Header Ads

सात दिनों में सात स्टेप से घटायें पेट की चर्बी |


सात दिनों में सात स्टेप से घटायें पेट की चर्बी |

https://healthtoday7.blogspot.com/




https://healthtoday7.blogspot.com/


पेट की चर्बी (Tummy Fat) आपका लुक (Look) तो बिगाड़ती ही है साथ ही यह कई बीमारियों को भी न्योता (Invitation) देती है। आज के दौर में ज्यादातर लोगों की समस्या है पेट पर जमा फैट। इसका मुख्य कारण है कि लोग आराम तलब हो गए हैं जिससे उनकी शारीरिक गतिविधि कम हो रही है।खुद को एक्टिव (Active) रखने के लिए जरूरी है कि आप व्यायम (Exercise) के साथ अपने खाने पर खास ध्यान दें। अगर आप अपने बढ़ते पेट से परेशान हो गए हैं तो आपकी इस समस्या को समझते हुए हम आपके लिए सात ऐसे स्टेप्स (Steps) लाए हैं जो महज सात दिनों में आपके पेट पर जमा अतिरिक्त चर्बी (Excess Fat) को कम करने में मदद करेंगे।



पहला स्टेप (First Step) -
हमारे शरीर में सबसे अधिक चर्बी पेट में जमती है| मोटापे को कम करने के लिए क्रंचिंग (Crunching) सबसे अच्छा उपाय है| रोजाना क्रंचिंग को अपनी आदत में शामिल करे| क्रंचिंग करते समय अपने पैरों को सीधा रखें| इससे पेट की मसल्स (Stomach Muscles) में काफी असर होने लगता है| इसके दौरान कार्डियो (Cardio), मसल्स बिल्डिंग (Muscles Building) तथा इसके बाद पेट व्यायाम (Stomach Exercise) आदि को अपनाए| रोजाना करीब 15 से 20 मिनट तक इन सभी व्यायाम को अपने नियमित कार्यक्रम में शामिल करें| धीरे-धीरे आपके पेट की चर्बी कम होने लगेगी|



दूसरा स्टेप (Second Step) -
संतुलित आहार के सेवन से पेट को आसानी से कम किया जा सकता है| रोजाना भोजन करते समय विटामिन सी (Vitamin C) की उचित मात्रा को अपने आहार में शामिल करें| नींबू (Lemon), अंगूर (Grapes), बेर (Plum) और संतरा (Oranges) आदि फलों में भरपूर मात्रा में विटामिन सी पाया जाता है| इसके अलावा गाजर, पत्ता गोभी, ब्रोकली (Broccoli), सेब और तरबूज को आहार में शामिल करने से भी पेट का मोटापा कम किया जा सकता है|



तीसरा कदम (Third Step) -

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए भरपुर नींद (Sleep) लेना अतिआवश्यक होता है| पूरा दिन काम करने के उपरांत 6-8 घंटे की नींद रात्रि में अवश्य लेनी चाहिए| नींद पूरी ना होने के कारण शरीर के हार्मोन (Hormone) मोटापा एकत्र करने के लिए जागरूक करती हैं| जिसके कारण मोटापा बढ़ने लगता है| इस समस्या से निपटने के लिए जरुरी है की हम पर्याप्त नींद लें|


चौथा स्टेप (Fourth Step) -
स्वस्थ शरीर के लिए शरीर को तनाव मुक्त (Stress Free) रहना आवशयक होता है| मोटापा बढ़ने का सबसे बड़ा कारण तनाव होता है| आमतौर पर देखा गया है तनाव में रहने के कारण लोगो को अधिक भूख लगने लगती है| जिसके कारण व्यक्ति कुछ ना कुछ खा लेता है| अधिक खाना खाने से चयापचय (Metabolism) की क्रिया कम होने लगती है| जिसके कारण शरीर में कैलोरी (Calories) इकट्ठा होने लगती है| जो मोटापा बढ़ाने में सहायक होता है|


