हैं।

इस कारण अगर आप भोजन चबाकर खाते हैं, जब तक कि यह लगभग पूरी तरह से तरल न बन जाये, तो आपको अपने पाचन और पेट का आकार, दोनों में बड़ा सुधार देखने को मिलेगा।

स्वास्थ्य के लिये सबसे अच्छा यही है कि हड़बड़ी, बातचीत या बहस से बचते हुए एक आरामदेह माहौल में बिना ध्यान इधर-उधर भटकाये तसल्ली से खाना खायें।

2. नाश्ते में स्मूदी (Breakfast smoothies)

ज्यादातर लोग अपने खाने को अच्छी तरह से नहीं चबाते हैं। ऐसे में, जब आप ब्लेंडेड फूड की जगह हेल्दी फ़ूड लेते हैं तो पेट की सूजन को और बेहतर ढंग से घटा पाते हैं।

स्मूदी इसका एक अच्छा विकल्प है, जिसे आप नीचे बतायी गयी चीजों को मिलाकर तैयार कर सकते हैं:
फल
हरी पत्तेदार सब्जियां
मेवे और बीज (Nuts and seeds)
दूध या शुद्ध नारियल तेल
जई (Oats)
शुद्ध कोको पाउडर

हर सुबह एक बढ़िया स्मूदी का सेवन करना खुद को भूखा रखे बिना वजन घटाने में मदद करता है और आपको पूरे दिन के लिए जरूरी ऊर्जा भी देता है।
3. रात के खाने में सूप और गैज़्पाचो लें (soups and gazpacho for dinner)

रात में भी आप ठीक उसी तरह की डाइट ले सकते हैं जैसा कि ऊपर बताया गया है। इसके लिए वेजिटेबल सूप या गैज़्पाचो जैसा ताजा वेजिटेबल जूस तैयार कर सकते हैं।
जब आप इसे सॉफ्ट प्रोटीन (लीन मीट, मछली, अंडे, ताजा पनीर, एवोकैडो या नट्स) के साथ परोसते हैं, तो आपको एक पूरा और संतुलित डिनर मिलता है।

सुबह के समय फूले हुए पेट के साथ उठने से बचने के लिये जरूरी है कि आप रात का खाना हल्का और थोडा जल्दी खा लें।
4. मसालों के साथ प्रयोग (Experimenting with spices)


मसालों की एक बहुत बड़ी संख्या है जो आपके खाने के स्वाद को बढ़ाने के अलावा आपके पाचन में सुधार करने, मेटाबोलिज्म दुरुस्त करने और पेट की गैस से लड़ने में मदद करते हैं। ये तीनों चीजें पेट की सूजन घटाने में मदद कर सकती हैं।

हम आपको नीचे बताये गये मसालों का उपयोग करने की सलाह देते हैं:
सौंफ (Fennel)
जीरा (Cumin)
लाल मिर्च (Cayenne pepper)
अजवाइन (Oregano)
तुलसी (Basil)
5. मिठाई के बजाय डाइजेस्टिव टी
जब आपका पेट कम करने और वजन घटाने के साथ-साथ पूरी सेहत को अच्छा बनाए रखने की बात आती है तो आपके खाने में शामिल चीज़ें महत्वपूर्ण हो जाती हैं।

इसलिए आपको एक साधारण डिनर खाना चाहिए, इसमें प्रोटीन और डेज़र्ट के रूप में फल और मिठाइयां मिलाये बिना।

ज्यादा बेहतर होगा कि दोपहर के नाश्ते के बाद स्नैक के रूप में मिठाई का सेवन करना छोड़ दिया जाये।
6. कब्ज को नियंत्रित करें (Control constipation)

जो लोग पुरानी कब्ज से पीड़ित हैं, अगर वे एक सपाट पेट चाहते हैं तो उन्हें इस समस्या से छुटकारा पाना होगा। आप नीचे बताये तरीकों में से किसी का भी उपयोग करके नेचुरल तरीके से कब्ज से छुटकारा पा सकते हैं:
अलसी (Flaxseed) जो रातभर भिगोकर रखी हो
सूखा आलूबुखारा (Prunes)
पकी हुई कीवी
पानी में घुला हुआ इसबगोल (Psyllium)
सनाय (Senna) का घोल (समय-समय पर)
फल और सब्जियों की स्मूदी
साबुत अनाज (Whole grains)


7. कमर की एक्सरसाइज करें



जब भी हम इस बारे में बात करते हैं कि आपको अपना वजन कम करने और सही शेप पाने के लिये एक्सरसाइज कैसे करनी है तो हम कमर के बारे में बात करते हैं।

किसी भी तरह की कार्डियोवैस्कुलर एक्टिविटी, जैसे दौड़ना, नाचना या एअरोबिक्स पेट और कमर में खिंचाव पैदा करेंगे और सूजन को कम करने और उसे सुडौल बनाने में मदद करेंगे।
8. स्ट्रेस दूर करें

