Header Ads

मूत्र में जलन से छुटकारा –


मूत्र में जलन से छुटकारा – 
Get Rid of Urine Irritation Problem


मूत्र में जलन से छुटकारा – Get Rid of Urine Irritation Problem

मूत्र त्याग के समय मूत्र नली में जलन बहुत से कारणों से हो सकती है| गर्मियों के समय इस समस्या से अधिकांश लोग पीड़ित रहते है| लडकियों में मूत्र निष्कासन के समय जलन होने पर अधिक पीड़ा होती है|

नवविवाहित युवतियों में मूत्र की जलन अधिक होती है| चिकित्सको के अनुसार यह दोष ‘यूरिन इन्फेक्शन’ के कारण उत्पन्न होता है|
क्यों होती है मूत्र नली में जलन –
1. भोजन में अधिक मात्रा में चटपटे, मिर्च मसालो एवं अम्लीय रस से बने खाध-पदार्थो का सेवन करने से मूत्र में जलन का दोष उत्पन्न हो जाता है|

2. अधिक मात्रा में चाय-काफी एवं शराब पीने से भी मूत्र नली में जलन के दोष से पीड़ित हो सकते है|

3. योन रोग सूजाक(गोनोरिया) एवं उपदंश(सिफलिश) के कारण भी मूत्र मे जलन की समस्या उत्पन्न हो जाती है|

4. युवा लडकियों एवं नवविवाहिताओ में ‘यूरिनरी इन्फेक्शन’ के कारण मूत्र में जलन का दोष उत्पन्न हो सकता है|

5. मूत्र त्याग के बाद यो*नि को अच्छे से जल से स्वच्छ नहीं करने से जलन की समस्या हो सकती है|

6. गर्मियों में शरीर में जल के आभाव के कारण भी मूत्र त्याग के समय जलन की समस्या होती है| और जलन की अधिकता में बूँद-बूँद करके मूत्र निष्कासित होता है|
– बहुमूत्रता का आयुर्वेदिक उपचार – Ayurvedic Remedy for Polyuria
 – एड्स के लक्षण और उनका उपचार – Aids symptoms and treatment
मूत्र जलन की समस्या से छुटकारा पाने के उपाय –
1. अधिक मात्रा में शीतल जल पीना चाहिए| और हो सके तो दिन में 3-4 बार निम्बू का रस जल में मिलाकर पीना चाहिए |

2. ‘लिम्का’ या ‘सोडा’ पीने से मूत्र निष्कासन के समय जलन होने के दोष से जल्दी लाभ मिलता है|

3. नारियल पानी पीने से मूत्र की जलन जल्दी नष्ट हो जाती है|

4. तरबूज खाने या उसका रस पीने से भी मूत्र की जलन जल्दी नष्ट हो जाती है|

5. जौ को जल में उबालकर, छानकर उसे फ्रीज़ में रख दे और ठंडा होने पर थोडा-थोडा करके पीये| इससे मूत्र खुलकर आता है और जलन की समस्या से निजात मिलता है|

6. अनार का रस पीने से भी मूत्र में जलन की समस्या से छुटकारा मिलता है|

7. अनन्नास का रस एवं शर्बत पीने से भी मूत्र में जलन की समस्या से छुटकारा मिलता है|

8. गन्ने का रस पीने से भी मूत्र की जलन नष्ट हो जाती है|

9. पालक के 50 ग्राम रस में नारियल का 100 ग्राम जल मिलकर पीने से मूत्र खुलकर आता है|
10. दूब(घास) को पीसकर दूध में मिला दे एवं फिर छानकर पी ले| इससे मूत्र की जलन नष्ट होती है|

11. 10 ग्राम हरी धनिया को रात्रि के समय जल में भिगोकर रख दे| प्रातः उठकर धनिए को पीसकर उसको जल में मिला दे और फिर छानकर मिश्री मिलाकर पीने से मूत्र की जलन नष्ट हो जाती है|

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.