Header Ads

घर की रसोई में रखें इन वास्तु टिप्स का ध्यान, खुश रहेंगी पत्नी


घर की रसोई में रखें इन वास्तु टिप्स का ध्यान, खुश रहेंगी पत्नी



घर में रसोई का वास्तु खराब होने पर उसका सबसे खराब असर उस घर की गृहणी पर पड़ता है जो कि अपना अधिकतम समय रसोई में ही बिताती है
घर में रसोई का वास्तु खराब होने पर उसका सबसे खराब असर उस घर की गृहणी पर पड़ता है जो कि अपना अधिकतम समय रसोई में ही बिताती है। ऐसे में रसोई को बनाते समय वास्तु शास्त्र के सिद्धांतों का पालन करना चाहिए। इससे न केवल घर वरन घर में रहने वाली महिलाओं का स्वास्थ्य सही रहता है और घर में सौभाग्य का आगमन होता है। सामान्त तौर पर रसोई में इन वास्तु नियमों का ध्यान रखना चाहिएः

(1) रसोई को हमेशा घर के दक्षिण-पूर्व यानि अग्निकोण दिशा में ही बनवाना चाहिए। यदि इस कोण में रसोई बनाना संभव न हो तो वायव्य कोण (उत्तर-पश्चिम) पर बनवा सकते हैं। साथ ही चूल्हा का स्थान भी रसोई के अग्नि कोण में ही रखना चाहिए।

(2) इसके अलावा रसोई में पानी का घड़ा, वाटर प्यूरीफायर आदि रसोई की ईशान कोण (उत्तर-पूर्वी दिशा) में होना चाहिए। परन्तु इस दिशा में सिंक न बनवाएं, अन्यथा घर में बिन बुलाई आपत्तियां आती रहती हैं। साथ ही रसोई से लगा हुआ कोई जल स्त्रोत नहीं होना चाहिए। रसोई के बाजू में बोर, कुआँ, बाथरूम बनवाना अवाइड करें, सिर्फ वाशिंग स्पेस दे सकते हैं।

(3) रसोई की दक्षिण दिशा में कभी भी कोई दरवाजा या खिड़की नहीं होने चाहिए। बाकी तीनों दिशाओं में खिड़की तथा दरवाजे रखे जा सकते हैं। खिड़की व दरवाजों का पूर्व व उत्तर दिशा में होना सबसे बेहतर रहता है। खिड़की भी पर्याप्त बड़ी होनी चाहिए ताकि रसोई में बाहर की ताजी हवा आ सकेंष

(4) रसोई बनवाते समय ध्यान रखना चाहिए वहां सूर्य की रोशनी तथा हवा के वेंटीलेशन का पूरा इंतजाम हो। रसोई में चूल्हे की गर्म हवा निकालने के लिए भी वेंटीलेटर होना चाहिए।

(5) रसोई में कभी भी शीशे (मिरर) का प्रयोग नहीं होना चाहिए। इससे घर में गृह-क्लेश का वातावरण बनता है।

(6) घर की रसोई में साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखें। इससे घर से नकारात्मक ऊर्जा दूर होकर सकारात्मक ऊर्जा आती है। साथ ही घर में पितृदेव भी प्रसन्न रहकर अपना आर्शीवाद देते हैं।


☣ चिंता खत्म ✳ किचन टिप्स ☣


☣ माइक्रोवेव- माइक्रोवेव में एक कटोरे में दो कप पानी भरें और उसमें एक चम्मच नींबू का रस डालें। अब माइक्रोवेव को पांच मिनट तक के लिए चला कर छोड़ दें। जब वह रुक जाए तब उसके भीतर को एक पेपर टॉवल लें कर साफ करें। इससे माइक्रोवेव भी साफ हो जाएगा और उसमें से अच्छी महक भी आने लगेगी।