स्ट्रेस आपके हार्मोन संतुलन में गड़बड़ी पैदा करता है, जिसका सम्बन्ध आपके पेट के आकार से भी है। यही कारण है कि बहुत से लोग जो तनाव में होते हैं, पतले होने के बावजूद भी उनका पेट बाहर निकला होता है।

स्ट्रेस को खत्म करने के लिए संतुलित डाइट लेने के अलावा कुछ एक्सरसाइज और रिलैक्सेशन टेकनीक की भी प्रैक्टिस करें।
9. भरपूर आराम करें

एक और जरूरी चीज रात में आराम करना है। अगर आप पर्याप्त नींद नहीं लेते हैं, तो आपको स्ट्रेस की समस्या का सामना करना पड़ता है और आपका वजन और आकार दोनों बढ़ते हैं।
आराम के निश्चित घंटे नहीं होते हैं। हर आदमी को अपने लिए सही समय निकालना होगा और यह सुनिश्चित करना होगा कि उनकी नींद आरामदायक और गहरी हो।
6 आदतें जो पेट फूलने का कारण बनती हैं

पेट फूलना किसी विशेष खाद्य के प्रति असहिष्णुता या ज़्यादा गैस बनने का परिणाम हो सकता है। अगर यह लगातार जारी रहता है, तो आपको डॉक्टर से सलाह लेनी चाहिए।


बहुत से लोग सोचते हैं, एब्डोमिनल इन्फ्लेमेशन यानी पेट फूलने की अकेली वजह मोटापा यानी फैट है । वहीं गलत फ़ूड हैबिट और एक्सरसाइज के अभाव से फैट बनता है।

हालांकि यह सच है, लोकल फैट मुख्य समस्याओं में से एक हो सकता है। लेकिन ऐसे दूसरे कारक भी हैं जो आपके पेट के आकार पर असर डालते हैं।

उदाहरण के लिए, नमक का ज्यादा सेवन, टिशू में तरल पदार्थ के जमा होने का कारण बनता है। इससे आपके शरीर में सूजन की स्वाभाविक प्रतिक्रिया बढ़ जाती है।

कुछ ऐसा ही तब होता है, जब आप किसी खाद्य के प्रति असहिष्णु (intolerance) हों। ऐसी स्थिति में पाचन तंत्र में अपच और अन्य समस्याएं पैदा हो जाती हैं।

नतीजतन आप सामान्य से काफी भारी दिख और महसूस कर सकते हैं। यह बहुत ही असहज कर देने वाली स्थिति होती है।
https://healthtoday7.blogspot.com
यह जानना महत्वपूर्ण है कि आपकी कौन सी आदत पेट फूलने को ट्रिगर करती है। साथ ही, यह जानना भी कि आप इसे कैसे रोक सकते हैं।

आइये, इस बारे में और अधिक जानकारी लें!
1. पेट फूलने में डेयरी प्रोडक्ट का योगदान


दूध और डेयरी प्रोडक्ट पेट फूलने के सबसे आम कारणों में से हैं।

यह लैक्टोज इंटोलरेन्स के कारण होता है, जो एक नेचुरल शुगर है। यदि आपका शरीर उन एंजाइम का उत्पादन नहीं करता है, जो इसे पचाने में मदद करते हैं, तो यह कोलन में फरमेंट होने लगती है।

आपके शरीर द्वारा भोजन का अवशोषण ठीक तरह से न होने पर आंतों में गैस, पेट दर्द, दस्त और कब्ज से होने वाली समस्यायें पैदा होती हैं।
पेट की सूजन दूर करने के लिए क्या करें?

डेयरी उत्पादों को खाने से होने वाली सूजन को रोकने का एक बहुत ही अच्छा तरीका है। उन्हें सब्जियों के दूध जैसे स्वस्थ विकल्पों के साथ बदल दें।

कैल्शियम की अपनी दैनिक जरूरत को पूरा करने के लिए कैल्शियम से समृद्ध सब्जियां चुन सकते हैं।

2. तेजी से खाना

बहुत जल्दी-जल्दी खाने या अपने भोजन को ठीक से नहीं चबाने के कारण अपच हो सकती है। ऐसा इसलिए होता है, कि जल्दी खाने से पेट में बहुत सी हवा चली जाती है।

हालांकि खाने के दौरान आप इसे नोटिस नहीं कर पाते। लेकिन यह सही है कि अगर आप जल्दबाजी में भोजन कर रहे हैं, तो हवा भी निगलते हैं। यही पेट फूलने का कारण बनता है।
इसके लिए क्या करें?