पांचवा स्टेप (Fifth Step) -
पेट की अधिक चर्बी लोगो को काफी परेशान करती है| पेट में अधिक चर्बी होने के कारण व्यक्ति किसी भी काम को करने में असमर्थ हो जाता है| इसलिए अपने डेली के रूटीन (Routine) में योगा को शामिल करें| रोजाना योगा करने से पेट को काफी हद तक कम किया जा सकता है| इस समस्या से निपटने के लिए सबसे अच्छा योगा धनुर आसन (THE BOW) है| इस आसन (Position) को करने के लिए अपने पेट के बल जमीं पर लेट जाइए तथा अपने हाथो को निचे की ओर रखें| अब धीरे से अपने पैरों, कंधों तथा सर को ऊपर की ओर उठाकर हाथ तथा पैरों को जोर से पकड़ लें| इस आसान को करीब 15 सेकंड तक करें| इससे पेट कम करने में काफि मदद मिलती है|


छटा स्टेप (Sixth Step) -
जो लोग अधिक काम बैठे-बैठे करते हैं| उनका पेट अक्सर बाहर निकलने लगता है| प्रतिदिन सुबह उठकर करीब 2 किलोमीटर (2Kilomiter) तक पैदल चलें| इसके अलावा रात को खाने के तुरंत बाद सोना नहीं चाहिए इससे मोटापा बढ़ता है, इसलिए रात को खाना खाने के बाद कुछ देर बाहर टहलने (Walking) जाए| इसके अलावा अगर आप ऑफिस (Office) जाते हैं और आपका ऑफिस घर के नजदीक है तो कोशिश करें की पैदल जाए तथा लिफ्ट में जाने के बजाय पैदल सीढ़ी चढ़ कर जाए| ऐसा करने से खाना पचता है तथा मोटापा कम (Fat Burning) होता है|


सातवां स्टेप (Seventh Step) -
अधिक मोटापा अनेक रोगों की तरफ इशारा करता है| मोटापे को कम करना इतना आसान नहीं है, मगर कुछ आसान तरीके हैं जिनसे मोटापे को कंट्रोल (Control) किया जा सकता है| इसके लिए रोजाना रस्सी कूदे (Skipping)| प्रतिदिन रस्सी कूदने से शरीर की मांसपेशियों में खिचाव होता है, जिसके कारण धीरे-धीरे फैट कम होने लगता है|


निम्बू पानी का प्रयोग (Use of Lemon Water) -
बढ़ता हुआ मोटापा अनेक बीमारियों का कारण होता है| इसलिए इसे कंट्रोल करने की कोशिश करें| प्रतिदिन उठने के बाद किसी बर्तन में थोड़ा पानी डालें और इसे गुनगुना कर लें| अब इस पानी में थोड़ा निम्बू का रस (Lemon Juice) तथा शहद (Honey) मिला कर पिये| इससे मोटापा कम करने में काफी हद तक मदद मिलती है|


कच्चे लहसुन का प्रयोग (Use of Raw Garlic) -
लहसुन के सेवन से अनेक परेशानियों (Problems) से छुटकारा पाया जा सकता है| प्रतिदिन उठकर लहसुन को छीलकर उसकी दो या तीन कलियों को कच्चा खाये| इसे खाने से आसानी से वजन कम (Weight Lose) किया जा सकता है|


क्रेनबेरी जूस (Use of Cranberry Juice) -
क्रेनबेरी जूस भी मोटापा कम करने में काफी सहायक होता है| रोजाना क्रेनबेरी जूस का सेवन करे| इससे हमारे शरीर में मौजूद अतिरिक्त वसा (Fat) समाप्त होती है तथा मोटापा कम होता है|


पुदीने का उपयोग (Use of Mint) -
पुदीने में अनेक प्रकार के पौष्टिक गुण (Nutritional Element) पाए जाते हैं| कुछ पुदीने की ताजी पत्तियां ले| अब इन पत्तियों को पीस कर इनकी चटनी बना लें| अब इस चटनी को रोजाना रोटी के साथ खाये| यह मोटापा कम करने में मदद करता है|


पेट आगे की ओर निकलना बहुत बड़ी समस्या है| इस समस्या से छुटकारा (Relief) पाने के लिए इन सभी विधियों का प्रयोग प्रतिदिन करें| इससे आपको पेट कम करने में मदद मिलेगी|



https://healthtoday7.blogspot.com/
इन अंगों की मसाज करे पेट की चर्बी कम करने के लिए | Massage to Reduce your belly fat