☣ सिंक- सिंक से चिपचिपे ग्रीस को हटाने के लिए उसमें से कई बार गरम पानी का बहाव करना पड़ेगा। इसके बाद एक कप सफेद सिरका डालें और बेसिन को थोड़े से बेकिंग पाउडर सोडे से साफ करें।

☣ फ्रिज- अगर आपको फ्रिज के भीतर सफाई करनी है, तो गरम पानी और बेकिंग सोडा का प्रयोग करें। इसके बाद फ्रिजर को भी साफ करें।

☣ किचन कैबिनेट- कैबिनेट को साफ करने के लिए ल्किविड सोप और सफेद सिरका लें और पोंछे। जब अच्छे से पोंछ लें तब एक साफ कपड़ा लें और उसे गरम पानी में डुबो कर बचा हुआ साबुन का घोल कैबिनेट के अंदर से साफ करें।

☣ किचन की जमीन- अगर जमीन पर कोई चिपचिपी चीज गिर गई हो, तो उस पर ब्लीच डाल दें और फिर उसे ब्रश से रगड़े। जमीन को चमकदार बनाने के लिए एक कप सिरके में गरम पानी डाल कर सफाई करिये।

☣ यदि आप डेजर्ट बना रहे हों तो भारी तले का बर्तन इस्तेमाल करें। इससे बर्तन जलेगा नहीं और डेजर्ट का स्वाद भी बढ़ेगा।☣ यदि आप डेजर्ट का क्रीमी टेक्चर चाहती हैं तो फुल क्रीम दूध का इस्तेमाल करें। 


☣ पतीले में थोड़ा पानी डालें इसके बाद दूध उबालें। इससे बर्तन की तली में दूध नहीं चिपकेगा।

☣ किशमिश को एयरटाइट डिब्बे में बंद कर उसे रेफ्रीजरेट करने वे ज्यादा दिनों तक फ्रेश रहेंगे। जब इन्हें इस्तेमाल करना हो तब इन पर गर्म पानी डालें। इसके बाद किचन टॉवेल पर सुखा लें।

☣ चावल में एक टी स्पून तेल और कुछ बूंदे नींबू के रस की मिलाने से वह पकने के बाद खिलाखिला रहेगा।यदि आप रात को छोला या राजमा भिगोना भूल गए हो तो उबलते पानी में चना या राजमा को भिगोए। इसे आप एक घंटे के बाद पका सकती हैं।
☣ सख्त नींबू को अगर गरम पानी में कुछ देर के लिए रख दिया जाये तो उसमें से आसानी से अधिक रस निकाला जा सकता है।

☣ महीने में एक बार मिक्सर और ग्राइंडर में नमक डालकर चला दिया जाये तो उसके ब्लेड तेज हो जाते हैं।


☣ नूडल्स उबालने के बाद अगर उसमें ठंडा पानी डाल दिया जाये तो वह आपस में चिपकेंगे नही।


☣ पनीर को ब्लोटिंग पेपर में लपेटकर फ्रिज में रखने से यह अधिक देर तक ताजा रहेगा।


☣ मेथी की कड़वाहट हटाने के लिये थोड़ा सा नमक डालकर उसे थोड़ी देर के लिये अलग रख दें।


☣ एक टीस्पून शक्कर को भूरा होने तक गरम करे। केक के मिश्रण में इस शक्कर को मिला दे। ऐसा करने पर केक का रंग अच्छा आयेगा।


☣ फूलगोभी पकाने पर उसका रंग चला जाता है। ऐसा न हो इसके लिए फूलगोभी की सब्जी में एक टीस्पून दूध अथवा सिरका डाले। आप देखेगी कि फूलगोभी का वास्तविक रंग बरकरार है।


☣ आलू के पराठे बनाते समय आलू के मिश्रण में थोड़ी सी कसूरी मेथी डालना न भूले। पराठे इतने स्वादिष्ट होंगे कि हर कोई ज्यादा खाना चाहेगा।
☣ आटा गूंधते समय पानी के साथ थोड़ा सा दूध मिलाये। इससे रोटी और पराठे का स्वाद बदल जाएगा।

