Header Ads

महिलाओं में उत्तेजना की कमी के क्या कारण होते हैं



महिलाओं में उत्तेजना की कमी के क्या कारण होते हैं

महिलाओं में उत्तेजना की कमी के क्या कारण होते हैं
महिलाओं में उत्तेजना की कमी के क्या कारण होते हैं, क्यों होती है महिलाओं में यौन उत्तेजना की कमी, महिलाओं की समस्याएं, महिलाओं में कामेच्छा की कमी के कारण, महिलाओं में यौन क्षमता की कमी के कारण

वैवाहिक जीवन में बहुत सी परेशानियां देखने को मिलती है और ऐसी ही एक समस्या सम्बन्धो से जुडी भी हो सकती है। क्योंकि ज्यादातर कपल का यह सोचना होता है शादी के थोड़े समय बाद सम्बन्ध बनाने के लिए उत्तेजना कम होने लगती है। कई बार यदि पुरुष का मन होता है तो महिलाएं तैयार नहीं होती हैं, जब महिला का मन होता है तो वह अपनी चाह को खुलकर जाहिर नहीं कर पाती है। लेकिन महिलाओं में सम्बन्ध के लिए उत्तेजना की कमी का क्या कारण होता है और ऐसा क्यों होता है आइये जानते हैं।

महिलाओं में उत्तेजना की कमी के कारण


Table of Contents
महिलाओं में उत्तेजना की कमी के कारण
बेहतर सम्बन्ध न होना
दर्द और इन्फेक्शन
तनाव
उम्र अधिक होना
प्रेगनेंसी का डर
सर्जरी
गर्भनिरोधक गोलियां
माँ बनने के बाद
बीमारियों के कारण
महिला और पुरुष की सम्बन्ध को लेकर सोच अलग अलग होती है। पुरुष के लिए जहां कई बार यह केवल एक शारीरिक सम्बन्ध होता है। वहीँ महिलाओं के लिए यह अपने पार्टनर के साथ शारीरिक और भावनात्मक रूप से करीब आना होता है। ऐसे में महिला की इच्छाओं की पूरी न होना महिलाओं में सम्बन्ध के प्रति अरुचि को उत्पन्न करता है। इसके अलावा और भी कई कारण होते हैं जिनकी वजह से महिलाओं में उत्तेजना की कमी हो सकती है तो आइये अब विस्तार से जानते हैं की वह कारण कौन से हैं।
बेहतर सम्बन्ध न होना

महिलाएं सम्बन्ध बनाते समय अपने पार्टनर को अपने सबसे ज्यादा करीब महसूस करना चाहती है, लेकिन यदि उनका पार्टनर केवल अपनी जरूरतों का ध्यान रखता है। और महिला से केवल शारीरिक रूप से करीब होता है तो ऐसे में महिला की धीरे धीरे सम्बन्ध बनाने की उत्तेजना कम होने लगती है।
दर्द और इन्फेक्शन

कुछ महिलाओं को सम्बन्ध बनाते समय दर्द महसूस होता है, तो कुछ महिलाओं को इन्फेक्शन की समस्या अधिक रहती है। और ज्यादातर महिलाएं प्राइवेट पार्ट से जुडी परेशानियों को किसी से भी शेयर करना पसंद नहीं करती है। जिसके कारण वो सम्बन्ध बनाने से परहेज करने लगती हैं, और यदि वो सम्बन्ध बनाने में ज्यादा लम्बा अंतराल रखने लगती है तो इसका सीधा असर उनकी यौन क्षमता पर पड़ता है।
तनाव

महिला पर घर, ऑफिस, परिवार की इतनी जिमीवारियाँ आ जाती है, जिसके कारण कई बार वो अपना ध्यान रखना ही भूल जाती है। ऐसे में महिलाओं पर मानसिक रूप से बहुत अधिक दबाव रहता है, जिसके कारण वो हमेशा उलझी रहती है, और उनके पास अपने लिए समय ही नहीं रह जाता है। जिसका सीधा असर उनके और उनके पार्टनर की लाइफ पर पड़ता है, ऐसे में महिलाओं को यह समस्या होना आम बात होती है। साथ ही यदि महिला कभी सबंधो को लेकर किसी बुरे समय से गुजरी हो तो महिला इनसे डरने लगती है।
उम्र अधिक होना

