Header Ads

गोंद कतीरा के फायदे और नुकसान –


गोंद कतीरा के फायदे और नुकसान – Gond katira



Gond katira in hindi गोंद कतीरा का उपभोग आम तौर पर लड्डू, स्वास्थ्य पेय और खीर के रूप में किया जाता है। गोंद कतीरा एक स्वादहीन, गंध रहित, चिपचिपा पानी में घुलनशील प्राकृतिक गोंद है। गोंद कतीरा के फायदे अनेक हैं। गोंद कतीरा का आयुर्वेदिक दवाओं में बहुत व्यापक रूप से प्रयोग किया जाता है साथ ही गोंद कतीरा का उपयोग भारत में गुड़ के लड्डू बनाने में भी किया जाता है गोंद के फायदे अकेले खाद्य उद्योग तक ही सीमित नहीं हैं। गोंद कतीरा की कॉस्मेटिक उद्योग में भी भारी मांग है। गोंद कतीरा की सबसे फायदेमंद बात यह है कि, यह सूखती नहीं है और यह अन्य गोंद की तरह खुद के साथ चिपकी नहीं रहती है।


गोंद कतीरा क्या है 
– What is Gond katira In Hindi
ट्रैगेकैन्थ (Tragacanth) या गोंद कतीरा, एक कांटेदार झाड़ी है जो आकार में ज्‍यादा नहीं बढ़ती हैं। इस पौधे से गोंद प्राप्‍त की जाती है जिसे हम और आप गोंद कतीरा के नाम से जानते हैं। इस गोंद को पौधे की शाखाओं और जड़ में छेद करके प्राप्‍त किया जाता है। यह गोंद पौधे से बहुत अधिक मात्रा में प्राप्‍त होती है।
गोंद कतीरा के पोषक तत्‍व – Gond katira Nutrients Value in Hindi

इस गोंद में पोषक तत्‍व बहुत अधिक मात्रा में पाए जाते हैं, यह बहुत ही पौष्टिक खाद्य पदार्थों में गिना जाता है। इसमें कैल्शियम, मैग्‍नीशियम, और प्रोटीन बहुत अच्‍छी मात्रा में होते हैं। यही कारण है कि गोंद कतीरा गर्भवती और स्‍तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए बहुत ही फायदेमंद होता है। यह उनके शरीर में कैल्शियम की पूर्ति कर उनकी हड्डीयों को मजबूत बनाने में मदद करता है। इस कारण ही इन महिलाओं को गोंद कतीरा के लड्डू खिलाये जाते हैं।

गोंद कतीरा के फायदे –
 Gond katira ke fayde In Hindi


यद्यपि गोंद कतीरा (Tragacanth gum) के फायदे व्‍यापक और विस्तृत हैं। इसका उपयोग सौंदर्य प्रसाधन, कपड़ा उद्योग, पेपर बनाने आदि कामों में किया जाता है। गोंद कतीरा के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ भी बहुत अधिक हैं। यह महिलाओं के स्‍वास्‍थ्‍य के लिए प्रमुख रूप से उपयोग किया जाता है साथ ही यह मूत्र रोग, त्‍वचा रोग, दस्‍त, हृदय रोग आदि समस्‍याओं को भी हल करने में मदद करता है। आइए जाने गोंद कतीरा के फायदे क्‍या हैं।


मूत्र असंतुलन के लिए गोंद कतीरा के फायदे – Gond katira Remedy for urinary incontinence in Hindi


आयुर्वेदिक जड़ी बूटी से प्राप्‍त गोंद कतीरा मूत्र असंतुलन के इलाज के लिए बहुत ही लाभकारी उपाय है। यह मूत्र पथ की सूजन और मूत्र के अवरोध के मामले में मूत्र की मांसपेशियों को शांत करने में मदद करता है। साथ ही मूत्र को सही प्रवाह में निस्‍तारित करने में भी मदद करता है। इसका सेवन करने से शरीर के अधिकांश हानिकारक तत्‍व मूत्र के माध्‍यम से बाहर निकालने में मदद मिलती है। यदि आपको मूत्र संबंधी किसी भी प्रकार की समस्‍या है तो आप गोंद कतीरा का प्रयोग कर सकते हैं।


