Header Ads

कानों में जम गई है मैल, जानें कौन सा तेल आएगा आपके काम


कानों में जम गई है मैल, जानें कौन सा तेल आएगा आपके काम
1-2 बड़ा चम्मच कानों में बेबी ऑयल डालने से कान में जमी मैल आसानी से निकल जाती है।
कई दिनों तक कानों की सफाई न करने से कान के अंदर गंदगी जमा हो जाती है। कई बार इससे कानों में तेज दर्द भी रहने लगता है। कानों में जमा होने वाली मैल को ईयर वैक्‍स कहते हैं। कानों की मैल न सिर्फ परेशान करती है, बल्कि इससे ईयर इंफेक्शन के अलावा भी कानों से संबंधित कई गंभीर समस्याएं हो सकती हैं। ऐसे में कानों में मैल जमा हो तो उसे तुरंत साफ कर लेना जरूरी हो जाता है। कई बार लोग टूथ पिक, लकड़ी, पेन आदि से कान साफ करते हैं। ऐसा करना बिल्कुल भी ठीक नहीं है। कान दर्द करना, कान भरा-भरा लगना, कानों में आवाज आना, कम सुनाई देना ये कुछ संकेत हैं, जो बताते हैं कि आपके कानों में मैल जम गई है। यदि आपके कानों में मैल जम गई है, तो बेबी और ऑलिव ऑयल का प्रयोग करें। इससे आसानी से आपके कानों की मैल पिघल कर बाहर निकल जाएगी। जानें किन तरीकों से कर सकते हैं बेबी ऑयल से कान साफ- 

बेबी ऑयल से मैल साफ

सबसे पहले 1-2 बड़ा चम्मच बेबी ऑयल लें। इसे हल्का गर्म करें। एक शोध की मानें तो कोई लिक्विड शरीर के तापमान से ज्यादा गर्म या ठंडा हो, तो उससे कानों में समस्या शुरू हो सकती है। अपने सिर को डेढ़ा करें। अब कान को ऊंगली से पकड़कर खींचें। इससे कानों की कैनल साफ होने में मदद मिलेगी। साथ ही बेबी ऑयल आसानी से कानों में चला जाएगा। किसी आईड्रॉपर की मदद से कानों मे बेबी ऑयल की कुछ बूंदें डालें। ड्रॉपर को कान के बाहर ही रखें। थोड़ी देर के लिए सिर को एक तरफ झुकाकर ही रखें। कान की मैल आसानी से लूज हो जाएगी। बेबी ऑयल के अलावा आप ऑलिव ऑयल की दो तीन बूंदों को कानों में डालकर देखें। इससे भी मैल निकलती है। ऐसा रात को सोने से पहले करें। 3-4 दिनों तक ऐसा करने से कान बिल्‍कुल साफ हो जाएगा। 


सोने से पहले करें

अब कानों पर साफ तौलिया या पेपर रोल रखें। गर्दन को धीरे से कंधे की ओर झुकाएं। तौलिया कानों से बाहर आने वाले बेबी ऑयल को सोक लेता है। इससे शरीर का बाकी हिस्सा या कपड़ा गंदा नहीं होगा। बेबी ऑयल का इस्तेमाल कानों को साफ करने के लिए कुछ दिनों तक करें। इसे सुबह नहाने से पहले और रात में सोने से पहले करेंगे, तो जल्दी लाभ होगा। बल्ब सीरिज में भी गर्म पानी भर कर आप कान को साफ कर सकते हैं। बेबी ऑयल से कान का मैल आसानी से पिघल जाता है। कान साफ करने के बाद आप चाहें तो एल्कोहल की कुछ बूंदे उसमें डाल दें। ये आपकी कान की ग्रंथि को सुखाकर बैक्टीरियल इफेंक्शन से बचाता है। यदि आपको फिर भी घबराहट होती है, तो डॉक्टर की सलाह जरूर ले लें। 


और भी हैं कई तरीके
घरेलू नुस्खे में अदरक और नींबू के रस से भी कान साफ कर सकते हैं। इसका कोई साइड एफेक्ट भी नहीं होगा। अदरक के रस में नींबू का रस मिलाएं। अब इसकी 3-4 बूंदें कान में डालें। आधे घंटे रुकने के बाद कान को रूई से साफ कर दें। जैतून का तेल भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके लिए तेल को बहुत हल्‍का गर्म करें। अब कानों में डालें। राहत मिलेगी। प्‍याज को बारीक काट कर माइक्रोवेव में डालें। कुछ मिनट पकाएं। अब उसके रस को निचोड़ कर कान में डालें। तुलसी की पत्‍ती से रस निकाल कर कान में 4-5 बूंद डालें। आप चाहें तो तुलसी की पत्‍तियों को नारियल तेल में उबाल कर भी कान में डाल सकते हैं। इसे दिन में दो बार डालें। जब भी कानों में मैल जमा हो, इन घरेलू नुस्खों को एक बार जरूर ट्राई करके देखें। फिर भी मैल न निकले, तो अपने कानों को डॉक्टर को दिखाएं।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.