Header Ads

प्रेगनेंसी में भूल कर भी ना करें इन चीजों का सेवन

प्रेगनेंसी में भूल कर भी ना करें इन चीजों का सेवन


नई दिल्ली : माना जाता हैं की औरत का दूसरा जन्म तब होता हैं जब वो माँ बनती हैं| क्योंकि माँ बनना भी किसी जंग से कम नहीं हैं| और देखा जाएँ तो इस दुनिया की सबसे अनमोल ख़ुशी तभी मिलती हैं, जब कोई महिला माँ बनती हैं| बच्चे के जन्म के सपने माँ तभी से बुनने शुरू कर देती हैं, जब शिशु गर्भ में आता हैं| और पुरे नौ महीने महिला नए-नए अनुभवो से गुजरती हैं| इस दौरान महिला के शरीर में भी कई बदलाव आते हैं| जैसे की वजन बढ़ना, त्वचा में फ़र्क़ आना, उलटी आना, शरीर में दर्द जैसी कई परेशानियों का सामना भी महिला को करना पड़ता हैं|जैसे ही महिला को पता चलता हैं की वो माँ बनने वाली हैं, वैसे ही महिला को अपना बहुत ध्यान रखना चाहिए| क्योंकि इस समय पर महिला अकेली नहीं होती हैं| बल्कि एक नवजात शिशु भी महिला के गर्भ में पल रहा होता हैं| और जैसे ही गर्भ में शिशु हरकते करनी शुरू करता हैं, वैसे ही आपको ऐसा अनुभव होता हैं, जैसे की आपके शरीर में कोई हलचल हो रही होती हैं| महिला को गर्भावस्था के समय में परेशानियों के साथ कुछ ऐसे अनुभव भी होते हैं जो उन्हें सारी जिंदगी याद रहते हैं| और उनके यादगार पलों में शामिल हो जाते हैं|गर्भावस्था के तीन ट्राइमेस्टर होते हैं, जिनमे महिला को अपना बहुत ध्यान रखना पड़ता हैं|जिसमे से पहला ट्राइमेस्टर बहुत अहम होता हैं| क्योंकि इस समय में महिला के शुरूआती दिनों में समस्या बढ़ने का खतरा ज्यादा होता हैं|