उम्र का अधिक होना भी महिलाओं की यौन उत्तेजना को कम करने का एक कारण होता है। और पुरुषो के मुकाबले महिलाओं में यह लक्षण पहले दिखाई देने लग जाता है , खासकर मेनोपॉज़ की समस्या होने पर महिलाओं में इस लक्षण का दिखाई देना आम बात होती है। क्योंकि इसके होने पर बॉडी में एस्ट्रोजन के स्तर में कमी आने लगती है जिसके कारण प्राइवेट पार्ट में सूखेपन की समस्या हो सकती है, और सम्बन्ध बनाने में महिलाओं को अरुचि उत्पन्न होती है।

प्रेगनेंसी का डर

जो महिला और पुरुष सम्बन्ध बनाते समय किसी भी तरह की सुरक्षा का इस्तेमाल नहीं करते हैं। अक्सर उन महिलाओं के मन में प्रेगनेंसी का डर रहता है जिसके कारण वो अपने पार्टनर से दूरी बनाने लगती है। या फिर सम्बन्ध बनाते समय तनाव या डर में रहती है जिसके कारण उत्तेजना में कमी आने लगती है, और बेहतर सम्बन्ध भी नहीं बन पाते हैं।
सर्जरी

यदि महिला की कोई ऐसी सर्जरी हुई हो जिससे उसका पेट या गर्भाशय प्रभावित हुआ है, तो इसके कारण भी महिला की क्षमता पर थोड़ा असर पड़ता है। जिसके कारण महिलाओं की यौन उत्तेजना कम होने लगती है।
गर्भनिरोधक गोलियां

जो महिलाएं गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन अधिक मात्रा में करती हैं, तो इसके कारण महिलाओं के प्राइवेट पार्ट में रूखेपन की समस्या अधिक होने लगती है, साथ ही इसके कारण हार्मोनल अंसतुलन की समस्या भी हो सकती है। जिसके कारण महिलाओं में कामेच्छा की कमी देखने को मिलती है। इसके अलावा यदि महिला अन्य एंटीबायोटिक दवाइयों का सेवन भी करती है तो भी इसका यौन क्षमता पर बुरा प्रभाव पड़ता है।
माँ बनने के बाद

शादी के बाद महिला के केवल अपने और पार्टनर के रिश्ते को ही भरपुर समय देती है। लेकिन प्रेगनेंसी में और शिशु के जन्म के बाद महिला में शारीरिक और मानसिक रूप से बहुत से बदलाव आते हैं। और शिशु के लिए महिला ज्यादा केयरिंग हो जाती है ऐसे में महिला को रिकवर होने में काफी समय लगता है, और बॉडी में आए इतने बदलाव के कारण हो सकता है की महिलाओं की यौन इच्छा कम हो जाए।
बीमारियों के कारण
कुछ शारीरिक बीमारियां भी इसका कारण हो सकती है यदि कोई महिला शुगर या ब्लड प्रैशर की समस्या से परेशान हैं। तो ऐसे में धमनियों में रक्त का संचार बेहतर तरीके से नहीं हो पाता है। जिसके कारण यौन इच्छा में कमी आने लग जाती है।
https://healthtoday7.blogspot.com
तो यह हैं कुछ कारण जिनकी वजह से महिलाओं में उत्तेजना की कमी होने लगती है। लेकिन यही अरुचि कई बार आपके रिश्तों के बीच दरार का काम कर सकती है, ऐसे में महिला और पुरुष दोनों को मिलकर अपने सम्बन्धो को बेहतर बनाने की कोशिश करनी चाहिए। और यदि इसका कारण कोई शारीरिक समस्या है तो जितना जल्दी हो सके उसका भी इलाज करने की कोशिश करनी चाहिए।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.