जिम (Gym) में घंटों पसीना बहाने और डाइटिंग (Dieting) करने से भी अगर आप पेट की चर्बी (Belly Fat) से छुटकारा पाने में सफल नहीं हो पा रहें हैं। इसके लिए एक्यूप्रेशर (Acupressure) मसाज बेहतरीन विकल्प हो सकता है। आप किसी अच्छे एक्यूप्रेशर प्रशिक्षण (Acupressure Trainer) की मदद से शरीर के कुछ खास अंगों की मसाज के जरिये पेट की चर्बी और वजन (Weight) को नियंत्रित कर सकते हैं।



एक्यूप्रेशर शरीर के विभिन्न अंगो के महत्वपूर्ण बिंदुओं पर दबाव डालकर किसी भी रोग को ठीक करने में समर्थ है। यह चीन की चिकित्सा पद्धति (Medical Practice) है। इस पद्धति के अनुसार, मानव शरीर पैर से लेकर सिर तक आपस में जुड़ा हुआ है। शरीर में मौजूद नसें, रक्त धमनियां, मांसपेशियां, स्नायु और हड्डियों के साथ अन्य कई चीजें आपस में मिलकर शरीर रूपी इस मशीन (Machine) को बखूबी चलाती हैं। अत: किसी एक बिंदु पर दबाव डालने से उससे जुड़ा पूरा भाग प्रभावित होता है। आइए जानें शरीर के किस अंग की मसाज करने से पेट की चर्बी कम करने में मदद मिलती है।


कानों की मसाज (Massage The Ear To Reduce The Belly Fat) -
सबसे पहले अपने कान पर दबाव बिंदु (Pressure Point) को पता करिये| यह भूख को नियंत्रित (Control) करता है| प्रत्येक एक्यूप्रेशर सत्र (Acupressure Session) की शुरुआत और अंत में भूख नियंत्रण बिंदु को दबाए| इसे दबाने पर भूख पर नियंत्रण किया जा सकता है तथा ओवरईटिंग (Overeating) से भी बचा जा सकता है| इस बिंदु में कान के ऊपर मांसल फ्लैप (Fleshy Flap) का हिस्सा होता है| जो कान के कैनाल (Canal) में स्थित होता है| इस जगह पर लगातार 3 मिनट तक दबाव डाले| अब हलके-हलके दबाव बढ़ाए तथा फिर छोड़ दें|


घुटनों की मसाज (Massage The Knee To Reduce The Belly Fat) -
घुटनों के बाईं ओर ठीक नीचे तीन बिंदु होते हैं जिन पर दबाव देने से शरीर का मेटाबॉलिज्म (Metabolism) ठीक रहता है और शरीर में अतिरिक्त वसा (Fat) इकट्ठा नहीं होता है। इसके लिए एक-एक करके इन पर बिंदुओं पर दबाव बनाएं और एक मिनट तक इन बिंदुओं पर मसाज करें।



हथेली की मसाज (Massage The Palm To Reduce The Belly Fat) -

हथेलियों में अंगूठे के पास वाले उभरे भाग में दबाव डाले और दबाव तब तक डाले जब तक उसकी सहन क्षमता हों| इस मसाज को कम से कम पांच बार दोहराए| इस क्रिया के बाद पानी को गुनगुना (Warm Water) करके उसका सेवन करें| इससे शरीर से टॉक्सिन (Toxin) बाहर निकल जाते है|


कंधे की मसाज (Massage The Shoulder To Reduce The Belly Fat) -
यदि किसी व्यक्ति को भूख बहुत अधिक लगती है तो दाहिने कंधे (Right Shoulder) के मध्य भाग में हाथ की अंगुली व अंगूठे से दिन में 2 बार लगभग आधा मिनट तक दबाव डालना चाहिए| लेकिन एक्यूप्रेशर कि इस मसाज को कभी भी खाली पेट नहीं करना चाहिए|


