Header Ads

जू-बादाम छोड़ों सर्दियों में रोजाना करो


जू-बादाम छोड़ों सर्दियों में रोजाना करो इसका सेवन असर देख हैरान हो जाएंगे आप

सर्दियों में रोजाना मूंगफली का सेवन आपकी सेहत के लिए कितना फायदेमंद हो सकता है इसकी जानकारी आज हम आपको देने जा रहे है। मूंगफली को सस्ता बादाम भी कहा जाता है और इसमें स्वाद के साथ-साथ कई प्रकार के स्वास्थ्य को लाभ पंहुचाने संबंधी गुण भी होते हैं। मूंगफली में होने वाले विभिन्न प्रकार के पोषक तत्व इसे स्वास्थ्य के लिए अत्यधिक लाभकारी बनाते हैं। इसमें विटामिन, मिनरल्स, न्यूट्रिएंट्स और एंटीऑक्सीडेंट्स भी होते हैं जिससे शरीर को स्वस्थ रखना न केवल मुमकिन है बल्कि आप हमेशा एक एनर्जी महसूस करेंगे। इसमें विटामिन B कॉम्प्लेक्स,नियाचिन, रिबोफ्लेविन, थियामिन, विटामिन B6, विटामिन B9 और पेंटोथेनिक एसिड पाया जाते हैं और इसकी पौष्टिकता में इजाफा करते हैं। हकीकत यह है कि सर्दियों में मूंगफली का सेवन बहुत ही गुणकारी रहता है। अधिकतर लोग इसे स्वाद के तौर पर खाते हैं। लेकिन आपको यह पता होना चाहिए कि यह आपके शरीर को किस तरह फायदा पहुंचाती है। यकीन मानिए इससे होने वाले फायदे जानकर आप भी चौंक जाएंगे। आगे पढ़िए मूंगफली के सेवन से होने वाले फायदों के बारे में विस्तार से।

बच्चों के लिए लाभकारी

मूंगफली प्रोटीन का एक बहुत अच्छा स्त्रोत है। इसमें होने वाला अमीनो एसिड शरीर की ग्रोथ के लिए बहुत अच्छा होता है और इसलिए बच्चों के लिए यह बहुत लाभकारी है।
कब्ज दूर करें

यदि आपको कब्ज की समस्या रहती है तो हर रोज एक हफ्ते तक 100 ग्राम मूंगफली खाइए। ऐसा करने से मूंगफली में तत्व आपकी पेट से जुड़ी तमाम समस्याओं में राहत देंगे। इसके नियमित सेवन से कब्ज की समस्या दूर हो जाती है।

शरीर को ताकत दें

जिस तरह बादाम और अंडे का सेवन शरीर को ताकत देता है, उसी प्रकार मूंगफली खाने से आपके शरीर को ताकत मिलती है। इसके अलावा ये पाचन क्रिया को भी बेहतर रखने में मददगार है। सर्दियों में इसका सेवन करना आपके लिए अच्छा रहेगा।


गर्भवती के लिए फायदेमंद

गर्भवती महिलाओं के लिए मूंगफली खाना बहुत फायदेमंद होता है। इससे गर्भ में पल रहे बच्चे का विकास बेहतर तरीके से होता है। साथ ही गर्भवती महिला को भी इससे ताकत मिलती है।

त्वचा के लिए फायदेमंद

ओमेगा 6 से भरपूर मूंगफली आपकी त्वचा को भी कोमल और नम बनाए रखता है। कई लोग मूंगफली के पेस्ट का इस्तेमाल फेसपैक के तौर पर भी करते हैं। आप भी मूंगफली पीसकर इस पेस्ट तैयार कर सर्दियों में अपनी रुखी त्वचा से निजात पा सकती हैं।

दिल की बीमारी से दूर रखें
यदि आपके परिवार में कोई दिल का रोगी है तो उनके लिए मूंगफली का सेवन बहुत फायदेमंद रहेगा। मूंगफली खाने वाले व्यक्ति को दिल से जुड़े रोग होने का खतरा बहुत कम होता है। साथ ही मूंगफली के नियमित सेवन से खून की कमी नहीं होती।

