Header Ads

अगर आपको भी हैं कुंभकर्ण की तरह सोने की आदत

अगर आपको भी हैं कुंभकर्ण की तरह सोने की आदत

अगर आपको भी हैं कुंभकर्ण की तरह सोने की आदत, तो जिंदगी भर रहेंगे इन बीमारियोंं से परेशान

सेहत के लिए हर इंसान को पर्याप्त और सामान्य नींद की जरूरत होती है, ऐसे में यह नींद अगर जरूरत से ज्यादा अधिक हो या कम तो इसका साइड इफेक्ट्स देखने को मिलता है। नींद कम होने की वजह से भी आपको कई बीमारियां होती है, तो वहीं नींद ज्यादा होने की वजह से आपको कई गंभीर बीमारियां भी जकड़ लेती हैं। एक अच्छी नींद और हेल्थ को स्वस्थ रखने के लिए आपको सामान्य नींद जोकि 7 से 8 घंटे की हैं, उसे लेना चाहिए। डॉक्टर भी जरूरत से ज्यादा सोने की सलाह नहीं देते हैं, क्योंकि इसके पीछे कई ऐसी बीमारियां जुड़ी है, जोकि आपको जिंदगी भर तकलीफ दे सकती हैं। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

आज हम आपको उन बीमारियों के बारे में बताने जा रहे हैं, जोकि ज्यादा सोने की वजह होती हैं। आमतौर पर लोग यही सोचते हैं कि अगर हम दिन भर सोते रहे तो हमारी बॉडी एकदम फिट रहेगी। यही वजह है कि लोग ज्यादा सोना पसंद करते हैं। इतना ही नहीं, छुट्टी के दिन तो पूरे दिन भी लोग सोते हैं। पर ऐसा करने से आपकी हेल्थ पर सीधा सीधा गलत प्रभाव पड़ता है। तो चलिए जानते हैं कि आखिर वो कौन कौन सी बीमारियां है, जोकि आपको ज्यादा सोने की वजह से हो सकती हैं।
मोटापा


मोटापा एक ऐसी समस्या है, जिससे आज हर दूसरा इंसान परेशान हो चुका है। एक उम्र के बाद मोटापा का बढ़ना ठीक रहता है, लेकिन आजकल युवा पीढ़ी भी इसके चंगुल में आ चुकी हैं। ऐसे में मोटापा ज्यादा सोने की वजह से भी होता है, जिसकी वजह से आपको 7 या 8 घंटे ही सोना चाहिए, ताकि आपको बेवजह मोटापे का शिकार न होना पड़ा।
हार्ट अटैक का खतरा


जो लोग बहुत ज्यादा सोते हैं, उनके लिए खतरे की घंटी होती है। उन्हेंं हार्ट अटैक का ज्यादा चांस होता है। साथ ही कई दिल की बीमारियां भी जकड़ लेती हैं, जोकि ताउम्र आपको परेशान करती हैं। ऐसे में अगर आप भी जरूरत से ज्यादा सोते हैं, तो आप 7 या घंटे की ही नींद लें, ताकि आपका हार्ट एकदम मजबूत हो।
प्रजनन क्षमता कम होना
जो महिलाएं बहुत ज्यादा सोती हैं, उनमें प्रजनन की क्षमता कम हो जाती हैं। यानि वो गर्भधारण करने में सामान्य महिलाओं से कम क्षमता रखती हैं। दरअसल, ज्यादा सोने की वजह से महिलाओं के हार्मोन स्राव और मेंसट्रूअल साइकिल पर गलत प्रभाव पड़ता है, जोकि गर्भाशय पर सीधा सीधा गलत प्रभाव डालता है, ऐसे में महिलाओं को सिर्फ 7 घंटे की ही नींद लेनी चाहिए, ताकि इस तरह की समस्या से बच सके।
डिप्रैशन

आमतौर पर लोगोंं की यह सोच होती है कि वो अगर 9 घंटे से ज्यादा सोएंगे तो उनका दिमाग एकदम स्वस्थ रहेगा, लेकिन 9 घंटे की नींद से आप डिप्रैशन के शिकार हो सकते हैं, क्योंकि ये नींद सीधे सीधे आपके दिमाग पर असर डालता है। ऐसे में आपको सामान्य ही नींद लेना चाहिए, जिससे आपकी हेल्थ एकदम ठीक रहेगी।
डायबिटीज

ज्यादा सोने की वजह से आपको डायबिटीज हो सकता है। साथ ही आपको बता दें कि जरूरत से ज्यादा नींद डायबिटीज टाइप-2 का खतरा ज्यादा हो जाता है। ऐसे में आपको सिर्फ 8 या 7 घंटे की ही नींद लेना चाहिए, ताकि आप इस तरह की गंंभीर बीमारियों से दूर रह सके। इन सबके अलावा ज्यादा सोने की वजह से आपको कई और भी समस्या हो सकती हैं, जिसमें सुस्ती, सिर दर्द आदि।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.