☣ दाल पकाते समय एक चुटकी पिसी हल्दी और मूंगफली के तेल की कुछ बूंदे डाले। इससे दाल जल्दी पक जायेगी और उसका स्वाद भी बेहतर होगा।



☣ बादाम को अगर 15-20 मिनट के लिए गरम पानी में भिगो दें तो उसका छिलका आसानी से उतर जायेगा।

☣ चीनी के डिब्बे में 5-6 लौंग डाल दी जाये तो उसमें चींटिया नही आयेगी।

☣ बिस्कुट के डिब्बे में नीचे ब्लोटिंग पेपर बिछाकर अगर बिस्कुट रखे जाये तो वह जल्दी खराब नही होंगे।

☣ कटे हुए सेब पर नींबू का रस लगाने से सेब काला नही पड़ेगा।

☣ जली हुए त्वचा पर मैश किया हुआ केला लगाने से ठंडक मिलती है।

☣ मिर्च के डिब्बे में थोड़ी सी हींग डालने से मिर्च लम्बे समय तक खराब नही होती।

☣ किचन के कोनो में बोरिक पाउडर छिड़कने से कॉकरोच नही आयेंगे।

☣ लहसुन के छिलके को हल्का सा गरम करने से वो आसानी से उतर जाते हैं।

☣ हरी मिर्च के डंठल को तोड़कर मिर्च को अगर फ्रिज में रखा जाये तो मिर्च जल्दी खराब नही होती।

☣ हरी मटर को अधिक समय तक ताजा रखने के लिए प्लास्टिक की थैली में डालकर फ्रिजर में रख दें।

☣ घर में अगर कटा प्याज रखें, तो वो आसपास के वातावरण में मौजूद सभी बैक्टेरिया सोख लेता है। अगर प्याज को खाया जाए, तो पेट के भी सभी कीड़े मर जाते हैं।☣ खीर बनाते समय जब चावल पक जाए तो चुटकीभर नमक डालें। चीनी कम लगेगी व स्वादिष्ट खीर लगेगी। 


☣ टमाटर पर तेल लगाकर सेंकें इससे छिल्का आसानी से उतर जाएगा।



☣ भजिया-पकोड़ा, आलू बड़ा सर्व करते समय चाट मसाला छिड़कें व तली हरी मिर्च के साथ सर्व करें। मजा दोगुना हो जाएगा।


☣ पराठे बनाते समय आटे में एक उबला छिला पिसा आलू व एक टी स्पून अजवाइन डालें। पराठे मक्खन से सेंकें, कुरकुरे व स्वादिष्ट पराठे बनेंगे।

☣ अंकुरित अनाज को फ्रिज में रखने से पहले अनाज में 1 टी स्पून नींबू रस मिला लें तो अनाज में गंध नहीं आएगी।


☣ सबसे पहले तो आप अपने रसोई घर में नजर दौड़ा कर देखें की वहॉं कोई सामान बेवजह तो नहीं पड़ा है। अमूमन घरों में बेकार हो चुके या काम में न आने वाले टोस्ट, अवन आदि को भी रसोई से हटाया नहीं जाता, तो उसी सामान को रसोई में रखे जो ठीक हो और जिनकी जरूरत हो।


☣ अगर फ्रिज रसोई में ही रखा है तो उसे डाइनिंग टेबल के पास लगावा दें।


☣ मिक्सर, ग्राइंडर को रसोई में एक कोने में साफ जगह पर रखें जहॉं से स्विच बोर्ड पास हो और पानी की छिंटे न पहुँचे। छोटी अलमारी में भी रख सकती है ताकि जरूरत पड़ने पर ही निकाल सकें। इसके अलावा रोजाना काम में आने वाली चीजों को बाहर ही रखें। बाकी कम काम में आने वाला सामान, आप रसोई की अलमारियों और दराजों में रख सकती हैं।