एड़ी की मसाज (Massage The Heels To Reduce The Belly Fat) -
एंकल बोन (Ankle Bone) अर्थात एड़ी की हड्डी पर अपने हाथ कि चारो उंगलियों को रखें और इसमें धीरे-धीरे दबाव डाले| लगभग एक मिनट तक दबाव डालने के बाद छोड़ दें| एड़ी की मसाज करने से पाचन तंत्र (Digestive System) ठीक रहता है| शरीर कि इन अंगो कि मसाज करके भूख पर नियंत्रण किया जा सकता है साथ ही पाचन क्रिया भी ठीक रहती है| सही खान पान होने कि वजह से तथा इन अंगो कि मसाज से जल्दी ही वजन कम किया जा सकता है|

https://healthtoday7.blogspot.com/


वजन घटाने के लिए जरुरी आदते | Habits That Can Help You Lose Weight



आजकल वजन बढ़ना एक आम समस्या बन गया है| मोटापे को घटाना आज एक बहुत बड़ी समस्या बन गया है| हर घर में कम से कम एक व्यक्ति ऐसा जरूर होता है जो मोटापे से जूझ रहा है| मोटापा अनेक परेशानियों (Many Problems) का कारण होता है जैसे कोई काम ठीक से ना कर पाना जल्दी थकान होना आदि| इन सभी समस्याओं के चलते व्यक्ति को अनेक प्रकार के विकार होने की सम्भावना (Probability) रहती है| मोटापा काम करने के लिए लोग घंटो तक जिम (Gym) में वर्कआउट (Workout) करते हैं| डायटिंग (Dieting) करते हैं| लेकिन मोटापे के सही कारण को कोई नहीं जानता| अक्सर मोटापा शारीरिक सक्रियता (Physical Activity) न होने, व्यायाम (Exercise) ना करने तथा जंग फ़ूड (Jung-food)इत्यादि के सेवन से होता है| इसके अलावा अधिक मात्रा में कैलोरी (Calories) लेने से मोटापा कम होता है| इन सभी समस्याओं से बचने के लिए हमें कुछ आसान घरेलु उपयो की मदद लेनी चाहिए जो अतयन्त सरल तथा उपयोगी होते हैं|



खाने का तरीका बदले (Change Your Diet Chart) -
मोटापा कम करने के लिए आपको अपना आहार बदलने के साथ-साथ खाने के तरीका भी बदलना होगा| इसके लिए आप जब भी खान खायें धीरे-धीरे आराम से चबाकर (Chewed) कर खाये| यदि आप चबाकर नहीं खाते तो आप जरूरत से ज्यादा खा लेते हैं जो आपकी सेहत के लिए नुकसानदायक (Harmful) होता है| इसलिए जब भी खाना खाये तो खूब चबाकर ही खायें|


खाने के लिए छोटी प्लेट का प्रयोग करें (Use a Small Plate To Eat) -
अगर व्यक्ति खाना खाने के लिए छोटी प्लेट का इस्तेमाल करता है तो उसका पेट जल्दी भर जाता है और वजन (Weight)बढ़ने से रोकता है| यह तरीका वजन कम करने का सबसे अच्छा उपाय है| जब भी आपको भूख लगे तो हमेशा कोशिश करें की छोटी प्लेट का इस्तेमाल ही हो| इसके साथ खाने के लिए आप छोटी प्लेट के साथ-साथ कटोरी और चम्मच (Bowl And Spoon) का इस्तेमाल भी कर सकते हैं|



ऑफिस में कैसे वजन कम करे योजना बनायें (How To Lose Weight In The Office) -

जब भी आपको भूख (Hunger) लगती है उससे लड़ने की एक योजना बनाए| अगर आपको ज्यादा भूख लगती है तो कोई गेम (Game) खेल सकते हैं| जो लोग योजनाबद्ध (Planned) तरीके से काम करते हैं वे जल्दी और ज्यादा वजन घटाते हैं| शाम होने के बाद जब आपको भूख लगे तो आप जंग फ़ूड, चॉकलेट (Chocolate) आदि का सेवन न करके कोई हेल्दी स्नैक्स(Healthy Snacks) का सेवन कर सकते हैं|


