Header Ads

स्तनों को कसने का उपाय

स्तनों को कसने का उपाय और चमत्कारी नुस्खे –

तरीका – १ 
हार्मोन में उतार-चढ़ाव , गर्भावस्था, और उम्र बढ़ना स्तनों की शिथिलता का कारण बन सकता है। हालांकि स्तन के ऊतकों और त्वचा की उम्र बढ़ना natural है, परंतु आप अपने स्तनों को दृढ़ करने के लिए कुछ अभ्यास और व्यायाम का उपयोग कर सकते हैं। अगर आप अधिक जल्दी परिणाम चाहते हैं तो सर्जिकल विकल्प भी उपलब्ध हैं।

1
जब भी आप व्यायाम की शुरुआत करें, स्पोर्ट्स ब्रा जरुर पहनें: अगर आप एक्सरसाइज का कोई स्टेप या जम्प करते हो तो आपके स्तन उछलते और खिंचते हैं। बड़े स्तन वाली महिलाओं को मोटी पट्टियों वाली अंडरवायर स्पोर्ट्स ब्रा पहननी चाहिए।
लॉंजरी ब्रा की तुलना में एक स्पोर्ट्स ब्रा अधिक आराम से फिट होती है। यह आपकी पसलियों के आसपास लपेटी जानी चाहिए।
जब सहायक बैंड खिंच जाते और ढीले हैं, ब्रा को बदल लें: अगर ब्रा की आखिरी क्लिप अब एक टाइट, सही फिट नहीं दे रही हैं, तो यह ब्रा बदलने का समय है। स्तन का आकार हार्मोन, वजन में उतार चढ़ाव और गर्भावस्था के साथ बदल सकता है, तो अगर आपकी वर्तमान ब्रा असहज या ढीली है, तो आप एक नई सही आकार की ब्रा ले सकते हैं।
धोने से पहले ध्यान देने द्वारा अपनी ब्रा के जीवन को बनाए रखें। अगर आप उन्हें हाथों से नहीं धो सकते, तो कोमल चक्र का उपयोग करें और उन्हें खिंचाव से बचाने के लिए वॉश बिन में ना रखें।
2
अपनी पीठ के बल सोएं: जब आप करवट ले कर सोते हैं, तो आप पाएंगे कि आपके स्तन ढीले होकर लटक जाते है और खीचते है । अपनी पीठ पर सोने से, आप लंबे समय तक दोनों स्तनों को दृढ़ रख सकते हैं।
3
अपने Weight में उतार-चढ़ाव न होने दें: परहेज़ करने से खिंचाव के निशान हो सकते हैं और त्वचा लचीली हो सकती है। हर बार वजन बढ़ने के बाद जब आप कम करते हैं, स्तन और अधिक शिथिल दिखाई देते हैं, क्योंकि त्वचा को अतिरिक्त वसा ऊतक के आसपास खिंचाव करना होता है।


4

अपनी गर्दन और स्तन के ऊपरी क्षेत्र पर anti aging cream का प्रयोग करें: त्वचा के कोलेजन(कॉलॆजन नामक रेशेदार प्रोटीन ) में सुधार करने के फार्मूले चुनें। वे आपके Cleavage को अधिक युवा बना सकते हैं।

5
गर्म पानी से नहाने के बाद स्तनों पर ठंडा पानी डालें: ठंडा पानी या बर्फ भी स्तनों को शिथिलता से बचाने में मदद कर सकता है।
नहाने के बाद आप स्तनों पर ठंडा पानी डालें (अगर गर्म पानी का उपयोग करते हैं) ।
आप उन पर कुछ बर्फ भी रगड़ सकते हैं ।

तरीका – २ 

1
व्यायाम की पुश-अप्स से शुरूआत करें: अपने पीठ और सीने के विभिन्न क्षेत्रों में मजबूती के लिए 3 अलग अलग प्रकार के पुश-अप्स की कोशिश करें। अगर आप पूर्ण रूप से पुश-अप्स नहीं कर सकते, तो घुटने के सहारे पुश-अप्स करें।
Milatry पुश-अप्स की कोशिश करें। अपने कंधे की चौड़ाई से थोड़ा व्यापक अपनी बाहों को ले जाएँ। फिर अपनी बाहों को घुमा लें, ताकि उंगलियां एक 45 डिग्री के आवक कोण पर इशारा कर रही हों। 5 पुश अप धीमी गति और 10 पुश अप तेजी के साथ करें।