☣ कप, बर्तन आदि को रखने के लिए स्टील का रैक आदि का प्रयोग बेहतर रहता है। संभव हो तो इसे दीवार पर अटैच करवा दें, इससे रसोई घर में ज्यादा जगह बचेगी।


☣ दहीबड़े बनाते समय हर बार हाथ में पानी लगाएँ, इससे पीठी चिपकती नहीं है और दहीबड़ा आसानी से तेल में सरक जाता है। 


☣ कढ़ी में जब तक उबाल न आ जाए तब तक उसे बराबर चलाएँ। न चलाने पर कढ़ी उबलकर बर्तन से बाहर निकल जाती है। एक- दो उबाल आने के बाद धीमी आँच पर पकने के लिए छोड़ी जा सकती है।


☣ पकौड़ियॉं बनाते समय घोल में जरा-सा गरम तेल अवश्य डाल लें। साथ ही घोल को अच्छी तरह फेंट लें।


☣ अरबी के पत्तों के पतोड़ बनाने के लिए पत्तों को बेलन से बेल कर समतल कर लें, फिर मसाला लगाएँ। इससे फोल्ड करने में पत्ता फटता नहीं है।

☣ बाजरे व मक्के की रोटी को पॉलीथिन के अंदर रखकर बेलने से यह अच्छी बनती है।


☣ खीर में जरा-सा कॉर्नफ्लोर मिला देने से खीर जल्दी गाढ़ी हो जाती है।


☣ रायते में हींग-जीरे का छौंक लगाएँ, स्वाद और बढ़ जाएगा। 
☣ जब बनाए कचोरी : कचोरी कभी भी चकले बेलन से न बेलें, इन्हें हथेली से दबाकरही बनाएँ।


☣ बालूशाही बनाने के लिए गोले को हथेली के ऊपरी उठे हिस्से से दबाकर बीच में हल्का-सा दबाव देकर तलें।


☣ रोटी को पलेथन लगाकर ऐसा बेलें कि रोटी चकले पर अपने आप घूमकर गोल बने। ऐसी बनी रोटी पूरी फूलती है।


☣ पराठों को परतदार बनाने के लिए गोल रोटी के ऊपर तेल लगाकर सूखा आटा बुरकें, हर मोड़ पर ऐसे करें।

☣ पूड़ी बेलते समय आटे का पलेथन न लगाकर जरा-सा घी या तेल चकले पर लगाकर बेलें। पलेथन लगी पूड़ी तलने पर तलने वाला घी या तेल में कालापन आ जाता है, जिससे तली पूड़ी देखने में सुंदर नहीं लगती।


☣ पत्ता गोभी के पूरी तरह से बनने के बाद उसमें मूँगफली के दानों को सेंककर मिला दें तो आप पाएँगी कि पत्ता गोभी का स्वाद जरा बढ़िया है।


☣ साबूदाने की टिकिया बनाते वक्त उसमें ब्रेड़ के दो बड़े-बड़े स्लाइस पानी में भिगोकर पानी को हथेलियों से दबाकर निकाल दें व पेस्ट में मिला दें तो टिकिया बिखरेगी नहीं व टिकिया का स्वाद जरा अलग होगा।


☣ गुलाब जामुन की चाशनी को ठंडी होने के बाद उस चाशनी में 6-7 बूँद केवड़ा एसेंस मिला दें व फिर चाशनी में गुलाब जामुन डालें।

☣ पूरी का आटा गूँथते वक्त उस आटे में मोयन के अलावा 2 बड़े आलू उबालकर आटे में अच्छी तरह से मिला दें। इससे पूरी तो मुलायम बनेगी ही और तेल भी कम लगेगा व साथ ही पूरी का स्वाद जरा...।


