Header Ads

अगर आप भी करते है ताम्बे के बर्तन का इस्तेमाल तो जरूर पढ़े ये खबर


अगर आप भी करते है ताम्बे के बर्तन का इस्तेमाल तो जरूर पढ़े ये खबर
किसी भी चीज का इस्तेमाल करने से पहले उसके बारे में सही जानकारी प्राप्त कर लेना बहुत ही जरूरी होता है। जिस तरह कई लोगों को लगता है कि जैसे तांबे के बर्तन में रखा पानी हमें फायदा देता है, वैसे कोई भी चीज इसमें रखकर खाने से फायदे होता है। लेकिन ऐसा नहीं है। क्‍या आप जानते हैं कि कुछ चीजों को तांबे के बर्तन में रखकर खाने से वह चीजें जहर सामान बन सकती है।

# यूं तो दही में पाए जाने वाले कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटेशियम, विटामिन डी, विटामिन B12, विटामिन B6 और कोलेस्ट्रॉल जैसे पोषक तत्व हमारे शरीर की बीमारियों के लिए रामबाण की तरह काम करते है लेकिन अगर दही को तांबे के बर्तन में रखा जाए तो इससे मिलने वाले फायदे होने की जगह उल्टा होता है। दही में मौजूद पोषक तत्व तांबे के साथ रिएक्ट करते हैं जिस वजह से लोगों को फूड पॉइजनिंग की समस्या हो सकती है। इसलिए दही को कभी भी तांबे के बर्तन में नहीं जमाना चाहिए।
# सिरके वाला अचार भी नहीं रखना चाहिए क्योंकि सिरका मेटल के साथ मिलकर प्रतिक्रिया करने लगता है जिस वजह से कॉपर पॉइजनिंग हो सकती है।

# नींबू के जूस में मौजूद एसिड तांबे के साथ मिलकर रिएक्ट करते हैं जो आपकी सेहत के लिए नुकसानदेह होता है। इसकी वजह से लोगों में गैस बनना, पेट में दर्द जैसी समस्या होती है।

# किसी भी तरह की खट्टी चीजों को तांबे के बर्तन में रखने से बचना चाहिए। तांबे के बर्तन में रखने के बाद इन चीजों को खाने से कमजोरी और आलस आने लगता है।
# साथ ही अगर आप लंबे समय तक तांबे में रखी चीजें खाते हैं तो आपको चक्कर और बेहोशी आने लगती हैं। अचार को खासकर तांबे के बर्तन में रखने से बचना चाहिए। दरअसल, अचार में खट्टापन होने की वजह से यह तांबे के बर्तन में खराब हो जाता है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.