टीवी के सामने न खाए (Don't Eat in Front of TV) -
खाना खाने के लिए हमेशा एक ऐसे स्थान (Place) का चुनाव करें जहां पर शांत माहौल हो| भोजन अधिक संतृप्त (More Saturated) करने के लिए आपको शांत स्थान में ही भोजन करना चाहिए| कभी भी शोर-शराबे के बीच भोजन करने से लोगों की पाचन रस को पहचानने की क्षमता (Ability) कमजोर हो जाती है, जिससे व्यत्कि का पेट नहीं भरता और व्यक्ति अधिक खाने लगता हैं जिसके कारण मोटापा बढ़ने लगता हैं| इसलिए यह जरुरी हैं की आप शांत स्थान में ही बैठ के भोजन करें|


सीट पर बैठकर न खायें (Don't Eat Sitting on Seat) -
जब भी आप कंप्यूटर (Computer) या मोबाइल फ़ोन (Mobile Phone) पर काम कर रहे हैं तो अपनी सीट पर बैठकर बिलकुल ना खायें, ऐसा करने से आपका ध्यान भटकता है| इस की वजह से आपको याद नहीं रहता की आप कितना क्या खा चुके हैं, इसलिए ये जरुरी है की आप अपनी सीट से अलग होकर ही कुछ खायें|


भोजन के बाद करें शॉपिंग (Do Shopping After Eating) -
जब भी आप शॉपिंग करते हैं तो खाने के बाद ही शॉपिंग के लिए जाए क्योंकि शॉपिंग के वक़्त आपका पेट भरा रहेगा जिससे आप उन अन्हेल्थी (Unhealthy) चीजों को नहीं खरीदते हैं| जिनके कारण मोटापा बढ़ता है| मोटापा बढ़ने वाली अनेक ऐसी चीजे हैं जो बाजार (Market) में आसानी से मिल जाती हैं| इसलिए आपको हमेशा खाना खाने के बाद ही शॉपिंग के लिए जाना चाहिए|

https://healthtoday7.blogspot.com/


वजन घटाने के लिए 5 प्रकार की चाय | 5 Best Teas to Drink for Weight Loss



भारत में चाय के दीवानों (Tea Lovers) की कमी नहीं है। कुछ लोग चाय पीने की आदत को अच्छा तो नहीं मानते, लेकिन चाय पीना उनके जीवन में किसी अनिवार्य काम से कम भी नहीं है। चाय के फायदे और नुकसान (Advantages And Disadvantages) पर अक्सर बहस होती है। ऐसा नहीं कि चाय के सिर्फ नुकसान ही हैं, उसके कई फायदे भी हैं। आइए जानते हैं विभिन्न प्रकार की चाय (Various Types of Tea) के फायदे, जो वजन घटाने (Weight Loss) में मददगार हैं।



वैज्ञानिक शोध के अनुसार कुछ खास प्रकार की चाय में ऐसे तत्व होते हैं, जो आपकी सेहत के लिए बहुत जरूरी हैं। वह पेय जिससे आपको ऊर्जा और ताजगी (Energy And Freshness) मिलती है, वजन कम करने में भी आपकी मदद कर सकती है। यह तो आमतौर पर सभी जानते हैं कि एक कप चाय हर रोज आपको दिल के दौरे (Heart Attack), गठिया (Arthritis), दंत क्षय (Dental Caries) और यहां तक कि कैंसर (Cancer) को भी आपसे दूर रखती है।
चिंता को दूर करने के गुण के अलावा, (यह इसमें होने वाले कुछ खास तत्वों के कारण होता है) यह वजन को कम करने में बहुत कारगर हैं। यह 5 प्रकार की चाय हैं, जो आपको स्लिम (Slim) कर देंगी -


1. स्टार अनिस चाय (Star Anise Tea) -

स्टार अनिस चाय हमारे पाचन क्रिया को सुधारती है। यह चाय चीन में साल भर फलने वाले पौधे के फल से बनती है। इस चाय का उपयोग पाचन संबंधी बीमारियों को ठीक करने में किया जाता है, जैसे पेट खराब होना, दस्त और उल्टी होने पर। यह चाय एक पुरे फल को गर्म पानी में 10 मिनिट तक डालकर बना सकते हैं। पानी को छान लें और अगर आप इसे मीठा पीना चाहते हैं तो इसमें शकर (Sugar) या शहद (Honey) मिला लें और छोटे-छोटे घूंट ले-लेकर इसे पिएं। आपको पेट संबंधी बीमारियों से छुटकारा मिल जाएगा।


