Header Ads

अजवाइन की पत्ती के फायदे

अजवाइन की पत्ती के फायदे



आजवाइन की पत्तियां वैज्ञानिक रूप से ओरिगैनम वल्गर के रूप में जाना जाता है और यह मिंट परिवार से संबंधित है। आजवाइन की पत्तियों का उपयोग ताजे या सूखे रूप में किया जाता है। सूखे आजवाइन की पत्तियां ताजे पत्तियों की तुलना में एक मजबूत स्वाद वाला जड़ी बूटी है। यह जड़ी बूटी पोटेशियम, मैग्नीशियम, मैंगनीज, आयरन, और कैल्शियम जैसे खनिजों का एक उत्कृष्ट स्रोत है।

आहार फाइबर का समृद्ध स्रोत आजवाइन की पत्तियां रक्त में कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करता है।
अजवाइन की पत्ती के फायदे
इम्यून सिस्टम को करे मजबूत
ऐसा माना जाता है कि ताजे आजवाइन की पत्तियों को अपने आहार में शामिल करते हैं तो इससे आपके इम्यून सिस्टम को बढ़ावा मिल सकता है। विभिन्न अध्ययनों से पता चला है कि आजवाइन की पत्तियों में सेब की तुलना में 42 गुना अधिक एंटीऑक्सीडेंट गुण होता हैं, क्योंकि यह विटामिन ए और विटामिन सी में समृद्ध है।

जर्नल ऑफ न्यूट्रिशन में प्रकाशित एक अध्ययन के मुताबिक, आजवाइन की पत्तियां फल, जामुन, अनाज जैसे कई अन्य खाद्य पदार्थ की तुलना में एंटीऑक्सिडेंट का एक बेहतर स्रोत हो सकता है।
पाचन शक्ति को बढ़ाए

आजवाइन की पत्तियां फाइबर का एक बहुत ही अच्छा स्रोत है। इसे नियमित रूप से खाने से हमारे पाचन तंत्र को बढ़ावा मिल सकता है। हम सभी जानते हैं कि फाइबर स्वस्थ पाचन तंत्र का एक आवश्यक तत्व है।

एक्सपर्ट के मुताबिक फाइबर हमारे दैनिक आहार का एक बहुत ही महत्वपूर्ण हिस्सा है और हमें अपने आहार में इसे जरूर शामिल करना चाहिए क्योंकि यह हमारे स्वास्थ्य को संतुलन बनाए रखने महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। आपको बता दें कि घुलनशील फाइबर शुगर के स्तर को नियंत्रण रखने के लिए जाने जाते हैं, जबकि अघुलनशील फाइबर गैस्ट्रिक प्रणाली के सुचारू कामकाज को बनाए रखने में मदद करते हैं।
उर्जा को बढ़ाए आजवाइन की पत्तियां

ओरिगैनो या आजवाइन की पत्तियां उर्जा को बढ़ाने काम करता है। यह मेटाबॉलिज्म या चयापचय की कार्यक्षमता में सुधार करने में मदद करता है तथा शरीर हर समय कायाकल्प और उत्साहित रहता है।

यह ब्लड सर्कुलेशन में वृद्धि, आयरन जैसे खनिजों की उपस्थिति के कारण, हमारे शरीर की कोशिकाओं और मांसपेशियों को ऑक्सीजन करने में मदद करता है, जो ऊर्जा को बढ़ावा देता है और हमें शक्ति देता है।
डायबिटीज को करे नियंत्रित

आजवाइन की पत्तियां टाइप-1 डायबिटीज को नियंत्रित करने में मदद के लिए भी जाना जाता है। डायबिटीज के विकास को रोकने में आजवाइन की पत्तियों की बड़ी सफलता के कारण, यह भविष्य में मधुमेह के उपचार में स्थिरता ला सकता है।
हड्डियों के स्वास्थ्य में करे सुधार


उम्र बढ़ने के साथ हमारी हड्डियां बहुत ही कमजोर हो जाती है। इसलिए, विटामिन और खनिज में समृद्ध खाद्य पदार्थों का सेवन आपको करना चाहिए। आजवाइन की पत्तियां कैल्शियम, आयरन और मैंगनीज में समृद्ध है जो हड्डी के स्वास्थ्य के लिए सबसे महत्वपूर्ण खनिजों में से एक हैं।

कैल्शियम हड्डी की संरचना का समर्थन करता है, जबकि विटामिन डी कैल्शियम अवशोषण और हड्डियों के विकास में सुधार करने के लिए काम करता है। ऑस्टियोपोरोसिस या गठिया वाले लोग अपने कैल्शियम और विटामिन डी सेवन को बढ़ाकर बहुत लाभ उठा सकते हैं। इसके अलावा आजवाइन की पत्तियां नेचुरल पेन किलर के रूप में काम करता है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.