नियमित रूप से पुश अप्स करें। हाथ पैर तैयार करें और उसके बाद अपने घुटनों पर झुकें और अपने पैर और हाथों के साथ अपने शरीर को समर्थित करें। उंगलियों से ऊपर की ओर इशारा करते हुए, अपने कंधों के नीचे अपनी बाहें रखें। बहुत धीमी गति से जितने धीमे आप कर सकते हैं, 5 पुश अप्स करें। फिर, तेजी के साथ 10 पुश-अप्स करें।
ट्राइसेप पुश-अप्स का पालन करें। अपनी बाहों को कंधे के बराबर चौड़ाई तक फैलाएं। जब आप पुश-अप्स में नीचे की ओर जाते हैं, अपनी पसलियों से रगड़ते हुए अपनी कोहनियों को सीधे नीचे ले जाने का ध्यान रखें। धीमी गति से 5 पुश अप और 10 पुश अप तेजी के साथ करें।

चेस्ट फ्लाई करने की कोशिश करें: फर्श पर लेट जाएं। प्रत्येक हाथ में 1.5-3 किलो वजन लें।
अपनी कोहनी को थोड़ा मोड़ें। अपने हाथ तब तक उठाएं, जब तक दोनों वजन आपके सीने के ऊपर एक दूसरे से ना मिलें।

उन्हें धीरे धीरे नीचे लाएं, जब तक आपके ऊपरी हाथ आपकी ट्रंक के लम्बवत्त ना हो जाएं। आपके निचले हाथ फर्श से थोड़ा ऊपर होने चाहिए। 10 दोहराव के 2 से 3 सेट करें।
अगर व्यायाम बहुत आसान है, तो वजन का थोड़ा भारी सेट उठाएं।

3
एक “C” स्वीप की कोशिश करें: अपने हाथ बगल में नीचे करने के बजाय, उन्हें अपने सिर के ऊपर जमीन पर नीचे करें। जब आप नीचे जाते हैं, वजन आप से कुछ इंच दूर रहना चाहिए और ध्यान रखें कि आप मांसपेशियों में असंतुलन पैदा नहीं करें।

अपने सिर के पास वजन लाते हुए, अपनी पसलियां न उठाएं। अपनी पीठ और पसलियों को व्यस्त बनाए रखने के लिए अपनी ऊपरी मांसपेशियों का प्रयोग करें।
10 के 3 सेट करें।
4
TRX बैंड का प्रयोग करें: ट्राईसेप और बाईसेप कर्ल के मुफ्त वजन का उपयोग करने के बजाय, अपने स्थानीय जिम के सस्पेंशन बैंड का उपयोग करें। अपने पैर आगे ले जाएं और एक झुकाव की स्थिति में वापस लाएं।

बाईसेप कर्ल करने के लिए अपने ऊपरी हाथ सीने के करीब रखें।
चेस्ट फ्लाई के लिए अपने हाथ खोलें और बगल में उठाएँ।
ट्राईसेप कर्ल करने के लिए, अपने हाथों के साथ अपने सीने के करीब बैंड पर आगे झुक जाएं। अपने आर्मपिट के पास अपनी कलाई रखकर शुरू करें और अपने हाथ सीधे करने तक नीचे पुश करें।
अपने कंधे प्रेस करने के लिए, एक पाइक की स्थिति में अपने हाथों को अपने पैरों तक नीचे ले जाएं। अपने शरीर को एक 90 डिग्री के कोण तक उठाएं, फिर उसे नीचे ले जाएं।
सभी व्यायाम को 10 बार, 2 से 3 के सेट में दोहराएँ।

सप्ताह में तीन दिन छाती की एक कसरत करें, एक-एक दिन छोड़ते हुए: यह अभ्यास पेक्स और हाथों को टोन करेगा। जैसे आपकी कवच की मांसपेशियां उठेगी, आपके स्तन मजबूत और दृढ़ दिखेगें।