2. पुदीना चाय (Peppermint Tea) -
अगर आपको पुदीना चाय पसंद है तो आप इसे ग्रीन टी के बदले कभी-कभी बदलकर पी सकते हैं। दोनों ही चाय पाचन(Digest) को सुधारने में बहुत फायदेमंद है। पुदीने के पत्तों का इस्तेमाल इस चाय को बनाने में किया जाता है। इसे गर्म या ठंडा पिया जा सकता है। इसे बनाने के लिए एक चम्मच ताजी या सूखी हुई पत्ती (Fresh or Dry Leaves) को उबले हुए पानी में डाल दीजिए। इन्हें पानी में 4 से 5 मिनट के लिए रहने दीजिए और फिर छानकर चाहें तो इसमें शहद मिलाकर पीजिए।



3. ग्रीन टी (Green Tea) -

शोध के हिसाब से इस चाय में पाया जाने वाला रसायन इ सी जी सी (Chemical EGCG) शरीर के मेटाबोलिज्म (Metabolism) को बढ़ाता है, जो कि शरीर से वजन कम करने का काम करता है। यह एक दिन में करीब 70 कैलोरी तक कम कर देता है। ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट केटेचिंस (Anti-oxidant Catechin) होता है, जो कि मेटाबोलिज्म बढ़ाता है और चर्बी (Fat) को घटाता है। यह चाय 85 डिग्री सेल्सियस पर करीब 2 से 3 मिनट में तैयार हो जाती है।


4. इंग्लिश रोज़ टी (English Rose Tea) -
रोज़ टी सबसे पुराने स्वाद में पाई जाने वाली चाय में से एक है। इसे ताजा गुलाब और कलियों से बनाया जाता है। यह शरीर के लिए एक थैरेपी की तरह है। यह न केवल शरीर में मौजूद जहरीले तत्वों को दूर करके त्वचा को सुन्दर बनाता है बल्कि इसमें विटामिन ए, बी3, सी, डी (Vitamin A, B3, C, D) और इ (E) होते हैं, साथ ही साथ ये संक्रमणों (Infections) से भी निजात दिलाता है।


5. ऊलौंग चाय (Oolong Tea) -
शोध के अनुसार हमें पता चला है कि ऊलौंग चाय, थोड़ा खमीर उठाने की प्रक्रिया से तैयार होती है। यह ग्रीन टी से ज्यादा कारगर होती है। यह चाय चर्बी जलाती है और कोलेस्ट्रोल (Cholesterol) और शरीर में घुली हुई चर्बी को कम करती है। वजन कम करने के लिए रोज 2 कप ऊलौंग चाय पीना चाहिए|

https://healthtoday7.blogspot.com/
१ हफ्ते में वजन कम करने के लिए अजवायन, दालचीनी और ज़ीरा का प्रयोग | Lose Weight In a Week, Using Celery Seeds, Cinnamon And Cumin Seeds



मोटापा कई बीमारियों (Diseases) की जड़ है, यह सभी जानते है। लेकिन इससे मुक्ति पाना इतना आसान भी नहीं होता। यहां वजन (Weight) कम करने यानी मोटापा घटाने से संबंधित कुछ आसान उपाय दिए गए है जिन्हें रोजाना अपनाकर आप सिर्फ एक हफ्ते यानी सात दिन में वजन कम कर सुडौल शरीर एक बार फिर से पा सकते है।



अगर आप मोटापे से परेशान है तो दालचीनी का प्रयोग करे (If You Are Worried About Fat, Use Cinnamon) -
क्या दालचीनी आपके मोटापे को कम करती है, बिल्कुल नहीं। लेकिन यह आपके शरीर में अधिक फैट (Fat) को बढ़ने से रोकती है। अगर आप लगातार अस्वास्थ्यकर (Unhealthy) जीवन शैली (Lifestyle) को अपनाते हैं और अस्वस्थ खाते हैं तो दालचीनी वजन घटाने में आपकी किसी तरह कोई मदद नहीं कर सकती। चाहे आप दालचीनी को भारी मात्रा में उपयोग क्यों न करें। लेकिन दालचीनी को बहुत अधिक मात्रा में उपयोग करने से ये आपके शरीर में उच्च विषाक्तता (High Toxicity) के स्तर को जन्म दे सकता है।