☣ भिंडी अधिक समय तक ताजा रखने के लिए उस पर हल्का सा सरसों का तेल लगा दें।


☣ जब बनानी हो खीर...खीर बनाने के लिए चावल धोकर थोड़ी देर के लिए कपड़े पर फैलाएँ। बाद में थोड़े से घी में भूनकर मिक्सी में दरदरा पीस लें और एयरटाइट डिब्बे में भर दें। आवश्यकतानुसार खीर बनाते समय उपयोग में लाएँ। ये तीन माह तक खराब नहीं होते।


☣ सूजी को गुलाबी भूनकर वेट जार में रखें। हलवा या उपमा झटपट बनेगा।



☣ चॉंदी के बर्तनों पर पड़े धब्बों को मिटाने के लिए उनको आलू के साथ उबालें। या इमली के पानी में थोड़ी देर भिगोने के बाद धो लें। दाग-धब्बों से छुटकारा मिल जाएगा।


☣ रसीले पफ बनाने के लिए पफ (कच्चे) काटकर डिब्बे में भरकर फ्रीज में रखें। जरूरत पड़ने पर बेलकर, तलकर, चाशनी में डालें। कच्चे पफ आठ दिनों तक खराब नहीं होंगे।




☣ हरे टमाटरों को ब्राउन पेपर अथवा अखबार में लपेटकर स्टोर में रखें, वे जल्दी पक जाएँगे।


☣ केसरिया भात का मेनू यदि रात के खाने में है तो सादे चावल सुबह पकाकर रख लें। रात को पिसी शक्कर मिलाकर चावल गर्म करें। केसरिया भात जल्दी बनेगा ।


कुछ अन्य प्रचलित कुकिंग टिप्स ☣


1)🌺**समोसे का आटा गूथते समय आप उसमें थोडा सा चावल का आटा भी मिलादें तो समोसे अधिक कुरकुरे बनेगे

2)🌺***भटूरे के आटे में खमीर उठाने के लिये ब्रेड के २,३ स्लाइस तोडकर मिला दीजिये देखियेगा कितनी जल्दी खमीर उठजाता है

3)🌺***दही बडे बनाने के लिये पिसी हुई दाल में थोडी सी सूजी भी फ़ेटकर मिलादे, बडॆ अधिक नरम बनेगे।

4)🌺***आलू की टिकिया बनाते वक्त थोडे से कच्चे केले को उबाल कर उस्क गूदा भी मिला दीजिये टिकिया बहुत अधिक स्वादिष्ट बनेगी।

5)🌺***अगर प्याज अधिक कट जाए या कटा हुआ बच जाये तो उसे नमक लगा कर थो्डा सा सिरका डाल कर रखदीजिये खाने के साथ खाएं स्वादिष्ट लगेगा।

6)🌺***कच्चा केला काटते समय हाथ काले पड जाते है।उन्हे साफ़ करने के लिए कुछ बुदें नीम्बू का रस व जरा सा नमक लगा कर साफ़ करे हाथ तुरन्त साफ़ हो जाएगे।

7)🌺****बथुआ उबाल कर उसका पानी फ़ेकें नही, उस से पैर साफ़ करे चिकने हो जाएगें
8)🌺***यदि दूध में खटास आने लगेऔर फ़टने का खतरा लगे तो,उसमें१ चम्मच पानी में १/२चम्मच खाने का सोडा मिलाकर डाल दीजिये दूध नही फ़टेगा

9)🌺 **कई बार घी बनाते समय घी जल जाता है जले हुये घी में एक ताजा कटा हुआ आलू का टुकडा डालकर आग पर रखें जला हुआ घी साफ़ होजाएग।

10)🌺***करेले टिन्डे भिन्डी तोरईआदी सब्जिया नरम पड गई होतो इन्हे थोडी देर पानी में भीगो कर रखें फ़ीर ये आसानी से कट जायेगी व छिल जायेगी

11)🌺***हाथो से प्याज की दुर्गन्ध दुर करने के लिए कच्चे आलू मले ,दुर्गन्ध दुर हो जायेगी|

12)🌺***कोफ्ते तलते समय तेल पर्याप्त गरम होना चाहिये, इन्हें धीमी आग में मततलिये. कम गरम तेल में कोफ्ते डालने से वे तेल में फट सकते हैं. पनीर में अरारोट कम होने पर कोफ्ते तेल में फट सकते हैं.