ऐसे में महिला को अपना बहुत ज्यादा ध्यान देने की आवश्यकता होती हैं| इस समय पर खान-पान से लेकर आपको अपनी दिनचर्या में भी बहुत से बदलाव लाने पड़ते हैं| जैसे की पेट के बल नहीं लेटना, ज्यादा भागदौड़ नहीं करनी चाहिए, पेट के बल होकर व्यायाम नहीं करना चाहिए, आदि|आइये आज हम आपको बताते हैं की महिला को गर्भावस्था के समय में किन-किन बातो का ध्यान रखना चाहिए| जिससे की महिला और उसके होने वाले बच्चे पर कोई खतरा न आ सकें| कहा जाता हैं की स्वस्थ माँ के गर्भ में ही स्वस्थ बच्चा निवास करता हैं| इसीलिए आपको इन सब बातो का ध्यान रखना चाहिए| जिससे की आपका बच्चा स्वस्थ रह सकें, और आइये जानते हैं की महिला को पहले तीन महीनो में किन-किन बातों पर सबसे ज्यादा ध्यान देना चाहिए|प्रेगनेंसी का वैसे सारा समय ही बहुत ध्यान रखने वाला होता हैं, परंतु प्रेगनेंसी के पहले तीन महीने गलती से भी भारी सामान को नहीं उठाना चाहिए| क्योंकि ऐसा करने से ब्लीडिंग का खतरा होता हैं| भारी सामान उठाने से सबसे ज्यादा दबाव पेट पर पड़ता हैं| जिसके कारण पेट में दर्द रहने की भी समस्या खड़ी हो सकती हैं|गर्भावस्था के समय में गरम पदार्थो का सेवन नहीं करना चाहिए| गरम पदार्थ जिस प्रकार ज्यादा ड्राई फ्रूट्स का सेवन नहीं करना चाहिए| क्योंकि ऐसा करने से कई बार योनि में से रक्त आने की समस्या उत्त्पन्न हो जाती हैं|
इसीलिए आपको खास कर पहले तीन महीने इन चीजो से परहेज रखना चाहिए|पपीते का सेवन करने से माना जाता हैं जी गर्भ गिरने की सम्भावना बढ़ जाती हैं| जिसके कारण कई बार गर्भपात होने का खतरा बढ़ जाता हैं| इसीलिए आपको पपीते का सेवन भी नहीं करना चाहिए| क्योंकि इसमें विटामिन-सी की मात्रा अधिक होती हैं| जो गर्भ को गिरा सकती हैं|गर्भावस्था के पहले तीन महीने में ज्यादा मात्रा में उपस्थित होने वाले विटामिन-सी वाले पदार्थो का सेवन नहीं करना चाहिए| जैसे की शिमला मिर्च, ब्रोकली, पपीता, स्ट्रॉबेरी, गोभी आदि के सेवन से परहेज करना चाहिए| क्योंकि इनकी वजह से गर्भ गिरने का खतरा बढ़ जाता हैं|ज्यादा मिर्च मसाले व् ज्यादा तले हुए भोजन से परहेज करना चाहिए| क्योकि इससे पेट में दर्द जैसी समस्या उत्तपन हो सकती हैं| जो की गर्भावस्था के पुरे समय के लिए ही अच्छी नहीं होती हैं| और इसी के कारण आपको परेशानी का अनुभव करना पड़ सकता हैं| इसीलिए आपको ऐसा नहीं करना चाहिए|गर्भावस्था के समय में आपको ज्यादा भाग-दौड़ व् व्यायाम नहीं करना चाहिए| क्योंकि ज्यादा व्यायाम व् भागदौड़ करने से आपको शरीर में दर्द व् थकावट जैसी समस्या हो जाती हैं| जिससे कई बार महिलाओ को परेशानी का सामना करना पड़ सकता हैं| कई बार व्यायाम करने से पेट पर भी दबाव पड़ता हैं जो की गर्भावस्था के लिए हानिकारक सिद्ध हो सकता हैं|
कटहल का उपयोग नहीं करना चाहिए, क्योंकि इसका उपयोग करने से भी गर्भ गिरने का खतरा बढ़ जाता हैं| क्योंकि इसमें भी विटामिन-सी की मात्रा अधिक होती हैं| इसीलिए हो सकें तो अजवाइन का सेवन नहीं करना चाहिए|अजवाइन का उपयोग भी गर्भावस्था के समय में ज्यादा नहीं करना चाहिए| क्योंकि अजवाइन की तासीर गरम होती हैं, और गरम चीजो का सेवन पहले तीन महीने प्रेगनेंसी के समस्या खड़ी कर सकते हैं|कई बार गर्भावस्था के समय में दर्द की समस्या होती रहती हैं| ऐसे में कई महिलाये दवाईयो का सेवन करती हैं| पर ऐसा नहीं करना चाहिए, क्योंकि दर्द की दवाईयो का ज्यादा सेवन कई बार गर्भावस्था में आपको बहुत साडी परेशानियो का सामना करना पड़ सकता हैं| इसीलिए हो सकें तो ऐसा नहीं करना चाहिए|सम्भोग पहले तीन महीने में कई बार गलत साबित हो सकता हैं| और जो महिलाएं काफी कठिनाई के बाद माँ बनने का अनुभव लेती हैं| उन्हें तो इस चीज के लिए ज्यादा ध्यान देने की जरुरत होती हैं| इसीलिए इस मामले में डॉक्टर का परामर्श जरूर लेना चाहिए|आपको ये टॉपिक कैसा लगा इस बारे में अपनी राय जरूर व्यक्त करें, क्योंकि आपकी राय हमारे लिए बहुत मायने रखती हैं, और यदि आपको ये टॉपिक पसंद आएं तो इसे शेयर भी जरूर करें|प्रेगनेंसी के पहले तीन महीने रखें इन बातों का ध्यान, गर्भावस्था के पहले ट्राइमेस्टर में रखें इन बातों का ख्याल

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.