आइए जानें दालचीनी वजन कम करने में कैसे मदद करती है (Let's Learn How Cinnamon Helps Reduce Weight) -

दालचीनी वजन कम (Lose Weight) करने में मददगार है।

दालचीनी से आपको भरा हुआ महसूस होता है।

दालचीनी प्राकृतिक पाचन (Natural Digestion) है जो भोजन को पचाने में मदद करती है।

दालचीनी पेट के स्वास्थ्य (Stomach Health) में सुधार करती है।

दालचीनी एक शक्तिशाली एंटी बैक्टीरियल (Anti Bacterial) होने के कारण पेट के बुरे बैक्टीरिया (Bad Bacteria) से छुटकारा दिलाने में मदद करती है।

दालचीनी फैटी एसिड (Fatty Acids) को कम स्टोर (Store) करती है।

दालचीनी ऊर्जा का स्तर (Energy Level), एकाग्रता (Concentration) और सतर्कता (Alertness) में मदद करती है।



दालचीनी कैसे करें इस्तेमाल (How to Use Cinnamon) -
वजन कम करने के लिए आप दालचीनी, शहद (Honey) और पानी (Water) का इस्तेमाल कर सकते हैं। दालचीनी एक गुणकारीमसाला माना जाता है जो काफी पुराने जमाने से ही ज्ञात (Known) है। अगर दालचीनी में शहद भी मिला दिया जाए तो उसका असर दोगुना बढ़ जाता है। इसके लिए एक पैन (Pan) में एक गिलास पानी उबालकर इसमें थोड़ी मात्रा में दालचीनी और शहद डालकर इसे अच्छी तरह मिक्स (Mix) करें। इसे आप रोज खाली पेट पिए। इससे आपको कुछ ही दिनों में फर्क दिखने लगेगा। या वजन कम करने के लिए एक चम्मच दालचीनी पाउडर (Cinnamon Powder) में शहद मिलाकर रोजाना इसका सेवन करें। इससे वजन कम करने मे आपको काफी फायदे मिलेगी।


शहद, दालचीनी और नींबू का रस (Honey, Cinnamon and Lemon Juice) -
वजन कम करने के लिए नींबू का रस भी काफी कारगर है। नींबू के रस को दालचीनी और शहद के साथ मिलाकर इसका सेवन करने से आपको दोगुना फायदा मिलेगा। साथ ही यह कोलेस्ट्रॉल के स्तर (Cholesterol Levels) को भी संतुलित (Balanced) रखने में मददगार होता है। नाश्ता करने के आधा घंटा पहले एक छोटा चम्मच शहद के साथ दालचीनी चाय (Cinnamon Tea) रोज पीयें। इसके अलावा आप सलाद (Salad), सूप (Soup), कॉफी (Coffee) आदि में भी दालचीनी पाउडर का उपयोग कर सकते हैं।



अब हम आपको बताएँगे की कैसे आप जीरा का प्रयोग करे (Now We Will Tell You How To Use Cumin Seeds) -

जीरा, एक ऐसा मसाला है जो खाने में बेहतरीन स्वाद और खुशबू देता है। इसकी उपयोगिता केवल खाने तक ही सीमित नहीं है बल्कि इसके कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभ भी हैं। कई रोगों में दवा के रूप में इसका इस्‍तेमाल किया जाता है। जीरे में मैंगनीज (Manganese), लौह तत्व (Iron), मैग्नीशियम (Magnesium), कैल्शियम (Calcium), जिंक (Zinc) और फास्फोरस (Phosphorus) भरपूर मात्रा में होता है। इसे मेक्सिको (Mexico), इंडिया (India) और नार्थ अमेरिका (North America) में बहुत उपयोग किया जाता है। इसकी खासियत यह है कि यह वजन तेजी से कम करता है। वजन कम करने के साथ ही यह बहुत सारी अन्य बीमारियां से भी बचाता है
- जैसे कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) कम करता है
– हार्ट अटैक (Heart Attack) से बचाता है
– स्मरण शक्ति (Memory Power) बढ़ता है
– खून की कमी को दूर करता है
– पाचन तंत्र ठीक कर गैस व ऐठन ठीक करता है !