दिन के प्रत्येक भोजन के लिए कम से कम 20 मिनट का समय निर्धारित करें। यह महत्वपूर्ण है कि आप धीरे-धीरे खाने के लिए पर्याप्त समय निकालें और अपने भोजन को अच्छी तरह चबाएं।

भोजन के दौरान अपना ध्यान इधर-उधर भटकने न दें। वरना आप फिर इसे अच्छी तरह से चबाने की बजाय पहले की तरह निगलना शुरू कर देंगे।
3. नमक का बहुत अधिक उपयोग


अत्यधिक सोडियम का सेवन वॉटर रिटेंशन, उच्च रक्तचाप, और शरीर के टिशू में सामान्य सूजन के मुख्य कारणों में से एक है।

इससे इनकार नहीं कर सकते कि नमक आपके व्यंजनों में उत्कृष्ट स्वाद लाता है। लेकिन आपके शरीर में इसके बहुत अधिक हानिकारक दुष्प्रभाव और गंभीर गड़बड़ियाँ हो सकती हैं।

यह याद रखना महत्वपूर्ण है कि हम सिर्फ उतना ही नमक नहीं खाते जितना हम अपने खाने में डालते हैं। प्रोसेस्ड फ़ूड में यह पहले से ही अच्छी-ख़ासी मात्रा में मौजूद होता है।
इसके लिए क्या करें?

रिफाइन नमक की जगह सेंधा नमक (हिमालयी नमक) या समुद्री नमक लें।

आप दूसरी स्वस्थ वैकल्पिक सीजनिंग भी चुन सकते हैं, जैसे ऑरेगेनो, काली मिर्च और थाइम।

कितनी मात्रा में सोडियम का सेवन कर रहे हैं इसका हिसाब रखें। इसका सबसे बढ़िया तरीका है, खरीदे गए उत्पादों के लेबल को चेक करना।
4. पेट फूलने का कारण हो सकता है च्यूइंग गम चबाना
हर दिन गम चबाने की आदत है, तो इसे छोड़ दें। हो सकता है, इसी के कारण आपको एक सपाट पेट हासिल करने में परेशानी हो रही हो। गम चबाने के साथ हवा शरीर में प्रवेश करती है और पेट की सूजन को बढ़ा सकती है।
इसके लिए क्या करें?

क्या आप तनाव या चिंता से छुटकारा पाने के लिए गम चबाते हैं? तो इसे फल और सब्जियों से बने स्नैक्स से बदलने का प्रयास करें।
5. कार्बोनेटेड ड्रिंक पीना


विज्ञापन अभियानों के गलत प्रचार ने लोगों के दिलोदिमाग पर गलत असर डाला है। वे मानने लगे हैं, गर्मी में सोडा वाला ड्रिंक प्यास बुझाने का शानदार और स्मार्ट तरीका है।

हेल्थ एक्सपर्ट का तर्क है कि वे अच्छे विकल्प नहीं हैं। इनमें आवश्यक पोषक तत्व नहीं होते। इन्हें कृत्रिम पदार्थों से बनाया जाता है, जो आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक होते हैं।

कार्बनेशन और कृत्रिम मिठास के अलावा इनमें शुगर की भी बड़ी ऊंची मात्रा होती है। यह आपके पाचन तंत्र में प्रतिक्रियायें पैदा करता है और पेट की सूजन को बढाता है।

तो जिस फ़िज्जी स्वाद को आप इतना पसंद करते हैं, वह वास्तव में आपके शरीर में सूजन और भारीपन का कारण बनता है।
इसके लिए क्या करें?

इन पेय पदार्थों पर अपना पैसा और स्वास्थ्य बर्बाद न करें। इसके बजाय, घर पर प्राकृतिक फलों के रस, फ्लेवर युक्त पानी और चाय बनाने का प्रयास करें।

याद रखें, हाइड्रेटेड रहने के लिए आपको एक दिन में कम से कम दो लीटर पानी पीना होगा।
6. भोजन छोड़ना या बहुत कम खाना

क्या आप भोजन स्किप करते रहते हैं? या अपने लिए ज़रूरी मात्रा से कम भोजन खाते हैं? अगर हाँ, तो जान लें कि यह कैलोरी बचाने या वजन कम करने का सही तरीका नहीं है।

हालांकि लोगों को लगता था कि वजन घटाने के लिए यह एक अच्छा विकल्प है। लेकिन यह सिद्ध हो चुका है कि इससे वज़न की वापसी के साथ-साथ अन्य कई समस्याएं भी हो सकती हैं।

दिन में पांच बार से कम खाने से आपके शरीर के लिए भोजन को पचाना मुश्किल हो जाता है। साथ ही, आपको ज़्यादा भूख लगती है और पेट में जमा चर्बी में वृद्धि होती है।
इसके लिए क्या करें?

अपने मुख्य भोजन में खाने की मात्रा को बहुत कम न रखें। एक ऐसा मेन्यू तैयार करें जिसमें दिन में पांच भोजन शामिल हों।
यदि इन उपायों के बाद भी आपका पेट फूला रहता है, तो इसके कारण की पड़ताल करने के लिए डॉक्टर की राय लें।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.