एंटी एजिंग

मूंगफली बढ़ती उम्र के लक्षणों को रोकने में भी कारगर है। इसमें मौजूद एंटी-ऑक्सीडेंट बढ़ती उम्र के लक्षणों जैसे बारीक रेखाएं और झुर्रियों को बनने से रोकते हैं। मूंगफली का सेवन करने वाले लोगों की उम्र वास्तविक उम्र से कम दिखाई देती है।

शरीर की साफ सफाई

मूंगफली में एंटीऑक्सीडेंट्स काफी मात्रा में होते हैं जो मूंगफली को उबालने पर और ज्यादा सक्रिय हो जाते हैं। इसमें मौजूद बॉयोचानिन-A दो गुना और जेनिस्टइन चार गुना बढ़ जाता है जिससे आपके शरीर में भीतरी साफ सफाई सुचारु और नियमित रुप से होती रहती है। 

हड्डियां मजबूत
मूंगफली का प्रतिदिन सेवन करने से आपकी हड्डियां मजबूत होती हैं। इसमें कैल्शियम और विटामिन डी की पर्याप्त मात्रा होती है। ऐसे में इसके सेवन से हड्डियां मजबूत बनती हैं।

रक्त में शुगर
मूंगफली में होने वाले मैग्नीसियम से कैल्सियम, फेट्स और कार्बोहाइड्रेड्स शरीर में घुल जाते हैं और रक्त में शुगर का स्तर नियंत्रण में रहता है।



इन 5 लोगों के लिए बादाम किसी जहर से कम नहीं, जानें और स्वास्थ्य का ध्यान रखें

अच्छे स्वास्थ्य और तेज दिमाग के लिए बादाम खाने की सलाह दी जाती हैं। क्योंकि इसमें प्रोटीन, वसा, विटामिन और मिनरल जैसे कई पोषक तत्व होते हैं, जो शरीर के विकास में सहायक होते हैं। इसलिए भीगे हुए बादाम को खाने की सलाह दी जाती हैं। लेकिन क्या अप जानते है कि कुछ लोग ऐसे हैं, जिन्हें बादाम खाने की मनाही होती हैं क्योंकि बादाम का सेवन उनके शरीर को नुकसान पहुंचाता हैं। तो आइये जानते हैं किन लोगों को बादाम के सेवन से बचना चाहिए।

* ब्लड प्रैशर

अगर आपका ब्लड प्रैशर हमेशा हाई रहता है तो बादाम से अभी दूरी बना लें क्योंकि दवाइयों के साथ बादाम का सेवन नुकसान पहुंचा सकता है और समस्या अधिक बढ़ सकती हैं।

* पथरी 

किडनी या गॉल ब्लेडर पथरी या इनसे जुड़ी अन्य कोई प्रॉबल्म रहती है तो बादाम बिल्कुल न खाएं क्योंकि इसमें ऑक्सलेट अधिक मात्रा में होता है जो आपको नुकसान पहुंचा सकता हैं। 


* डाइजेशन 

बदलते लाइफस्टाइल में डाइजेशन से जुड़ी समस्या अधिकतर लोगों को रहती हैं। अगर आपको भी डाइजेशन संबंधी समस्या या एसिडिटी रहती है तो बादाम बिल्कुल न खाए क्योंकि बादाम में फाइबर अधिक होता है, जिससे परेशानी और भी बढ़ जाती है। 

* मोटापा

अगर आप अपने बढ़ते वजन से परेशान और बादाम आपकी डाइट में शामिल है तो इसका सेवन न करें। दरअसल, बादाम में कैलोरी और वसा अधिक होती है। ऐसे में बादाम का अधिक सेवन करने से मोटापा बढ़ता चला जाता हैं। 

* एंटीबायोटिक मेडिसन

बदलती जीवनशैली में कोई न कोई हेल्थ प्रॉबल्म हमेशा घेरे रहती है और दवाइयां है कि पीछा छोड़ने का नाम ही नहीं लेती। अगर आप भी किसी स्वास्थ्य संबंधी प्रॉबल्म के चलते एंटीबायोटिक मेडिसन खा रहे है तो बादाम का सेवन न करें। 

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.