गोंद कतीरा के लाभ कब्‍ज के लिए – Gond katira Treat Constipation in Hindi


ट्रैगेकैन्थ की गोंद में पेट को साफ करने वाले गुण होते हैं इस कारण यह कब्‍ज के इलाज में बहुत ही मददगार होता है। इस गोंद का सेवन करने से यह आपके लिए रेचक (laxative) के रूप में कार्य करता है और कब्‍ज से राहत दिलाने में मदद करता है।


गर्भवती महिला के लिए गोंद कतीरा के फायदे – Gond katira good for Pregnancy in Hindi



प्रसव के बाद महिलाएं वास्‍तव में कमजोर हो जाती हैं। ऐसी स्थिति में गोंद कतीरा (Tragacanth) गोंद शरीर में‍ ताकत हासिल करने में मदद करती है साथ ही प्रथम बार मां बनने वाली महिलाओं को आने वाली समस्‍याओं का सामना करने में मदद करती है। यह मासिक धर्म के दौरान अधिक मात्रा में होने वाले भारी रक्‍तस्राव को भी नियंत्रित करने में मदद करती है। गर्भावस्‍था के समय गोंद कतीरा का उपयोग औषधी के रूप में किया जाता है जो मां और नवजात शिशु दोनों के लिए फायदेमंद होता है।


गोंद कतीरा के फायदे स्‍तन बढ़ाने में – Increase breast size in women in Hindi


अधिकतर महिलाएं अपने स्‍तनों के आकार से नाखुश और निराश रहतीं है। गोंद कतीरा एक स्‍तन बढ़ाने वाली दवा की तरह कार्य करता है। इसका नियमित सेवन करने से उन महिलाओं को लाभ होता जिनके स्‍तन छोटे होते हैं और वे इनका आकार बढ़ाना चाहती है। यह स्‍तनों को बढ़ाने का आयुर्वेदिक उपचार है।

रात में एक गिलास पानी में गोंद कतीरा का एक बड़ा चम्‍मच भिंगोएं। अगली सुबह इसमे कुछ बर्फ और 1 चम्‍मच चीनी डालें और इसमे एक गिलास दूध भी मिलाएं। स्‍वाभाविक रूप से अपने स्‍तनों का बड़ा करने के लिए आप इस टॉनिक का हर दिन सेवन करें।

(
गोंद कतीरा के लाभ पुरुषों की ताकत बढ़ाए – Gond katira Increase Libido in men in Hindi


गोंद कतीरा पुरुषों में कामेच्‍छा बढ़ाने के लिए सबसे अच्‍छा उपचार है। गोंद कतीरा एक अच्‍छा कामोद्दीपक (aphrodisiac) होता है और इस प्रकार यह पुरुषों में यौन इच्‍छा को बढ़ाने में मदद करता है। यह पुरुषों में किसी भी तरह की यौन अपर्याप्‍ता या कमजोरी के इलाज का एक प्राकृतिक उपाय है। यह समय से पहले स्‍खलन, अनैच्छिक निर्वहन (involuntary discharge) या रात का निर्वहन किसी भी प्रकार की समस्‍या का समाधान करने में मदद करता है।

गर्मी से बचने में गोंद कतीरा खाने के फायदे – Gond katira Treat heat stroke in Hindi


इस औषधी में शीतलन के गुण होते हैं, इस कारण इसका उपयोग अधिकतर शीतल पेय बनाने के लिए किया जाता है। यह गर्मी के मौसम में ठंडक दिलाने में मदद करता है। यह इसका विशेष गुण है जो शीतलन एजेंट के रूप में कार्य करता है और शरीर के तापमान को कम करता है। यह गर्मी के दौरों को रोकने में मदद करता है। गोंद कतीरा नाक रक्‍तस्राव को नियंत्रित करने में बहुत उपयोगी होता है जो अक्‍सर गर्मीयों के मौसम में बच्‍चों को होता है।