तरीका 3- चिकित्सा / शल्य चिकित्सा समाधान

1
अगर आपके स्तन की त्वचा शिथिल हो रही है, तो एक त्वचा विशेषज्ञ से मिलें: डॉक्टर शिथिल त्वचा को दृढ़ करने के लिए रासायनिक पील्स और लेजर उपचार के सुझाव देने में सक्षम हो सकते हैं।
2
एक ब्रेस्ट लिफ्ट सर्जरी पर विचार करें: एक मास्टोपेक्सी आपके स्तनों को मजबूत बनाने के लिए त्वचा, स्नायु और स्तन के ऊतकों को लिफ्ट करती है। अगर आप सुनिश्चित हैं कि आप बच्चे पैदा कर चुके हैं, तो एक शल्य स्तन लिफ्ट आपके पूरे सीने को युवा और मजबूत बना सकता है।
मास्टोपेक्सी स्तनों के आकार को नहीं बदलती।

3
नैनोफैट ग्राफ्टिंग के बारे में अपने चिकित्सक से पूछें: इस प्रक्रिया के दौरान, डॉक्टर आपके शरीर के अन्य क्षेत्रों से वसा को निकाल कर स्तन क्षेत्र में इसे इंजेक्ट करता है, ताकि आपका ब्रेस्ट दृढ़ और मजबूत बनें।.
चेतावनी
ध्यान रखें, शल्य चिकित्सा और चिकित्सा समाधान केवल तब उपयोग करें, जब गैर-आक्रामक विकल्प काम नहीं करें। उनमें संक्रमण का जोखिम शामिल होता है और उनमें भविष्य में आगे उपचार की आवश्यकता हो सकती है।
चीजें जिनकी आपको आवश्यकता होगी

स्पोर्ट्स ब्रा
व्यायाम दरी
मुफ्त वजन
सस्पेंशन बैंड्स

तरीका – 4 – घरेलू उपाय
जिस प्रकार छोटे स्तन एक समस्या है, उसी प्रकार बढे हुए ढीले स्तन भी एक समस्या है, ढीले स्तन पूरी फिगर को खराब कर देते हैं. ऐसे में ये उपाय रामबाण हैं. एक बार इनको ज़रूर अजमाए.

1. अनार:
अनार की छाल (बकले) लगभग 1 किलो और माजूफल 125 ग्राम को लगभग 2 लीटर पानी में डालकर पकायें जब पानी आधा बच जाये तब इसे छानकर रख लें, फिर इसी में 125 मिलीलीटर तिल्ली का तेल डालकर पकाकर आधा करके स्तनों पर लेप करने से स्तन कठोर होते हैं।

2. धतूरा:
धतूरे के पत्तों पर एरण्ड का तेल गर्म-गर्म करके स्तनों के दर्द वाले भाग पर बांधने से दर्द कम होता है और स्तन कठोर हो जाते हैं।

3. कटेरी:
छोटी कटेरी -बड़ी कटेरी की जड़े, फदूंरी की जड़, अनार का बकला (छाल) और मौलश्री की छाल को पीसकर स्तनों (कुचों) पर लेप करने से कुच कठोर हो जाते हैं।

4. बरगद:
बरगद की नई कोमल बरोहें को लाल-लाल पानी में पीसकर स्तनों पर लेप करने से कुच कठोर हो जाते हैं।

5. गिजाई:
गिजाई, नमक और मुल्तानी मिट्टी को मिलाकर डालकर रख दें, फिर इसी मिट्टी को कुचों (स्तनों) के ऊपर से लेप करने से स्तन कठोर होते हैं।

6. मोचरस:
मोचरस को पानी में मिलाकर कुचों (स्तनों) पर लगाने से कुच सख्त होते जाते हैं।

7. लहसुन:
स्तनों का ढीलापन दूर करने के लिए नियमित रूप से लहसुन की 4 कली खाते रहने से स्तन उभरकर तन जाते हैं।

8. छुई-मुई:
छुई-मुई और असगंधा की जड़ को पीसकर लेप बना लें और स्तनों पर लगायें। इससे स्तनों का ढीलापन खत्म होकर कठोर और मोटे होते हैं।

9. बबूल:
बबूल की फलियों के चेंप से किसी कपड़े को गीला करके, सुखा लें। इस कपड़े को बांधने से ढीले स्तन कठोर हो जाते हैं।
सावधानी: ध्यान रहें कि इसका प्रयोग बच्चे वाली माता को नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे दूध के सूखने का डर रहता है।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.