13)🌺****अगर सब्जी मे नमक अधिक पड जाता है तो उबला आलु डाल कर सब्जी ओर थोडी देर पका लीजियेन नमक ठीक होजायेग

14)🌺***मूंग की दाल की मंगोडी की दाल गीली हो गई है तो आप उबले आलू को मसल कर दाल मे मिला दीजिये मंगोडी और भी खस्ता बनेगी

15)🌺***आलू के चिप्स आप लोग सब बनाते ही होगें उनको स्टोर करनेपर कई बार उनमे से अजीब सी गध आने लगती हैइस के लिये आप उसमें सूखी हुई लाल मिर्च व नीम की सूखी पत्तियां रखीये डिब्बा बदं होने पर भी गधं नही आयेगी।

16)🌺*** आलू के पराठे बनाने जा रही है तो थोडा सा आम के अचार का मसाला डाल कर बनाये पराठे बहुत स्वादिष्ट बनेगे।

17)🌺***आलू उबाल ने के बाद पानी नही फ़ेके,उस पानी से नीम्बु मिला कर उस पानी से सर धोये बाल चमक जाएगे

18)🌺***अगर आखें थकी-थकी हो तो कच्चे आलु का गोल गोल काट कर आखो पे रखें आंखो की थकान गयब हो जायेगी

19)🌺****निम्बू का अचार अगर खराब होने लगे तो अचार को किसी बर्तन मे निकाल कर सिरका डाल कर पका लीजिये, अचार फिर से नया हो जायेगा।

20)🌺***निम्बू के अचार में नमक के दाने पड जाते हैअचार डालते समय ही थोडी पीसी चीनी भी बुरक दे तो ये दाने नही पडेगें | और अगर पड गये है तो भी थोडी पीसी चीनी बुरक दीजिये अचार नया सा हो जायेगा।
21)🌺***आम का अचार बनाते समय जब फांको में नमक हल्दी लगाकर रखती है तब उनपर १-२ चम्मच पीसी चीनी भी बुरक दीजिये इससे जहा सारी फाकें पानी छोड देगीं वही अचार की रगतं भी साफ़ सुथरी बनी रहे गी अचार चमकीला बनेगा।

22)🌺***आम के मीठे अचार में थोडा सा अदरक भी कस कर मिला दीजिये अचार अधिक पौष्टिक व चटपटा बनेगा। बनाने से पहले यदी साबुत मसुर की दाल को कडाही मे हल्का सा भुन कर फिर बनाइये अधिक सोंधी बनेगी।

23)🌺***कई बार गर्मी में दोसे का घोल बहुत खट्टा हो जाता है अगर दोसे का घोल ज्यादा खट्टा हो गया है तो--उस में२,३ गिलास पानी दाल कर रख दें १/२ घटें बाद उपर का पानी धीरे से निकाल दें खटास कम होजाएगी।

24)🌺***सलाद बनाने से पहले सब्जीयों में को कुछ देर फ़्रीजर मे रखें फिर सलाद काटें आसानी से कटेगा खुबसुरत दिखेगा।
25)🌺***टमाटर, पपीता, खरबूजा, सेव आदी फ़ल काटते समय उनका जो रस हाथ म पर लग जाता है उसे चेहरे पर व कोहनियों पर मल लें सुखने पर स्नान कर लें त्वचा कमनीय हो जाएगी

26)🌺***सेव केला आदि फ़ल काटने के बाद काले पडजाते है अत: उनमे नीम्बू के रस का छिड्काव कर दें तो काले नही पडेगें।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.