1. जीरा पानी (Cumin water) -
दो बड़े चम्मच जीरा एक गिलास पानी मे भिगो (Soaked) कर रात भर के लिए रख दें !
सुबह इसे उबाल लें और गर्म चाय (Hot Tea) की तरह पिये – बचा हुआ जीरा भी चबा लें !
इसके रोजाना सेवन से शरीर के किसी भी कोने से अनावश्यक चर्बी (Unnecessary Fat) शरीर से बाहर निकल जाती है !


2. दही के साथ जीरा पाउडर (Cumin Powder With Curd) -
जीरे को आप वजन कम करने के लिए किसी भी तरह खा सकते हैं !
50 ग्राम दही (50Grams Curd) में एक चम्मच जीरा पाउडर मिलाकर रोज़ खाएं !


3. नींबू, अदरक और जीरा (Lemon, Ginger and Cumin Seeds) -
अदरक (Ginger) और नींबू दोनों जीरे की वजन कम करने की क्षमता (Ability) को बढाती हैं !
इसके लिए गाजर (Carrot) और थोड़ी सब्ज़ियों को उबाल लें इसमें अदरक को कद्दूकस कर लें साथ ही ऊपर से जीरा और नींबू का रस डालें और इसे रात में खाएं !


अब हम आपको बताएँगे की कैसे अजवायन का उपयोग करके मोटापा घटाया जा सकता है (Now We Will Tell You How Fat Can be Reduced By Using Celery Seed) -

वैसे तो अजवायन बड़ी ही काम की चीज़ है मगर इसका एक फायदा मोटापे को कम करने के भी काम आता है। जी हां, यह बात काफी कम लोग जानते हैं कि अजवायन का पानी रोज सुबह खाली पेट पीने से मोटापा प्राकृतिक रूप (Natural Form) से कम हो जाता है। अजवायन का पानी पीने से शरीर का मेटाबॉलिज्‍म (Metabolism) बढ़ता है जिसकी वजह से कार्ब (Carbohydrates) तथा मोटापा कम होने की प्रक्रिया शुरु हो जाती है। तो अगर आप भी अपने बढ़ते हुए वजन से परेशान है तो, कुछ दिनों तक इस नुस्‍खे को आजमाइये और असर देखिये। आइये जानते हैं अजवान का पानी बनाने की विधि (Method) और रिजल्‍ट (Result) पाने के लिये किन-किन चीज़ों से परहेज रखना है।



अजवाइन का पानी (Celery Water) -
50 ग्राम अजवायन लें [आप चाहें तो 25 ग्राम भी ले सकते हैं पर 50 ग्राम ज्‍यादा प्रभावशाली (Impressive) है]
अजवायन को 1 गिलास पानी में रातभर (Whole Night) के लिये भिगो कर छोड़ दें और फिर सुबह पानी को छान लें।
उसके बाद पानी में 1 चम्‍मच शहद मिक्‍स (1Teaspoon Honey Mix) करें और सुबह खाली पेट पी लें।
यदि आप चाहें तो उसी अजवायन को धूप में सुखा (Dry) कर फिर से दूसरे दिन भी प्रयोग कर सकते हैं। लेकिन तीसरे दिन आपको इस अजवाइन का प्रयोग नहीं करना हैं।

https://healthtoday7.blogspot.com/

स्‍टेप (Step) -
अजवायन के पानी को 45 दिन लगातार पियें, आपको फायदा (Profit) जरुर मिलेगा।
वैसे तो आपको इसका असर मात्र 15 दिनों में ही दिखने लगेगा पर अगर प्रभावी परिणाम (Effective Results) चाहिये तो, 45 दिन लगेंगे।
वजन कम होना आपके शरीर के प्रकार (Body Type) पर भी निर्भर (Depend) करेगा। इस पानी को पीने से आपका 5 किलो वजन कम होगा पर अगरa आप किसी बीमारी से पीड़ित न हो तो।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.