त्‍वचा के लिए गोंद कतीरा के लाभ – Gond katira benefits for Skin in Hindi


आप गोंद कतीरा का उपयोग कर एंटी-एजिंग के लिए चेहरे का मास्‍क बना सकते है। रात मे पानी में कुछ गोंद भिंगोएं। अगली सुबह अंण्‍डें के सफेद भाग के 2 चम्‍मच, 1 बड़ा चम्‍मच दूध पाउडर, 2 चम्‍मच बादाम पाउडर, और 1 चम्‍मच हरी सब्‍जी पाउडर आदि को भींगें हुए गोंद कतीरा में मिलाएं। इन सभी को चिकना होने तक अच्‍छी तरह से मिलाएं। इस मिश्रण को अपने चेहरे और गर्दन पर लगाएं। इसे लगाने के 20 मिनिट बाद इसे धोलें। यह आपकी त्‍वचा के लिए बहुत ही लाभकारी होता है।

गोंद कतीरा के अन्‍य लाभ – Gond katira Other Benefits in Hindi

इसका उपयोग जले हुए अंग की ड्रेसिंग करने के लिए प्रयोग किया जाता है। इसके लिए गोंद कतीरा का एक पेस्‍ट बनाया जाता है जो जलन के इलाज में मदद करता है।
गोंद कतीरा में प्रोटीन बहुत अच्‍छी मात्रा में होते हैं जो स्‍वास्‍थ्‍य के लिए बहुत ही फायदेमंद होते हैं।
गोंद कतीरा में ट्यूर को खत्‍म करने वाले गुण भी होते हैं।
यह आमतौर पर खांसी और दस्‍त के इलाज के लिए हर्बल आयुर्वेदिक दवा के रूप में प्रयोग की जाती है।
गोंद कतीरा प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करने में भी सहायक होती है।
इसका उपयोग मुंह के अल्‍सर के इलाज के लिए भी फायदमंद होता है।
ठंड के मौसम में इस गोंद का सेवन करने से यह शरीर में गर्मी लाता है।
यह दिल की धड़कनों को नियंत्रित करने में मदद करता है। बस इसे रात में भिंगा दें और सुबह इसे पानी सहित पीयें।

गोंद कतीरा के नुकसान – Gond katira Ke Nuksan in hindi


ऊपर के लेख में आपने जाना की गोंद कतीरा के फायदे और स्वास्थ्य लाभ क्या है जिस प्रकार गोंद कतीरा खाने के फायदे अनेक है वैसे है गोंद कतीरा खाने के नुकसान भी होते है आइये जानते है गोंद कतीरा के नुकसान (gond katira side effects) के बारे में।

एक दवा के रूप में मुंह से गोंद कतीरा को लिया जाना सुरक्षित होता है। लेकिन इसे लेने से पहले सुनिश्चित करें यदि आप पर्याप्त पानी पी रहे है या नहीं क्योंकि जब आप पर्याप्त तरल पदार्थ नहीं पीते हैं तो यह आपकी आंतों में रूकावट पैदा कर सकता है जिससे आपको कब्ज और पेट से सम्बंधित समस्या हो सकती है।

गर्भावस्था और स्तनपान: गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान गोंद कतीरा के उपयोग के बारे में पर्याप्त जानकारी नहीं है। सुरक्षित पक्ष पर रहें और उपयोग से बचें।
छाल से एलर्जी: गोंद कतीरा उन लोगों में श्वास की समस्या पैदा कर सकता है जो क्विल्लाया छाल (quillaia bark) से संवेदनशील होते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं

Healths Is Wealth. Blogger द्वारा संचालित.